हार्ट सीटी स्कैन कैसे और किन कारणों से किया जाता है, जानिए यहां....

    हार्ट सीटी स्कैन कैसे और किन कारणों से किया जाता है, जानिए यहां....

    हार्ट प्रॉब्लम आज के समय सबसे ज्यादा लोगों में पायी जाने वाली समस्याओं में एक है। कई बार लोगों में हार्ट डिजीज के लक्षण भी नजर आने लगते हैं। जिसका पता लगाने के लिए हार्ट सीटी स्कैन (Heart CT scan) किया जाता है। इसमें देखा जाता है कि आपको हार्ट की क्या प्रॉब्लम है और आपके हार्ट की स्थिति कैसी है। यदि आपके हार्ट में किसी तरह की प्रॉब्लम शुरू हो रही है, तो यह इमैजिंग में आ जाता है। ताकि सही समय पर आपका इलाज शुरू किया जा सके। जानिए कि हार्ट सीटी स्कैन (Heart CT scan) क्या है?

    और पढ़ें: Heart Attack: क्या ECG से पिछले हार्ट अटैक की जानकारी मिल सकती है?

    हार्ट सीटी स्कैन क्या है (What is Heart CT scan)?

    हार्ट सीटी स्कैन (Heart CT scan) दिल से जुड़ी गंभीर बीमारियों का पता लगाने के लिए की जाने वाली जांच है। इसमें चुम्बकीय क्षेत्र (magnetic field) और रेडियो तरंगों की सहायता से हार्ट की कोशिकाओं का स्पष्ट एवं विस्तृत चित्र (images) बनाया जाता है। इसके उपयोग से आपके डॉक्टर हार्ट की किसी भी समस्या का पता लगाने में मदद कर सकते हैं। आपके दिल और रक्त वाहिकाओं को देखने के लिए हार्ट सीटी स्कैन का उपयोग किया जाता है। परीक्षण के दौरान, एक विशेष डाई को आपके रक्तप्रवाह में इंजेक्ट किया जाता है। डाई को तब अस्पताल या परीक्षण सुविधा में एक विशेष कैमरे के तहत देखा जाता है। हृदय सीटी स्कैन को कोरोनरी सीटी एंजियोग्राम भी कहा जा सकता है। यदि यह आपके दिल में रक्त लाने वाली धमनियों को देखने के लिए किया जाता है। इस परीक्षण को कोरोनरी कैल्शियम स्कैन कहा जा सकता है, इसका मतलब यह निर्धारित करना है कि आपके दिल में कैल्शियम का निर्माण हुआ है या नहीं।

    और पढ़ें : Heartbeat Vector: तेज दिल की धड़कन? कहीं ‘हार्ट बीट वेक्टर’ की राह में तो नहीं आप!

    हार्ट सीटी स्कैन (Heart CT scan)

    हार्ट सीटी स्कैन क्यों किया जाता है (Why is a heart CT scan done) ?

    आपका डॉक्टर कुछ समस्याओं का पता लगाने के लिए हृदय सीटी स्कैन का आदेश दे सकता है, जिनमें शामिल हैं:

    • जन्मजात हृदय रोग की समस्या के बारे में पता करने के लिए।
    • एक कठोर पदार्थ का निर्माण जिसे लिपिड प्लाक कहा जाता है, जो आपकी कोरोनरी धमनियों को रूकावट पैदा कर सकता है।
    • हार्ट वॉल्व प्रॉब्लम या उसमें लगी चोट के बारे में पता लगाने के लिए
    • दिल के भीतर ब्लॉट क्लॉट या ब्लॉकेज के बारे में पता लगाने के लिए
    • ट्यूमर की समस्या का पता लगाने के लिएए

    दिल की समस्याओं का सामना करने वाले लोगों के लिए हार्ट सीटी स्कैन एक सामान्य परीक्षण है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह आपके डॉक्टर को बिना कोई चीरा लगाए हृदय और आस-पास की रक्त वाहिकाओं की संरचना का पता लगाने में सहयोग करता है।

    और पढ़ें : राइट हार्ट फेलियर : हार्ट फेलियर के इस प्रकार के बारे में यह सब जानना है जरूरी!

