home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

मोबाइल और घर को ऐसे साफ 'करो ना', नहीं बचेगा कोरोना

मोबाइल और घर को ऐसे साफ 'करो ना', नहीं बचेगा कोरोना

कोरोना वायरस (latest news on corona) फैलता ही जा रहा है और इसे फैलने से रोकने के लिए लोगों को घरों से बाहर न निकलने और खुद को अलग करने के लिए कहा जा रहा है। सरकार भी कोरोना वायरस से बचाव के लिए हाथ धोने और मास्क पहनने के लिए कह रही है। जिससे यह वायरस किसी संक्रमित व्यक्ति से आपके हाथों या मुंह की त्वचा पर न आ पाए। लेकिन, यह खतरनाक वायरस सिर्फ संक्रमित व्यक्ति से ही नहीं आता है, बल्कि उसके संपर्क में आने वाली तमाम चीजों पर भी आ जाता है। चाहे वह मोबाइल हो, उसके द्वारा पकड़ा गया हैंडल हो या फिर टीवी रिमोट। तो आइए इस आर्टिकल में जानते हैं कि किन-किन चीजों या वस्तुओं पर कोरोना वायरस हो सकता है और उन्हें कैसे साफ किया जा सकता है? इस वायरस से बचाव करने के लिए कोरोना वायरस और क्लीनिंग का महत्व जानना भी जरूरी है।

यह भी पढ़ें- कोरोना वायरस का शिकार लोगों पर होता है ऐसा असर, रिसर्च में सामने आई ये बातें

कोरोना वायरस और क्लीनिंग : यह वायरस किन-किन चीजों पर हो सकता है?

यह वायरस संक्रमित व्यक्ति के खांसने या छींकने के दौरान निकलने वाली ड्रॉप्लेट्स के माध्यम से फैलता है। यह ड्रॉप्लेट्स जब किसी भी चीज, वस्तु या सतह पर गिरती हैं, तो वह भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाती है। चाहे वह किसी व्यक्ति का हाथ हो, कपड़े हों, लिफ्ट बटन हो, मोबाइल हो आदि-आदि। जब यह वायरस ड्रॉप्लेट्स से संक्रमित हुई चीजों या वस्तुओं से किसी व्यक्ति के हाथ या दूसरी अन्य चीजों या वस्तुओं के माध्यम से किसी व्यक्ति के मुंह या नाक के पास पहुंचता है, तो वह व्यक्ति भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाता है। यह वायरस संक्रमित व्यक्ति के हाथों या खुद उससे किसी निर्जीव वस्तुओं पर भी आ सकता है, जहां वह कई घंटों से लेकर कई दिनों तक जिंदा रह सकता है। इसलिए कोरोना वायरस और क्लीनिंग का आपस में काफी महत्व है, जो कि इस वायरस से बचाव करने में मदद कर सकती है। कोरोना वायरस से सावधानी ही इस बीमारी से बचने का एकमात्र उपाय है। कोरोना से बचने के लिए घर में सब्जियों को लाते समय उनकी अच्छे से सफाई करें।

यह भी पढ़ें- ….जिसके सेवन से नहीं होगा कोरोना वायरस?

कोरोना वायरस और क्लीनिंग : बंद घर में भी आ सकता है कोरोना वायरस

अब आप सोच रहे होंगे कि, अगर हम घर से बाहर ही न निकलें तो यह कैसे आ सकता है? मान लीजिए, आपके घर में आने वाली मेड, प्लंबर, इलेक्ट्रीशियन या बाहर से खेलकर आए बच्चों आदि को कोरोना वायरस के शुरुआती लक्षण हैं या फिर उसे खुद नहीं पता कि उसे यह वायरस है और वह आपके घर में दरवाजों, हैंडल, टीवी रिमोट आदि को छूती है। इसके अलावा, बाहर से आने वाला न्यूजपेपर या कोई और सामान कुछ भी हो सकता है। इसके बाद वह आपके हाथों या दूसरे हाथों या द्वारा घर में एक से दूसरी चीज तक पहुंच सकता है। जिसके लिए सिर्फ क्लीनिंग ही आपकी मदद कर सकती है। इसलिए कोरोना वायरस और क्लीनिंग टिप्स की जरूरत है। आइए, जानते हैं कि घर में या बाहर मौजूद कितनी छोटी-छोटी चीजों पर कोरोना वायरस के कीटाणु हो सकते हैं।

  • न्यूजपेपर
  • पेन
  • बैग
  • ऑटो हैंडल
  • डिलीवरी आइटम
  • सनग्लास
  • गेट हैंडल
  • लिफ्ट बटन
  • रेफ्रिजरेटर
  • मोबाइल
  • माइक्रोवेव
  • टीवी रिमोट
  • वॉश बेसिन
  • टॉयलेट
  • सिंक
  • डेस्ट
  • लाइट स्वीच
  • टीवी, आदि

कोरोना वायरस और क्लीनिंग

घर से बाहर मौजूद चीजों की आप साफ-सफाई या क्लीनिंग नहीं कर सकते। लेकिन उसके लिए आप बाहर जाने से बचना या बाहर किसी भी चीज को छूने के बाद हाथों को साबुन और पानी से धोना या एल्कोहॉल बेस्ड सैनिटाइजर का उपयोग करके कोरोना वायरस का बचाव कर सकते हैं। लेकिन, घर में मौजूद चीजों को आप क्लीनिंग करके कोरोना वायरस का खतरा कम कर सकते हैं। ध्यान रखें कि, वैसे तो कहीं आने-जाने से बचना ही एकमात्र बचाव है, लेकिन फिर दिन में दो से तीन बार या घर में किसी बाहरी व्यक्ति के आने पर उसके संपर्क में आने वाली सभी चीजों की क्लीनिंग करें।

