बच्चों को जंक फूड से दूर रखने के लिए अपनाएं ये आसान तरीके

Medically reviewed by | By

Update Date मई 21, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
Share now

आजकल सभी पेरेंट्स की चिंता है ‘जंक फूड’। क्योंकि जंक फूड (Junk Food) में हाई कैलोरी के साथ-साथ कई तरह के अनहेल्दी (Unhealthy) चीजें भी होती हैं। ज्यादातर बच्चे फास्ट फूड्स (Fast Food) या जंक फूड्स को ही खाना पसंद करते हैं। हर जगह पिज्जा, बर्गर, आईसक्रीम, पेस्ट्री आसानी से मिल जाता है। बच्चे उसकी आकर्षक सजावट को देख कर खाने की जिद करने लगते हैं। इसलिए हर मां-बाप अपने बच्चे को जंक फूड से दूर रखना चाहता है। इसलिए बच्चे को शुरू से ही जंक फूड से दूर रखें। इसके लिए अपनाएं इस तरह के टिप्स, जैसे कि-

यह भी पढ़ें : जंक फूड वर्सेस हेल्दी फूड

बचपन से ही करें शुरूआत

बच्चे को जब से आप मां के दूध के अलावा ऊपरी आहार देना शुरू करते हैं तब से ही उसे जंक फूड से दूर रखें। जब भी बच्चे के आहार में कोई नया व्यंजन जोड़ें तभी बच्चे को सिखाएं कि ये उसके सेहत के लिए फायदेमंद है। जैसे अगर आपने उसे गाजर दिया तो बच्चे को बताएं कि ये उसकी आंखों के लिए बहुत अच्छा है। लेकिन उसे ये भी बताएं कि नूडल्स उसके सेहत के लिए नुकसानदेह है। ऐसे में बच्चा बचपन से ही हेल्दी खाना खाने पर ध्यान देगा।

बच्चे के लिए रोल मॉडल बनें

बच्चा हमेशा बड़ों को ही देख कर सीखता है। ऐसे में अगर आप हेल्दी फूड्स को हां और जंक फूड्स को ना कहेंगे तो बच्चा भी यही सीखेगा। उदाहरण के तौर पर अगर आप कहीं बाहर जा रहे हैं और वहां के मेन्यू में जंक फूड भी है तो आप सीधे खाने से मना कर दें। साथ ही बच्चे को भी समझाएं कि आप भी नहीं खा रहे हैं, क्योंकि ये एक अनहेल्दी फूड है।

यह भी पढ़ें : जानिए किस तरह हेल्दी इम्यून सिस्टम के लिए जरूरी हैं प्रोबायोटिक्स

अनहेल्दी फूड्स के बारे में बताएं

परिवार में दादा-दादी, चाचा-चाची या अन्य कोई परिजन बच्चे को तरह-तरह की चीजें खाने के लिए देते हैं। लेकिन, आप सभी से बच्चे को जंक फूड से दूर रखने में सहायता मांग सकते हैं। जैसे कि अगर कोई बच्चे को चॉकलेट ऑफर करे तो उसे समझाएं कि उन्हें बच्चे को फल या कोई हेल्दी फूड ऑफर करना चाहिए।

जंक फूड को रिश्वत या इनाम न बनाएं

अक्सर देखा गया है कि पैरेंट्स या परिवार का कोई भी सदस्य बच्चे को कहता है कि अगर तुमने से काम किया तो चॉकलेट देंगे या पिज्जा खिलाएंगे। ऐसा बिल्कुल भी न करें। बच्चे के सामने जंक फूड किसी भी इनाम या रिश्वत के तौर पर ना पेश करें।

बच्चे के लिए हेल्दी लंचबॉक्स तैयार करें

बच्चे को कभी भी स्कूल कैंटीन से खाने के लिए पैसे न दें। अगर आप ऐसा करते हैं तो 99 फीसदी चांस है कि बच्चा अनहेल्दी फूड ही चुनेगा। इसलिए थोड़ा सा प्रयास कर के बच्चे को एक हेल्दी लंचबॉक्स तैयार कर के दें। बच्चे को स्नैक्स के तौर पर फल और ड्राई फ्रूट्स भी दे सकती हैं।

