ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली मॉम्स में पोषक तत्वों की कमी को पूरा कर सकते हैं ये प्रोटीन बार्स!

    ब्रेस्टफीडिंग कराने वाली मॉम्स में पोषक तत्वों की कमी को पूरा कर सकते हैं ये प्रोटीन बार्स!

    हेल्दी डायट की जरूरत हमेशा होती है, लेकिन ब्रेस्टफीडिंग (Breastfeeding) के दौरान पोषक तत्वों से युक्त डायट लेना बेहद जरूरी हो जाता है क्योंकि इस दौरान एनर्जी और पोषक तत्वों की जरूरत ज्यादा होती है। इसलिए ब्रेस्टफीडिंग डायट (Breastfeeding Diet) में प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन और विटमिन्स का समावेश होना चाहिए। पोषक तत्वों की इस जरूरत को प्रोटीन बार पूरा कर सकते हैं। इनमें प्रोटीन के साथ ही दूसरे आवश्यक पोषक तत्व भी शामिल होते हैं। साथ ही ये लैक्टेशन में भी मदद करते हैं। नर्सिंग मॉम्स के लिए प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms) अच्छा विकल्प हो सकते हैं।

    नर्सिंग मॉम्स के लिए प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms)

    इस आर्टिकल में नर्सिंग मॉम्स के लिए 6 प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms) के बारे में जानकारी दी जा रही है। इन बार्स की खासियत ये है कि ये नैचुरल इंग्रीडिएंट से तैयार किए गए हैं। इन्हें अपने डायट में शामिल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

    और पढ़ें: कोरोना वायरस महामारी के दौरान न्यू मॉम के लिए ब्रेस्टफीडिंग कराने के टिप्स

    1.न्यूट्रिजॉइ लैक्टोबाइट्स (Nutrizoe Lactobites)

    नर्सिंग मॉम्स के लिए प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms) न्यूट्रिएंट प्राप्त करने का अच्छा ऑप्शन साबित हो सकता है। न्यूट्रिजॉइ लैक्टोबाइट्स बार नैचुरल तत्वों से तैयार की गई है। कंपनी का दावा है कि प्लांट बेस्ड प्रोटीन (Plan based Protein) पाया जाता है। इसमें बादाम और कद्दू के बीजों का उपयोग होता है जो कि प्रोटीन, कैल्शियम और पोटेशियम का अच्छा सोर्स हैं। साथ ही इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा शामिल करने के लिए ब्लैकबेरीज और क्रेनबेरीज का उपयोग किया जाता है। इसमें पाए जाने वाले खजूर और हलीम के बीज आयरन की कमी को पूरा करते हैं।

    यह प्रेग्नेंसी के बाद होने वाले पीठ दर्द में भी राहत प्रदान करता है। इसमें बेरीज, ओट्स, पालक, शतावरी, दालचीनी, अदरक, हल्दी, गोंद, घी, शहद, नारियल और ग्लिसरीन पाया जाता है। दिन में एक से दो बार ब्रेस्टफीडिंग करने वाली महिलाएं ले सकती हैं। ये ब्रेस्ट मिल्क (Breast Milk) को बढ़ाने में भी मदद करती है। एक पैकेट में दस बार आती हैं। जिनकी ऑनलाइन कीमत 928 रुपए है।

    और पढ़ें: मां की परेशानी होगी दूर, क्योंकि ये ब्रेस्ट मिल्क बूस्टर सप्लिमेंट्स करेंगे मदद

    2.लैक्टो बार (Lacto bar)

    नर्सिंग मॉम्स के लिए प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms) का उपयोग से पोषक तत्वों की पूर्ति के साथ ही मिल्क सप्लाई में भी मदद कर सकता है। लैक्टो बार इनमें से ही एक है। इसमें हल्दी, शतावरी जैसे हर्ब पाए जाते हैं। यह ग्लूटेन फ्री (Gluten Free) है और पूरी तरह वेजिटेरियन प्रोडक्ट है। इसके साथ ही ये प्रोडक्ट कोलेस्ट्रॉल फ्री (Cholesterol free) भी है। इसमें प्रोटीन के साथ ही विटामिन्स भी पाए जाते हैं।

    यह चॉकलेट और ब्लूबेरी फ्लेवर में उपलब्ध है। कंपनी का दावा है कि इसमें एडेड शुगर और प्रिजर्वेटिव्स का उपयोग नहीं किया गया है। 6 बार वाले पैकेट की कीमत 449 रुपए है।

    नर्सिंग मॉम्स के लिए प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms)

    3.मॉम्स बार (Mom’s Bar)

    नर्सिंग मॉम्स के लिए प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms) को डायट में शामिल कर जरूरी पोषक तत्व प्राप्त कर सकती हैं। मॉम्स बार नई मां के लिए लैक्टेशन (Lactation) में मदद करने के साथ ही स्ट्रेंथ प्रदान करती है। इसमें खजूर, शहद, नारियल, किशमिश, सीसेम सीड्स, खरबूजे के बीज, बादाम, सौंफ, मैंथी, दालचीनी से हर्बल इंग्रीडिएंट पाए जाते हैं। प्रोटीन की मात्रा होने के साथ ही इसमें फाइबर (Fiber) भी पाया जाता है।

    यह कोलेस्ट्रॉल, ट्रांस फैटी एसिड और एडेड शुगर फ्री प्रोडक्ट है। यह पंजीरी कोकोनट और पंजीरी इलायचीफ्लेवर में उपलब्ध है। 6 बार वाले एक पैकेट की ऑनलाइन कीमत 568 रुपए है।

    और पढ़ें: ब्रेस्टफीडिंग बनाम फॉर्मूला फीडिंग: क्या है बेहतर?

