home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

लॉकडाउन के दौरान वेट गेन से न हों परेशान, करें ये काम

लॉकडाउन के दौरान वेट गेन से न हों परेशान, करें ये काम

सभी लोगों के मन में कोरोना वायरस की बीमारी कोविड- 19 (Covid-19) का डर बैठा हुआ है, वहीं एक डर यह है कि आखिर कब तक इस खतरनाक इंफेक्शन का इलाज मिलेगा या लॉकडाउन कब खत्म होगा। लेकिन, कुछ लोगों के इन डरों के साथ लॉकडाउन के दौरान वेट गेन का डर भी काफी सता रहा है। इसी डर को लेकर सोशल मीडिया पर कई तरह के मीम्स भी शेयर किए जा रहे हैं, जिससे लोग काफी ज्यादा खुद को जुड़ा हुआ महसूस कर रहे हैं और वजन बढ़ने को लेकर चिंतित हुए जा रहे हैं। लेकिन, हम आपको बता दें कि लॉकडाउन के दौरान वजन बढ़ने से आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है, बस आपको इन बातों का ध्यान रखना होगा।

और पढ़ें: UV LED लाइट सतहों को कर सकती है साफ, कोरोना हो सकता है खत्म

लॉकडाउन के दौरान वेट गेन कैसे रोकें?

देखिए, सबसे पहली बात यह है कि इस कोविड- 19 इंफेक्शन और कोरोना वायरस के डर की वजह से हम रोजाना काफी मानसिक और शारीरिक तनाव के शिकार हो रहे हैं। जिस वजह से हमारे शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ रहा है और हमारा वजन भी बढ़ रहा है। इसलिए, बेहतर यह होगा कि आप अपने बढ़ते हुए वजन के बारे में कुछ समय तक सोचना छोड़ दें और इस तनाव से राहत पाने के लिए इन टिप्स को अपनाएं।

लॉकडाउन के दौरान वेट गेन कैसे रोकें : तनाव न लें

लॉकडाउन के दौरान वेट गेन को लेकर काफी लोग चिंतित हो जाते हैं और अत्यधिक तनाव लेने लगते हैं। इस तनाव के कारण कुछ लोगों में ईटिंग डिसऑर्डर (Eating Disorder) विकसित होने लगता है, जिस वजह से उन्हें फायदा मिलने की बजाय उल्टा नुकसान होने लगते हैं। वह कोशिश करते हैं कि कम से कम खाया जाए या पौष्टिक आहार लिया जाए। लेकिन, ऐसा न हो पाने की वजह से तनावग्रस्त हो जाते हैं और स्ट्रेस ईटिंग या इमोशनल ईटिंग करना शुरू कर देते हैं। इसलिए, इस लॉकडाउन में खुद के प्रति नरमी दिखाएं और सामान्य खाना खाएं, जो कि ज्यादा बेहतर रहेगा।

और पढ़ें: अब यह समस्या भी हो सकती है कोरोना का नया लक्षण, हो जाएं सावधान

लॉकडाउन में डायट को अभी करें ‘बाय’

लोग खुद के वजन को मेंटेन करने के लिए कई सख्त-सख्त डायट का सहारा लेते हैं। लेकिन, लॉकडाउन के दौरान सीमित संसाधनों और प्रोडक्ट की वजह से किसी डायट को फॉलो करना काफी कठिन हो गया है। लेकिन, हम आपको बता दें कि सख्त डायट भी आपके शरीर के लिए इस समय तनाव का कारण बन सकती है, क्योंकि वैसे ही हम कितने ही मेंटली प्रेशर से जूझ रहे हैं और इस समय शरीर को काफी पोषण की जरूरत है। इसलिए कार्ब्स कटिंग डायट या फास्टिंग जैसी सख्य डायट आपके लिए नुकसानदायक हो सकती है।