यह भी पढ़ें : जानकर हैरान रह जाएंगे केले के 12 फायदे

बच्चे के साथ जब भी बाजार जाएं हेल्दी फूड्स ही खरीदें

अगर आप बाजार खरीदारी करने जा रहे हैं और साथ में बच्चे को भी ले जा रहे हैं तो कुछ बातों का ध्यान रखें। बच्चे के सामने किसी भी तरह का अनहेल्दी या जंक फूड ना खरीदें। बच्चे के सामने कभी भी कोई प्रिजरवेटिव फूड न खरीदें। अगर बच्चा जिद करे तो उसे समझाएं और उसके नुकसान बताएं।

बच्चे को पानी पिलाएं

अगर बच्चा कभी किसी एक चीज को खाने की जिद करे और आपको पता है कि उसे भूख नहीं लगी है तो आप उसे पानी ऑफर करें। पानी पिलाने से बच्चे की भूख भी शांत हो जाएगी और वह अपनी जिद को छोड़ कर दूसरे काम में मन लगाने लगेगा।

बच्चे को प्रोटीन युक्त आहार दें

प्रोटीन युक्त खाना देने से बच्चे के मन से जंक फूड खाने की इच्छा धीरे-धीरे कम होने लगेगी। बच्चे को अगर सुबह के नाश्ते में ही प्रोटीन युक्त भोजन दिया जाए तो दिन भर बच्चे के अंदर जंक फूड खाने की इच्छा न के बराबर रहेगी। बच्चे को नाश्ते में दूध, अंडे, स्प्राउट, चिकन, मछली या मीट ऑफर कर सकते हैं।

भूख भी बढ़ाती है जंक फूड खाने की इच्छा

अपने बच्चे को ज्यादा भूखा न होने दें। क्योंकि जब बच्चा ज्यादा भूखा होता है तो जंक फूड खाने की इच्छा उसके मन में उतनी ही तीव्र हो जाती है। ऐसे में बच्चे को एक निश्चित समय पर खाना खिलाते रहें।

‘नो’ रूल को अपनाएं

ऐसा संभव नहीं है कि आपका बच्चा कभी भी जंक फूड न खाए। अगर आप बहुत सख्त पैरेंट्स हैं तो बच्चा आपसे चोरी-छिपे जंक फूड अपनी पॉकेट मनी से खा ही लेगा। अगर आप इस बात को जान गए हैं कि बच्चे ने आपसे आज छुप कर या बिना बताएं जंक फूड खाया है तो उस दिन को चीट डे (Cheat Day) घोषित कर दें। उस दिन बच्चे का कोई भी फेवरेट फूड न दें। इसी को नो (No) रूल कहा गया है।

बच्चे को व्यस्त रखें

बच्चा सबसे ज्यादा जंक फूड की जिद तब करते हैं जब वह खाली रहते हैं। ऐसे में बच्चे को खाली न रहने दें और उसे घर या स्कूल के किसी काम में व्यस्त रखें। इसके अलावा आप उसे घर के बाहर पार्क में खेलने ले जाएं। ऐसा करने से वह जंक फूड की जिद नहीं करेगा। इन उपायों से आप अपने बच्चे को जंक फूड्स से दूर रख सकते हैं। हेल्दी खाना खाने से आपका बच्चा भी हेल्दी रहेगा और उसे जंक फूड से होने वाली बीमारियां भी नहीं होंगी।

