home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

बोन ब्रोथ के फायदे आप भी जानकर रह जाएंगे हैरान, इस एक सूप में मौजूद हैं सभी पोषक तत्व

बोन ब्रोथ के फायदे आप भी जानकर रह जाएंगे हैरान, इस एक सूप में मौजूद हैं सभी पोषक तत्व

क्या आपको पता है कि बोन ब्रोथ एक ऐसा नॉन वेज सूप है। जो आपके शरीर में सभी आवश्यक पोषक तत्वों की कमी को पूरा करता है। इस सूप में आपको सभी प्रकार के पोषक तत्व एक साथ मिलेंगे। अगर हम पुराने दिनों की बात याद करें, तो बीमार होने पर जल्दी रिकवरी के लिए अक्सर डॉक्टर चिकन सूप की सलाह देते थें, नॉनवेज का सेवन करने वाले लोगों को। डॉक्टर्स का भी मानना है कि चिकन सूप में अमीनो एसिड और खनिज शामिल होता है। ठीक, अब इसी तरह बोन ब्रोथ के लिए सलाह दी जाती है। ये शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के साथ किसी भी बीमारी से जल्दी रिकवरी करने में मददगार है। शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि बोन ब्रोथ में शोरबा और स्टॉक में अमीनो एसिड जैसे- आर्जिनिन, सिस्टीन और ग्लूटामाइन मौजूद होते हैं, जो हमारी प्रतिरक्षा को बढ़ाने में मदद करते हैं।

बोन ब्रोथ क्या है?

बोन ब्रोथ एक प्रकार का हड्डियों और सब्जियों से बना सूप होता है। यह सूप और अन्य नॉन वेज सूपों के मुकाबले अत्यधिक पौष्टिक भरा होता है। इसमें इस्तेमाल की जाने वाली हड्डियों के अंदर हाई प्रोटीन, एंटी इंफ्लेमेटरी, जरूरी हेल्‍दी फैट और मिनरल्‍स पाए जाते हैं। इसे घंटो उबालकर फिर तैयार किया जाता है। इसमें कोलेजन भी उच्च मात्रा में पाया जाता है, जो कि हेल्दी स्किन के लिए भी बहुत जरूरी है। इसके अलावा, जिन लोंगो के घुटनों की समस्या यानी कि अर्थराइटिस है, तो यह सूप उनके इस समस्या के लिए प्रभावकारी हो सकता है। इस बोन सूप में ग्‍लूकोस्‍माइन, कोंड्रोटिन सल्‍फेट और अन्‍य तत्‍व पाए जाते हैं, जो जोड़ों को मजबूती देते हैं। इसके सेवन से आपको बहुत सारे हेल्थ बेनेफिट्स मिल सकते हैं। अगर आप नॉनवेज लवर हैं, तो आप इसे अपने डायट में शामिल कर सकते हैं।

और पढ़ें: वर्कआउट के बाद मांसपेशियों के दर्द से राहत दिला सकते हैं ये फूड, डायट में कर लें शामिल

बोन ब्रोथ हेल्थ बेनेफिट्स ( Bone Broth Health Benefits)

इम्यून सिस्टम को बूस्ट करता है

अगर आपकी इम्यूनिटी कमजोर है, तो आपके लिए बोन ब्रोथ फायदेमंद है। इसमें अमीनो एसिड जैसे आर्जिनीन, ग्लूटामिन और सिस्टीन आदि होते हैं। जोकि इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के लिए उपयोगी माने जाते हैं। यहीं कारण है कि इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने के लिए बोन ब्रोथ का सेवन लाभकारी होता है।

मांसपेशियों के लिए सहायक

बोन ब्रोथ में मौजूद अमीनो एसिड मसल्स को प्रोटीन पहुुचानें का काम करता है। इसमें मौजूद अमीनो एसिड हेलदी मसल्स का निमार्ण करता है। वेटलॉस और बॉडी लिफ्टिंग के लिए कई फिटनेस एक्सपर्ट भी एक्सरसाइज के साथ ब्रोन ब्रोथ पीने की सलाह देते हैं। इसमें पाया जाने वाले हाई प्रोटीन मसल्स को जल्दी टोनड करता है।

[mc4wp_form id=”183492″]