डिटॉक्स जूस और डिटॉक्स टी की मदद लें

घर में रहकर अपने बढ़ते वजन को कंट्रोल करने के लिए आप डिटॉक्स जूस का सेवन भी कर सकते हैं। हम सभी जानते हैं कि, जूस हमारे लिए कई तरह से फायदेमंद होता है। वहीं कुछ ऐसे जूस हैं, जो कई फायदे देने के साथ-साथ आपके शरीर को डिटॉक्स करने का कार्य भी करते हैं। इसमें आप फल और सब्जियों दोनों के जूस को शामिल कर सकते हैं। कुछ फ्रूट जूस आपके लिए डिटॉक्स ड्रिंक का कार्य करते हैं, लेकिन ज्यादातर सभी ग्रीन वेजिटेबल जूस एक डिटॉक्स ड्रिंक के रूप में कार्य करते हैं। फलों में डिटॉक्स जूस के रूप में आप अनार,पाइनएप्पल, संतरा, मौसम्बी, अंगूूर और एप्पल जूस को शामिल कर सकते हैं। हरी सब्जियों वाली डिटॉक्स ड्रिंक के रूप में उपयोग करने के लिए पालक, खीरा, गाजर, लौकी, पुदीना आदि का उपयोग कर सकते हैं। डिटॉक्स टी का उपयोग भी शरीर को डिटॉक्स करने के लिए बहुत अच्छा विकल्प है। इसको बनाने के लिए आपको पानी को गर्म करना है, उसमें आप दालचीनी, शहद, अदरक, तुलसी,अजवाइन, सौंफ मिलाएं। कुछ समय तक इसको उबालना है और फिर छानकर उसमें नींबू मिलाना है। अब अपने स्वादानुसार मीठा करने के लिए गुड़ मिला सकते है। आप दिन में एक बार इसका उपयोग कर सकते हैं।

और पढ़ें: कोरोना वायरस के मुश्किल समय में जीवन रक्षक बन रही है भारतीय डाक सेवा

किसी की मदद लें

कभी-कभी इमोशनल और स्ट्रेस ईटिंग करना सामान्य बात है। लेकिन अगर किसी अन्य कारण से आप भावनात्मक रूप से काफी अस्वस्थ हैं और लगातार इमोशनल व स्ट्रेस ईटिंग कर रहे हैं, तो आपको किसी की मदद की जरूरत है। आप ऐसे किसी इंसान की मदद लें, जो आपको समझता हो और आप उसे आसानी से अपनी फीलिंग्स बता पाएं। इससे वह इस इमोशनल क्राइसिस (Emotional Crisis) के दौर से गुजरने में आपकी मदद करेगा।

क्वारेंटाइन में खुद से पकाएं खाना

लॉकडाउन की वजह से हम लोगों को काफी समय मिला है, जिसे हम खुद से प्यार करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। हमें पास्ता खाना पसंद है, लेकिन बाहर का जंक फूड होने की वजह से हम नहीं खाते। तो डरिए मत, इस समय वीडियो देखकर पौष्टिक और स्वस्थ पास्ता बनाना सीखने का अच्छा मौका है। तो हो जाइए शुरू, सीखिए और खुद से बनाइए अपना मनपसंदीदा खाना, जिससे आपको मानसिक शांति मिलेगी और तनाव कम होगा। टेस्ट के साथ-साथ यदि आप अपनी फिटनेस का भी ध्यान रखना चाहते हैं, तो आपको केवल इतना ध्यान रखना है कि वाइट पास्ता के बजाय ब्राउन पास्ता का उपयोग करना है। जी हां आपको अपनी फिटनेस को बेहतर बनाए रखने के लिए ब्राउन पास्ता यानी गेंहू से बने पास्ता का उपयोग करना है। इसे आप रोजाना नहीं, लेकिन हफ्ते में कुछ दिन खा सकते हैं।

और पढ़ें: चेहरे के जरिए हो सकता है इंफेक्शन, कोरोना से बचने के लिए चेहरा न छूना

लॉकडाउन के दौरान रूटीन सही करें

हमारे वजन बढ़ने का कारण सिर्फ खानपान ही नहीं होता, बल्कि इसके पीछे हमारी बॉडी क्लोक और रुटीन भी भूमिका निभाता है। खराब जीवनशैली की वजह से देर से सोना और देर से जागना जैसी गलत आदते लग गई हैं। लेकिन आप लॉकडाउन में अपनी इन गलत आदतों से छुटकारा पा सकते हैं और एक स्वस्थ व सही रुटीन अपना सकते हैं। जिससे आपके शरीर के वजन पर सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

