home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कामुक स्तनपान (Lactophilia) से क्या सेक्स की इच्छा प्रबल होती है? जानें इसके कारण

कामुक स्तनपान (Lactophilia) से क्या सेक्स की इच्छा प्रबल होती है? जानें इसके कारण

कई ऐसे अंग होते हैं जो सेक्स के दौरान यौन इच्छा को बढ़ाते हैं। महिलाओं के स्तन भी इस क्रिया में अहम भूमिका निभाते हैं। कई पुरुषों का मानना है कि सेक्स के दौरान ब्रेस्ट सकिंग से एक्साइटमेंट होने के साथ ही महिलाओं को सेक्स के लिए तैयार करने में भी मदद मिलती है।

ब्रेस्ट, महिलाओं के शरीर का एक सेंसटिव पार्ट है। वहीं, अगर कोई महिला अपने बच्चे को स्तनपान कराती है तो उसका पार्टनर भी ब्रेस्ट मिल्क पीने की इच्छा जाहिर करता है। इसे लैक्टोफिलिया, इरोटिक लैक्टेशन या कामुक स्तनपान कहते हैं। वहीं, दूसरी तरफ कई पुरुषों का मानना है कि कामुक स्तनपान करने से सेक्स में एक्साइटमेंट आती है।

इस आर्टिकल में हम इरोटिक लैक्टेशन से जुड़ी कई बातों के बारे में बताएंगे, जैसे – कामुक स्तनपान क्या है? लैक्टोफिलिया के पीछे क्या साइकोलॉजी है? कामुक स्तनपान करने का कारण क्या है और किस स्थिति में महिला को अपने पार्टनर को स्तनपान नहीं कराना चाहिए।

और पढ़ें : बच्चों के बाद सेक्स लाइफ को कैसे बनाएं ‘हॉट’?

कामुक स्तनपान या इरोटिक लैक्टेशन क्या है?

ब्रेस्ट सकिंग सेक्स की एक नॉर्मल प्रक्रिया है, लेकिन जब किसी महिला के स्तनों से दूध निकलता है, उस समय पार्टनर सेक्स के दौरान महिला का स्तनपान करता है, तो उसे इरोटिक लैक्टेशन कहते हैं।

इरोटिक लैक्टेशन एक नॉर्मल क्रिया है। अक्सर देखा जाता है कि कुछ पुरुषों में अपनी पार्टनर का ब्रेस्ट मिल्क टेस्ट करने की इच्छा होती है। ऐसे में सेक्स के दौरान पुरुष पार्टनर इरोटिक लैक्टेशन करते हैं। इस स्थिति में महिला को इस बात का ध्यान देना चाहिए कि वह बच्चे को भर पेट ब्रेस्टफीडिंग करा दे और इसके बाद अपने पार्टनर के साथ वक्त गुजारे।

इरोटिक लैक्टेशन कितना सामान्य है?

इरोटिक लैक्टेशन करना एक सामान्य प्रक्रिया है। हालांकि, भारत में इसे सामाजिक तौर पर स्वीकारना थोड़ा कठिन है क्योंकि लोगों में भ्रम है कि ब्रेस्ट मिल्क बच्चे के लिए होता है और अगर पुरुष उसका सेवन करें तो बच्चा भूखा रह जाएगा। इस मामले में एक्सपर्ट हमेशा यही सजेशन देते हैं कि पहले बच्चे को स्तनपान करा लें, फिर इरोटिक लैक्टेशन कराएं।

जर्नल ऑफ सेक्सुअल मेडिसिन में प्रकाशित एक रिसर्च में 2,082 लोगों को शामिल किया गया। इस रिसर्च में लोगों से इरोटिक लैक्टेशन से संबंधित कई तरह के सवाल पूछे, जिसमें निम्न बातें सामने आई हैं :

  • 71% यानी कि 1,474 लोगों ने अपनी पार्टनर का ब्रेस्ट मिल्क टेस्ट करने की इच्छा की बात को स्वीकारा।
  • 14% यानी कि 296 लोगों ने सिर्फ पार्टनर की प्रेग्नेंसी में इरोटिक लैक्टेशन की बात कही।
  • 11% यानी कि 224 लोगों ने सेक्स के दौरान ब्रेस्ट मिल्क पीने की लत का जिक्र किया।
  • 4% यानी कि 87 लोगों ने इरोटिक लैक्टेशन को लेकर कोई भी पुष्टि नहीं की।

उपरोक्त रिसर्च में पाया गया कि ज्यादातर लोग इरोटिक लैक्टेशन सिर्फ ब्रेस्ट मिल्क को टेस्ट करने के लिए करते हैं। वहीं, कई महिलाओं को प्रेग्नेंसी की आखिरी तिमाही में हल्का ब्रेस्ट मिल्क आने लगता है। इसी समय पुरुष मिल्क को टेस्ट करने की इच्छा जाहिर कर सकते हैं। अगर बात की जाए इरोटिक लैक्टेशन एडिक्शन की तो वे इंसान की साइकोलॉजी से संबंधित विषय है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में सेक्स ड्राइव को कैसे बढ़ाएं?

