home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कोरोना वायरस को रोकने के उपाय : हर देश बचाव के लिए उठा रहा ये कदम

कोरोना वायरस को रोकने के उपाय : हर देश बचाव के लिए उठा रहा ये कदम

हर देश अपने तरीके से कोरोना वायरस (corona virus) को फैलने से रोकने का प्रयास कर रहा है। कोराेना वायरस के सबसे ज्यादा मामले चीन में देखने को मिले हैं। वहीं अन्य देशों में इस वायरस की अलग-अलग स्टेज देखने को मिली हैं। कोराना वायरस को रोकने के लिए देशों ने निम्न उपाय किए हैं। एक नजर डालते हैं इन उपायों पर:

कोरोना वायरस को रोकने के उपाय: एयरपोर्ट पर जांच

कई देश एयरपोर्ट पर लोगों में कोरोना वायरस (corona virus) की जांच कर रहे हैं, जिससे इस वायरस से प्रभावित लोग देश के अंदर ना आ पाएं। इसके अलावा ऐसी जगहों पर भी जांच की जा रही है जहां से देश का ट्रांसपोर्ट का काम होता है।

यह भी पढ़ें – कोरोना की वजह से अपनों को छूने से डर रहे लोग, जानें स्किन को एक टच की कितनी है जरूरत

पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड ने कहा कि उसने चीन, ईरान, जापान और मलेशिया जैसे देशों से आने वाले यात्रियों के लिए निगरानी बढ़ा दी, लेकिन तापमान की जांच नहीं की।

“विशेषज्ञों की सलाह से पता चला है कि सिर्फ क्लिनिकल स्क्रीनिंग (clinical screening) जैसे तापमान की जांच करने से यह जांच प्रभावशाली नहीं होगी। ऐसे लोग बहुत कम होंगे जिनका तापमान कम होगा। इससे कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों की जांच करना मुश्किल है। ऐसा इसलिए है क्योंकि कोरोना वायरस के लक्षण आमतौर पर पांच से सात दिनों तक दिखाई नहीं देते हैं और कभी-कभी लक्षण दिखने में 14 दिन तक लग जाते हैं।”

कोराना वायरस को रोकने के उपाय : विदेशी नागरिकों पर पाबंदी

निगरानी को बढ़ाने का मतलब यह है कि हवाईअड्डों पर चिकित्सा कर्मचारियों का मौजूद होना। वो यात्रियों को लक्षणों के बारे में जानकारी दें और अगर कोई अस्वस्थ महसूस कर रहा है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। इटली में रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट पर यात्रियों के शरीर के तापमान को जांचने के आदेश फरवरी से जारी कर दिए गए थे। वहीं अमेरिका पिछले 14 दिनों में चीन या ईरान का दौरा करने वाले विदेशी नागरिकों को देश में आने की अनुमति नहीं दे रहा है। जो उड़ानें चीन से सीधा अमेरिका आ रही हैं उन यात्रियों में बुखार, खांसी और सांस लेने में तकलीफ की जांच की जा रही है।

रोग नियंत्रण केंद्र (सीडीसी) ने यह भी सिफारिश की है जिन लोगों को स्वास्थ्य समस्याएं हैं, वे क्रूज या हवाई यात्रा ना करें।

यह भी पढ़ें: Novel Coronavirus: जानें क्यों बेहद खतरनाक है चीन में फैल रहा कोरोना वायरस

कोरोना वायरस को रोकने के उपाय: स्कूल और कॉलेज बंद

यूएन के 14 देशों के शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक निकायों को बंद कर दिए गए। वहीं 13 अन्य देशों ने कुछ स्कूल बंद कर दिए हैं। अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग समय के लिए स्कूल बंद करने के आदेश दिए गए हैं। उदाहरण के लिए, जापान ने सभी स्कलों को सैशन के अंत तक बंद करने को कहा है। वहीं कुछ ने मार्च के अंत तक बंद करने को कहा है। जब जापान में 186 लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि हो गई तब 27 फरवरी को सरकार ने इसकी घोषणा कर दी।

जब इटली में 2,500 मामलों की पुष्टि हुई तो देश ने 3 अप्रैल तक अपने सभी स्कूल बंद कर दिए। स्पेन ने मैड्रिड क्षेत्र में सभी स्कूलों और विश्वविद्यालयों को बंद कर दिया है। ब्रिटेन और जर्मनी में, कुछ स्कूलों को अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया है ताकि कर्मचारियों या विद्यार्थियों को कोरोना वायरस से बचाया जा सके।

फ्रांस ने 9 मार्च से 15 दिनों के लिए नर्सरी और अन्य स्कूलों को बंद कर दिया है। संगीत कार्यक्रम और खेल कार्यक्रम रद्द

कोरोना वायरस को रोकने के उपाय: खुले स्टेडियम में होने वाले कई खेल कार्यक्रम रद्द कर दिए गए हैं

