हेल्दी लंग्स पाने के लिए करें ये लंग्स एक्सरसाइज

Medically reviewed by | By

Update Date अप्रैल 6, 2020
Share now

शरीर के अन्य अंगों की तरह ही फेफड़ों यानी लंग्स का स्वस्थ रहना बेहद जरूरी है। फेफड़े हमारे शरीर में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। हमारे शरीर में ऑक्सिजन का पहुंचना बहुत आवश्यक है। फेफड़ों को हेल्दी रखने के लिए लंग्स एक्सरसाइज करना जरूरी है। फेफड़े हमारे खून और शरीर की कोशिकाओं में ऑक्सिजन पहुंचाने का काम करते हैं। कई बार किन्हीं कारणों से जैसे प्रदूषण, सांस द्वारा धूल या अन्य खतरनाक कणों का हमारे शरीर में प्रवेश करने से उनका हमारे फेफड़ों  पर बहुत बुरा असर पड़ता है। इससे फेफड़े कमजोर पड़ जाते हैं और सही से काम नहीं कर पाते। आगे चल कर यह समस्या और भी गंभीर हो सकती है। ऐसे में, कुछ व्यायाम फेफड़ों की क्षमता को बढ़ाने में सहायक सिद्ध हो सकते हैं। जानिए फेफड़ों की क्षमता बढ़ाने वाली लंग्स एक्सरसाइज।

यह भी पढ़ें : पैरों को मजबूती देने के लिए करें प्लियोमेट्रिक एक्सरसाइज, कुछ इस तरह

लंग्स एक्सरसाइज जो बढ़ाती है लंग कैपेसिटी (Lung Capacity)

1. ब्रीदिंग एक्सरसाइज

सांस से संबंधित यह व्यायाम करने से फेफड़े मजबूत होंगे और इसके साथ ही हार्ट भी ठीक रहता है। यह लंग्स एक्सरसाइज करने से फेफड़ों को ऑक्सिजन लेने में मदद मिलेगी। दिमाग की शांति के लिए भी यह एक्सरसाइज लाभदायक है। इसे करना बेहद आसान है।

कैसे करें

  • इस व्यायाम में आपको अपनी सांस पर ध्यान देना है।
  • सबसे पहले एक गहरी सांस लें ताकि आपके फेफड़ों में ऑक्सिजन भर जाए।
  • यानी कम से कम पांच सेकेंड तक सांस लें।
  • इसके बाद अगले पांच सेकेंड तक यह ऑक्सिजन बाहर निकाल दें।
  • रोजाना केवल पांच या सात मिनटों तक इस कसरत को करें।

योग के कुछ आसन जैसे प्राणायाम, अनुलोम-विलोम भी सांस संबंधी व्यायाम हैं। अगर आप उन्हें कर सकते हैं तो उससे भी आपके फेफड़े मजबूत होंगे। यह लंग्स एक्सरसाइज करने से शरीर के दूसरे अंगों को भी लाभ होगा।

2. तैराकी (Swimming) 

तैराकी यानी स्विमिंग को पूरे शरीर के लिए सबसे बेहतरीन व्यायाम माना जाता है लेकिन लंग्स एक्सरसाइज में यह सबका पसंदीदा है, क्योंकि इसमें पानी के अंदर सांस रोकनी पड़ती है, जिससे फेफड़ों की क्षमता बढ़ती है। इसके साथ ही फेफड़े मजबूत होते हैं। अगर आप चाहे तो पानी में वेट लिफ्टिंग और अन्य स्ट्रेचिंग व्यायाम भी कर सकते हैं। अगर आपके फेफड़ों में कोई समस्या है, तो लंग्स एक्सरसाइज में रोजाना स्वमिंग करने से जल्दी ही आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे। ऐसा भी माना जाता है कि चेहरे पर ठंडा पानी डालने से भी फेफड़ों की कैपेसिटी में वृद्धि होती है। फेफड़ों की क्षमता बढ़ने वाले व्यायाम में स्विमिंग मुख्य है। यह एक बेहतरीन लंग्स एक्सरसाइज है।

यह भी पढ़ें : फ्लैट टमी के लिए कितनी सही है सिट अप्स एक्सरसाइज?

3. रिब स्ट्रेच

रिब स्ट्रेच में आपको अपने फेफड़ों से इस तरह से सांस लेनी होती है कि आपकी जैसे ही आप सांस लें और छोड़े वैसे ही आपकी पसलियां खुलें और सिकुड़ें। इससे आपको फेफड़ों द्वारा अधिक से अधिक ऑक्सिजन लेने में भी आसानी होगी। यह एक बेहतरीन लंग्स एक्सरसाइज है।

कैसे करें

  • इस व्यायाम को करने के लिए आपको सीधा खड़ा होना है।
  • अपने फेफड़ों से ऑक्सिजन को छोड़ें।
  • अब धीरे से सांस लें और अपने फेफड़ों में जितनी अधिक ऑक्सिजन ले सके उतनी लें।
  • अब इस ऑक्सिजन को कुछ सेकेंड के लिए अपने फेफड़ों में रहने दें।
  • उसके बाद धीरे-धीरे इस बाहर निकाल दें।
  • अब अपने हाथों को अपनी कमर पर रखें और दाईं और बाईं तरफ बारी-बारी से झुकें।
  • अपने हाथों को ऊपर ले जाएं।
  • बाएं हाथ को धीरे से नीचे ला कर अपनी कमर पर रख लें और थोड़ा झुक जाएं।
  • दाहिना हाथ ऊपर होना चाहिए।
  • इससे आप अपनी दाईं तरफ खिंचाव महसूस करेंगे।
  • अब दूसरी तरह से इस व्यायाम को दोहराएं।