सूजन को कम करने में सहायक

बोन ब्रोथ में मौजूद अमीनो एसिड विशेष कर सेअमीनो एल और ग्लूटामिन शरीर में होने वाली सूजन को कम करने में प्रभावी है। इसमें कैल्शियम, विटामिन ए, डी, के, सी और बी की उच्च मात्रा पाई जाती है। अन्य पोषक तत्वों में इसमें मिनरल्स जैसे जिंक, पोटैशियम, मैग्नीशियम, कॉपर, आयरन आदि आवश्यक तत्व मौजूद होते हैं। इसलिए इस सूप के सेवन से हमारे शरीर की हड्डियां और दांत स्वस्थ रहते हैं। बोन ब्रोथ में मौजूद अर्गिनीन, विशेष रूप से पुरानी सूजन के उपचार में मददगार हो सकता है। एक एनिमल ट्रायल से पता चलता है कि इसके सेवन से अस्थमा के लक्षणों में सुधार काफी सुधार आता है। चूहों पर हुए एक अन्य अध्ययन से पता चलता है कि आर्गिनिन के साथ पूरक मोटापे से ग्रस्त व्यक्तियों में सूजन से लड़ने में मदद करता है।

4.नींद की समस्या को ठीक करता है:

बोन ब्रोथ में ग्लाइसिन पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। एक अध्ययन के अनुसार ग्लाइसिन के सेवन से अच्छी नींद आती है। इसलिए इसका सेवन उन लोगों के लिए भी ज्यादा अच्छा है, जिन्हें नींद की समस्या हमेशा बनी रहती है और दवा की जरूर पड़ती है। इसके अलावा जिन लोगों को तनाव और डिप्रेशन की समस्या रहती है। वो भी इसे ले सकते हैं नींद और मस्तिष्क की कार्यक्षमता में सुधार होता है। बोन ब्रोथ में पाया जाने वाला एमिनो एसिड ग्लाइसिन, आपको आराम करने में मदद कर सकता है। कई अध्ययनों में पाया गया है कि ग्लाइसीन नींद को बढ़ावा देने में मदद करता है। एक अध्ययन में पता चला है कि बिस्तर में जानें से पहले 3 ग्राम ग्लाइसिन लेने से उन व्यक्तियों में नींद की गुणवत्ता में काफी सुधार हुआ है, जिन्हें पहले सोने में कठिनाई होती थी।

5- अर्थराइटिस की समस्या पर

यह सूप उन लोगों के लिए भी फायदेमंद है, जिन लोगों को लंबे समय से जोड़ों के दर्द की समस्या बनी हुई है। इसमें ग्लूकोसामिन होता है, जोकि जोड़ों के दर्द में राहत पहुंचाता है। इसी के साथ यह शरीर को आवश्यक पोषण देता है, जिससे यह जोड़ों के दर्द को कम करने के साथ-साथ अन्य स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान होते हैं।

6- इसमें कई महत्वपूर्ण विटामिन और खनिज होते हैं

बोन ब्रोथ में बहुत सारे पौष्टिक तत्व होते हैं, जैसे कि विटामिन ए, विटामिन के-2, जस्ता, आयरन, बोरान, मैंगनीज, और सेलेनियम, साथ ही ओमेगा -3 और ओमेगा -6 फैटी एसिड जैसे खनिज प्रदान करता है। वही खनिज जो आपकी अपनी हड्डियों को बनाने और मजबूत करने के लिए आवश्यक हैं । बोन ब्रोथ में इस्तेमाल की जानें वाली मछली की हड्डियों में आयोडीन भी होता है, जोकि थायरॉयड और चयापचय के लिए आवश्यक है। इसके बोन में पाए जाने वाला प्रोटीन में कोलेजन भी होता है, जो पकाए जाने पर जिलेटिन में बदल जाता है और कई महत्वपूर्ण अमीनो एसिड का उत्पादन करता है। बहुत से लोगों को अपने आहार में इन पोषक तत्वों की पर्याप्त मात्रा नहीं मिलती है, इसलिए हड्डी शोरबा पीना एक अच्छा तरीका है।