    हार्ट सीटी स्कैन के जोखिम क्या हैं (What are the risks of heart CT scan)?

    हृदय सीटी स्कैन में बहुत कम जोखिम होते हैं। कुछ लोगों में जो लक्षण नजर आ सकते हैं, वो इस प्रकार हैं:

    कंट्रास्ट डाई (Contrast dye)

    सीटी स्कैन के लिए उपयोग की जाने वाली अधिकांश कंट्रास्ट सामग्री, जिसे डाई कहा जाता है, उसमें आयोडीन होता है। इस आयोडीन को बाद में गुर्दे द्वारा शरीर से निकाल दिया जाता है।यदि आपके गुर्दे किसी बीमारी या संक्रमण से पहले से ही प्रभावित हैं, जैसे कि मधुमेह, तो आपको परीक्षण के बाद अतिरिक्त तरल पदार्थ पीने की आवश्यकता हो सकती है ताकि आपके गुर्दे डाई को बहार आसानी से निकाल सके। हालांकि, कंट्रास्ट डाई से किडनी को बहुत कम खतरा होता है। आयोडीन-आधारित सामग्रियों से एलर्जी या प्रतिकूल प्रतिक्रिया को हल्के और गंभीर के रूप में वर्गीकृत किया गया है। यदि आपको निम्न में से कोई भी लक्षण अनुभव हो तो आपको अपने डॉक्टर को बताना चाहिए:

    • हल्की प्रतिक्रियाओं में खुजली और त्वचा का निस्तब्धता शामिल है।
    • त्वचा में लाल चकत्ते या पित्ती शामिल हो सकते हैं।
    • गंभीर प्रतिक्रियाओं में सांस लेने में कठिनाई और कार्डियक अरेस्ट शामिल हो सकते हैं।

    यदि आपको पिछली प्रतिक्रिया हुई है या यदि आपको पिछले 24 घंटों के भीतर बड़ी मात्रा में विपरीत सामग्री मिली है, तो आपको आयोडीन-आधारित सामग्री से एलर्जी या प्रतिकूल प्रतिक्रिया का अधिक जोखिम है। अन्य जोखिम कारकों में डीहायड्रेशन, नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग्स (एनएसएआईडी) जैसी दवाएं लेना और कुछ स्वास्थ्य स्थितियां, जैसे सिकल सेल एनीमिया या थायरॉयड विकार शामिल हैं। अगर आपको खतरे वाले लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से बात करें। प्रतिक्रियाओं से बचने में आपकी सहायता के लिए दवाएं उपलब्ध हो सकती हैं। आमतौर पर जो गर्भवती हैं या गर्भवती हो सकती हैं, उनमें हल्के जोखिम देखे जा सकते हैं।

    और पढ़ें : नवजात में होने वाली रेयर हार्ट डिजीज ‘ट्रंकस आर्टेरियोसस’ का इलाज है संभव!

    आप हार्ट सीटी स्कैन की तैयारी के लिए क्या करना चाहिए (What should you do to prepare for Heart CT Scan?)

    आपका डॉक्टर आमतौर पर आपको स्कैन से चार से आठ घंटे पहले खाली पेट रहने को बोलेंगे। लेकिन आप पानी पी सकेंते हैं। हालांकि, कैफीनयुक्त पेय से बचें क्योंकि कैफीन आपके हृदय गति को प्रभावित कर सकता है। टेस्ट के दौरान आपको एक टेबल पर लेटना होगा और आपको ढीले व आरामदायक कपड़े पहनने को बोला जाएगा। आपको अपने शरीर से किसी भी गहने और अन्य धातु की वस्तुओं को स्कैन रूम से बाहर रखने को ही बोला जाएगा, जैसे कि पियर्सिंग। ज्यादातर लोग टेस्ट के बाद खुद ड्राइव करके घर जा सकते हैं। लेकिन सुरक्षा के तौर पर जबतक कुछ घ्ंटे न हो जाएं, आपको परिवहन की व्यवस्था करने की कोई आवश्यकता नहीं है।

    और पढ़ें : वैलव्युलर हार्ट डिजीज: दिल से जुड़ी इस बीमारी की पूरी जानकारी जानें यहां!

