home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Quiz: लॉकडाउन में दुकानों में भीड़ लगाना नहीं है समस्या का समाधान, जानकारी से रहें अपडेट और खेलें क्विज

Quiz: लॉकडाउन में दुकानों में भीड़ लगाना नहीं है समस्या का समाधान, जानकारी से रहें अपडेट और खेलें क्विज

कल रात 8 बजे (24 मार्च) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को संबोधित करते हुए कहा कि रात 12 बजे के बाद पूरे देश में लॉकडाउन होगा। इसका मतलब है कि सभी लोगों को घर में रहना पड़ेगा। इस खबर को सुनते ही लोगों में ज्यादा से ज्यादा राशन के सामान को घर में जमा करने की होड़ सी मच गई है। देश में लगातार कोरोना वायरस (कोविड-19) के पीड़ितों की संख्या बढ़ती जा रही है, बचाव ही एकमात्र विकल्प बचा है। महामारी तेजी से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल रही है। आपकी जानकारी के लिए बता दें प्रधानमंत्री ये भी कह रहे हैं कि लोगों को घबराने की नहीं बल्कि अपने घरों में सुरक्षित रहने की जरूरत है। यानी लॉकडाउन के दौरान भी लोगों को राशन के साथ ही मेडिकल की सुविधा मिलती रहेंगी। प्रधानमंत्री ने पैनिक बाइंग न अपनाने की सलाह दी है।

कोरोना वायरस महामारी भले ही चीन से फैली हो, लेकिन इस वक्त इटली में सबसे ज्यादा मरने वालों की संख्या दर्ज की गई है। भारत में इस तरह के हालात न हों, इसके लिए भारत सरकार हर संभंव प्रयास कर रही है। सरकार के द्वारा समय-समय पर लोगों को एडवाइज दी जा रही है और संक्रमण से बचाव के संभव तरीकों के बारे में भी जानकारी दी जा रही है। सरकार के अनुसार कोरोना वायरस को खत्म करने और फैलने से रोकने के लिए लोगों से दूरी ही एक उपाय है। लॉकडाउन के बाद अगर आपको भी लग रहा है कि ज्यादा से ज्यादा सामान खरीदने से समस्या का समाधान हो जाएगा तो आप गलत हैं। अगर आप पैनिक बाइंग को लेकर अवेयर हैं तो क्विज खेलें और अपना नॉलेज भी बढ़ाएं।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी प्रकार की चिकित्सा, उपचार और निदान प्रदान नहीं करता। और पढ़ें :

कोरोना वायरस से बचाव संबंधित सवाल और उनपर डॉक्टर्स के जवाब

दिल्ली में कोरोना वायरस के 2 मामले, पांच बच्चों के भी लिए गए सैंपल

कोरोना वायरस का शिकार लोगों पर होता है ऐसा असर, रिसर्च में सामने आई ये बातें

कोरोना वायरस (Coronavirus) से जुड़ चुके हैं कई मिथ, न खाएं इनसे धोखा

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Coronavirus – https://www.who.int/health-topics/coronavirus – Accessed on 16/4/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/index.html – Accessed on 16/4/2020

Coronavirus disease 2019 (COVID-19) – Situation Report – 86 – https://www.who.int/docs/default-source/coronaviruse/situation-reports/20200415-sitrep-86-covid-19.pdf?sfvrsn=c615ea20_4 – Accessed on 16/4/2020

Novel Corona Virus – https://www.mohfw.gov.in/ – Accessed on 16/4/2020

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 11/06/2020 को
और Admin Writer द्वारा फैक्ट चेक्ड
x