home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

20 महीने के बच्चे की देखभाल के लिए आपको किन जानकारियों की आवश्यकता है?

20 महीने के बच्चे की देखभाल के लिए आपको किन जानकारियों की आवश्यकता है?
विकास और व्यवहार|डॉक्टर के पास कब जाएं?|क्या उम्मीद करें?

विकास और व्यवहार

मेरे 20 महीने के बच्चे का विकास कैसा होना चाहिए?

20 महीने के बच्चे अक्सर छोटे-छोटे वाक्य बोलने की कोशिश करते हैं। वो किताब, पेन, पेंसिल जैसी चीजों को देखकर बेहद उत्साहित होते हैं। बच्चों को किताबों से परिचित कराने का यह सबसे अच्छा समय होता है। उन्हें शुरुआत से ही बुक-फ्रेंडली बनाएं और उन्हें किताबें पढ़कर सुनाएं। हो सकता है बच्चा अपनी पसंदीदा बुक की कहानियों को बार-बार सुनना चाहे। इस उम्र में बच्चे किताब में अलग-अलग तस्वीरों को भी देखते हैं। इसका मतलब है कि बच्चे की कम्यूनिकेटिव स्किल बढ़ रही है। धीरे-धीरे वो खुद अपनी किताब पकड़ते हैं और पन्नों को पलटते हैं, बॉल को किक मारते हैं। ये छोटी-छोटी बातें दिखाती हैं कि आपका बच्चा बिल्कुल नॉर्मल तरीके से बढ़ रहा है।

और पढ़ें : नवजात शिशु का छींकना क्या खड़ी कर सकता है परेशानी?

मुझे अपने 20 महीने के बच्चे को किन गतिविधियों के लिए तैयार करना चाहिए?

20 महीने के बच्चे को इस समय सपोर्ट करें और उनके पढ़ने का समय निर्धारित करें। बेडटाइम से पहले पढ़ने का टाइम टेबल बनाएं। यह बच्चों को बेडटाइम से पहले रिलैक्स कराने का सबसे सही तरीका है। इसके अलावा उनके खेलने के समय, सोने के समय या पॉटी टाइम में भी किताबों को पढ़ने या पढ़कर सुनाने का समय निकालें।

आप उनके लिए राइमिंग बुक्स, तस्वीरों से भरी बच्चों की किताबें या कुछ और भी किताबें खरीद कर दे सकते हैं। आप बच्चे को बुक स्टोर में ले जाएं और देखें कि कैसी किताबों को वो उठाने की कोशिश कर रहा है? उन्हें इस तरह की एक्टिविटी में शामिल करें, जिससे उनके लिए भी उत्साह बना रहेगा। धीरे-धीरे आपका बच्चा अब पहले से अधिक आत्मनिर्भर होगा। हो सकता है वह अब कई चीजें खुद करने की कोशिश करे। इसलिए उन्हें छोटे-छोटे काम करने को दें जैसे-गंदे चम्मच को सिंक में डालना या अपना मुंह खुद पोंछना सिखाएं। उन्हें छोटे-छोटे कामों के लिए बीच-बीच में शाबाशी दें कि उन्होंने काम कितने अच्छे से किया है। उन्हें गंदे चम्मच को सिंक में डालने के लिए भी थैंक्यू कहें ताकि आगे भी वो छोटी-छोटी चीजों को मन लगाकर करें।

और पढ़ें : अपने 32 महीने के बच्चे की देखभाल के लिए आपको किन जानकारियों की आवश्यकता है?

डॉक्टर के पास कब जाएं?

20 महीने के बच्चे से जुड़े किन विषयों पर डॉक्टर से बात करनी चाहिए?

इस बात की अधिक संभावना है कि 20 महीने के बच्चे के लिए डॉक्टर के साथ कोई अपॉइंटमेंट नहीं होगी। अगर आपने बच्चे के 18 महीने में होने वाले चेकअप को मिस कर दिया है तभी डॉक्टर के पास जाएं। अगर कुछ महत्वपूर्ण बात नजर आए, तो डॉक्टर से मिलें। अगर बच्चा एक्टिव और हेल्दी है, तो बच्चे की अगली अपॉइंटमेंट 24वें महीने में होगी। 18 महीने के बाद बच्चे का विकास थोड़ा धीमा हो जाता है। साथ ही उनके खाने की आदतों में भी कुछ बदलाव देखने को मिलते हैं। 20 महीने के बच्चे की भूख पहले से कम हो सकती है। ऐसे में जरूरी नहीं है कि आप बच्चे पर खाने के लिए दबाव बनाएं। इसके अलावा अगर आपको लग रहा है कि बच्चा कम खा रहा है, तो ऐसे में उसे उसका फेवरेट जंक फूड भी खाने को न दें। इस बात का भी ख्याल रखें बच्चा अपनी भूख के लिहाज से कम खाएं लेकिन जो भी खाएं वह हेल्दी होना चाहिए।

यदि आप अपने बच्चे को प्राइवेट पार्ट्स को छूते हुए देखते हैं, तो घबराएं नहीं। वे ऐसा इसलिए करता है क्योंकि बच्चा अपने शरीर के अंग को लेकर इस समय काफी उत्सुक होते हैं। अगर आपको ऐसा लगता है कि बच्चा गुप्त अंगों का स्पर्श कुछ ज्यादा ही कर रहा है, तो देखें कि ऐसा तो नहीं उसको प्राइवेट पार्ट्स में किसी तरह का इंफेक्शन हुआ हो। इसके बाद भी समस्या हल न हो, तो आपको एक बार डॉक्टर की सलाह लेने की जरूरत होती है।

और पढ़ें : क्या बच्चे को हमेशा होता है सिरदर्द? जानें कारण और उपाय

20 महीने के बच्चे के बारे में डॉक्टर को क्या बताएं?

अपने 20 महीने के बच्चे के दांतों की अच्छी देखभाल करें। अक्सर टूथपेस्ट में क्लोराइड होता है, जो दो साल से कम उम्र के बच्चों के लिए नुकसानदायक हो सकता है। दरअसल, बच्चों को इस उम्र में खुद से थूक बाहर फेंकना नहीं आता है और ऐसे में बच्चों को ब्रश कराना भी एक चैलेंज हो सकता है। यहां हम आपका काम आसान करने के लिए कुछ टिप्स बता रहे हैं-

  • कोशिश करें कि बच्चे आपकी नकल करें। आप ब्रश करें और बच्चे को भी ब्रश हाथ में दें। आपको देखकर वो खुद आपकी नकल करेंगे।
  • अपने 20 महीने के बच्चे को कुल्ला करना भी सिखाएं। एक बार जब वो इसमें मास्टर हो जाएंगे, तो एन्जॉय करने लगेंगे। उन्हें बताएं कि कैसे पानी लेना और बाहर फेंकना है? उन्हें जितनी प्रैक्टिस करनी हो करने दें।
  • उन्हें एक स्टैंड टूल पर आइने के सामने खड़ा करें और साथ में दांतों को गिनें। ये उनके लिए एक अच्छे गेम जैसा होगा। पूरी प्रक्रिया को दिलचस्प बनाने के लिए म्यूजिकल टूथब्रश भी एक अच्छा विकल्प हो सकता है। इस बात का भी घ्यान रखें कि उनका ब्रश बिल्कुल मुलायम हो।

और पढ़ें : नवजात शिशु का रोना इन 5 तरीकों से करें शांत

क्या उम्मीद करें?

मुझे 20 महीने के बच्चे के स्वास्थ्य से जुड़ी क्या चिंताएं करनी चाहिए?

आपको इसे लेकर भी चिंता हो सकती है कि बच्चा आपकी बात क्यों नहीं मानता है? हो सकता है वह ‘न’ शब्द को समझें लेकिन हमेशा आपकी बात को नहीं माने। ऐसा इसलिए है क्योंकि 20 महीने के बच्चे अभी सेल्फ कंट्रोल के बारे में नहीं जनता है इसलिए अपने घर को बच्चों के लिहाज से सुरक्षित बनाएं। टूटने वाली चीजों को दूर रखें ताकि आपको भी बार-बार नहीं कहने की जरूरत न पड़े। उन्हें सुरक्षित चीजों से खेलने दें और जिन चीजों से उन्हें चोट पहुंच सकती हैं उन्हें उनकी पहुंच से दूर रख दें। ऐसा करने से उन्हें धीरे-धीरे समझ आएगा कि क्या सुरक्षित है और क्या नहीं?

इन सब के साथ एक और बात का ख्याल रखें कि आपके 20 महीने के बच्चे की वोकेब्लरी (शब्दकोश) कैसे विकास कर रही है। हर बच्चे के सीखने की गति अलग-अलग होती है। छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखें ताकि आपको भी पता चल पाए कि कब उनका सपोर्ट करना है। हो सकता है इसमें समय लगे लेकिन धीरे-धीरे वो सीख जाएंगे।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Developmental Milestones: 2 Year Olds- https://www.healthychildren.org/English/ages-stages/toddler/Pages/Developmental-Milestones-2Year-Olds.aspx – accessed on 15/01/2020

Child development 0–3 months. https://www.healthywa.wa.gov.au/Articles/A_E/Child-development-0-3-months. Accessed On 19 October, 2020.

Important Milestones: Your Baby By Two Months. https://www.cdc.gov/ncbddd/actearly/milestones/milestones-2mo.html. Accessed On 19 October, 2020.

Ratios and Group Sizes. https://childcare.gov/consumer-education/ratios-and-group-sizes. Accessed On 19 October, 2020.

my_safe_motherhood_booklet_english.pdf. https://nhm.gov.in/images/pdf/programmes/maternal-health/guidelines/my_safe_motherhood_booklet_english.pdf. Accessed On 19 October, 2020.

लेखक की तस्वीर
Dr. Pooja Bhardwaj के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Manjari Khare द्वारा लिखित
अपडेटेड 04/07/2019
x