    4.शावरी बार (Shaavari Bar)

    नर्सिंग मॉम्स के लिए प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms) सर्च कर रहे हैं तो इस ऑप्शन पर भी एक नजर डाल लें। इस बार को शतावरी, बादाम, मक्खन, काली किशमिश, ओट्स, चॉकलेट और शहद से बनाया जाता है। इसमें कैलोरी, कार्बोहायड्रेड (Carbohydrate) और प्रोटीन (Protein) के साथ ही फाइबर (Fiber) भी पाया जाता है। यह बार विटामिन बी, ई और फोलिक एसिड का अच्छा सोर्स है। ये ब्रेस्ट मिल्क (Breast Milk) को बढ़ाने में भी मदद करती है। इसमें प्रिजर्वेटिव्स और ट्रांस फैट (Trans Fat) नहीं पाया जाता है। 10 बार वाले एक पैकेट की ऑनलाइन कीमत 239 रुपए है।

    5.लैक्टोबाइट्स (Lacto bites)

    न्यूट्रिजॉइ का ही यह दूसरा प्रोडक्ट है। जो नर्सिंग मॉम्स के लिए प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms) की कमी को पूरा कर सकता है। 5 बार वाले पैकेट की ऑनलाइन कीमत 475 रुपए है। इसमें मेंथी, हल्दी, घी, शतावरी, दालचीनी, अदरक, सौंफ, ओट्स, खजूर आदि नैचुरल प्रोडक्ट पाए जाते हैं। यह नई मां को स्ट्रेंथ देने के साथ ही आयरन (Iron), कैल्शियम (Calcium) और प्रोटीन (Protein) का लेवल बढ़ाती है। कंपनी का दावा है कि यह मां और बच्चा दोनों के लिए सेफ है। इसमें आर्टिफिशियल कलर या फ्लेवर का उपयोग नहीं किया गया है। इसमें फाइबर भी मौजूद है। ये ब्रेस्ट मिल्क (Breast Milk) को बढ़ाने में भी मदद करती है।

    6.एक्टुअल (Aktual)

    नर्सिंग मॉम्स के लिए प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms) जरूरी न्यूट्रिएंट को प्राप्त करने का आसान तरीका है। एक्टुअल बार प्रोटीन के साथ ही कार्बोहायड्रेट, फाइबर (Fiber) और कैलोरीज (Calories) भी पाई जाती है। यह कोलेस्ट्रॉल फ्री प्रोडक्ट है। इसमें एडेड शुगर भी नहीं है। नट्स (Nuts) और सीड्स (Seeds) का उपयोग करके इसको बनाया जाता है। यह प्रोडक्ट ग्लूटेन फ्री है और कंपनी का दावा है कि सौ प्रतिशत ऑर्गनिक है। खजूर, व्हे प्रोटीन, काजू, क्रेनबैरीज, कोको पाउडर, सी साल्ट का उपयोग इसमें होता है। इसमें नैचुरल फ्लेवर एड किया जाता है। इसके दस बार वाले एक पैकेट की कीमत 100 रुपए है।

    और पढ़ें: ऑन-डिमांड ब्रेस्टफीडिंग कराने के हैं ये बड़े फायदे

    नोट: यहां बताए गए किसी भी प्रोडक्ट का उपयोग डॉक्टर की सलाह पर करें। सभी को ये प्रोडक्ट्स सूट करें ये जरूरी नहीं है। हमारा उद्देश्य किसी ब्रांड का प्रचार करना नहीं अपने पाठकों तक जानकारी पहुंचाना है। साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि यहां बताई गई कीमतों में जहां से आप ये प्रोडक्ट करते हैं उसके आधार पर अंतर हो सकता है।

    ब्रेस्टफीडिंग के दौरान क्या खाना अवॉइड करना चाहिए? (Foods to avoid durging Breastfeeding)

    कुछ ऐसे सुबूत मिले हैं कि कुछ निश्चित फूड्स बच्चों के बेबी को प्रभावित कर सकते हैं और डायरिया या कोलिक का कारण बन सकते हैं। कैफीन ब्रेस्ट मिल्क में पास होती है। इसलिए अधिक मात्रा में चाय कॉफी, और कोला ड्रिंक्स का उपयोग नहीं करना चाहिए। कम मात्रा में कैफीन का उपयोग करने से नुकसान नहीं होता है। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान वजन घटाने के लिए स्ट्रिक डायट को फॉलो नहीं करना चाहिए। इस दौरान पोषक तत्वों से युक्त भोजन के साथ ही पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं।

    उम्मीद करते हैं कि आपको नर्सिंग मॉम्स के लिए प्रोटीन बार्स (Protein bars for nursing moms) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. प्रणाली पाटील

    फार्मेसी · Hello Swasthya


    Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 23/12/2021

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement