home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

क्या आप जानते हैं कि नींद महिलाओं और पुरुष के लिए कितनी जरूरी है?

क्या आप जानते हैं कि नींद महिलाओं और पुरुष के लिए कितनी जरूरी है?

महिलाएं और पुरुष बहुत से मामलों में एक दूसरे से अलग होते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि ये नींद के मामले में भी एक दूसरे से काफी अलग हैं? महिलाओं और पुरुषों की नींद , सोने के तरीके और नींद से शरीर को आराम मिलने की प्रक्रिया में कई अंतर हैं। इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि कैसे महिलाओं और पुरुषों की नींद अलग है?

महिलाओं की नींद पुरुषों से इसलिए अलग है

1 . महिलाओं को होती है अधिक सोने की आवश्यकता

क्या आपने सोचा है कि रात को केवल तीन घंटे सोने के बाद भी पुरुष महिलाओं के मुकाबले ज्यादा एक्टिव कैसे हो जाते हैं? ऐसा इसलिए है क्योंकि ऐसा माना जाता है कि महिलाएं पुरुषों के मुकाबले अपनी क्षमता से अधिक काम करती हैं। मल्टीटास्किंग होने की वजह से महिलाएं अधिक थक जाती हैं, जिसकी वजह से उन्हें पुरुषों की तुलना में अधिक सोने और आराम की जरूरत होती है।

2 . महिलाओं में इंसोम्निया की संभावना पुरुषों की तुलना में बहुत अधिक होती है

नेशनल स्लीप फाउंडेशन की रिपोर्ट के आधार पर पुरुषों में स्लीप एपनिया और महिलाओं में इंसोम्निया होने की संभावना अधिक होती है।

और पढ़ें: आपका ऐसा रवैया ‘स्लीप वेकेशन’ की ओर इशारा कर रहा है…

3 . महिलाएं पुरुषों से जल्दी सोती और उठती हैं

महिलाओं की स्लीप साइकिल पुरुषों के मुकाबले अधिक सक्रिय होती है। रिपोर्ट्स कहती हैं कि महिलाओं और पुरुषों की स्लीप साइकिल में छह मिनट का अंतर होता है जिसकी वजह से वे पुरुषों की तुलना में छह मिनट जल्दी सोती हैं और उतनी ही जल्दी उठती भी हैं।

4 . महिलाओं की नींद पुरुषों की तुलना में अधिक गहरी होती है।

पेन स्टेट कॉलेज ऑफ मेडिसिन द्वारा दी गई रिपोर्ट में ये भी बताया गया है कि वे महिलाएं जिन्हें नींद से जुड़ी कोई परेशानी नहीं है, वे पुरुषों की अपेक्षा गहरी नींद में सोती हैं।

Image result for sleeping gif

5 . महिलाएं स्लीप संबंधी परेशानियों को पुरुषों की अपेक्षा कम कुशलता से हैंडल करती हैं।

सही मात्रा में अच्छी नींद न मिलने पर अवसाद, गुस्सा और चिचिड़ापन हो जाता है। पुरुष इन समस्याओं से महिलाओं की तुलना में अधिक कुशलता से निपट लेते हैं।

अच्छी नींद के लिए क्या करें?

रात में सात से नौ घंटे सोना या सिर्फ बिस्तर पर पड़े रहना ही काफी नहीं है। नींद की गुणवत्ता भी मायने रखती है। दरअसल जब आप सो रहे होते हैं, तो आपका शरीर नींद के चक्र के विभिन्न चरणों से गुजरता है। जैसे – रैपिड आई मूवमेंट (REM), जिसमें नींद के दौरान आपकी आंखें पलकों के पीछे तेजी से अलग-अलग दिशाओं में घूमती हैं। डीप स्लीप (गहरी नींद) नींद की वह अवस्था है जब आपको सुबह उठने पर तरोताजा महसूस करने की आवश्यकता होती है।

हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार गहरी नींद के दौरान ब्रेन में ग्लूकोज मेटाबॉलिज्म बढ़ता है, जो कि शॉर्ट टर्म और लॉन्ग टर्म मेमोरी के साथ-साथ ओवरऑल लर्निंग को बढ़ावा देती है। अगर इसे सामान्य भाषा में समझा जाये तो ठीक तरह से नहीं सोने के कारण याददाश्त भी कमजोर हो सकती है। अच्छी नीड से पिट्यूटरी ग्लैंड शरीर के विकास के लिए महत्वपूर्ण हॉर्मोन स्रावित करती है, जैसे ह्यूमन ग्रोथ हॉर्मोन।

नींद महिलाओं और पुरुष दोनों के लिए ही जरूरी है। गहरी नींद या अच्छी नींद के लिए के अन्य लाभों में शामिल हैं-

  • शरीर को एनर्जी मिलती है
  • शरीर में मौजूद सेल्स जो नष्ट होते हैं उसे फिर से ठीक करने में सहायक होते हैं
  • मांसपेशियों में ब्लड सप्लाई ठीक तरह से होता है
  • ऊतकों और हड्डियों की ग्रोथ और रिपेयर होती है
  • प्रतिरक्षा प्रणाली (इम्यून सिस्टम) मजबूत होती है
  • सीखी हुई चीजें और भावनाओं का दिमाग में बनाये रखना आसान हो सकता है।

और पढ़ें: क्या नींद में कमी कर सकती है आपकी इम्यूनिटी को कमजोर?

