home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

संक्रमण से बचाव के लिए इन बातों का रोजाना रखें ध्यान, बच्चों के खिलौनों को न करें इग्नोर

संक्रमण से बचाव के लिए इन बातों का रोजाना रखें ध्यान, बच्चों के खिलौनों को न करें इग्नोर

कोरोना महामारी के दौरान आपके घर के आसपास, ऑफिस या फिर मोहल्ले में कोई भी व्यक्ति संक्रमण से ग्रस्त जरूर होगा। कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। ऐसे में कोरोना संक्रमण के दौरान सफाई पर ध्यान देना बहुत जरूरी है। अगर आपको लग रहा है कि घर के अंदर किसी भी तरह से संक्रमण नहीं पहुंच सकता है तो आप गलत हैं क्योंकि घर के बाहर की चीजों का इस्तेमाल (ग्रोसरी,सब्जी) करने के दौरान कब वायरस आपके घर के अंदर प्रवेश कर जाए, आपको पता भी नहीं लगेगा। बेहतर होगा कि कुछ बातों का ध्यान रोजाना रखें। सीडीसी (Centers for Disease Control and Prevention) ने जर्म्स से निपटने के लिए कुछ सुझाव दिए हैं। इन सुझावों पर अगर ध्यान दिया जाए तो कोरोना संक्रमण से बचा जा सकता है।

यह भी पढ़ें: भारत में कम्युनिटी ट्रांसमिशन की जानकारी गलत, जानें क्या है इसका मतलब

कोरोना संक्रमण के दौरान सफाई : हाथों से करें शुरुआत

सीडीसी के अनुसार, संक्रमण के दौरान हैंड वॉशिंग वैक्सीन की तरह काम करता है। जब से कोरोना वायरस का संक्रमण फैला है, तब से ही सरकार लोगों से अपील कर रही है कि समय-समय पर अपने हाथों को साबुन या फिर सैनिटाइजर की मदद से साफ करें। संक्रमण से बचने के लिए फैमिली के सभी मेंबर्स हाथों को नियमित रूप से साफ रखें। ऐसा करने से संक्रमण पूरी तरह से खत्म नहीं होता है लेकिन संक्रमण बढ़ने का खतरा जरूर कम हो जाता है। सैनिटाइजर का यूज (60 प्रतिशत एल्कोहॉल के साथ) करें चाहे साबुन का, लेकिन हाथों की सफाई बहुत जरूरी है।

यह भी पढ़ें: क्या हवा से भी फैल सकता है कोरोना वायरस, क्या कहता है WHO

कोरोना संक्रमण के दौरान सफाई : सतह को रखें साफ

घर की सतह में संक्रमण आसानी से फैल सकता है। ज्यादातर लोगों को इस बारे में जानकारी नहीं है वो घर के सर्फिस को साफ करने के बारे में नहीं सोचते हैं। घर की सतह को साफ करने के लिए क्लीनिंग क्लोथ और स्क्रबर का यूज करें और डोर हैंडल, टेबल, लाइट के स्विच, फ्रिज के हैंडल आदि को साफ साफ करें। आप जिस भी कीटाणुनाशक का यूज कर रहे हैं, उसका ईपीए रजिस्ट्रेशन लेबल होना जरूरी है। कहने का साफ मतलब है कि घर में सर्फिस आदि को साफ करने के लिए वॉशिंग पाउडर आदि का इस्तेमाल न करें। बल्कि कीटाणुनाशक क्लीनर का इस्तेमाल करें। कीटाणुनाशक का काम जर्म्स को दूर करना नहीं बल्कि उसे पूरी तरह से खत्म करना है। कोरोना महामारी से बचने के लिए नियमित सफाई बहुत जरूरी है।

यह भी पढ़ें: अगर जल्दी नहीं रुका कोरोना वायरस, तो ये होगा दुनिया का हाल

जर्म्स से बचने के उपाय :बच्चों के खिलौनों को न करें इग्नोर

संक्रमण के दौरान घर की सफाई के साथ ही बच्चों के टॉय को साफ करना भी बहुत जरूरी है। बच्चे अक्सर खिलौनों को मुंह में डालते हैं। संक्रमण मुंह के जरिए आसानी से फैल सकता है इसलिए बहुत जरूरी है कि बेबी टॉय को अच्छी तरह से साफ किया जाए। ध्यान रखें कि बैटरी वाले खिलौनों को गीला न करें। आप बिना बैटरी वाले खिलौनों को वॉशिंग मशीन में भी साफ कर सकती हैं। बच्चे जिन भी वस्तुओं से खेल रहे हैं, ध्यान रखें कि उन्हें मुंह में न डाले। कोरोना संक्रमण के दौरान सफाई के दौरान ढिलाई न बरतें।

यह भी पढ़ें: अगर आपके आसपास मिला है कोरोना वायरस का संक्रमित मरीज, तो तुरंत करें ये काम

कोरोना संक्रमण के दौरान सफाई : क्लीनिंग क्लोथ का भी रखें ध्यान

आप घर की सतह की सफाई के दौरान जिस भी क्लोथ का इस्तेमाल करते हैं, क्या उसकी सफाई का ध्यान रखते हैं ? एक बात ध्यान रखें कि साफ कपड़े से ही सफाई होती है। अगर आप गंदे कपड़े का यूज करेंगे तो सर्फिस कभी भी जर्म्स फ्री नहीं हो पाएगा। गर्म पानी में वॉशिंग पाउडर डालकर क्लीनिंग क्लोथ को साफ करें और साथ ही धूप में दो से तीन घंटे तक रोजाना सुखाएं। स्क्रबर की सफाई का भी पूरा ध्यान रखें। कोरोना वायरस का संक्रमण घर के बाहर से अंदर आसानी से पहुंच सकता है। ये प्लास्टिक सर्फिस के साथ ही अन्य सर्फिस में भी जिंदा रहता है। बेहतर होगा कि हाइजीन का पूरा ध्यान रखें।

जर्म्स से बचने के उपाय : अच्छी तरह से पकाए खाना

एक बात ध्यान रखें कि कोरोना महामारी के दौरान न सिर्फ साफ-सफाई का ध्यान रखना है बल्कि खाने को भी जर्म्स फ्री रखना है। खाना हमेशा ताजा बनाकर ही खाएं। बाजार से जब सब्जियों को खरीद कर लाएं, उन्हें अच्छी तरह से धो लें। खाना को अच्छी तरह से पका कर खाएं। अधिक टेम्परेचर में खाने के जर्म्स नष्ट हो जाते हैं। साथ ही कोरोना माहामारी के दौरान ऐसे फूड का सेवन करें, जो इम्यूनिटी को बढ़ाने का काम करते हैं। पांच से छह घंटे तक रखे हुए खाने में जर्म्स पनपने का खतरा रहता है। बेहतर होगा कि ताजा बना खाना ही खाएं और दूसरों को भी इस बारे में जानकारी दें।

जर्म्स से बचने के उपाय : टूथब्रश का भी रखें ध्यान

अगर आपके घर में किसी भी व्यक्ति को कोरोना का संक्रमण हो चुका है और वो अब ठीक हो चुका है तो भी आपको सतर्क रहने की जरूरत है। कोरोना का संक्रमण मुंह की लार और ड्रापलेट से आसानी से फैलता है। ऐसे समय में बाथरूम की सफाई के साथ ही ब्रश की सफाई भी बहुत जरूरी है। बेहतर होगा कि एक ही स्थान में सभी लोगों के ब्रश न रखें। घर के सभी सदस्य अपने ब्रश को साफ स्थान में रखें। ब्रश यूज करने से पहले उसे गर्म पानी से साफ जरूर कर लें। लंबे समय तक एक ही ब्रश का यूज न करें।

कोरोना के संक्रमण से बचने के लिए हाइजीन का ख्याल रखने के साथ ही रेगुलर मेडिकेशन का भी ध्यान रखें। अगर आप कोई दवा लगातार ले रहे हैं तो बेहतर होगा कि उसे छोड़े न। साथ ही अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क जरूर करें। हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

और पढ़ें :-

कोरोना के दौरान सोशल डिस्टेंस ही सबसे पहला बचाव का तरीका

कोविड-19 है जानलेवा बीमारी लेकिन मरीज के रहते हैं बचने के चांसेज, खेलें क्विज

ताली, थाली, घंटी, शंख की ध्वनि और कोरोना वायरस का क्या कनेक्शन? जानें वाइब्रेशन के फायदे

कोराना के संक्रमण से बचाव के लिए बार-बार हाथ धोना है जरूरी, लेकिन स्किन की करें देखभाल

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/06/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x