    हार्ट सीटी स्कैन कैसे किया जाता है (How Heart CT Scan is Done?)

    दिल का सीटी स्कैन अस्पताल के रेडियोलॉजी विभाग या क्लिनिक में किया जाता है । स्कैन से पहले आपको बीटा-ब्लॉकर दिया जा सकता है। यह दवा आपके दिल को धीमा कर देती है ताकि स्पष्ट तस्वीरें ली जा सकें। स्कैन को रिकॉर्ड करने के लिए इलेक्ट्रोड नामक छोटी डिस्क को आपकी छाती पर रखा जाता है। रेडियोलॉजी तकनीशियन एक नस में एक अंतःशिरा रेखा (IV) सम्मिलित करते हैं, ताकि वे डाई को आपकी बांह में इंजेक्ट कर सकें। जब आप डाई को इंजेक्ट करते हैं, तो आप कुछ समय के लिए शरीर में गर्माहट महसूस कर सकते हैं। स्कैन की शुरुआत से पहले, आप एक बेंच पर लेटा दिया जाता है। इसके अलावा आपको संक्षिप्त स्कैन के लिए, स्कैन के दौरान अपनी सांस रोकनी पड़ सकती है, जो केवल 10 से 20 सेकंड तक लिय कहा जाता है।

    स्कैन शुरू करने के लिए, तकनीशियन टेबल को – एक अलग कमरे से रिमोट के माध्यम से – सीटी मशीन में ले जाते हैं। सीटी मशीन प्लास्टिक और धातु से बने विशाल डोनट की तरह दिखती है। आपमें से कई लोग इस मशीन से गुजरेंगे। कुछ बताने के लिए तकनीशियन एक इंटरकॉम के माध्यम से आपसे बात कर सकता है। स्कैन के बाद, आपको कुछ मिनटों तक प्रतीक्षा करने की आवश्यकता हो सकती है, जबकि तकनीशियन यह सुनिश्चित करने के लिए छवियों की समीक्षा करते हैं कि वे आपके डॉक्टर के पढ़ने के लिए पर्याप्त स्पष्ट हैं। पूरे परीक्षण में 10 मिनट के लगभग समय लगता है।

    और पढ़ें : जान लीजिए इस गंभीर हार्ट इंफेक्शन के कारण, ताकि समय रहते कर सकें बचाव

    हार्ट सीटी स्कैन के बाद क्या होता है (What happens after a heart CT scan?)

    प्रक्रिया के बाद, आप अपने दिन को रोजाना की तरह व्यतीत करें, बस आपको थोड़े से सावधानी की जरूरत होगी। डाई स्वाभाविक रूप से आपके शरीर से बाहर निकल जाएगी। अधिक पानी पीने से इस प्रक्रिया को तेज करने में मदद मिलेगी।आपके हार्ट सीटी स्कैन से परिणाम प्राप्त करने में अधिक समय नहीं लगेगा। आपका डॉक्टर या तकनीशियन आपके साथ परिणामों की समीक्षा करेंगे।

    और पढ़ें : हार्ट प्रॉब्लम है! आम के सेवन से पहले जानिए क्या कहती है रिसर्च रिपोर्ट्स

    आपके हार्ट सीटी स्कैन की रिपोर्ट के आधार पर, आपका डॉक्टर आपको किसी भी जीवनशैली में बदलाव, उपचार या प्रक्रियाओं के बारे में सलाह देंगे। इसी के साथ कोई हार्ट प्रॉब्लम होने पर उसका मेडिकेशन भी शुरू हो जाएगा। हार्ट सीटी स्कैन के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से बात करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/01/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड