home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

बढ़ती उम्र और सेक्स में क्या है संबंध, जानें बुजुर्गों को सेक्स के दौरान किन-किन बातों का रखना चाहिए ख्याल

बढ़ती उम्र और सेक्स में क्या है संबंध, जानें बुजुर्गों को सेक्स के दौरान किन-किन बातों का रखना चाहिए ख्याल

जैसा कि उम्र एक समान नहीं रहती है, 20 साल की उम्र में आप जैसा महसूस करते हैं वैसा बुजुर्ग होने पर 70 साल की उम्र में कभी महसूस नहीं कर सकते। ठीक ऐसा ही सेक्स के साथ भी है। लोगों में गलत धारणा है कि सेक्स सिर्फ व सिर्फ जवान लोगों के लिए है। लेकिन यह सच नहीं है। कई बुजुर्ग हैं जो 80 साल की उम्र में या फिर इससे भी अधिक उम्र में भी अपनी सेक्स लाइफ को इंज्वाय करते हैं। हेल्दी सेक्स लाइफ का अर्थ सिर्फ संभोग करने भर से नहीं है बल्कि यह जीवन की अन्य चीजों के लिए भी काफी अहम है, जैसे संभोग करना फिजिकल हेल्थ, मेंटल हेल्थ के साथ आत्म सम्मान से भी जुड़ा होता है।

कई लोगों को लगता है कि बुजुर्ग सेक्स ही नहीं करते, लेकिन यह गलत है, मेडिकल एक्सपर्ट बताते हैं कि कई लोग जीवन भर सेक्शुअली एक्टिव रहते हैं। बढ़ती उम्र और सेक्स में गहरा संबंध है, यह जीवन में अहम रोल अदा करता है। बढ़ती उम्र और सेक्स की बात करें तो बुजुर्गों में अट्रैक्शन की तुलना में अटैचमेंट काफी अधिक होता है। बढ़ती उम्र और सेक्स की अहम बातों को जानने के लिए पढ़ें यह आर्टिकल। जानें क्या करें और क्या नहीं ताकि आपकी सेक्स लाइफ अच्छे से चलती रहे।

क्या है ओल्ड एज सेक्स, बुजुर्ग होने पर पुरुषों में क्या कुछ होते हैं बदलाव?

बढ़ती उम्र और सेक्स को लेकर पुरुषों के बुजुर्ग होने पर उनमें किस प्रकार के बदलाव होते हैं। यह जानना बेहद ही जरूरी है। पुरुषों के मामले में उम्र बढ़ने से उनका टेस्टोस्टेरोन लेवल कम होने के साथ सेक्स संबंधी इच्छा भी कम होती है। बढ़ती उम्र और सेक्स के मामले में कुछ इस प्रकार के परिवर्तन देखने को मिलते हैं, जैसे-

  • संभोग करने के लिए उन्हें अधिक उत्तेजना की जरूरत पड़ती है
  • संभोग सुख छोटा होना (Shorter orgasms)
  • वीर्य का कम निकलना
  • एक बार वीर्य निकलने के बाद दूसरे इरेक्शन के लिए लंबा समय लगना
  • दवा का सेवन करने की वजह से सेक्स करने की इच्छा में कमी
  • स्वास्थ्य का अच्छा न रहना

बढ़ती उम्र और सेक्स के कारण बुजुर्ग पुरुष इस बदलाव को लेकर चिंतित होते हैं, लेकिन इसका यह मतलब कतई नहीं हुआ कि सेक्स को लेकर इंज्वायमेंट बंद कर दें। उम्र के इस पड़ाव में शरीर में होने वाले बदलावों को स्वीकार कर सेक्स लाइफ जीना ही सही मायनों में सही विकल्प है। उदाहरण के तौर पर आपको सेक्शुअल रूटीन फिक्स करना होगा और सेक्स (Impact of aging on sexuality) करने के लिए सामान्य से और अधिक उत्तेजित होना होगा।

और पढ़ें : सेक्स स्टैमिना बढ़ाने के इन उपायों को आजमाएं और सेक्स-लाइ‍व को रिजूवनेट करें

बुजुर्ग महिलाओं में सेक्शुअल एक्टिविटी कम होने का कारण

बढ़ती उम्र और सेक्स को लेकर बुजुर्ग होने पर भी महिलाओं में इच्छा काफी रहती है, लेकिन यह भी सच है कि वयस्कों की तुलना में बुजुर्ग होने पर लोग कम इंटरकोर्स करते हैं। बीमारी के कारण और डिसएबिलिटी की वजह से कुछ बुजुर्ग कपल अलग-अलग पोजिशन को अपनाकर इंटरकोर्स कर सकते हैं। ऐसा कर जहां कुछ बुजुर्गों को परेशानी होती है तो कुछ इसे इंज्वाय करते हैं।