14 मार्च को इटली-इंग्लैंड और फ्रांस-आयरलैंड के बीच खेले जाने वाले रग्बी यूनियन के छह देशों के मैच स्थगित कर दिए गए हैं। कोचेला घाटी में सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल (public health emergency) घोषित किए जाने के बाद कैलिफोर्निया में इंडियन वेल्स टेनिस टूर्नामेंट रद्द कर दिया गया था। 9 मार्च को शुरू होने वाले क्वालीफाइंग मैचों के शुरू होने से कुछ समय पहले ही इसे रद्द किया गया। बुधवार को यह टूर्नामेंट शुरू होने वाला था। इतालवी फुटबॉल लीग ने 3 अप्रैल तक सभी खेलों को निलंबित कर दिया है। स्विस फुटबॉल लीग को 23 मार्च तक रद्द कर दिया गया है।

इस बीच, जापान के ओलंपिक मंत्री सेइको हाशिमोतो ने कहा है कि 24 जुलाई को खेल को सुचारू रूप से आगे बढ़ाने के लिए यह सब कुछ किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: तो क्या भारत में कोरोना वायरस (coronavirus) पहुंच चुका है ? जानें बचाव के तरीके

कोरोना वायरस को रोकने के उपाय: संग्रहालय और टूरिस्ट प्लेस बंद

दुनिया के कई प्रसिद्ध टूरिस्ट स्पॉट्स को भी कुछ समय के लिए बंद किया जा रहा है। साथ ही आगंतुकों से भीड़ से दूरी बनाए रखने के लिए कहा गया है। शंघाई में विशाल डिजनी रिसॉर्ट एक महीने से ज्यादा समय तक बंद रहने के बाद सोमवार को थोड़ी देर के लिए फिर से खोला गया। लेकिन हांगकांग का डिजनीलैंड जापान में डिजनी थीम पार्क की तरह अभी भी बंद है। संग्रहालय और टूरिस्ट प्लेस एशिया के अन्य देशों में भी बंद हो गए हैं।

रोम में, कोलिजीयम और अन्य टूरिस्ट प्लेस 3 अप्रैल तक बंद हैं। फ्रांस के पेरिस में लूवर म्यूजियम को मार्च की शुरुआत में ही बंद कर दिया गया था। यहां के कर्मचारियों में वायरस होने की आशंका थी। यह अब फिर से खोला गया है, लेकिन आगंतुकों से पूछा जा रहा है कि क्या वे अस्वस्थ महसूस कर रहे हैं या नहीं। अस्वस्थ होने पर आगंतुक की पूरी जांच की जा रही है।

एफिल टॉवर आगंतुकों को ऑनलाइन टिकट खरीदने के लिए केवल बैंक कार्ड का उपयोग करने के लिए कह रहा है। पेरिस का डिजनीलैंड अभी भी खुला है, हालांकि वहां के स्टाफ के एक सदस्य ने पिछले हफ्ते कोरोना वायरस होने की जानकारी दी थी।

सऊदी अरब ने अस्थायी रूप से पवित्र स्थलों की यात्रा करने के इच्छुक यात्रियों के प्रवेश पर रोक लगा दी है। इराक ने भी धार्मिक स्थलों पर प्रतिबंध लगाया है।

यह भी पढ़ें: सांप (Snake) से कोरोना वायरस (Coronavirus) फैलने की है आशंका, सामने आई ये बातें

कोरोना वायरस को रोकने के उपाय: आपस में मिलने-जुलने पर रोक

कुछ देशों ने देशवासियों से अनुरोध किया है कि कुछ समय के लिए वे लोगों से मेल-जोल कम कर दें। इतालवी प्रधान मंत्री ग्यूसेप कोंटे ने लोगों को घर पर रहने के लिए कहा है। साथ ही कहा है कि जरूरत पड़ने पर ही यात्रा करें और यात्रा के लिए पहले अनुमति लें।

सड़कों, हवाई अड्डों और रेलवे स्टेशनों पर जांच के सख्त निर्देश दिए गए हैं। ये उपाय कुछ समय पहले ही लागू हुए हैं इसलिए यह कहना जल्दबाजी होगी कि ये कितने प्रभावी हो सकते हैं।

ईरान ने बाहरी लोगों के देश में आने पर लोग लगा दी है। साथ ही कुछ शहरों के बीच यात्रा भी सीमित कर दी हैं। सरकार ने पवित्र शहर क्यूम को बंद नहीं किया है। यह शहर इस बीमारी की चपेट में आने वाली जगहों में से एक था। संसद के डिप्टी स्पीकर, मसूद पेज़ेशियान ने इस बारे में कहा, “अगर मैं स्वास्थ्य मंत्री होता, तो मैं पहले दिन ही क्यूम को छोड़ देता।”

ईरान ने मंगलवार को पिछले 24 घंटों में 54 मौतों की सूचना दी है। दक्षिण कोरिया में, अधिकारियों ने दक्षिणी शहर डेगू में दो अपार्टमेंट ब्लॉक रद्द कर दिए हैं।

और पढ़ें:

कोरोना वायरस (Coronavirus) से जुड़ चुके हैं कई मिथ, न खाएं इनसे धोखा

क्या आप कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर हैं अवेयर ?

Corona virus: कोरोना वायरस से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां

कोरोना वायरस(coronavirus) का भारत में तीसरा केस पॉजिटिव, अब तक 362 लोगों की ले चुका है जान

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Mona narang द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x