4. कार्डियो

फेफड़ों की क्षमता बढ़ने वाले व्यायाम में कार्डियो मुख्य है। कार्डियो में कई लंग्स एक्सरसाइज आती हैं, जो हमारे लंग्स को मजबूत बनाने और उनकी क्षमता को बढ़ाने में बहुत लाभदायक है। अगर आपको फिट रहना है तो कम से कम 30 से 40 मिनट तक रोजाना कार्डियो एक्सरसाइज करें। जितना अधिक और तेजी से आप वर्कआउट करेंगे आपके फेफड़ों को उतना ही अधिक फायदा होगा। अपने फेफड़ों के लिए आप रनिंग, जॉगिंग, स्विमिंग जैसी एक्सरसाइज आवश्यक करें। ऐसा भी माना जाता है कि अगर हम बहुत कम शारीरिक मूवमेंट करते हैं तो उससे हमारे फेफड़ों को नुकसान होता है। इसलिए जितना हो सके व्यायाम या अन्य शारीरिक काम करें। लंग्स एक्सरसाइज में कार्डियो करना आपके ओवरआल हेल्थ के लिए अच्छा होता है।

यह भी पढ़ें : फिटनेस के लिए कुछ इस तरह करें घर पर व्यायाम

5. बेबी पुश-अप्स

बेबी पुश अप्स, पुश अप्स का ही प्रकार है लेकिन इसमें आपके कंधे आपको सख्ती से  नहीं रखने होते। इसकी मदद से आपकी सख्त मांसपेशियां नरम होती है और आपका पॉश्चर सुधरता है। इससे आपके फेफड़ों की क्षमता बढ़ती है। यह एक बेहतरीन लंग्स एक्सरसाइज है।

कैसे करें

  • बेबी पुश अप्स करने के लिए सबसे पहले जमीन पर पुश अप्स की मुद्रा में लेट जाएं।
  • नीचे की तरफ देखें ताकि आपकी रीढ़ की हड्डी और गर्दन लाइन में हों। 
  • अपने हाथों को जमीन पर लगाएं, ताकि आप धीरे से अपने सिर,गले और कंधों को ऊपर उठा सके और एक गहरी सांस अंदर लें। 
  • अपनी बाजुओं को कोहनियों से थोड़ा मोड़ें। सांस छोड़ते हुए फिर से पहले की स्थित में चले जाएं।
  • इस व्यायाम में जब भी आप सांस लेते हैं आपकी छाती खुलती है। इसके साथ ही आपके फेफड़ों को भी लाभ होता है।

फेफड़ों को सही तरीके से काम कराने के लिए लंग्स एक्सरसाइज फायदेमंद हो सकता हैं। होंठों से सांस लेना और डायाफ्राम से सांस लेना दो आम तरह की लंग्स एक्सरसाइज है जिसका इस्तेमाल लोग अपने फेफड़ों को ठीक तरह से काम करने के लिए करते हैं।  किसी भी लंग्स एक्सरसाइज रूटिन को शुरू करने से पहले आप हमेशा अपने डॉक्टर से बात करें। लंग्स एक्सरसाइज की मदद से आप अपनी लाइफ को बढ़ा सकते हैं क्योंकि अगर आपके लंग्स हेल्दी हैं तो आप हमेशा स्वस्थ रहते हैं।

तो ये थीं कुछ ऐसी लंग्स एक्सरसाइज, जो आपके फेफड़ों की क्षमता बढ़ाने में मदद करेंगी और आपको स्वस्थ जीवन जीवन में मदद करेंगी।

और पढ़ें :

जानिए किस तरह व्यायाम डालता है पाचन तंत्र पर असर

वजन कम करने में फायदेमंद हैं ये योगासन, जरूर करें ट्राई

बच्चों के लिए पिलाटे एक्सरसाइज हो सकती है फायदेमंद, बढ़ाती है एकाग्रता

इस बॉल से करें एक्सरसाइज, मोटापा होगा कम और बाजु भी आएंगे शेप में

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    कहीं आप में भी तो नहीं है ये लंग कैंसर के लक्षण

    जानिए लंग कैंसर के लक्षण की जानकारी, निदान और उपचार, लंग कैंसर क्यों होता हैं, और जानें घरेलू उपचार, जोखिम फैक्टर से जुड़ी जरूरी बातें |

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Shayali Rekha

    Pneumothorax (spontaneous) : न्यूमोथोरैक्स क्या है?

    न्यूमोथोरैक्स क्या है in hindi, न्यूमोथोरैक्स के कारण, जोखिम कारण और उपचार क्या है, pneumothorax को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

    Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
    Written by Poonam

    Punctured Lung: पंक्चर लंग क्या है? जानें कारण, लक्षण व बचाव

    पंक्चर लंग की जानकारी in Hindi, लंग कोलैप्स का लक्षण, निदान और उपचार, पंक्चर लंग के क्या कारण हैं, Lung Collapse, punctured lung, घरेलू उपचार लंग कोलैपस्ड

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Shayali Rekha

    फिटनेस का नया फॉर्मूला है पिलाटे, क्विज से जानें इसके बारे में

    पिलाटे एक्सरसाइज करने का तरीका, पिलाटे एक्सरसाइज के फायदे, pilates in hindi,

    Written by Shikha Patel
    क्विज फ़रवरी 20, 2020