और पढ़ें : सेक्स के दौरान या बाद में ऐंठन के कारण और उनसे राहत पाने के उपाय

बढ़ती उम्र और सेक्स के साथ होने वाली स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं

बढ़ती उम्र और सेक्स के बीच हमारा स्वास्थ्य सेक्स लाइफ और सेक्शुअल परफॉर्मेंस में अहम रोल अदा कर सकता है। क्रॉनिक हेल्थ कंडीशन जैसे हार्ट डिजीज, अर्थराइटिस जैसी बीमारी होने की वजह से बुजुर्ग होने पर आपकी सेक्स लाइफ और चैलेंजिंग हो जाती है।

कुछ सर्जरी और दवा जैसे ब्लड प्रेशर की दवा, एंटीहिस्टामाइन (Antihistamines), एंटीडिप्रेसेंट्स (Antidepressants) और एसिड ब्लॉकिंग ड्रग्स (Acid-blocking drugs) बुजुर्गों के सेक्सुअल फंक्शन को प्रभावित करता है। इतने में भी हार मानने की जरूरत नहीं है क्योंकि आप व आपके पार्टनर इतनी बाध्यता होने के बाद भी सेक्स कर सकते हैं।

उदाहरण के तौर पर आप हार्ट अटैक के बाद सेक्स को लेकर चिंतित हैं तो ऐसे में आप डॉक्टर से सुझाव ले सकते हैं। बढ़ती उम्र और सेक्स के बीच अर्थेराइटिस का दर्द बड़ी समस्या हो सकती है, इस स्थिति में आप सेक्स के अन्य पोजिशन को अपनाकर संभोग कर सकते हैं

और पढ़ें : कौन-कौन से हैं सेक्स से जुड़े महत्वपूर्ण सवाल और पाइए उनके जवाब

सीनियर सेक्स और इमोशनल इशू

चाहे आप किसी भी उम्र में क्यों न हो इमोशनली इशू आपकी सेक्स लाइफ को प्रभावित करती है। कई बुजुर्ग लोग बताते हैं कि उन्हें अपनी सेक्स लाइफ से ज्यादा संतुष्टि मिलती है, क्योंकि उनके जीवन में कम डिस्ट्रैक्शन होता है। वहीं दूसरी ओर बढ़ती उम्र और सेक्स में कई मुश्किलें आती हैं। सबसे बड़ी समस्या मानसिक होती है। इसके अलावा लोग अपनी आर्थिक स्थिति को लेकर और लाइफस्टाइल में हुए बदलाव को लेकर भी चिंतित रहते हैं। डिप्रेशन के कारण सेक्स में बुजुर्गों की रूचि कम हो सकती है। उम्र के इस पड़ाव पर यदि आप डिप्रेशन महसूस करें तो जरूरी है कि डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए या फिर काउंसलर की मदद लेनी चाहिए।

और पढ़ें : शादी से पहले सेक्स, सही या गलत जानें फायदे और नुकसान

बढ़ती उम्र में सेक्स टिप्स

बढ़ती उम्र और सेक्स में कई चीजें बदल जाती हैं। युवा अवस्था में सेक्स के दौरान जैसा आप महसूस करते थे, हो सकता है कि बुजुर्ग होने पर वही ऊर्जा सेक्स के दौरान आप महसूस न करें। तो ऐसे में बुजुर्गों के लिए हेल्दी और इंज्वाय सेक्स के लिए आप क्या अपना सकते हैं, जाने-

  • अपने पार्टनर से करें बात : बढ़ती उम्र और सेक्स की बात हो चाहे युवा अवस्था में सेक्स की बात, इस विषय पर बात करने पर हर कोई कतराता है, लेकिन जरूरी है कि इस उम्र में आप अपनी इच्छाओं को दबाने की बजाय पार्टनर से शेयर करें, अपनी इच्छाओं व जरूरतों को पार्टनर के साथ साझा कर आप बेहतर व हेल्दी सेक्स को इंज्वाय कर सकते हैं।
  • लें डॉक्टरी सलाह : यदि आपकी सेक्स लाइफ को क्रॉनिक बीमारी या फिर दवा प्रभावित कर रही है तो उस स्थिति में आप डॉक्टरी सलाह लें। समस्याओं से निपटाने के लिए आप डॉक्टरी सलाह ले सकते हैं।
  • सेक्स थेरेपिस्ट से लें सुझाव : बढ़ती उम्र और सेक्स के बीच तालमेल बैठाने के लिए आप सेक्स थेरेपिस्ट से सुझाव ले सकते हैं। वो आपको व आपके पार्टनर को इस स्थिति से निपटने की बेहतर व उचित सलाह दे सकते हैं।
  • सेक्स की परिभाषा को विस्तार रूप दें : सेक्स की बात करें तो संभोग करके ही आप आत्मसंतुष्टि पा सकते हैं, इसका कोई अन्य विकल्प नहीं है। वहीं पार्टनर को छूना, किस करना व इंटीमेट कांटेक्ट लाभप्रद हो सकता है।
  • अपनी दिनचर्या को अपनाएं : बढ़ती उम्र और सेक्स के लिए आप अपनी दिनचर्या में तब्दील कर सेक्स को इंज्वाय कर सकते हैं। सेक्स लाइफ को बढ़ाने के लिए आप दिन में उस वक्त सेक्स करें जिस वक्त आप सबसे अधिक ऊर्जा महसूस करते हो। इसके लिए आप सुबह का वक्त चुनें। इस वक्त तक आपकी नींद अच्छे से पूरी हो चुकी होती है। न कि सेक्स करने के लिए रात का समय चुनें, जब आप पूरी तरह थककर बिस्तर पर जाते हैं। इसमें आपको अपने पार्टनर को उत्तेजित करने में समय लग सकता है।

बढ़ती उम्र और सेक्स को लेकर रोमांस करने में ज्यादा समय दें। आप चाहें तो बढ़ती उम्र और सेक्स के लिए नए तरह के सेक्शुअल पोजिशन को अपना सकते हैं व अपने व पार्टर के बीच की बॉन्डिंग को उम्र को इस पड़ाव पर भी मजबूत कर सकते हैं।

  • रोमांस करने के लिए नहीं माने हार : यदि आप अपने पार्टनर को खो देते हैं तो यह काफी मुश्किल है कि उम्र के इस पड़ाव में नई रिलेशनशिप को स्थापित किया जाए, लेकिन कई वरिष्ठ नागरिक सामाजिक जरूर हो सकते हैं। लेकिन आप सामाजिक बनकर कितने भी भावनात्मक रूप से मजबूत हो जाएं इससे इंटेमेसी का कोई लेना देना नहीं है। बढ़ती उम्र और सेक्स के लिए यदि आप नए पार्टनर के साथ यौन संबंध बनाते हैं तो जरूरी है कि आप कंडोम का इस्तेमाल करें। कई बुजुर्ग लोगों को लगता है कि उन्हें सेक्शुअल ट्रांसमिटेड डिजीज का कोई खतरा नहीं है, लेकिन असुरक्षित यौन संबंध कायम करने से उन्हें सेक्सुअल ट्रांससमिटेड डिजीज जैसे हर्पिस (Herpes) और गोनोरिया (Gonorrhea) जैसी बीमारी हो सकती है।

बढ़ती उम्र और सेक्स के लिए आप हेल्दी सेक्स लाइफ इंज्वाय कर सकें इसके लिए आप अपने आप का ध्यान रखकर हेल्दी बने रह सकते हैं। इन विभिन्न तरीकों को आजमाकर हेल्दी रह सकते हैं, जैसे

बढ़ती उम्र और सेक्स लाइफ को अच्छे से इंज्वाय करने के लिए यदि आपको किसी प्रकार की क्रॉनिक बीमारी है तो आप डॉक्टरी सलाह लें, नियमित तौर पर डॉक्टर को दिखाकर दवाइयों का सेवन करें।

और पढ़ें : कहीं आपकी लो सेक्स ड्राइव (low sex drive) का कारण ये दवाएं तो नहीं?

आप एक संतुष्ट यौन जीवन को कैसे बनाए रख सकते हैं?

बढ़ती उम्र और सेक्स के लिए आप एक संतुष्ट यौन जीवन के कुछ तरीकों को अपनाकर व हेल्दी लाइफस्टाइल अपना सकते हैं, जानें क्या करें।

  • सेक्शुअल फिट रहें : बढ़ती उम्र और सेक्स के लिए आप हमेशा फिट रहें। जिन पुरुषों को लगातार पेनाइल उत्तेजना होती है उन्हें इरेक्शन प्राप्त करने और बनाए रखने में आसानी होती है। महिलाओं के मामले में जिनकी जेनाइटल और क्लिटोरल उत्तेजना अच्छी होती है वो अच्छे से सेल्फ लुब्रिकेशन कर सकती हैं। सेक्शुअली फिट रहने के लिए यह तमाम चीजें मास्टरबेट करने में मदद करती हैं व इनसे आप सुख की अनुभूति कर सकते हैं। हेल्दी सेक्स लाइफ के लिए मास्टरबेट सामान्य हिस्सा है।
  • इंटरकोर्स के नए तरीके करें इजात : बढ़ती उम्र और सेक्स लाइफ के लिए सिर्फ इंटरकोर्स ही काफी नहीं है, बल्कि इंटीमेसी और स्पर्श भी अहम रोल अदा करता है। आप इससे फायदा उठा सकते हैं। उम्र के इस पड़ाव पर यदि आप फिजिकल डिसेबिलिटी के कारण बीमार हैं तो आप फिजिकली तौर पर पार्टनर के नजदीक आकर बांडिंग को मजबूत कर सकते हैं।
  • पार्टनर के साथ बात करें : बढ़ती उम्र और सेक्स के लिए पार्टनर से बात करना भी अच्छा माध्यम होता है। जैसे-जैसे आपका शरीर बदलता है आप अपने पार्टनर से उसके बारे में शेयर कर सकते हैं। लोग यह सोचते हैं कि आपको बेडरूम में क्या पसंद है, यह आपके पार्टनर को पता है, लेकिन यह हमेशा सही नहीं होता इसलिए आपको आपके पार्टनर के साथ बात करना जरूरी हो जाता है। यौन संबंध बनाने के पहले सेक्स को लेकर कई लोग अपने पार्टनर को दिशा निर्देश व सुझाव देते हैं। वहीं कई लोग सेक्स संबंधी बात को करने में झिझकते हैं, शर्मिंदगी महसूस करते हैं, सोचते हैं कि उनकी फीलिंग्स को ठेस पहुंचेगा। इसलिए जरूरी है कि अपने पार्टनर के प्रति ईमानदार रहें व उनसे बातों को शेयर करें।

कोरोना और सेक्स लाइफ के बीच संबंध जानने के लिए खेलें क्विज : क्या कोरोना वायरस और सेक्स लाइफ के बीच कनेक्शन है? अगर जानते हैं इस बारे में तो खेलें क्विज

इन तरीकों को आजमाकर रहें सुरक्षित

बढ़ती उम्र और सेक्स लाइफ के बीच आपको सुरक्षित भी रहना जरूरी है। 2013 में हुए शोध के अनुसार बुजुर्गों को भी एसटीडी की बीमारी होने की संभावनाएं रहती है। इसके तहत उन्हें जेनिटल हर्पिस (Genital herpes), जेनिटल वार्ट्स (Genital warts), क्लैमाइडिया (Chlamydia),गोनोरिया और सिफलिस (Syphilis) की बीमारी होने की आशंका रहती है। कई डॉक्टर भी बुजुर्गों से उनके सेक्स के बारे में पूछताछ नहीं करते हैं, इस कारण भी बुजुर्गों में एसटीडी की बीमारी का पता नहीं चल पाता है। उदाहरण के तौर पर एचआईवी के कुछ लक्षण ऐसे हैं जो सामान्य बुजुर्गों में भी देखे जाते हैं। जैसे थकान, कंफ्यूजन, भूख में कमी, ग्लैंड में सूजन इत्यादि। बढ़ती उम्र और सेक्स के लिए आप कंडोम का इस्तेमाल कर सुरक्षित यौन संबंध स्थापित कर सकते हैं। वहीं शरीर में एसटीडी के लक्षण दिखने पर जल्द से जल्द डॉक्टरी सलाह लेनी चाहिए।

और पढ़ें : जानें,सेक्स एजुकेशन क्या है ,और क्यों है समाज में जरूरी

बढ़ती उम्र और सेक्स लाइफ में बदली हैं इच्छाएं, जानें

जैसे-जैसे आप बुजुर्ग होते हैं वैसे-वैसे आपकी सेक्सुअल इच्छाएं भी बदलती है। लेकिन उम्र के इस पड़ाव में भी सेक्स और फिजिकल इंटीमेसी बेहद ही जरूरी है। आप चाहें तो मास्टरबेशन, नई सेक्शुअल एक्टिविटी को अपनाकर, पार्टनर के साथ अच्छा कम्युनिकेशन स्थापित कर एक दूसरे को संतुष्ट कर सकते हैं। बढ़ती उम्र और सेक्स के लिए बेहतर यही होगा कि आप संभोग के दौरान कंडोम का इस्तेमाल करें ताकि एसटीडी जैसी बीमारियों से बचा जा सके। चाहे आप बुजुर्ग ही क्यों न हो जाए, सुरक्षित यौन संबंध बनाना बढ़ती उम्र और सेक्स के लिए जरूरी है।

सेक्स से जुड़े किसी भी मुद्दे पर अगर आपका कोई सवाल है, तो कृपया इस बारे में अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

[Impact of aging on sexuality]/ https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/22891587/ / Accessed on 22 July 2020

Medicalization and the refashioning of age-related limits on sexuality/ https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/22720825/ / Accessed on 22 July 2020

Sexuality in Later Life/ https://www.nia.nih.gov/health/sexuality-later-life / Accessed on 22 July 2020

Sexuality in Older Couples: Individual and Dyadic Characteristics/ https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5554590/ / Accessed on 22 July 2020

Erectile dysfunction/ https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5027992/ /Accessed on 22 July 2020

लेखक की तस्वीर badge
Satish singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 18/05/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x