home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स के फायदे और नुकसान जानने के लिए करें बस एक क्लिक!

ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स के फायदे और नुकसान जानने के लिए करें बस एक क्लिक!

हर व्यक्ति के लिए न्यूट्रिएंट्स की सही मात्रा लेना जरूरी है। इन न्यूट्रिएंट्स में विटामिन्स का नाम भी आता है। शिशु की ग्रोथ और डेवलपमेंट के लिए भी विटामिन्स को बहुत आवश्यक माना जाता है। अगर आप एक हेल्दी मॉम हैं और संतुलित आहार का सेवन करती है। इसके साथ ही सही मात्रा में प्रीनेटल विटामिन भी लेती हैं, तो आपके ब्रेस्टमिल्क में अधिकांश विटामिन मौजूद हो सकते हैं, लेकिन कई बार फिर भी ब्रेस्टमिल्क में पर्याप्त मात्रा में विटामिन नहीं होते, जिनकी जरूरत शिशु को होती है। आज हम बात करने वाले हैं ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) के बारे में। जानिए, ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) के फायदों के बारे में। सबसे पहले जानते हैं कि विटामिन सी (Vitamin C) क्या है?

विटामिन सी क्या है? (Vitamin C)

विटामिन सी वाटर सॉल्युबल (Water soluble) और एक जरूरी एंटीऑक्सीडेंट हैं, जिनकी जरूरत हर किसी को होती है। यह फलों और सब्जियों में पाया जाता है। यह आयरन को एब्जॉर्ब करने में मददगार है, जिससे हमारे सेल्स हेल्दी बनते हैं। इसके साथ ही विटामिन सी (Vitamin C) घाव और टिश्यूज को हील करने में भी मददगार है। लेकिन, हमारा शरीर विटामिन को स्वयं प्रोड्यूस नहीं कर पाता है, इसलिए इसके लिए फलों और सब्जियों का सेवन करने की सलाह दी जाती है ताकि आप इसके सभी लाभों को प्राप्त कर सकें। विटामिन सी (Vitamin C) कई समस्याओं के उपचार में भी लाभदायक है जैसे थकावट, इंफेक्शंस और यहां तक की कैंसर भी। विटामिन सी कमी के कारण कई परेशानियां हो सकती हैं जिनमें से स्कर्वी (Scurvy) मुख्य है।

गर्भावस्था और ब्रेस्टफीडिंग के दौरान विटामिन सी का प्रयोग बेहद लाभदायक माना जाता है। हालांकि, फलों, सब्जियों और सही डायट आदि से पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी को प्राप्त किया जा सकता है। लेकिन, डॉक्टर गर्भावस्था और ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) लेने की सलाह भी दे सकते हैं। जानिए, ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) के बारे में।

और पढ़ें: शिशु को स्तनपान कैसे और कितनी बार कराएं, जान लें ये जरूरी बातें

ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding)

अधिकतर लोग विटामिन सी (Vitamin C) को सही डायट यानी फल और सब्जियों के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन, कई लोगों को विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C Supplements) की सलाह भी दी जा सकती है। विटामिन सी (Vitamin C) को एस्कोर्बिक एसिड (ascorbic acid) भी कहा जाता है, जो हमारे शरीर के लिए बेहद फायदेमंद है। नेशनल इंस्टीटूट्स ऑफ़ हेल्थ (National Institutes of Health) के अनुसार हालांकि विटामिन सी डेफिशियेंसी की समस्या दुर्लभ है। क्योंकि, अधिकतर लोग इसे सही डायट के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन, जिन लोगों में इसकी कमी होती है या अगर किन्हीं स्थितियों में इसकी कमी हो जाए तो डॉक्टर इन सप्लिमेंट्स की सलाह दे सकते हैं जैसे ब्रेस्टफीडिंग में।

इन सप्लिमेंट्स को तभी लेने की राय दी जाती है अगर डॉक्टर से इसे लेने के लिए कहा हो। अब जानिए ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) के फायदों बारे में।

और पढ़ें: विभिन्न प्रसव प्रक्रिया का स्तनपान और रिश्ते पर प्रभाव कैसा होता है

ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स के फायदे (Benefits of Vitamin C supplements in Breastfeeding)

विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C Supplements) कई लोगों के लिए फायदेमंद होते हैं। जब बात ब्रेस्टफीडिंग की आती है तो इस स्थिति में भी इसे फायदेमंद माना जाता है। ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) के फायदे इस प्रकार हैं:

मिल्क सप्लाई में बढ़ोतरी (Increase in Milk Supply)

अगर प्रसव के बाद महिला मिल्क सप्लाई में समस्या का अनुभव कर रही है, तो यह सप्लीमेंट उनके काम आ सकता है। यदि आप इस सप्लिमेंट्स को नियमित रूप से भी लेते हैं, तो मिल्क-फ्लो काफी स्थिर हो जाता है। यदि, आपको अपने बच्चे के लिए मिल्क प्रोडक्शन में कोई कठिनाई हो रही है, तो आप अपने डॉक्टर से विटामिन सी के बारे में बात करें और उसकी सलाह लें कि क्या आप इस स्थिति में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C Supplements) को ले सकते हैं या नहीं। अपनी मर्जी से इन्हें लेने से आपको कई नुकसान भी हो सकते हैं।

ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लीमेंट्स

और पढ़ें: स्तनपान से जुड़ी समस्याएं और रीलैक्टेशन इंड्यूस्ड लैक्टेशन

इम्यून सिस्टम होता है मजबूत (Stronger Immune System)

ब्रेस्टफीड कराने वाली माताएं अक्सर बीमार पड़ने से डरती हैं। क्योंकि, यह बीमारी उसके शिशु तक पहुंच सकती है। लेकिन, अगर आप नियमित रूप से विटामिन सी (Vitamin C) लेते हैं, तो आपके शरीर की इंफेक्शन से लड़ने की क्षमता बढ़ती है। यही नहीं, आप इसके फायदों को अपने बच्चे तक भी पास कर सकती हैं।

दांत और हड्डियां होती हैं मजबूत (Strengthens Teeth and Bones)

अगर नर्सिंग मदर विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C Supplements) ले रही हैं, तो उन्हें अपनी टीथ प्रॉब्लम्स और टूटी या इंजर्ड बोनस की फ़िक्र करने की जरूरत नहीं है। यही नहीं, उनके इन सप्लीमेंट को लेने से फायदा शिशु को भी होगा। इनके अलावा भी ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) कई तरीकों से लाभदायक साबित हो सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से बात अवश्य करें। अब जानते हैं कि विटामिन सी (Vitamin C) ब्रेस्ट मिल्क को कैसे प्रभावित करता है?

और पढ़ें: कई महीनों और हफ्तों तक सही से दूध पीने वाला बच्चा आखिर क्यों अचानक से करता है स्तनपान से इंकार

विटामिन सी ब्रेस्ट मिल्क को कैसे प्रभावित करता है?

जब कोई मां अपनी डायट के माध्यम से विटामिन सी (Vitamin C) लेती है, तो कुछ ही देर में उसकी ब्रेस्ट मिल्क में विटामिन की मात्रा बढ़ जाती है। इससे ब्रेस्ट मिल्क सप्लाई भी बढ़ती है। इसके साथ ही इससे ब्रेस्ट मिल्क को एक स्थिर फ्लो मिलने में मदद होती है। यही नहीं, विटामिन सी (Vitamin C) और विटामिन ई (Vitamin E) को एक-साथ लेने से ब्रेस्ट मिल्क पर पॉजिटिव प्रभाव पड़ता है। इससे इनमें एंटीऑक्सीडेंट लेवल में बढ़तरी होती है और इसका फायदा शिशु को भी होता है। जो माताएं हेल्दी और बैलेंस्ड डायट लेती हैं, उन्हें पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी मिलता है। विटामिन सी (Vitamin C) के कुछ अच्छे स्रोत हैं कीवी, साइट्रस फ्रूट्स, बेरीज, हरी पत्तेदार सब्जियां, टमाटर आदि।

इन चीजों का रोजाना सेवन करने से आपको इसकी अपर्याप्त अमाउंट होने के बारे में चिंता करने की ज़रूरत नहीं होगी। डेवलप्ड कंट्रीज में पोषण की कमी एक समस्या नहीं है और आमतौर वहीं की महिलाओं को विटामिन सी सप्लीमेंट (Vitamin C Supplements) की जरूरत नहीं होती, जब तक डॉक्टर उसकी सलाह नहीं देते हैं। लेकिन, अन्य देशों में या ऐसी जगहों पर जहां महिलाएं संतुलित डायट नहीं ले पाती हैं, उन्हें पर्याप्त विटामिन के लिए विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C Supplements) की जरूरत हो सकती है। ताकि, वो हेल्दी रहें और इसके फायदे बच्चे तक भी पहुंचें। अब जानते हैं ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) के साइड इफेक्ट्स के बारे में।