पुरुष कामुक स्तनपान क्यों करना चाहते हैं?

जैसा कि हमने पहले भी बताया कि सेक्स में ब्रेस्ट एक अहम भूमिका निभाते हैं लेकिन कामुक लैक्टेशन की इच्छा सभी पुरुषों की नहीं होती है। कुछ पुरुष सिर्फ ब्रेस्ट सकिंग करना चाहते हैं।

हालांकि, कुछ पुरुष ऐसे भी होते हैं, जो ब्रेस्ट मिल्क को टेस्ट करने के लिए इच्छुक होते हैं। इरोटिक लैक्टेशन के पीछे अन्य कई कारण भी हैं :

फैंटेसी को पूरा करने के लिए

कई बार पुरुष पॉर्नोग्राफी पर एडल्ट ब्रेस्टफीडिंग के वीडियो देख कर एक्साइटेड होते हैं। इसके बाद वह इस चीज को अपनी पार्टनर के साथ ट्राई करना चाहते हैं। अपनी सेक्सुअल फैंटेसी को पूरा करने के लिए अपनी पार्टनर के साथ कामुक लैक्टेशन करते हैं।

स्वास्थ्य के लिए भी है फायदेमंद

बॉडी बील्डिंग में ब्रेस्ट मिल्क के फायदे तो आपने सुने ही होंगे। इसलिए कई बार पुरुष अपने स्वास्थ्य को दुरुस्त रखने के लिए भी ब्रेस्ट मिल्क का सेवन करते हैं।

कई बार डॉक्टर भी कुछ स्वास्थ्य समस्याओं में ब्रेस्ट मिल्क का सेवन करने की सलाह देते हैं। ब्रेस्टफीडिंग करने से शरीर का इम्यून सिस्टम भी बढ़ता है।

बेबी के बाद भी बनती है रिश्तों में विश्वसनीयता

कई बार पुरुष को ऐसा लगता है कि बच्चा होने के बाद उनकी पार्टनर उन पर कम ध्यान दे रही है। इस कारण से रिश्तों में अविश्वसनीयता पैदा हो जाती है। यदि महिला अपने बच्चे के साथ अपने पार्टनर को भी ब्रेस्टफीडिंग कराती है तो रिश्तों में विश्वसनीयता बरकरार रहती है।

ब्रेस्ट मिल्क को टेस्ट करने की इच्छा होना

कुछ पुरुषों की जिज्ञासा होती है कि वे अपनी महिला पार्टनर के ब्रेस्ट मिल्क को टेस्ट करें और जानें कि उसका स्वाद कैसा होता है। हालांकि, ब्रेस्ट मिल्क का स्वाद क्रीमी और मीठा होता है और पुरुषों को ब्रेस्ट मिल्क का स्वाद पसंद आता है।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी में सेक्स: क्या आखिरी तीन महीनों में सेक्स करना हानिकारक है?

कुछ महिलाएं पुरुषों को कामुक स्तनपान क्यों कराती हैं?

इस तरह के स्तनपान की इच्छा सिर्फ पुरुषों को ही नहीं होती है बल्कि महिलाएं भी ऐसी चाह रखती हैं। फीमेल पार्टनर के साथ कामुक स्तनपान की इच्छा पुरुषों को तो होती ही है लेकिन कुछ महिलाओं को भी कामुक स्तनपान कराने की इच्छा होती है। इसलिए वे बेबी के पहले और बेबी के बाद पार्टनर द्वारा ब्रेस्ट सकिंग करना पसंद करती हैं। महिलाओं द्वारा कामुक स्तनपान कराने के कई कारण हैं :

ब्रेस्ट से मिल्क को पूरी तरह निकालने के लिए

पुरुष पार्टनर बच्चे की तुलना में अच्छे से ब्रेस्ट सकिंग कर सकते हैं। कई महिलाओं को मिल्क डक्ट और ब्रेस्ट एन्ग्रॉजमेंट की समस्या होती है। उनके लिए पार्टनर द्वारा ब्रेस्ट सकिंग राहत दिलाने वाली चीज साबित हो सकती है। इसलिए यदि आपको ऐसा लगता है कि ब्रेस्ट से मिल्क पूरी तरह से निकल नहीं पा रहा है तो आप कामुक स्तनपान के द्वारा मिल्क को ब्रेस्ट से पूरी तरह से निकाल सकती हैं।

दोनों स्तनों में बराबर दूध बनाने में मिलती है मदद

कुछ महिलाओं के दोनों स्तनों में बराबर मात्रा में दूध नहीं बन पाता है, इससे उन्हें परेशानी होती है। ऐसे में अगर पार्टनर इरोटिक लैक्टेशन करे तो महिला के दोनों स्तनों में समान मात्रा में दूध बनने लग सकता है। वहीं, अगर दूध कम बनने में समस्या होती है तो कामुक स्तनपान से ब्रेस्ट मिल्क बनने में भी मदद मिलती है।

सेक्स की इच्छा को तीव्र करता है

कुछ महिलाओं के निप्पल बहुत ज्यादा सेंसिटिव होते हैं। ऐसे में जब पुरुष ब्रेस्ट सकिंग करता है तो महिलाओं में सेक्स के लिए इच्छा तीव्र होती है। साथ ही सेक्स को दोनों पार्टनर अच्छे से एंजॉय कर पाते हैं।

पुरुषों को करता है उत्तेजित

कुछ पुरुष कामुक स्तनपान से उत्तेजित होते हैं और महिलाएं भी फोरप्ले के लिए इस क्रिया को आजमा सकती हैं। हर पुरुष को अपनी फीमेल पार्टनर के ब्रेस्ट मिल्क को पीने की इच्छा होती है और यह पुरुषों को टर्न ऑन करने का भी काम करता है।

और पढ़ें : सेक्स के बाद इमोशनल बॉन्डिंग बढ़ाता है आफ्टरप्ले

कब कामुक स्तनपान नहीं करना चाहिए?

इरोटिक लैक्टेशन पुरुषों को निम्न परिस्थितियों में नहीं करना चाहिए :

  • महिला की इच्छा ना होने पर कामुक स्तनपान ना करें। हो सकता है कि महिला को ये असहज लग रहा हो, इसलिए इरोटिक लैक्टेशन ना करें।
  • बच्चे को स्तनपान कराने में कई बार सोर निप्पल हो जाते हैं। ऐसे में अगर मेल पार्टनर भी इरोटिक लैक्टेशन करेगा तो महिला के निप्पल कुछ ज्यादा ही चोटिल हो जाएंगे। इसके अलावा ब्रेस्ट इंफेक्शन होने का भी खतरा बढ़ सकता है।
  • यदि महिला को एचआईवी है तो कामुक स्तनपान करना जोखिम भरा हो सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि ब्रेस्ट मिल्क के द्वारा एचआईवी पुरुष के शरीर में जा सकता है। इसके अलावा अगर महिला किसी संक्रामक रोग से ग्रसित है तो भी पुरुष को कामुक स्तनपान नहीं करना चाहिए।
  • अगर महिला प्रेग्नेंट है और उसका पहले भी मिसकैरिज हो चुका है, या प्रीटर्म लेबर हो चुका है तो ऐसे में पुरुष पार्टनर के कामुक स्तनपान करने पर ब्रेस्ट और निप्पल उत्तेजित हो सकते हैं, इससे महिला को लेबर शुरू हो सकता है। साथ ही प्रेग्नेंसी में हाई रिस्क भी हो सकता है।

अब तो आप जान गए ना कि कामुक स्तनपान कितना सुरक्षित है और कितना नहीं। आपके लिए सुझाव यही है कि बच्चे के भरण-पोषण का ध्यान रखते हुए ही सेक्स के दौरान इरोटिक लैक्टेशन करें। उम्मीद है कि ये आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Exposure to mother’s pregnancy and lactation in infancy is associated with sexual attraction to pregnancy and lactation in adulthood. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pubmed/20946158 Accessed on 15/5/2020

Effect of Antenatal Expression of Breast Milk at Term in Reducing Breast Feeding Failures

https://doi.org/10.1016/S0377-1237(09)80125-1 Accessed on 15/5/2020

Is it safe for a mother infected with HIV to breastfeed https://www.cdc.gov/breastfeeding/breastfeeding-special-circumstances/maternal-or-infant-illnesses/hiv.html Accessed on 15/5/2020

SESSION 7Management of breast conditions and other breastfeeding difficulties https://www.ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK148955/ Accessed on 15/5/2020

लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/11/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x