घर पर ही करें व्यायाम

कुछ लोग जिम या एरोबिक क्लास न जा पाने की वजह से दुखी हैं, क्योंकि इस वजह से उन्हें अपना वजन बढ़ने का डर है। लेकिन, घबराने की कोई बात नहीं है, क्योंकि घर पर भी खूब एक्सरसाइज या व्यायाम किया जा सकता है, जो कि आपके शरीर पर अतिरिक्त फैट को बढ़ने से रोकेगा। आप होम वर्कआउट अपना सकते हैं और लॉकडाउन के दौरान वेट गेन की समस्या से राहत पा सकते हैं। दरअसल, घर पर वर्कआउट करने के लिए आपके पास कई विकल्प हैं, जिसमें आप कुछ कार्डियो एक्सरसाइज और एब्स की एक्सरसाइज शामिल कर सकते हैं। घर में कार्डियो और एब्स एक्सरसाइज करने के लिए आप अपना सकते हैं:

  • जंपिंग जैक
  • माउटेंन क्लाइंबिंग
  • जंपिंग रोप
  • बर्पी
  • स्क्वाट्स एक्सरसाइज
  • स्क्वाट्स जंप
  • पुश-अप
  • किक बॉक्सिंग
  • स्टेयरकेस एक्सरसाइज
  • लंजेज
  • हाई नीज एक्सरसाइज
  • क्रंचेज
  • रिवर्स क्रंचेज
  • लेग रेज
  • सीटेड ट्विस्ट
  • प्लैंक एक्सरसाइज

इस प्रकार कई ऐसी एक्सरसाइज हैं, जिन्हें करके घर में रहकर भी फिट रहा जा सकता है। ऐसे बहुत से लोग हैं, जो वर्कआउट करने के शौकीन होते हैं। लेकिन लॉकडाउन या किसी भी प्रकार की अन्य समस्या आपको घर में रहने पर मजबूर कर देती है। इससे आपकी दिनचर्या में कई तरह के बदलाव आने लगते हैं और आप तनाव में रहने लगते हैं। लेकिन अब आप घर में रहकर ही इन एक्सरसाइज की मदद से अपनी दिनचर्या में वर्कआउट आसानी से शामिल कर सकते हैं।

और पढ़ें: सोशल डिस्टेंसिंग को नजरअंदाज करने से भुगतना पड़ेगा खतरनाक अंजाम

लॉकडाउन में कोरोना वायरस से सावधानी

कोरोना वायरस इंफेक्शन से बचने के लिए भारत सरकार ने लोगों के लिए कुछ सलाह दी है। लॉकडाउन के दौरान वेट गेन को रोकने के साथ इन एहतियात रूपी सलाह को फॉलो करने से आप कोरोना वायरस संक्रमण से काफी हद तक बच सकते हैं। घर से बाहर निकलते वक्त मास्क का प्रयोग करें। कपड़े के मास्क को धुलकर ही यूज करें। डिस्पोजल मास्क को दोबारा कभी मन यूज करें। हाइजीन का विशेषतौर पर ख्याल रखें। आपको अगर कोरोना के बारे में जानकारी नहीं है तो डॉक्टर से जरूर इस बारे में बात करें। कोरोना वायरस से बचने के लिए अवेयरनेस बहुत जरूरी है। कोरोना से सावधानी ही आपको राहत दिला सकती है। कोरोना वायरस महामारी को देश से खत्म करने के लिए आपको लॉकडाउन और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ ही मास्क व पर्सनल हाइजीन जैसी सावधानियों का पालन करना होगा। इसके अलावा, सिर्फ सरकार या हेल्थ एक्सपर्ट द्वारा दी गई जानकारी पर ही विश्वास करें।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Coronavirus – https://www.who.int/health-topics/coronavirus – Accessed on 20/4/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.cdc.gov/coronavirus/2019-ncov/index.html – Accessed on 20/4/2020

Coronavirus (COVID-19) – https://www.nhs.uk/conditions/coronavirus-covid-19/ – Accessed on 20/4/2020

Coronavirus disease 2019 (COVID-19) – Situation Report – 90 – https://www.who.int/docs/default-source/coronaviruse/situation-reports/20200419-sitrep-90-covid-19.pdf?sfvrsn=551d47fd_2 – Accessed on 20/4/2020

Losing Weight – https://www.cdc.gov/healthyweight/losing_weight/index.html – Accessed on 20/4/2020

INTERESTED IN LOSING WEIGHT? – https://www.nutrition.gov/topics/healthy-living-and-weight/strategies-success/interested-losing-weight#:~:text=Weight%20loss%20can%20be%20achieved,calorie%2C%20nutritionally%2Dbalanced%20eating%20plan – Accessed on 20/4/2020

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Surender aggarwal द्वारा लिखित
अपडेटेड 22/04/2020
x