जंक फूड के नुकसान भी समझें

जंक फूड खाने से बच्चे को जरूरी पोषण नहीं मिल पाते हैं। ऐसे में उनकी सोचने-समझने की क्षमता पर असर पड़ता है। इसके अलावा जंक फूड के कारण बच्चों को एलर्जी का भी खतरा बना रहता है। अक्सर देखा जाता है कि जंक फूड में आर्टिफिशियल फ्लेवर्स और फूड कलरिंग का इस्तेमाल किया जाता है। ये बच्चों की एलर्जी का कारण बन सकते हैं। साथ ही जंक फूड बच्चों को लंबे समय में प्रभावित कर सकते हैं। जंक फूड के कारण हड्डियों का कमजोर होना ऐसा ही एक मामला है। इसके अलावा जंक फूड के कारण बच्चों के शरीर में काफी ज्यादा ट्रांस फैट जाता है। इससे शरीर में ओमेगा 3 और फैटी एसिड का संतुलन बिगड़ जाता है। इससे बच्चों का स्वभाव चिड़चिड़ा हो जाता है।

और पढ़ें:

बच्चों की स्वस्थ खाने की आदतें डलवाने के लिए फ्रीज में रखें हेल्दी फूड्स

एआरएफआईडी (ARFID) के कारण बच्चों में हो सकती है आयरन की कमी

पिकी ईटिंग से बचाने के लिए बच्चों को नए फूड टेस्ट कराना है जरूरी

बच्चों में फूड एलर्जी का कारण कहीं उनका पसंदीदा पीनट बटर तो नहीं

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy"
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

खेल में नंबर-1 आने के लिए बॉडी रखनी पड़ती है फिट, इस तरह खिलाड़ी रखते हैं अपनी बॉडी फिटनेस का ध्यान

बॉडी फिटनेस खिलाड़ियों के लिए बहुत ही जरूरी होता है। सही डायट और एक्सरसाइज के जरिए ही बॉडी फिटनेस को कायम रखा जा सकता है।

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Bhawana Awasthi
स्वास्थ्य बुलेटिन, इंटरनेशनल खबरें अप्रैल 6, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें

जानिए लो फाइबर डायट क्या है और कब पड़ती है इसकी जरूरत

लो फाइबर डायट क्या है, लो फाइबर डायट प्लान क्या है, लो रेसिड्यू डायट किसे लेना चाहिए, low fiber diet low residue diet in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
Written by Shayali Rekha
आहार और पोषण, स्वस्थ जीवन अप्रैल 6, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

दूध-ब्रेड से लेकर कोला और पिज्जा तक ये हैं गैस बनाने वाले फूड कॉम्बिनेशन

गैस बनाने वाले फूड कॉम्बिनेशन कौन से हैं, गैस बनाने वाले फूड कॉम्बिनेशन in Hindi, गैस के कारण पेट में दर्द, गैस का घरेलू इलाज, gas food combination.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
आहार और पोषण, स्वस्थ जीवन अप्रैल 1, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें

क्यों लोगों की फेवरेट बन रही है 16/8 इंटरमिटेंट डायट? जानिए इसके फायदे

इंटरमिटेंट डायट क्या है, इंटरमिटेंट डायट कैसे अपनाएं, 16/8 इंटरमिटेंट फास्टिंग डायट के फायदे, 16/8 इंटरमिटेंट डायट, 16/8 intermittent diet tips in Hindi.

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha

Recommended for you

डायट एंड इटिंग प्लान- ए-जेड Diet and Eating Plan A-Z

डायट एंड इटिंग प्लान- ए-जेड : वेट लॉस और वेट मैनेजमेंट की पूरी जानकारी

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Mousumi Dutta
Published on जून 1, 2020 . 18 मिनट में पढ़ें
Diet in Piles - पाइल्स में डायट

पाइल्स में डायट पर ध्यान देना होता है जरूरी, इन फूड्स का करें सेवन

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Surender Aggarwal
Published on मई 26, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
वॉल्यूमेट्रिक डायट प्लान

वॉल्यूमेट्रिक डायट प्लान अपनाएं, खूब खाकर वजन घटाएं

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Shayali Rekha
Published on अप्रैल 23, 2020 . 4 मिनट में पढ़ें
खाने की लत-food addiction

कहीं आपके शरीर के साथ सेहत को भी न बिगाड़ दे खाने की लत

Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
Written by Satish Singh
Published on अप्रैल 7, 2020 . 5 मिनट में पढ़ें