और पढ़ें: उम्र के हिसाब से जरूरी है महिलाओं के लिए हेल्दी डायट

7- यह पाचन तंत्र को लाभ पहुंचा सकता है

जिन लोगों को पाचन तंत्र, कब्ज और डायरिया जैसी समस्या है, उनकी रिकवरी में भी बोन ब्रोथ काफी फायदेमंद है। इस बारे में वैज्ञानिकों ने पता लगाया है कि आपका संपूर्ण स्वास्थ्य आपके पाचन तंत्र के अच्छे स्वास्थ्य पर निर्भर करता है। यह डायजेस्ट करने के भी काफी आसान है और खाद्य पदार्थों के पाचन में भी। जिलेटिन नामक तत्व हड्डी में पाया जाता है। यह पाचन तंत्र में कुछ खाद्य पदार्थों को आपके आंत से अधिक आसानी से स्थानांतरित करने में मदद करता है। जब आपकी आंत और रक्तप्रवाह के बीच का अवरोध खराब हो जाता है। वे पदार्थ, जो आपके शरीर में आम तर पर आपके रक्तप्रवाह में रिसाव के माध्यम से नहीं जाते हैं, जिससे सूजन और अन्य समस्याएं होती हैं । इस लिए बोन ब्रोथ उन व्यक्तियों के लिए फायदेमंद है, जिन्हेंअल्सरेटिव कोलाइटिस या क्रोहन रोग है।

और पढ़ें: अपना बीएमआर यहाँ पता करें।

8- यह वजन घटाने के अनुकूल है

बोन ब्रोथ आमतौर पर कैलोरी में बहुत कम मात्रा में पाई जाती है। कई अध्ययनों में भी पाया गया है कि नियमित रूप से सूप के सेवन से वेट लॉस जल्दी होता है। क्योंकि बोन में प्रोटीन में उच्च मात्रा में होता है। जो जल्दी वेटलॉस के साथ और मांसपेशियों को बनाए रखने में मदद कर सकता है ।

9- फूड एलर्जी दूर करे

हड्डियों से कोलेजन में जिलेटिन नामक तत्‍व में बदल कर पेट की लाइनिंग को ठीक करता है। जिसे फूड एलर्जी नहीं होती है। इसी के साथ ही एसिडिटी और पेट की समस्या दूर होती है। यह शरीर से कैमिकल और टॉक्‍सिन को निकालता है। इसके अलावा यह बाइल सॉल्‍ट का प्रोडक्‍शन भी करने में मदद करता है। हड्डियों के सूप में जिलेटिन नाम का तत्व होता है, जो कि पेट की समस्यां को ठीक करके हमें फूड एलर्जी से छुटकारा दिलाता है। इसी के साथ इस सूप का सेवन करने से एसिडिटी, पेट की खराबी और पेट का अल्सर जैसी समस्याएं भी दूर हो जाती हैं।

10- दिमाग तेज बनाए

इस सूप में अमीनो एसिड होता है जो कि हमारे दिमाग को तेज करने में मदद करता है। इसके सेवन से शरीर में खून का प्रवाह अच्छा बनता है।

11- जवां बनाए

जैसा कि इसमें कोलेजन की उच्च मात्रा पाई जाती है, जोकि स्किन टाइटनिंग में काफी प्रभावकारी है। यह त्‍वचा के साथ बालों के लिए फायदेमंद है। कोलेजन को कनैक्टिव टिशू भी कहते हैं। यह त्वचा में रिपेयर का काम भी करता है।

और पढ़ें: वर्कआउट के बाद मांसपेशियों के दर्द से राहत दिला सकते हैं ये फूड, डायट में कर लें शामिल

बोन ब्रोथ क्यों पीना चाहिए ?

बोन ब्रोथ चिकित्सा पद्विति के तौर पर भी काफी प्रभावकारी है। वैसे तो, इसके बहुत अधिक वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है, लेकिन हजारों वर्षों से हड्डी के शोरबा का कई बीमारियों में प्रभावकारी परिणाम पाया गया है। बोन ब्रोथ इन बीमारियों के लिए फायदेमंद है, जैसे कि-

फायदेमंद बाेन ब्रोथ ( Bone broth health benefits)

मछली की का शोरबा

मछली की हड्डियों से बना स्टॉक आयोडीन से भरा होता है, जो थायराइड फंक्शन में मदद कर सकता है। यह शोरबा एशियाई सूप और करी के लिए भी अच्छा माना जाता है। इसे बनाने के लिए धीमी कुकर या प्रेशर कुकर में पकाने से बचें। हालांकि,मछली की हड्डी शोरबा को स्टोवटॉप पर उबला जाना चाहिए। नुस्खा प्राप्त करें, डॉ केली के सौजन्य से।

