home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कोरोना महामारी में हर्बल उपचार करना कितना सुरक्षित है, जानिए यहां

कोरोना महामारी में हर्बल उपचार करना कितना सुरक्षित है, जानिए यहां

19अक्सर लोग जुकाम-खांसी के लिए घरेलू उपचार या फिर हर्बल उपचार की मदद लेते हैं। हर्बल उपचार की सहायता से बैक्टीरिया या फिर वायरस के इंफेक्शन को ठीक करने में सहायता मिलती है। कॉमन कोल्ड, इंफ्लुएंजा, फीवर आदि को ठीक करने में हर्बल उपचार फायदेमंद साबित होते हैं। फिलहाल कोरोना महामारी के कारण दुनियाभर के लोग परेशान है। ऐसे में ये प्रश्न उठ रहा है कि क्या कोरोना महामारी में हर्बल का यूज फायदेमंद है या फिर नहीं। हर्बल से कोविड-19 का इलाज करने के दौरान अमेरिका में कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। लो क्वालिटी नैचुरल रेमिडीज का यूज शरीर के लिए हानिकारक भी हो सकता है। कई बार हर्बल का सही यूज न किए जाने पर साइटोकाइन स्टॉर्म की समस्या भी हो सकती है। इस आर्टिकल के माध्यम से जानिए कि कैसे हर्बल का यूज किस तरह से फायदेमंद और शरीर को नुकसान पहुंचाने वाला साबित हो सकता है।

कोरोना महामारी में हर्बल का यूज: पर्याप्त डाटा नहीं है मौजूद

कोरोना महामारी में हर्बल का यूज फायदेमंद है या फिर नहीं, इसे लेकर दुनियाभर के हर्बल जानकार प्रयोग कर रहे हैं। हर्बल से कोविड-19 का इलाज करने के लिए चीन के हेल्थ ऑफिसर ने अल्टरनेटिव मेडिसिन (ट्रेडीशनल और हर्बल रेमिडीज) की खोज की है जो कि रेस्पिरेट्री इंफेक्शन से पीड़ित व्यक्तियों को राहत पहुंचाने का काम कर रही है। वैसे तो बड़ी बीमारी के लिए हर्बल उपचार बेहतरीन उपाय नहीं माना जा सकता है। इस बारे में फिलहाल पर्याप्त डाटा भी मौजूद नहीं है। आपको बताते चले कि कोरोना का सामना करने के लिए देश के प्रधानमंत्री ने आयुर्वेदिक उपाय अपनाने की बात कही थी। कुछ आयुर्वेदिक उपाय अपनाकर शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाई जा सकती है।

और पढ़ें : नोवल कोरोना वायरस संक्रमणः बीते 100 दिनों में बदल गई पूरी दुनिया

कोरोना महामारी में हर्बल का यूज: कुछ रिजल्ट पॉजिटिव

हजारों सालों से कुछ हर्बल जैसे कि मुलेठी( licorice),अदरक और एफेड्रा (ephedra)आदि जड़ी-बूटियों का प्रयोग सांस संबंधि बीमारी, निमोनिया आदि के निपटने के लिए किया जाता रहा है। वहीं कुछ उपाय जैसे कि फोरसाइथिया (forsythia) का परिक्षण किया गया और अध्ययन के बाद इफेक्टिव रिजल्ट भी सामने आए। इस बारे में कुछ लोगों ने दावा किया है कि उनको हर्बल मेडिसिन ने बहुत राहत पहुंचाई है। साथ ही कोविड-19 बीमारी के लक्षणों में भी सुधार हुआ है। वहीं इस बारे में स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने कहा कि हर्बल से कोविड-19 का इलाज हो सकता है या फिर नहीं, इस बारे में कहना मुश्किल है, क्योंकि हमारे पास इस बारे में पर्याप्त डाटा मौजूद नहीं है। हर्बल दवाओं का यूज मजबूत इम्यूनिटी के लिए किया जा सकता है। मजबूत इम्यूनिटी कोरोना वायरस से लड़ने में मददगार साबित होती है।

हर्बल से कोविड-19 का इलाज : सभी वायरस की संरचना होती है अलग

इरविन के कैलिफोर्निया में इंटीग्रेटिव मेडिकल ग्रुप ऑफ इरविन के संस्थापक और निदेशक डॉ. फेलिशिया गेर्श (Dr. Felicia Gersh) ने कहा कि कुछ हर्ब कोरोना के लक्षणों में राहत देने का काम कर रही हैं। उन्होंने ये भी कहा कि भविष्य में हर्बल उपचार की सहायता से कोरोना से निपटने में अधिक संभावना जताई जा सकती है। इस बारे में माइक्रोबायोलॉजी की असिस्टेंट रिसर्च प्रोफेसर जेफरी लैंगलैंड कहती हैं कि कोरोना वायरस एक खतरनाक वायरस है। सभी वायरस की संरचना अलग होती है। भले ही सीजनल फ्लू, माइल्ड कोल्ड और सांस संबंधि बीमारी के लिए कुछ हर्बल मेडिसिन पॉजिटिव रिजल्ट दिखाती हो, लेकिन कोरोना वायरस के लिए हर्बल उपचार सौ प्रतिशत सही है, ये कहना फिलहाल मुमकिन नहीं है।

और पढ़ें : कोरोना वायरस के लक्षण तेजी से बदल रहे हैं, जानिए कोरोना के अब तक विभिन्न लक्षणों के बारे में

कोरोना महामारी में हर्बल का यूज: इम्यून सपोर्टिव प्रॉपर्टी की हो रही है जांच

एक पौधे के कई भाग होते हैं, जिनसे जड़ी बूटिया बनाई जाती हैं। तना, जड़, फूल और पत्ती आदि का अगर अध्ययन किया जाए तो यकीनन कुछ रोचक परिणाम आ सकते हैं। हर्बल मेडिसिन का यूज सीजनल फ्लू, बुखार और खांसी के लिए सेफ इसलिए माना जाता है कि क्योंकि बड़ी संख्या में लोगों को इससे राहत मिलती है। वहीं कोरोना वायरस के इलाज के लिए इसे इसलिए सेफ नहीं कहा जा सकता है क्योंकि इसके लिए अध्ययन करने का समय चाहिए। साथ ही परिणाम भी बेहतर होने चाहिए। फिलहाल लैंगलैंड के साथ 30 लोगों की टीम हर्बल मेडिसिन को लेकर रिसर्च कर रही है और इस बात का पता लगाने की कोशिश कर रही है कि कोविड-19 से निपटने के लिए हर्बल मेडिसिन कारगर होंगी या फिर नहीं। जांच के वक्त देखा जाता है कि हर्बल में एंटीवायरल और इम्यून सपोर्टिव प्रॉपर्टी है या फिर नहीं।

और पढ़ें : कोरोना का असरः वर्क फ्रॉम होम से परिवारों में होने लगी खटपट!

हर्बल के हो सकते हैं दुष्प्रभाव , फिलहाल नहीं है सुरक्षित

चीन के अधिकारियों ने कोरोना महामारी में हर्बल का यूज को लेकर शंका भी जताई है। चीन के अधिकारियों के अनुसार मुलेठी( licorice)का यूज हर्पीस वायरस के खात्मे के लिए प्रभावी उपचार माना जाता है। जब मुलेठी का यूज किया जाता है तो ये भले ही वायरस को रेप्लीकेट होने से रोक देता हो लेकिन ये शरीर में एल्डोस्टेरोन हार्मोन को सक्रिय कर देता है जिससे हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाती है। इसी प्रकार से अगर कोरोने के पेशेंट में हर्बल मेडिसिन के कारण हाई ब्लड प्रेशर की समस्या हो जाती है तो ये घातक हो सकता है। सभी का शरीर अलग होता है और हर्बल मेडिसिन लेने के बाद घातक असर भी देखने को मिल सकते हैं। कई बार हर्बल दवाएं जो कि बाजार में उपलब्ध हैं, वो निम्न गुणवत्ता वाली होती है। इसलिए कोरोना महामारी में हर्बल का यूज करना सुरक्षित उपाय नहीं कहा जा सकता है।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

 

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Herbal Remedies and COVID-19: What to Know: https://www.healthline.com/health-news/herbal-remedies-covid-19-what-to-know#There-could-be-unwanted-side-effects Accessed on 30/4/2020

In the News: Coronavirus and “Alternative” Treatments : https://www.nccih.nih.gov/health/in-the-news-coronavirus-and-alternative-treatments Accessed on 30/4/2020

Coronavirus: Herbal remedies in India and other claims fact-checked:https://www.bbc.com/news/world-asia-india-51910099 Accessed on 30/4/2020

China is encouraging herbal remedies to treat COVID-19. But scientists warn against it: https://www.nbcnews.com/news/world/china-encouraging-herbal-remedies-treat-covid-19-scientists-warn-against-n1173041 Accessed on 30/4/2020

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x