home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

क्या कोविड-19 के कारण समाज में धीरे-धीरे जन्म ले रही अकेलेपन की समस्या?

क्या कोविड-19 के कारण समाज में धीरे-धीरे जन्म ले रही अकेलेपन की समस्या?

रोजाना कोरोना महामारी के कारण सैकड़ों लोगों की मौत हो रही है। इस प्रलय जैसे माहौल के कारण लोगों में इतना डर बैठ गया है कि वे अपने घरों में पूरी तरह से बंद हो गए हैं। न किसी से मिल रहे हैं और न ही हाथ मिलाकर हाय-हैलो कर रहे हैं। सामाजिक दूरियां रखने के इस नियम ने लोगों को दूसरे ही नहीं अपनों से भी बिल्कुल दूर कर दिया है। और अब अकेलेपन में रहने को की वजह से यह डर होने लगा है कि कहीं कोविड-19 के कारण लोग अकेलापन महामारी का दूसरा रूप न बन जाए।

कोविड-19 के कारण अकेलापन महामारी बन सकता है?

दुनिया के 180 से अधिक देशों में नोवल कोरोना वायरस संक्रमण फैला हुआ है। अभी तक इस महामारी का कोई इलाज नहीं ढूंढ़ा जा सका है। ऐसे में विश्व स्वास्थ्य संगठन और वैज्ञानिकों ने लोगों को कोरोना महामारी से बचने की सलाह दी है। नोवल कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए लोगों को घर में रहने को कहा गया है।

कोविड-19 के कारण अकेलापन महामारी-coronavirus ke karan akelapan mahamari

जब तक महामारी खत्म नहीं हो जाती है, तब तक लोगों को यही उपाय करने की सलाह दी गई है। दूसरी तरफ बीमारी है कि बढ़ती जा रही है, इसलिए विशेषज्ञों को चिंता है कि कहीं कोविड-19 अकेलेपन महामारी का कारण तो नहीं बन जाएगा।

ये भी पढ़ेंः कोरोना लॉकडाउन : खेलें क्विज और जानिए कि आप हैं कितने जिम्मेदार नागरिक ?

कोविड-19 के कारण अकेलापन महामारी : क्वरंटाइन में बुजुर्गों को होने लगी परेशानी

नोवल कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए लोगों ने खुद को क्वारंटाइन जरूर कर लिया है, लेकिन लगातार घर पर रहने के कारण वे बाहरी दुनिया से कटने लगे हैं। छोटे बच्चे, बड़े या फिर बुजुर्ग लोग, सभी को क्वारंटाइन अब काटने लगा है। हमेशा घर में बंद रहना इन लोगों के लिए मुश्किल हो रहा है। इसमें भी सबसे अधिक समस्या बुजुर्गों को हो रही है।

अकेले रहने वाले लोगों को हो रही अधिक परेशानी

कई लोग ऐसे भी हैं, जो काम-काज के लिए घर से दूर अकेले जीवन व्यतीत कर रहे थे और लॉकडाउन के कारण वे उसी स्थान पर फंसे हुए हैं। काम-काज के समय उनका दिमाग व्यस्त रहता था, लेकिन लॉकडाउन में खाली बैठने के कारण उनके दिमाग में तरह-तरह की बातें आने लगी हैं। इससे उनको चिंता, तनाव जैसा महसूस होने लगा है।

कोविड-19 के कारण अकेलापन महामारी-coronavirus ke karan akelapan mahamari

ये भी पढ़ेंः कोरोना के पेशेंट को क्यों पड़ती है वेंटिलेटर की जरूरत, जानते हैं तो खेलें क्विज

तनाव, चिंता और डिप्रेशन के शिकार हो रहे लोग

नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज के अनुसार, कोविड-19 के कारण बुजुर्गों में अकेलापन महामारी जैसी समस्या पैदा हो सकती है। एकेडमी ने अकेलेपन के कारण बुजुर्गों को होने वाली समस्याओं पर अपनी रिपोर्ट दी है। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि अकेलेपन के कारण बुजुर्गों को तनाव, चिंता और डिप्रेशन जैसी समस्याएं हो रही हैं। इसके साथ ही इम्यूनिटी पावर में कमी, सूजन और हृदय रोग संबंधी परेशानियां भी होने लगी हैं।

कोविड-19 के कारण अकेलेपन की समस्या : समय से पहले मृत्यु होने की आशंका

नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज ने यह भी कहा कि सोशल आइसोलेशन के कारण लोग बीमार हो सकते हैं और इससे समय से पहले उनकी मृत्यु हो सकती है। नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज ने बातया कि लोगों को सोशल आइसोलेशन के कारण ये बीमारियां हो सकती हैंः-

  • कोविड-19 की वजह से अकेलेपन की समस्या बढ़ी, तो इससे डिमेंशिया होने की संभावना 50 प्रतिशत तक बढ़ सकती है।
  • अगर कोरोना वायरस अकेलापन का कारण बना, तो इससे कोरोनरी हृदय रोग का खतरा 29 प्रतिशत तक बढ़ सकता है।
  • अगर कोविड-19 अकेलापन महामारी का कारण बना, तो इससे कैंसर हो सकता है और कैंसर के कारण होने वाली मृत्यु दर में 25 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हो सकती है।
  • अगर कोरोना वायरस अकेलापन का कारण बना, तो इससे लोगों के स्वास्थ्य में 59 प्रतिशत तक की गिरावट हो सकती है।
  • इतना ही नहीं, कोविड-19 के कारण होने वाले अकेलापन महामारी के कारण 32 प्रतिशत स्ट्रोक का जोखिम भी बढ़ जाता है।