और पढ़ें: स्तनपान में कच्चा पपीता खाने के फायदे और सावधानी

ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स के साइड इफेक्ट्स (Side-effects of Vitamin C supplements in Breastfeeding)

गर्भावस्था और ब्रेस्टफेडिंग की स्थिति में कभी भी डॉक्टर की सलाह के बिना किसी भी दवा, हर्बल उत्पाद या सप्लिमेंट्स को नहीं लेना चाहिए। ऐसा करना मां और शिशु दोनों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। इसके साथ ही इन्हें कितनी मात्रा में लेना चाहिए, इसकी जानकारी भी जरुरी है।एक दिन में विटामिन सी को अधिकतम 2,000 मिलीग्राम लेने की सलाह दी जाती है। हालांकि, इसे आप अधिकतर अपनी सही डायट से पा सकते हैं। लेकिन, बहुत अधिक मात्रा में इसे लेने से बचें। अगर ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) की डोज बहुत अधिक हो तो आपको यह साइड इफेक्ट्स अनुभव हो सकते हैं, जैसे:

यह तो आप समझ ही गए होंगे कि विटामिन सी आपके और आपके बच्चे दोनों के लिए बेहद फायदेमंद है। लेकिन, इसे अधिक मात्रा में लेना खतरनाक हो सकता है। ब्रेस्टफीडिंग के दौरान विटामिन सी का सेवन बेहद सावधानीपूर्वक करना जरूरी है। यही नहीं, विटामिन सी को सप्लिमेंट्स की जगह हेल्दी फ़ूड सोर्सेज के माध्यम से ग्रहण करना एक अच्छा विकल्प है। हालांकि, कई परिस्थितियों में डॉक्टर को यह लग सकता है कि आपको विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C Supplements) की जरूरत है जैसे ब्रेस्टफीडिंग, किसी बीमारी की स्थिति में आदि। ऐसे में कभी भी इसे अपनी मर्जी से न लें, बल्कि डॉक्टर से पूछने के बाद ही इसे लें।

Quiz: स्तनपान के दौरान कैसा हो महिला का खानपान, जानने के लिए खेलें ये क्विज

और पढ़ें: बड़े ब्रेस्ट के साथ स्तनपान कराना नहीं लगेगा मुश्किल, अगर फॉलो करेंगी ये टिप्स

यह तो थी ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) के बारे में जानकारी। विटामिन सी हमारे शरीर में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। यह हमें न केवल इंफेक्शन और सूजन से सुरक्षित रखती है। बल्कि, इसका सेवन त्वचा के लिए भी फायदेमंद है। यह हमें आहार से आयरन को एब्जॉर्ब करने में भी मदद करते हैं। इसलिए, इसकी पर्याप्त मात्रा को पाने के लिए सही आहार का सेवन जरूरी है। जब आप ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं, तो एक हेल्दी डायट से आपके शिशु को भी सही विटामिन मिलेंगे। लेकिन, ऐसे में विटामिन सी सप्लीमेंट (Vitamin C Supplement) भी फायदेमंद साबित हो सकते हैं। अगर आपके मन में ब्रेस्टफीडिंग में विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements in Breastfeeding) को लेकर कोई भी सवाल या चिंता है तो अपने डॉक्टर से इसके बारे में अवश्य पूछें।

अगर आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप हमारे फेसबुक पेज पर भी अपने सवालों को पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Drugs and Lactation Database Vitamin C.https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK544628/ .Accessed on 19/10/21

Nutrition Tips for Breastfeeding Mothers. https://www.ucsfhealth.org/education/nutrition-tips-for-breastfeeding-mothers .Accessed on 19/10/21

Pregnant or Breastfeeding? Nutrients You Need. https://kidshealth.org/en/parents/moms-nutrients.html .Accessed on 19/10/21

Vitamins and Other Nutritional Supplements. https://www.llli.org/breastfeeding-info/vitamins-nutritional-supplements/ .Accessed on 19/10/21

Vitamin C. https://ods.od.nih.gov/factsheets/VitaminC-HealthProfessional/ .Accessed on 19/10/21

Vitamins and minerals. https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/healthyliving/Vitamins-and-minerals

.Accessed on 19/10/21

लेखक की तस्वीर badge
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 20/10/2021 को