महिलाओं और पुरुषों की नींद जरूरी है, ऐसे में अच्छी नींद के लिए क्या करें?

अच्छी नींद के उपाये निम्नलिखित हैं। जैसे-

बेड रूम को अंधेरा कर दें

अंधेरे में आप कुछ देख नहीं पाते इसलिए शायद आपका दिमाग बहुत अधिक सोच नहीं पाता। इसकी वजह से आप बिना किसी स्ट्रेस के आराम से सो पाते हैं। अगर आसपास रोशनी है और आप उसे रोक नहीं सकते तो कोशिश करें कि अपनी आंखें बंद करें और आराम से सोने की कोशिश करें। ऐसे करने से महिलाओं और पुरुषों की नींद बेहदत हो सकती है और आप सुबह जागने के बाद फ्रेश महसूस कर सकते हैं।

शोरगुल से बचें

महिलाओं और पुरुषों की नींद जरूरी है। इसलिए बहुत अधिक शोर में या फिर हलचल वाली जगह पर नींद आना जरा मुश्किल है। इसी वजह से अक्सर लोगों को ट्रेन या आवाज वाली जगहों में नींद नहीं आती है। इसलिए कोशिश करें कि सोने के लिए आप शांत माहौल तलाशें। इस दौरान आप चाहें तो हल्का म्यूजिक सुन सकते हैं। इससे आपको सोने में सहायता मिलेगी।

और पढ़ें: कितने घंटे की नींद है आपकी अच्छी हेल्थ के लिए जरूरी, जानें यहां

सोने के दौरान तनाव को भूल जायें

महिलाओं और पुरुषों की नींद

महिलाओं और पुरुषों की नींद जरूरी है और आजकल दोनों ही व्यस्त होते हैं। ऐसे में दिन भर आप तरह तरह की चिंताओं और परेशानियों से गुजरते हैं। इसलिए कोशिश करें कि सोते समय तनाव को भूल जाएं और आराम से सो जाएं। सोते समय अपने आपको रिलैक्स करें इससे अच्छी नींद आ सकती है। इस समय चिंता और तनाव को अपने से दूर रखें।

संतुलित डायट लें

संतुलित और पौष्टिक भोजन करने से आप अच्छा महसूस करेंगे और सोते समय भारीपन का एहसास भी नहीं होगा। साथ ही ये बहुत ही आसान सी समझने वाली बात है कि रात को हमें सिर्फ सोना होता है और शरीर निष्क्रिय होता है। इसलिए बहुत अधिक भोजन की जरूरत नहीं होती है। अच्छी नींद के लिए सोने से 2 घंटे पहले खाना खा लें। महिलाओं और पुरुषों की नींद जिस तरह आवश्यक है और अलग-अलग है। ठीक उसी तरह से महिला और पुरुषों को भी अपने डायट का ख्याल रखना चाहिए और संतुलित भोजन करना चाहिए।

वर्कआउट करें

महिलाओं और पुरुषों की नींद अच्छी होना दोनों के लिए ही जरूरी है। इसलिए नियमित रूप से एक्सरसाइज करें। अगर आपके पास वक्त की कमी है और आप जिम नहीं जा रहे हैं तो घर पर भी हल्की-फुल्की एक्सरसाइज कर सकते हैं। संभव हो तो रोजाना वॉक पर जायें या सप्ताह में कम से कम दो दिन स्विमिंग जरूर करें।

और पढ़ें: नाइट शिफ्ट में करते हैं काम, तो घर आकर ऐसे पूरी करें अपनी नींद

 

अगर आप महिलाओं और पुरुषों की नींद से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा। उम्मीद करते हैं कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

The battle of the sexes starts in the bedroom/https://www.sleep.org/sleep-for-men-and-women/ /Accessed on 07/01/2020

How Sleep Is Different for Men and Women Image NSF/https://www.sleepfoundation.org/how-sleep-works/how-is-sleep-different-for-men-and-women/Accessed on 07/01/2020

How to Sleep Better/https://www.helpguide.org/articles/sleep/getting-better-sleep.htm/Accessed on 07/01/2020

What is Sleep?/http://healthysleep.med.harvard.edu/healthy/science/what/Accessed on 07/01/2020

The Science of Sleep: Understanding What Happens When You Sleep/https://www.hopkinsmedicine.org/Accessed on 07/01/2020

 

लेखक की तस्वीर badge
Suniti Tripathy द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 29/04/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड