home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

बच्चों को जंक फूड से दूर रखने के लिए अपनाएं ये आसान तरीके

बच्चों को जंक फूड से दूर रखने के लिए अपनाएं ये आसान तरीके

आजकल सभी पेरेंट्स की चिंता है ‘जंक फूड’। क्योंकि जंक फूड (Junk Food) में हाई कैलोरी के साथ-साथ कई तरह के अनहेल्दी (Unhealthy) चीजें भी होती हैं। ज्यादातर बच्चे फास्ट फूड्स (Fast Food) या जंक फूड्स को ही खाना पसंद करते हैं। हर जगह पिज्जा, बर्गर, आईसक्रीम, पेस्ट्री आसानी से मिल जाता है। बच्चे उसकी आकर्षक सजावट को देख कर खाने की जिद करने लगते हैं। इसलिए हर मां-बाप अपने बच्चे को जंक फूड से दूर रखना चाहता है। इसलिए बच्चे को शुरू से ही जंक फूड से दूर रखें। इसके लिए अपनाएं इस तरह के टिप्स, जैसे कि-

और पढ़ें: जंक फूड वर्सेस हेल्दी फूड

बचपन से ही करें शुरूआत

बच्चे को जब से आप मां के दूध के अलावा ऊपरी आहार देना शुरू करते हैं तब से ही उसे जंक फूड से दूर रखें। जब भी बच्चे के आहार में कोई नया व्यंजन जोड़ें तभी बच्चे को सिखाएं कि ये उसके सेहत के लिए फायदेमंद है। जैसे अगर आपने उसे गाजर दिया तो बच्चे को बताएं कि ये उसकी आंखों के लिए बहुत अच्छा है। लेकिन उसे ये भी बताएं कि नूडल्स उसके सेहत के लिए नुकसानदेह है। ऐसे में बच्चा बचपन से ही हेल्दी खाना खाने पर ध्यान देगा।

बच्चे के लिए रोल मॉडल बनें

बच्चा हमेशा बड़ों को ही देख कर सीखता है। ऐसे में अगर आप हेल्दी फूड्स को हां और जंक फूड्स को ना कहेंगे तो बच्चा भी यही सीखेगा। उदाहरण के तौर पर अगर आप कहीं बाहर जा रहे हैं और वहां के मेन्यू में जंक फूड भी है तो आप सीधे खाने से मना कर दें। साथ ही बच्चे को भी समझाएं कि आप भी नहीं खा रहे हैं, क्योंकि ये एक अनहेल्दी फूड है।

और पढ़ें: जानिए किस तरह हेल्दी इम्यून सिस्टम के लिए जरूरी हैं प्रोबायोटिक्स

अनहेल्दी फूड्स (Unhealthy food) के बारे में बताएं

परिवार में दादा-दादी, चाचा-चाची या अन्य कोई परिजन बच्चे को तरह-तरह की चीजें खाने के लिए देते हैं। लेकिन, आप सभी से बच्चे को जंक फूड से दूर रखने में सहायता मांग सकते हैं। जैसे कि अगर कोई बच्चे को चॉकलेट ऑफर करे तो उसे समझाएं कि उन्हें बच्चे को फल या कोई हेल्दी फूड ऑफर करना चाहिए।

जंक फूड (Junk Food) को रिश्वत या इनाम न बनाएं

बच्चों में जंक फूड/ junk food

अक्सर देखा गया है कि पैरेंट्स या परिवार का कोई भी सदस्य बच्चे को कहता है कि अगर तुमने से काम किया तो चॉकलेट देंगे या पिज्जा खिलाएंगे। ऐसा बिल्कुल भी न करें। बच्चे के सामने जंक फूड किसी भी इनाम या रिश्वत के तौर पर ना पेश करें।

बच्चे के लिए हेल्दी लंचबॉक्स (Healthy Lunchbox) तैयार करें

बच्चे को कभी भी स्कूल कैंटीन से खाने के लिए पैसे न दें। अगर आप ऐसा करते हैं तो 99 फीसदी चांस है कि बच्चा अनहेल्दी फूड ही चुनेगा। इसलिए थोड़ा सा प्रयास कर के बच्चे को एक हेल्दी लंचबॉक्स तैयार कर के दें। बच्चे को स्नैक्स के तौर पर फल और ड्राई फ्रूट्स भी दे सकती हैं।

और पढ़ें: जानकर हैरान रह जाएंगे केले के 12 फायदे

बच्चे के साथ जब भी बाजार जाएं हेल्दी फूड्स (Healthy Foods) ही खरीदें

अगर आप बाजार खरीदारी करने जा रहे हैं और साथ में बच्चे को भी ले जा रहे हैं तो कुछ बातों का ध्यान रखें। बच्चे के सामने किसी भी तरह का अनहेल्दी या जंक फूड ना खरीदें। बच्चे के सामने कभी भी कोई प्रिजरवेटिव फूड न खरीदें। अगर बच्चा जिद करे तो उसे समझाएं और उसके नुकसान बताएं।

बच्चे को पानी पिलाएं

अगर बच्चा कभी किसी एक चीज को खाने की जिद करे और आपको पता है कि उसे भूख नहीं लगी है तो आप उसे पानी ऑफर करें। पानी पिलाने से बच्चे की भूख भी शांत हो जाएगी और वह अपनी जिद को छोड़ कर दूसरे काम में मन लगाने लगेगा।

बच्चे को प्रोटीन युक्त आहार दें (Provide protein rich diet)

प्रोटीन युक्त खाना देने से बच्चे के मन से जंक फूड खाने की इच्छा धीरे-धीरे कम होने लगेगी। बच्चे को अगर सुबह के नाश्ते में ही प्रोटीन युक्त भोजन दिया जाए तो दिन भर बच्चे के अंदर जंक फूड खाने की इच्छा न के बराबर रहेगी। बच्चे को नाश्ते में दूध, अंडे, स्प्राउट, चिकन, मछली या मीट ऑफर कर सकते हैं।

भूख भी बढ़ाती है जंक फूड (Junk food) खाने की इच्छा

अपने बच्चे को ज्यादा भूखा न होने दें। क्योंकि जब बच्चा ज्यादा भूखा होता है तो जंक फूड खाने की इच्छा उसके मन में उतनी ही तीव्र हो जाती है। ऐसे में बच्चे को एक निश्चित समय पर खाना खिलाते रहें।

नो रूल को अपनाएं (Flow No rule)

ऐसा संभव नहीं है कि आपका बच्चा कभी भी जंक फूड न खाए। अगर आप बहुत सख्त पैरेंट्स हैं तो बच्चा आपसे चोरी-छिपे जंक फूड अपनी पॉकेट मनी से खा ही लेगा। अगर आप इस बात को जान गए हैं कि बच्चे ने आपसे आज छुप कर या बिना बताएं जंक फूड खाया है तो उस दिन को चीट डे (Cheat Day) घोषित कर दें। उस दिन बच्चे का कोई भी फेवरेट फूड न दें। इसी को नो (No) रूल कहा गया है।

बच्चे को व्यस्त रखें (Make them busy)

बच्चा सबसे ज्यादा जंक फूड की जिद तब करते हैं जब वह खाली रहते हैं। ऐसे में बच्चे को खाली न रहने दें और उसे घर या स्कूल के किसी काम में व्यस्त रखें। इसके अलावा आप उसे घर के बाहर पार्क में खेलने ले जाएं। ऐसा करने से वह जंक फूड की जिद नहीं करेगा। इन उपायों से आप अपने बच्चे को जंक फूड्स से दूर रख सकते हैं। हेल्दी खाना खाने से आपका बच्चा भी हेल्दी रहेगा और उसे जंक फूड से होने वाली बीमारियां भी नहीं होंगी।

जंक फूड के नुकसान भी समझें (Disadvantages of junk food)

जंक फूड खाने से बच्चे को जरूरी पोषण नहीं मिल पाते हैं। ऐसे में उनकी सोचने-समझने की क्षमता पर असर पड़ता है। इसके अलावा जंक फूड के कारण बच्चों को एलर्जी का भी खतरा बना रहता है। अक्सर देखा जाता है कि जंक फूड में आर्टिफिशियल फ्लेवर्स और फूड कलरिंग का इस्तेमाल किया जाता है। ये बच्चों की एलर्जी का कारण बन सकते हैं। साथ ही जंक फूड बच्चों को लंबे समय में प्रभावित कर सकते हैं। जंक फूड के कारण हड्डियों का कमजोर होना ऐसा ही एक मामला है। इसके अलावा जंक फूड के कारण बच्चों के शरीर में काफी ज्यादा ट्रांस फैट जाता है। इससे शरीर में ओमेगा 3 और फैटी एसिड का संतुलन बिगड़ जाता है। इससे बच्चों का स्वभाव चिड़चिड़ा हो जाता है।

उम्मीद करते हैं कि आपको बच्चों में जंक फूड कितना नुकसानदायक हो सकता है इससे संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Nine ways that processed foods are harming people- https://www.medicalnewstoday.com/articles/318630.php – accessed on 09/01/2020

Consumer Health Tips: Junk food and mood – https://newsnetwork.mayoclinic.org/discussion/consumer-health-tips-junk-food-and-mood/ – accessed on 09/01/2020

How to Moderate Your Children’s Consumption of Junk Food https://kindercarepediatrics.ca/general-advice/how-to-moderate-your-childrens-consumption-of-junk-food/ Accessed on 16/12/2019

How Children Develop Unhealthy Food Preferences/https://www.healthychildren.org/English/healthy-living/nutrition/Pages/How-Children-Develop-Unhealthy-Food-Preferences.aspx/ Accessed on 30th June 2021

Junk Food in Schools and Childhood Obesity/https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3667628/Accessed on 30th June 2021

 

 

लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 15/07/2021 को
और Admin Writer द्वारा फैक्ट चेक्ड
x