चिकन लेग बोन स्टॉक

चिकन लेग की हडि्डयों से बनाए गय बोन ब्रोथ में ग्लूकोसामाइन, कोलेजन, और कैल्शियम जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। बोन ब्रोथ में इसका इस्तेमाल आपके लिए हेल्दी साबित हो सकता है। इसके अलावा ये प्रोटीन के लिए भी एक अच्छा स्त्रोत है, वेट वालों के लिए तो खासतौर पर। इसका सेवन आपको कई गंभीर बीमारियों के चपेट से भी बचा सकता है।

बोन ब्रोथ के लिए कुछ टिप्स

  • घर में नाॅनवेज बनाने के दौरानी बचे हुए पीसेज की हड्डियों को आप बोन ब्रोथ सूप के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसके लिए आप हड्डियों को साफ करें एक फॉयल रेप में इकठ्ठा कर ले और उन्हें अपने फ्रीजर में स्टोर कर लें।
  • इसे 5 दिनों तक रेफ्रिजरेटर में सुरक्षित रूप से संग्रहीत किया जा सकता है।
  • अपने शोरबा को लंबे समय तक मदद करने के लिए, आप इसे छोटे कंटेनरों में फ्रीज कर सकते हैं और आवश्यकतानुसार अलग-अलग सर्विंग्स को गर्म कर सकते हैं।
  • सप्ताह में एक बार हो या दिन में एक बार, इसका सेवन आपनी इच्छानुसार कर सकते हैं।

और पढ़ें: Boneset: बोनसेट क्या है?

कैसे बनाएं बाेन ब्रोथ सूप

soup

बोन सूप का नाम नॉनवेज पसंद करने वालों ने पहले भी सुना होगा। ये सूप हड्डियों का शोरबा होता है, जो कि एक परंपरागत भोजन है। इस सूप को हड्डियों को उबाल कर बनाया जाता है। आप बकरी, भेंड और चिकन के किसी की भी हड्डी का इस्तेमाल कर इस सूप को बना सकती हैं। इस सूप को बनाने के लिए आप सबसे पहले पैर को तेज आंच में उबाल लें। जब यह अच्छी तरह से उबल जाए तो आंच कम करके इसे पकाने दें। धीमी आंच में इसे पकाने से इसमें से ग्लूटामाइन, ग्लाइसिन, प्रोलाइन और कोलेजन नाम का पदार्थ निकलता है, जो कि हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद होता है।

सामग्री

  • 2 कप (473 एमएल) हड्डी शोरबा
  • 1/2 चम्मच (2.5 एमएल) तुलसी, कटा हुआ
  • जैतून का तेल के 2 बड़े चम्मच (30 एमएल)
  • 1/2 चम्मच (2.5 एमएल) अजवायन, कटा हुआ
  • 2 लौंग लहसुन, कीमा बनाया हुआ
  • नमक और काली मिर्च स्वाद के लिए
  • 2 टमाटर का पेस्ट

विधि

  • एक मध्यम सॉस पैन में सभी सामग्री रखें।
  • मध्यम-उच्च गर्मी पर 4-6 मिनट के लिए गरम करें, कभी-कभी सरगर्मी करें।
  • कम गर्मी और कवर को कम करें, सॉस को 5 मिनट के लिए उबालने की अनुमति देता है।
  • पास्ता या मीटलाफ पर परोसें, या इसे विभिन्न व्यंजनों में शामिल करें।

बोन ब्रोथ के इन फायदों को जानकर आप भी हैरान हो गए होंगे। अगर आप भी नॉनवेजिटेरियन हैं, तो ये सूप आपके लिए काफी फायदेमंद है, सर्दियों के मौसम में तो खासतौर पर।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

https://mindd.org/beautiful-benefits-bone-broth/

https://www.npr.org/sections/thesalt/2015/02/10/384948585/taking-stock-of-bone-broth-sorry-no-cure-all-here

https://nutritionfacts.org/2018/12/06/concerns-about-bone-broth/

https://health.clevelandclinic.org/bone-broth-tap-the-chef-see-why-its-for-you/

https://nutritionstudies.org/drinking-bone-broth-is-it-beneficial-or-just-a-fad/

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 09/07/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड