home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

गर्भधारण में डॉक्टर की एडवाइज कर सकती है मदद, जानें क्यों जरूरी है सलाह लेना?

गर्भधारण में डॉक्टर की एडवाइज कर सकती है मदद, जानें क्यों जरूरी है सलाह लेना?

फैमिली प्लानिंग से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी जरूरी है। हालांकि सामान्य परिस्थितियों में लोग ऐसा करते नहीं है, लेकिन ऐसा करना मां और होने वाले बच्चे दोनों की सेहत के लिए अच्छा होता है। गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेना खासतौर पर आज के जमाने में और आवश्यक हो जाता है क्योंकि अब कपल अक्सर लेट प्रेग्नेंसी प्लान करते हैं। चलिए जानते हैं गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेना क्यों जरूरी है?

तो इसलिए जरूरी है गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेना

करियर में सेटल होने के चक्कर में आजकल अधिकांश वर्किंग कपल लेट बच्चा प्लान करते हैं। जिसकी वजह से कई तरह की दिक्कतें आती हैं। कुछ को फर्टिलिटी की समस्या भी हो जाती है, क्योंकि उम्र और जीवनशैली का असर महिलाओं और पुरुषों दोनों की फर्टिलिटी पर पड़ता है । ऐसे में यदि अच्छी नौकरी, मकान और गाड़ी खरीदने के बाद कपल बच्चे की प्लानिंग करते हैं, तो गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेना जरूरी है ताकि यह पता चल सके कि क्या महिला बच्चे को जन्म देने के लिए पूरी तरह स्वस्थ है। पति-पत्नी में से किसी को किसी तरह की स्वास्थ्य समस्याएं तो नहीं है? महिला शारीरिक और मानसिक रूप से गर्भधारण के लिए तैयार है?

गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेने को प्रीकॉन्सेप्शन चेकअप कहते हैं और आज की जीवनशैली में यह बेहद जरूरी हो जाता है, ताकि पता चल सके कि महिला प्रेग्नेंट होने के लिए पूरी तरह स्वस्थ है या नहीं। यदि किसी तरह की स्वास्थ्य समस्या है तो चेकअप के दौरान इसका पता चल जाता है जिससे समय रहते इलाज हो जाता है। यदि आप भी बच्चे की प्लानिंग कर रहे हैं तो गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज अवश्य लें।

और पढ़ें- क्या 50 की उम्र में भी महिलाएं कर सकती हैं गर्भधारण?

प्रीकॉन्सेप्शन चेकअप के दौरान डॉक्टर इन मुद्दों पर चर्चा करता हैः

गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइस का मतलब है कि प्रेग्नेंसी प्लान करने से पहले ही आप उनके पास चेकअप और सलाह के लिए जाते हैं। इस दौरान डॉक्टर आपसे कई मुद्दों पर चर्चा करेगा।

रिप्रोडक्टिव हिस्ट्री

इसमें डॉक्टर आपसे पहले हुई प्रेग्नेंसी, मासिक धर्म, कॉन्ट्रासेप्टिव का इस्तेमाल, पहले हो चुके पैप टेस्ट का परिणाम या आपको पहले कभी हो चुकी सेक्शुअली ट्रांसमिटेड डिजीज या वजायनल इंफेक्शन के बारे में चर्चा करेगा।

मेडिकल हिस्ट्री

इसमें आपको फिलहाल किसी तरह की स्वास्थ्य समस्याएं तो नहीं है। यदि है तो गर्भधारण से पहले डॉक्टर इसका इलाज करेगा।

सर्जिकल हिस्ट्री

यदि आपकी किसी तरह की सर्जरी हुई है तो उसके बारे में भी डॉक्टर को बताएं। खासतौर पर यदि किसी तरह की गायनेकोलॉजिक सर्जरी हुई तो उसके बारे में अपने डॉक्टर को अवश्य बताएं। जैसे फाइब्रॉएड्स या असामान्य पैप स्मियर्स आदि। यदि पहले गायनेकोलॉजिक सर्जरी हो चुकी है तो डॉक्टर उसके आधार पर डॉक्टर निर्णय लेगा कि गर्भधारण के बात आपकी प्रेग्नेंसी को किस तरह मैनेज करना है।

और पढ़ें- इनफर्टिलिटी से बचने के लिए इन फूड्स से कर लें तौबा

ली जाने वाली दवा

यदि आप किसी डॉक्टर की सलाह पर या अपनी मर्जी से कोई दवा ले रही हैं, तो उसके बारे में अपने डॉक्टर को अवश्य बताएं। कुछ मामलों में गर्भधारण के लिए इन दवाओं को खाने से रोका जा सकता है। साथ ही आप यदि कोई दवा या सप्लिमेंट्स लेती हैं तो उसके बारे में डॉक्टर को बताएं। जब आप गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेने जाते हैं, तो उन्हें ली जाने वाली सभी दवाओं की पूरी और सही जानकारी दें।

गर्भधारण में डॉक्टर से सलाह: फैमिली हेल्थ हिस्ट्री

गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेने जब जाएं, तो परिवार में यदि किसी को डायबिटीज की बीमारी, हाइपरटेंशन की समस्या या ब्लड क्लॉट्स की समस्या है या पहले थी तो इस बारे में भी डॉक्टर को बताना जरूरी होता है।

पैरेंटल विटामिन की सलाह

डॉक्टर आपको पैरेंटल विटामिन लेने की सलाह दे सकता है, जिसमें फॉलिक एसिड मुख्य है। कंसीव करने की प्लानिंग कर रही हैं तो कम से कम 3 महीने आपको फॉलिक एसिड लेना चाहिए, इससे न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट का खतरा नहीं रहता है।

गर्भधारण में डॉक्टर से सलाह: वजन पर देना होगा ध्यान

जब आप गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेने जाते हैं, तो वह आपसे वजन के बारे में भी चर्चा कर सकता है। गर्भधारण के पहले आपका वजन सामान्य होना चाहिए। यदि वेट अधिक है तो डॉक्टर आपसे वजन कम करने को कहेगा क्योंकि इससे प्रेग्नेंसी के दौरान जटिलताएं बढ़ सकती हैं। इसी तरह यदि आप अंडरवेट हैं तो कम वजन वाले शिशु के जन्म का खतरा रहता है, इसलिए पहले खुद का वजन सामान्य करना जरूरी है।

और पढ़ें- प्रेग्नेंसी के दौरान भूलकर भी न लगवाएं ये तीन वैक्सीन, हो सकता है खतरा

गर्भधारण में डॉक्टर से सलाह: जीवनशैली

डॉक्टर आपकी आदतों के बारे में पूछ सकता है जिससे प्रेग्नेंसी पर असर पड़ सकता है जैसे- स्मोकिंग, शराब का सेवन, रिक्रिएशनल दवाओं का सेवन आदि। डॉक्टर आपसे जीवनशैली के बारे में इसलिए पूछता है ताकि वह आपकी गलत आदतों को रोकने की सलाह दे सकते, क्योंकि ये आदतें प्रेग्नेंसी में बाधक बन सकती हैं। गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेने जाते समय याद रखें कि वह आपकी लाइफस्टाइल के बारे में सवाल अवश्य पूछेगा।

एक्सरसाइज

जब आप गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेने जाते हैं तो जो भी एक्सरसाइज आप करते हैं उसके बारे में डॉक्टर को जरूर बताएं। यदि आप वर्कआउट नहीं करते हैं, तो वह भी बताएं। फिर डॉक्टर आपको अपने हिसाब से सलाह देंगे। कुछ एक्सरसाइज ऐसी होती हैं जिन्हें आप प्रेग्नेंसी के दौरान भी कर सकती हैं, इस बारे में डॉक्टर विस्तार से समझाएगा।

डायट

प्रेग्नेंसी प्लानिंग कर रही हैं तो इसमें डायट का अहम रोल होता है। गर्भधारण से पहले हेल्दी डायट बहुत जरूरी होती है। आमतौर पर डॉक्टर आपको फाइबर, कैल्शियम, फॉलिक एसिड और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर डायट लेने की सलाह देगा। गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेने के बाद उसके बताए डायट चार्ट को फॉलो करें।

कैफीन

जब आप गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेने जाते हैं तो वह गर्भधारण से पहले आपको कैफीन का सेवन सीमित करने की सलाह देगा। एक दिन में 300 मिलिग्राम से अधिक कैफीन का सेवन सेहत के लिए ठीक नहीं है। ध्यान रहे कि कैफीन सिर्फ चाय और कॉफी में ही नहीं होता, बल्कि यह चॉकलेट, सॉफ्ट ड्रिंक और कुछ दवाइयों में भी होता है।

उम्र

जब आप गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेने जाएंगे तो वह आप दोनों (पति-पत्नी) की उम्र पर भी चर्चा करता है, क्योंकि गर्भधारण में उम्र बहुत मायने रखती है। 30 की उम्र के बाद महिलाओं की फर्टिलिटी कम हो जाती है जिससे कई बार गर्भधारण में मुश्किलें आती हैं।

और पढ़ें- प्रेग्नेंसी में रेस्टलेस लेग सिंड्रोम से कैसे बचाव करें?

डॉक्टर की सलाह पर अमल

यदि आप जल्दी मां बनना चाहती हैं, तो डॉक्टर की सलाह पर अमल करना जरूरी है। डायट से लेकर वर्कआउट और दवाइयों तक सबकुछ डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही करें। साथ ही इस दौरान अधिक तनाव लेने से भी बचें, क्योंकि स्ट्रेस का गर्भधारण पर बहुत असर पड़ता है। इस दौरान पॉजिटिव रहें, हेल्दी खाएं और स्वस्थ जीवनशैली अपनाएं। गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेना जितना जरूरी है उनकी बातों पर अमल करना भी आवश्यक है, वरना गर्भधारण में डॉक्टर से एडवाइज लेना बेकार हो जाएगा। ।

अधिक जानकारी के लिए आप डॉक्टर से परामर्श कर सकते हैं और साथ ही प्रेग्नेंसी से संबंधित किसी भी प्रश्न का उत्तर पा सकते हैं।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

What Docs Want You To Know: Tips To Get Pregnant Faster https://www.cdc.gov/preconception/index.html (accessed on 18 November 2019)

Why age matters for men and women who want to have a family. https://www.yourfertility.org.au/everyone/age/(accessed on 18 November 2019)

Fertility and the Aging Male https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3253726/ (accessed on 18 November 2019)

Birth control and family planning https://medlineplus.gov/ency/article/001946.htm(accessed on 18 November 2019)

लेखक की तस्वीर badge
Kanchan Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 05/08/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x