यह भी पढ़ें- कोरोना वायरस (Coronavirus) से जुड़ चुके हैं कई मिथ, न खाएं इनसे धोखा

सफाई कैसी होनी चाहिए

कोरोना वायरस और क्लीनिंग के लिए आपको जानना चाहिए कि साफ-सफाई दो तरह की होती है, पहली सिर्फ क्लीनिंग यानी सफाई और दूसरी डिसइंफेक्टिंग यानि शुद्धिकरण या निस्संक्रमण। स्वच्छ भारत अभियान में की जाने वाली सफाई सिर्फ क्लिीनिंग है, जबकि कोरोना वायरस जैसे संक्रमण को रोकने के लिए आपको डिसइंफेक्टिंग की जरूरत होती है, ताकि सतह या किसी भी चीज से वायरस को पूरी तरह हटाया जा सके। क्लिीनिंग में सतह से सिर्फ कीटाणुओं, गंदगी और धूल को हटाया जा सकता है। लेकिन हटाने से कीटाणु मरते नहीं है, बल्कि एक जगह से दूसरी जगह चले जाते हैं और पहले वाली जगह उनकी संख्या कम हो जाती है। जबकि, डिसइंफेक्टिंग में सतह को साफ करने के बाद कीटाणुओं को मारने वाली दवाओं या कैमिकल का इस्तेमाल किया जाता है।

कोरोना वायरस और क्लीनिंग : किन-किन चीजों से क्लीन कर सकते हैं?

  1. साबुन और पानी
  2. ब्लीच सॉल्यूशन
  3. हाइड्रोजन पैरॉक्साइड
  4. 70% आइसोप्रोपाइल एल्कोहॉल वाइप्स
  5. एल्कोहॉल सॉल्यूशन आदि

यह भी पढ़ें- सबसे खतरनाक वायरस ने ली थी 5 करोड़ लोगों की जान, जानें 21वीं सदी के 5 जानलेवा वायरस

इन बातों का भी रखें ध्यान

  1. आप घर में मौजूद उपर्युक्त चीजों का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन कोरोना वायरस और क्लीनिंग के साथ आपको यह ध्यान रखना बहुत जरूरी है कि, आप जिस चीज को क्लीन करने के लिए जिस तरीके का इस्तेमाल कर रहे हैं, उससे कोई दुष्प्रभाव न हो। क्योंकि, कोई भी चीज हर किसी वस्तु के लिए सुरक्षित नहीं होती।
  2. किसी भी चीज को साफ करने के लिए आपको जल्दबाजी से बचना होगा। क्योंकि, सिर्फ एक बार कपड़ा या वाइप करने के बाद कीटाणु नहीं जाते हैं। बल्कि आपको सतहों या वस्तुओं को कुछ देर तक साफ करना पड़ता है।
  3. इसके अलावा, माइक्रोवेव, ओवन आदि इलेक्ट्रॉनिक सामानों को साफ करते हुए ध्यान रखें कि, उससे वह चीज खराब न हो जाए।

कोरोना वायरस और क्लीनिंग : मोबाइल पर हो सकता है कोरोना वायरस, ऐसे करें साफ

पहले हुई एक स्टडी के मुताबिक आपके मोबाइल की स्क्रीन और कवर पर टॉयलेट सीट से ज्यादा कीटाणु हो सकते हैं और कोरोना वायरस भी हो सकता है। मोबाइल को साफ करने के लिए आप कंप्यूटर या मोबाइल शॉप पर उपलब्ध 70% आइसोप्रोपाइल एल्कोहॉल वाइप्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा, आप साबुन और पानी का घोल तैयार करके उसमें कॉटन का कपड़ा भिगोकर फोन की स्क्रीन, कवर या बैक को साफ कर सकते हैं। लेकिन, ध्यान रखें कि इससे उसके किसी ओपन हिस्से में मॉइश्चर न आ जाए। कोरोना वायरस एक महामारी बन चुका है और खुद को व अपने आसपास के लोगों को बचाने के लिए बचाव ही एकमात्र रास्ता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Coronavirus – https://www.who.int/health-topics/coronavirus – Accessed on 19/3/2020

Coronavirus disease (COVID-19) outbreak – https://www.who.int/westernpacific/emergencies/covid-19 – Accessed on 19/3/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/index.html – Accessed on 19/3/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.nhs.uk/conditions/coronavirus-covid-19/ – Accessed on 19/3/2020

Coronavirus disease 2019 (COVID-19) – Situation Report – 57 – https://www.who.int/docs/default-source/coronaviruse/situation-reports/20200318-sitrep-58-covid-19.pdf?sfvrsn=20876712_2 – Accessed on 19/3/2020

Novel Corona Virus – https://www.mohfw.gov.in/ – Accessed on 19/3/2020

Many common household cleaning products can kill the coronavirus if you use them properly – https://www.nbcnews.com/better/lifestyle/many-common-household-cleaning-products-can-kill-coronavirus-if-you-ncna1160271 – Accessed on 19/3/2020

Coronavirus: How to clean your smartphone safely – https://www.bbc.com/news/av/technology-51863924/coronavirus-how-to-clean-your-smartphone-safely?ocid=wsnews.chat-apps.in-app-msg.whatsapp.trial.link1_.auin – Accessed on 19/3/2020

Clean & Disinfect – https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/prepare/cleaning-disinfection.html – Accessed on 19/3/2020

लेखक की तस्वीर badge
Surender aggarwal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x