क्या टमाटर के भर्ते से बढ़ सकती है पुरुष की फर्टिलिटी?

Medically reviewed by | By

Update Date जनवरी 24, 2020
Share now

दिन में दो बार सप्लिमेंट के तौर पर जो पुरुष टमाटर का भर्ता इस्तेमाल करते हैं, उनके स्पर्म की गुणवत्ता अच्छी होती है। गर्भधारण ना कर पाने वाले जोड़ों में आधे से ज्यादा पुरुषों में इनफर्टिलिटी की समस्या होती है, वहीं, फर्टिलिटी एक्सपर्ट्स का कहना है कि फर्टिलिटी की समस्या वाले पुरुषों के संबंध में और अध्ययन की आवश्यकता है।

नेशनल हेल्थ सर्विस (एनएचएस) का फर्टिलिटी की समस्या से जूझ रहे पुरुषों के लिए सुझाव है कि वो एक हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाएं और ढीले अंडरवियर पहने। एनएचएस का यह भी सुझाव है कि जितना संभव हो सके तनाव को कम करें और ओव्युलेशन की अवधि के दौरान नियमित सेक्स करें, जिससे गर्भधारण की संभावनाओं को अधिकतम किया जा सके। लेकिन, कुछ न्यूट्रिएंट्स पुरुषों की फर्टिलिटी को बढ़ा सकते हैं, जो कुछ समय से चलन में आ रहे हैं।

लाइकोपीन से स्पर्म गुणवत्ता बढ़ेगी

लाइकोपीन , विटामिन ई और जिंक, जिन्हें पिछले शोध में केंद्र बनाकर अध्ययन किया गया है, वो एक एंटी-ऑक्सीडेंट हैं। इसका मतलब यह हुआ कि ये कोशिकाओं में ऑक्सीडेशन को रोकते हैं। इनका संबंध स्वास्थ्य के दूसरे फायदों से भी है, जिसमें दिल की बीमारियों का खतरा और कुछ प्रकार के कैंसर शामिल हैं।

इस पर शेफफील्ड यूनिवर्सिटी की एक टीम का कहना है कि उन्होंने इसका सप्लीमेंट के तौर पर इस्तेमाल किया। क्योंकि इसमें लाइकोपीन है इसलिए, बॉडी का इसको डाइजेस्ट कर पाना थोड़ा मुश्किल है। उन्हें विश्वास है कि प्रतिदिन हर पुरुष को इसकी समान मात्रा मिल सकती है। लाइकोपीन का समान डोज लेने के लिए पुरुषों को प्रति दिन 2 किलो पके हुए टमाटर खाने होंगे।

यह भी पढ़ें: फर्स्ट टाइम सेक्स से पहले जान लें ये 10 बातें, हर मुश्किल होगी आसान

नतीजे उत्साहित करने वाले

पुरुष की फर्टिलिटी

12 हफ्तों तक चले इस ट्रायल में सप्लिमेंट बनाने वाली एक कंपनी ने आंशिक रूप से इसमें पैसा लगाया था। इस ट्रायल के लिए रेंडम तरीके से 60 पुरुषों का चयन किया, जिन्हें प्रतिदिन 14 ग्राम लाइकोपीन या इसकी गोलियां लेनी थीं। शुरुआत के छह हफ्ते और शोध के अंत पर पुरुषों के स्पर्म की जांच की गई। जांच में पता चला कि स्पर्म कॉनसेंट्रेशन में कोई अंतर नहीं था। जांच में पाया गया कि जो पुरुष लाइकोपीन का सेवन कर रहे थे उनके स्पर्म का आकार और मोटिलिटी (स्पर्म की तेजी) ज्यादा थी।

शेफफील्ड यूनिवर्सिटी के ह्यूमन न्यूट्रिशन की एक्सपर्ट डॉक्टर लिज विलियम्स की अगुवाई में यह शोध किया गया। इस शोध को यूरोपीय जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन में प्रकाशित किया गया। डॉक्टर लिज ने कहा, ‘इस समय हम पुरुषों को एक छोटी सलाह दे सकते हैं।’

यह भी पढ़ें: गर्भधारण के लिए सेक्स ही काफी नहीं, ये फैक्टर भी हैं जरूरी

बड़े ट्रायल की जरूरत

हम उन्हें एलकोहॉल को कम करने और हेल्दी डायट लेने की सलाह देते हैं लेकिन, यह बेहद ही समान्य सलाह है। वो कहती हैं, ‘यह एक छोटा शोध था और इसे हमें बड़े ट्रायल में दोहराने की आवश्यकता है। लेकिन, इसके नतीजे काफी प्रोत्साहित करने वाले हैं।’ उन्होंने कहा, ‘अगला कदम इस शोध को उन पुरुषों में दोहराने का है, जिन्हें फर्टिलिटी की समस्या है। यह देखना होगा कि क्या लाइकोपीन उन पुरुषों के स्पर्म गुणवत्ता में सुधार कर सकता है और यह उन्हें फर्टिलिटी के बड़े ट्रीटमेंट से बचा सकता है।’

यह भी पढ़ें: पुरुषों में इनफर्टिलिटी के ये 5 लक्षण, न करें इग्नोर

भविष्य में होगा फायदा

ग्वेंडा बर्न्स नामक एक चेरिटी नेटवर्क ने इस शोध पर कहा, ‘यह एक शुरुआती चरण है। यह शोध स्पर्म की गुणवत्ता में सुधार को लेकर एक उम्मीद जगाता है। साथ ही यह भविष्य में पुरुष की फर्टिलिटी के संबंध में एक विस्तृत समझ को पेश करता है।’

