home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कोरोना वायरस का इंफेक्शन : हैंडशेक को बाय और हैलो को हाय, तो क्या आपकी आदतें भी बदल रहा है ये?

कोरोना वायरस का इंफेक्शन : हैंडशेक को बाय और हैलो को हाय, तो क्या आपकी आदतें भी बदल रहा है ये?

देश-दुनिया में कोरोना वायरस का खतरा अधिक तेजी से बढ़ता जा रहा है। हर कोई इस वायरस से छुटकारा पाने के लिए कोई न कोई तरीका अपना रहा है। कोरोना वायरस का इंफेक्शन अक्सर छूने के कारण ही फैलता है। अगर कोई संक्रमित व्यक्ति स्वस्थ्य व्यक्ति के संपर्क में आ जाए तो तुरंत कोरोना वायरस स्वस्थ्य व्यक्ति को भी बीमार कर देता है। कोरोना वायरस का इंफेक्शन इतना बढ़ चुका है कि कई देशों के खेलों के प्रमुख कार्यक्रमों को भी टाल दिया गया। क्रिकेट मैच में तो लोगों को साथी टीम से हाथ न मिलाने तक की सलाह भी दी जा चुकी है। यानी ये कहना गलत नहीं होगा कि कोरोना वायरस का इंफेक्शन लोगों की आदत बदलने का काम कर रहा है। हाथ मिलाना, गले मिलना, किस करना आदि लोगों के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं, इसलिए फिलहाल लोग इसे इग्नोर ही कर रहे हैं। हो सकता है कि आपने भी कुछ ही दिनों में लोगों में बहुत से परिवर्तन महसूस किए हो।

यह भी पढ़ेंः जल्द ही आ सकती है कोरोना वायरस की वैक्सीन

कोरोना वायरस का इंफेक्शन क्या सिखा रहा ?

दुनिया के विभिन्न देशों में फैल चुके कोरोना वायरस के कहर ने लोगों को इस कदर भयभीत कर दिया है कि हाथ मिलाने से भी लोग कतरा रहे हैं। हाल में सोशल मीडिया में जर्मनी के होम मिनिस्टर होर्स्ट सीहोफर का वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वो कोरोना वायरस इंफेक्शन के डर से चांसलर एंजेला मार्केल से हाथ मिलाने से मना कर देते हैं। ऐसा नहीं है कि मार्केल उनके इस निर्णय से नाराज हो जाती हैं बल्कि वो दूर से ही उन्हें अभिवादन करती है। जिस तरह से कोरोना वायरस लोगों की जान ले रहा है, उससे तो ये ही लगता है कि हम सभी लोगों को अपनी आदतों में सुधार करने की जरूरत है। यानी आवश्यकता न होने पर बेहतर है कि किसी को भी न छुएं।

कोरोना वायरस का इंफेक्शन सिखा रहा है हाथ जोड़ना

नमस्कार

भारत देश में अभिवादन के तौर पर हाथ जोड़ने की परंपरा रही है। अब अभिवादन के लिए पड़ोसी देश चीन में भी लोगों को सलाह दी जा रही है कि इंफेक्शन से बचने के लिए हैंडशेक यानी हाथ मिलाना छोड़ दें और दूर से लोगों का अभिवादन करें। चीन में कुछ लोगों का पैर से टच करके अभिवादन करने का वीडियो भी सामने आया था। भले ही ऐसा वीडियो देखकर आपको हंसी आ जाए, लेकिन इस तरह से आदतों में परिवर्तन करना वाकई बीमारी को नियंत्रित करने का उपाय हो सकता है।

आपको बताते चले कि कोरोना वायरस का इंफेक्शन चीन के वुहान शहर से ही फैलना शुरू हुआ था। अब तक चीन से फैले कोरोना वायरस का प्रहार दुनिया के विभिन्न देशों में हो चुका है। करीब ढेढ़ लाख से ज्यादा लोग दुनिया भर में इस इंफेक्शन का शिकार हो चुके हैं। भारत में भी लगातार कोरोना वायरस का इंफेक्शन फैल रहा है और अब तक 60 से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर चुका है।

यह भी पढ़ें- सबसे खतरनाक वायरस ने ली थी 5 करोड़ लोगों की जान, जानें 21वीं सदी के 5 जानलेवा वायरस

कोरोना वायरस का संक्रमण : अमीरों की खरीददारी पर भी असर

कोरोना वायरस का इंफेक्शन न सिर्फ लोगों को सजग कर रहा है बल्कि आमीरों की खरीदारी पर भी इसका असर साफ दिख रहा है। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार 54 प्रतिशत मिलेनियल्स का कहना है कि कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण उनके परचेज डिसीजन में भी फर्क पड़ा है। यानी खरीदारी के लिए लोगों ने कुछ समय के लिए विराम लगा दिया है। फिलहाल लोग भीड़ वाली जगह में जाने से बच रहे हैं। जरूरी सामान को अगर छोड़ दिया जाए, तो एक बड़ा तबका खरीदारी करने से बच रहा है। क्लोथ्स और रेंट क्लोथ को लेकर लोग अधिक सजग नजर आ रहे हैं।

यह भी पढ़ें- तो क्या ये दुर्लभ जानवर है कोरोना वायरस के लिए जिम्मेदार?

तो अब नहीं कर पाएंगे किस

कोरोना वायरस का संक्रमण अब तक बच्चों के स्कूल को बंद कराने के साथ ही कुछ ऑफिसों को भी बंद करा चुका है। चीन के कुछ ऑफिस और स्कूल को कुछ दिनों के लिए बंद करने की सलाह दी गई है। वहीं स्पेन में पुरानी परंपरा में भी ग्रहण लगता हुआ दिख रहा है। स्पेन में ईस्टर के मौके पर वर्जिन मैरी के स्टैचू को किस किया जाता है। वहां के लोगों के लिए ये परंपरा का हिस्सा है। ईस्टर के आने के पहले लोगों को जानकारी दी गई है इस परंपरा पर अबकी बार रोक लगाई जा सकती है। लोगों को सलाह दी गई है कि एक-दूसरे को किस करने से बचे। अब आप खुद ही सोच सकते हैं कि कोरोना वायरस का इंफेक्शन किस तरह से लोगों के जीवन में विभिन्न प्रकार के बदलाव कर रहा है।

न शेयर करें स्ट्रॉ

ब्राजील में स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों से सिफारिश की है कि कैफीन युक्त पेय पदार्थ या कॉफी पीते समय स्ट्रॉ किसी के भी साथ शेयर न करें। ऐसा करने से भी इंफेक्शन का खतरा हो सकता है। वैसे हम आपको बताते चले कि हमारे देश में किसी का भी जूठा खाना अच्छा नहीं माना जाता है। भले ही इसके पीछे कोई भी मिथ हो, लेकिन साइंटिफ रीजन तो बस इतना ही है कि ऐसे में संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है।

आपको बताते चलें कि भारत में लगातार कोरोना वायरस का इंफेक्शन बढ़ रहा है। अब तक भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 73 हो चुकी है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने इसे महामारी घोषित कर दिया है। अब तक कोरोना वायरस के कारण चार हजार से भी ज्यादा लोग मर चुके हैं। कोरोना वायरस (2019-nCoV) से बचने के लिए हाइजीन का ख्याल रखना बहुत जरूरी है। कोरोना वायरस का इंफेक्शन तेजी से न फैले, इसके लिए आपको सजग रहने की जरूरत है।

यह भी पढ़ें- कोरोना वायरस का शिकार लोगों पर होता है ऐसा असर, रिसर्च में सामने आई ये बातें

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

और पढ़ें :

इलाज के बाद भी कोरोना वायरस रिइंफेक्शन का खतरा!

कोरोना वायरस से बचाव संबंधित सवाल और उनपर डॉक्टर्स के जवाब

क्या प्रेग्नेंसी में कोरोना वायरस से बढ़ जाता है जोखिम?

….जिसके सेवन से नहीं होगा कोरोना वायरस?

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Coronavirus – https://www.who.int/health-topics/coronavirus

Coronavirus (COVID-19) – https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/index.html

Coronavirus (COVID-19) – https://www.nhs.uk/conditions/coronavirus-covid-19/

Handshake? No thanks: coronavirus changes global habits/https://timesofindia.indiatimes.com/world/rest-of-world/handshake-no-thanks-coronavirus-changes-global-habits/articleshow/74503592.cms/Accessed on 12/3/2020

Millennials are the ‘worried’ generation and changing spending habits most amid coronavirus outbreak, study shows/https://www.cnbc.com/2020/03/05/millennials-worry-changing-spending-most-amid-coronavirus-study.html/Accessed on 12/3/2020

End of the handshake? Coronavirus changes greeting habits/https://www.aljazeera.com/news/2020/03/handshake-coronavirus-greeting-habits-200303053743520.html/Accessed on 12/3/2020

Handshake? No thanks: coronavirus changes global habits/https://www.bangkokpost.com/world/1870504/handshake-no-thanks-coronavirus-changes-global-habits/Accessed on 12/3/2020

Stop touching my face? Why the easiest way to prevent coronavirus is so hard/https://www.washingtonpost.com/lifestyle/2020/03/03/coronavirus-prevention-face-touch/Accessed on 12/3/2020

 

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x