ये भी पढ़ेंः सोशल डिस्टेंसिंग को नजरअंदाज करने से भुगतना पड़ेगा खतरनाक अंजाम

कोविड-19 के कारण अकेलापन महामारी : आर्थिक मंदी के कारण सामाजिक मंदी

विशेषज्ञों का कहना है कि नोवल कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए लोगों को क्वारंटाइन में रहना जरूरी है, क्योंकि इससे ही उनके जीवन की सुरक्षा हो सकती है, लेकिन यह सामाजिक मंदी का कारण भी बन सकता है। कोरोना वायरस के कारण सारी चीजें बंद होने के कारण समाज में आर्थिक मंदी का माहौल पैदा होगा और इससे सामाजिक मंदी की स्थिति उत्पन्न भी हो सकती है।

कोरोना वायरस के कारण अकेलापन : वर्क फ्रॉम होम से उबने लगे लोग

नोवल कोरोना वायरस के कारण लोगों को घर से काम करने की छूट मिली हुई है। शुरुआत में लोगों को यह छूट बहुत अच्छी लग रही थी, लेकिन धीरे-धीरे लोग इससे उबने लगे हैं और फिर से पुरानी जीवनशैली अपनाना चाह रहे हैं। अपने जीवन की गाड़ी को वापस पटरी पर लाना चाह रहे हैं। विशेष रूप से बुजुर्ग लोगों को यह समय सबसे अधिक तकलीफ दे रहा है और उनके कोविड-19 के कारण अकेलापन महामारी के शिकार होने की संभावना बढ़ती जा रही है।

कोविड-19 के कारण अकेलापन महामारी-coronavirus ke karan akelapan mahamari

ये भी पढ़ेंः पालतू जानवरों से कोरोना वायरस न हो, इसलिए उनका ऐसे रखें ध्यान

कोविड-19 के कारण अकेलापन महामारी : घर में नहीं कट रहा लोगों का समय

नोवल कोरोना वायरस महामारी से पहले अधिकांश बुजुर्ग जैसे दादा-दादी, नाना-नानी की जिंदगी बहुत सामान्य हुआ करती थी। वे घूमने-फिरने के लिए बाजार जाया करते थे, अपने दोस्तों से मिलते थे और व्यस्त रखने के लिए पार्क जाते थे। इस समय वे अपने घर की चारदीवारों में बंद हैं। ऐसे में यह संभावना अधिक है कि इन लोगों के लिए कोविड-19 अकेलापन महामारी का कारण न बन जाए।

बुजुर्गों को अहमियत दें और उनका मन बहलाएं

अभी कोविड-19 के कारण जो अकेलापन महामारी जैसी बन गई, उससे निपटने के लिए घर के दूसरे सदस्यों को आगे आना चाहिए और बुजुर्गों का अकेलापन दूर करना चाहिए। बुजुर्गों को इस समय आपकी सबसे अधिक जरूरत है। इसलिए एक-दूसरे का ख्याल रखें। बुजुर्गों को अहमियत दें और उनका मन बहलाएं, ताकि इनके लिए कोरोना वायरस अकेलापन महामारी का कारण न बन जाए।

कोविड-19 के कारण अकेलापन महामारी-coronavirus ke karan akelapan mahamari

कोविड-19 के कारण अकेलापन महामारी : लॉकडाउन में मनोरंजन के सभी साधन बंद

अभी तक कोरोना बीमारी पर नियंत्रण नहीं पाया जा सका है और इससे मरने वालों की संख्या बढ़ती जा रही है। पूरे भारत में सभी मॉल, थिएटर बंद हैं। सार्वजनिक या निजी सेवाएं या स्थान पूरी तरह से बंद हैं। लोगों को केवल आपातकालीन स्थिति में अपने घरों से बाहर निकलने की सलाह दी गई है। ऐसे में सभी लोगों का घर पर रहना बहुत जरूरी है, क्योंकि इससे ही उनकी रक्षा हो सकती है।

आशा है कि जल्द ही लोगों को कोरोना महामारी से निजात मिलेगी और जल्द स्थितियां सुधरेंगी।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

और पढ़ेंः

कोरोना वायरस से दूर रखेगा इम्यूनिटी बढ़ाने वाले फूड का सेवन

अमेरिका में ढूंढ़ा जा रहा कोविड-19 का इलाज: जानें कितनी मिली कामयाबी

कोविड-19 के इलाज के लिए 100 साल पुरानी पद्धति को अपना रहे हैं डॉक्टर, जानें क्या है प्लाज्मा थेरेपी

कोरोना से बचाने में मददगार साबित होंगे ये आयुर्वेदिक उपाय, मोदी ने किए शेयर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
लेखक की तस्वीर badge
Suraj Kumar Das द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x