पुरुष की फर्टिलिटी बढ़ाने के लिए डायट चार्ट

पुरुष की फर्टिलिटी बेहतर करने के लिए उन्हें अपने खान-पान का खास ध्यान रखना चाहिए। स्पर्म की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए निम्नलिखित आहार का सेवन करना चाहिए।

ऑरेंज

पुरुष की फर्टिलिटी को बढ़ाने में ऑरेंज काफी मदद करता है। संतरे में मौजूद विटामिन-सी स्पर्म मोटिलिटी (स्पर्म का मूवमेंट) बढ़ाने में मदद करता है।

हरे रंग की सब्जियां

हरी सब्जियां जैसे पालक, ब्रुसेल्स और शतावर जैसी सब्जियों का सेवन करना पुरुष की फर्टिलिटी बढ़ाने के लिए अच्छा माना जाता है। हरी सब्जियों का सेवन स्पर्म की क्वॉलिटी बेहतर बनाता है।

डार्क चॉकलेट (Dark Chocolate)

डार्क चॉकलेट में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट और एमिनो एसिड पुरुष की फर्टिलिटी बढ़ाने में सहायक है। इसलिए डार्क चॉकलेट को डायट में शामिल करें। ध्यान रखें इसे अत्यधिक मात्रा में भी नहीं लेना चाहिए।

मछली (Fish)

मछली में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड न सिर्फ स्किन को स्वस्थ रखता है बल्कि साथ ही स्पर्म क्वॉलिटी को भी बेहतर बनाने में मदद करता है। आप चाहे तो इसके लिए सेलमोन और सार्डिनेस जैसे मछलियों का सेवन कर सकते हैं।

अनार (Pomegranate)

अपनी डायट में अनार को शामिल करें। यह टेस्टोस्टेरोन लेवल को मेंटेन रखता है।

डायट में कुछ बदलावों को करने से पुरुष की फर्टिलिटी बेहतर की जा सकती है। इसके लिए संतरे के साथ-साथ टमाटर, ब्रोकली, अंकुरित अनाज और पत्ता गोभी नियमित रूप से आहार में सेवन करना चाहिए। इसके अलावा डॉक्टर से भी आप अपना डायट चार्ट तैयार करा सकते हैं।

हम आशा करते हैं आपको हमारा यह लेख पसंद आया होगा। हैलो हेल्थ के इस आर्टिकल में पुरुष की फर्टिलिटी बेहतर करने के तरीको के बारे में बताया गया है, जो आपके काफी काम आ सकती हैं।। यदि आप इससे जुड़ी अन्य कोई जानकारी पाना चाहते हैं तो आप अपना सावाल हमें कमेंट कर पूछ सकते हैं। आपको हमारा यह लेख कैसा लगा यह भी आप हमें कमेंट कर बता सकते हैं।

और पढ़ें:

इनफर्टिलिटी ट्रीटमेंट क्या हैं? जानिए कैसे होता है बांझपन का इलाज

क्या एंटीबायोटिक्स का फर्टिलिटी पर असर होता है?

स्पर्म काउंट किस तरह फर्टिलिटी को करता है प्रभावित?

इन वजहों से हो जाता है लो स्पर्म काउंट, जानिए बढ़ाने का तरीका

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    आंखों में खुजली या जलन (Eye Irritation) कम करने के घरेलू उपाय

    आंखों में खुजली कम करने घरेलू उपाय !दिनभर धूप और धूल में रहने की वजह से आँखों में खुजली हो सकती है। इलाज के लिए समस्या को सही तरीके से जानना बहुत जरूरी है। 

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Suniti Tripathy

    टमाटर खाना कैसे स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है?

    लाल-लाल रंग के टमाटर के फायदों के बारे में तो सब जानते हैं लेकिन क्या आप टमाटर के नुकसान के बारे में भी जानते हैं? अगर नहीं, तो जानिए किस तरह के लोगों को टमाटर के नुकसान हो सकते हैं।

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Anu Sharma

    7 स्वास्थ्य समस्याएं जो फर्टिलिटी को प्रभावित कर सकती हैं

    इनफर्टिलिटी की समस्या महिला और पुरुष दोनों को हो सकती है। इनफर्टिलिटी के पीछे क्या कारण हो सकते हैं? इनफर्टिलिटी का उपचार क्या है?

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Sunil Kumar

    क्या आप जानते हैं पुदीने के फायदे?

    जानिए पुदीने के फायदे in hindi. किन-किन बीमारियों में पुदीने का सेवन हो सकता है लाभकारी? कीमोथेरिपी के बाद भी Mint का सेवन किया जा सकता है।

    Medically reviewed by Dr. Radhika apte
    Written by Mubasshera Usmani

    Recommended for you

    पुरुषों में जानलेवा बीमारी

    पुरुषों में होने वाली जानलेवा बीमारियां, जान लें इनके बारे में

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Shayali Rekha
    Published on मार्च 17, 2020
    Cushing syndrome- कुशिंग सिंड्रोम क्या है?

    Cushing Syndrome: कुशिंग सिंड्रोम क्या है?

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Kanchan Singh
    Published on फ़रवरी 14, 2020
    infertility avoid food-इनफर्टिलिटी बढ़ाने वाले फूड

    इनफर्टिलिटी से बचने के लिए इन फूड्स से कर लें तौबा

    Medically reviewed by Dr Sharayu Maknikar
    Written by Bhawana Awasthi
    Published on नवम्बर 13, 2019
    मार्शमैलो

    Marshmallow : मार्शमैलो क्या है?

    Medically reviewed by Dr. Shruthi Shridhar
    Written by Mona Narang
    Published on अक्टूबर 6, 2019