home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

वाइट नाइट सिंड्रोम : क्या आप भी खुद को भुला कर करते हैं दूसरों की मदद?

वाइट नाइट सिंड्रोम : क्या आप भी खुद को भुला कर करते हैं दूसरों की मदद?

छोटी उम्र में ही हमें एक बात जरूर बताई जाती है – ‘हमेशा दूसरों की मदद करनी चाहिए’। दूसरों की मदद करने वाले को अच्छा इंसान कहा जाता है। हम भी अक्सर अपनी जिंदगी में दो तरह के लोगों को देखते हैं। पहले वो, जो हमेशा दूसरों की सहायता के लिए तैयार रहते हैं और दूसरी श्रेणी के लोगों को हम स्वार्थी कहते हैं। अपने आसपास आपने ऐसे लोग भी देखे होंगे जो हमेशा दूसरों की मदद के लिए तत्पर रहते हैं। हो सकता है कि आप स्वयं इस श्रेणी में आते हों। ऐसे लोग केवल तभी अच्छा महसूस करते हैं, जब वो अपने आसपास के लोगों की सहायता करें या उनके काम आ सकें।

उन्हें ऐसा लगता है कि दूसरे लोगों की मदद करना उनका पहला काम है और उनके जीवन का सबसे बड़ा उद्देश्य है। ऐसे लोग दूसरों के सहयोग के लिए अपने काम, रुचियों यहां तक की सेहत को भी नजरअंदाज कर देते हैं। लेकिन, क्या आप जानते हैं कि ऐसा करना एक समस्या या रोग का कारण भी हो सकता है? इसे वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome), सेवियर कॉम्प्लेक्स (Savior complex) या हीरो सिंड्रोम(Hero Syndrome) भी कहा जाता है। इस कॉम्प्लेक्स के शिकार व्यक्ति को इस बात का अंदाज़ा भी नहीं होता कि उसे ऐसी कोई समस्या है।

दूसरों की मदद करना या दूसरों के बारे में अच्छा सोचना कोई बुरी बात नहीं है। लेकिन, कई बार इस कॉम्प्लेक्स से शिकार लोग अनजाने में खुद का और दूसरों का अच्छा करने की जगह, बुरा कर सकते हैं। ऐसा भी माना जाता है कि इस सिंड्रोम से पीड़ित लोग दूसरों की मदद इसलिए करते है, जिससे वे अपनी चिंता या बेचैनी को दूर सकें। ऐसा भी कहा गया है कि अच्छे और नेक लोगों में हीरो सिंड्रोम(Hero Syndrome)आम है। जानिए इस सिंड्रोम के बारे में विस्तार से।

क्या है वाइट नाइट सिंड्रोम (White Knight Syndrome)?

वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome) से पीड़ित लोग उन लोगों के प्रति आकर्षित होते हैं जो उन्हें लगातार संकट में दिखाई देते हैं। वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome) होने पर पीड़ित व्यक्ति ऐसे लोगों के प्रति आकर्षित होता है जो भावनात्मक या शारीरिक समस्याओं से पीड़ित होते हैं। उनकी परेशानी दूर करने के लिए यह खुद को एक शूरवीर के रूप में देखते हैं। एक ऐसा शूरवीर जिसे उस व्यक्ति की रक्षा के लिए बनाया गया है। जिन लोगों को यह सिंड्रोम होता है वो बहुत ही केयरिंग और भावुक होते हैं। यही नहीं, मुसीबत में फंसे लोगों के लिए उनका प्यार भी वास्तविक यानी सच्चा होता है।

वाइट नाइट सिंड्रोम

यह भी पढ़ें: Patellofemoral pain syndrome: पेटेलोफेमोरल पेन सिंड्रोम क्या है?

यह हीरो सिंड्रोम(Hero Syndrome) अधिकतर पुरुषों में पाया गया है और इसे आमतौर पर उनके प्रेम जीवन से संबंधित माना जाता है। पीड़ित पुरुष में यह भावना अपने पार्टनर या जिनसे वो अधिक प्रेम करते हैं, उसके प्रति अधिक देखी जाती है। ऐसे लोग हमेशा दूसरे लोगों के अच्छे के बारे में सोचते हैं। लेकिन, कई बार दूसरों की मुसीबतों में उनकी मदद करते हुए वो दूसरों को नियंत्रित करने लगते हैं जिससे अपने पार्टनर को हर्ट कर सकते हैं। इस सिंड्रोम के यह लक्षण शुरू में पसंद किए जा सकते हैं। लेकिन, जब लक्षण बढ़ते है, तो अधिकतर मामलों में इससे पार्टनर के लिए मुसीबतें बढ़ जाती है। जिससे वो इस रिश्ते से बाहर निकलने के बारे में सोचना शुरू कर देता है।

क्या महिलाएं भी इस सिंड्रोम का शिकार हो सकती हैं?

वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome) एक मनोवैज्ञानिक स्थिति है जिसका शिकार ज्यादातर पुरुष होते हैं। जो किसी दुखी, पीड़ित या परेशान साथी के साथ रिश्ते में आते हैं। ताकि, वो साथी के जीवन को बदल सकें और हीरो बन सकें। महिलाओं में यह समस्या कम देखी गयी है।

कैसे रखें अपने मानसिक स्वास्थ्य का ख्याल इस महामारी में, जानें, इस वीडियो के माध्यम से

वाइट नाइट सिंड्रोम के लक्षण (White Knight Syndrome)

वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome) को दूसरों की समस्याओं को दूर करके लोगों को बचाने की आवश्यकता के रूप में बताया गया है। वाइट नाइट सिंड्रोम के लक्षण(White Knight Syndrome symptoms) इस प्रकार हैं:

हमेशा दूसरों के बारे में सोचना

अगर आपको केवल किसी की मदद करने पर ही अच्छा महसूस होता हो। आपको ऐसा लगता है कि दूसरों की मदद करना और दूसरों की समस्याएं सुलझाना ही आपके जीवन का उद्देश्य है तो यह वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome) का लक्षण हो सकता है। सेवियर कॉम्प्लेक्स (Savior complex) से पीड़ित व्यक्ति दूसरों की समस्याएं सुलझाने को ही अपने जीवन का उद्देश्य और अपने रिश्ते की पहचान मानता है। यह लोग ऐसे पार्टनर को चुनते हैं जिन्हेंं उनकी जरूरत हो। अगर आपको भी ऐसा महसूस होता है तो यह वाइट नाइट सिंड्रोम के लक्षण(White Knight Syndrome symptoms) हो सकता है।

दूसरों के लिए जरूरत से ज्यादा त्याग करना

अगर आप दूसरों की समस्याओं को दूर करने के लिए हर संभव त्याग करते हैं। फिर इसके लिए चाहे आपका कितना भी नुकसान हो जाए तो यह भी इस सिंड्रोम का लक्षण हो सकता है। इस समस्या से पीड़ित लोग उन लोगों की तरफ आकर्षित होते हैं, जो गंभीर भावनात्मक समस्याओं से जूझ रहे हों। ऐसे व्यक्ति समस्याओं से पीड़ित व्यक्ति की रक्षा करते हैं। हालांकि, ऐसा करने में, वे अक्सर अपने अन्य संबंधों से नजरअंदाज करते हैं और खुद का ख्याल रखने में असमर्थ होते हैं।

यह भी पढ़ें: Metabolic syndrome: मेटाबोलिक सिंड्रोम क्या है?

जरूरतमंद लोगों के प्रति आकर्षित होना

अगर आप उन लोगों की तरफ आकर्षित होते हैं जो अत्यधिक जरूरतमंद हैं। तो यह भी हीरो सिंड्रोम(Hero Syndrome) का शिकार होने की निशानी हो सकता है। आप अपने पार्टनर के उनके साथ ऐसा व्यवहार करते हैं मानो वे “नाजुक” हों और खुद की देखभाल करने में असमर्थ हों। हालांकि, ऐसा करने पर, आप अनहेल्दी निर्भरता को प्रोत्साहित करते हैं।

दूसरों के जीवन को कंट्रोल करना

आपको लगता है कि आप अपने पार्टनर की मदद कर रहे हैं। लेकिन, आप उनके जीवन को कंट्रोल करने लगते हैं। आपका फोकस सिर्फ इसी बात पर रहता है कि आपके साथी को नुकसान पहुंचने से रोकने के लिए आपको क्या करना चाहिए या क्या नहीं करना चाहिए। लेकिन, असल में आप अपने जीवन को भी आउट ऑफ़ कंट्रोल कर लेते हैं। अपने साथी को खुद को बेहतर बनाने के लिए सहायता करने की आड़ में, आप खुद को पूरी तरह से नज़रअंदाज़ करते हैं। यह भी वाइट नाइट सिंड्रोम के लक्षण(White Knight Syndrome symptoms) है।

वाइट नाइट सिंड्रोम

वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome) से पीड़ित लोगों में आमतौर पर निम्नलिखित विशेषताएं होती हैं:

  • अपने साथी को आदर्श बनाने की प्रवृत्ति
  • जीवन में किसी भी तरह की अस्वीकृति को सहन न कर पाना
  • खुद को सबसे अधिक महत्त्वपूर्ण बनाने की इच्छा होना
  • मैनिप्युलेटिवनेस
  • जानबूझकर ऐसे साथी को ढूंढना जिसे कोई समस्या हो
  • इस बात का विश्वास होना कि वे जैसे हैं, वैसे पसंद नहीं किये जा सकते

यह भी पढ़ें: 10 सामान्य मेंटल हेल्थ प्रॉब्लम्स (Mental Health Problems) जिनसे ज्यादातर लोग हैं अंजान

वाइट नाइट सिंड्रोम (White Knight Syndrome) के कारण

वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome) के कई कारण हो सकते हैं। जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

  • अगर आप बचपन या जीवन के किसी पड़ाव में बहुत अधिक परेशानी से गुजरे हों। वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome) ऐसे लोगों को होने की अधिक संभावना होती है।
  • इसके साथ ही जो लोग अधिकतर अकेले रहते हों या जिनके परिजनों का व्यवहार उनके साथ अच्छा न हो। ऐसे लोग भी हीरो सिंड्रोम(Hero Syndrome) से पीड़ित होते हैं।
  • जिन्होंने छोटी उम्र में ही पेरेंट्स की जिम्मेदारी निभाई हो या जिनके ऊपर अधिक जिम्मेदारियां हों।
  • जिन लोगों के परिवार में सब कुछ ठीक न हो। जब छोटी उम्र में ही लोगों को सुरक्षा नहीं मिलती, तो बड़े होकर वो खुद दूसरों के रक्षक बन जाते हैं।

इसके कुछ अन्य कारण यह भी हैं:

  • आत्मसम्मान की कमी होना
  • जीवन में दिशा और उद्देश्य का अभाव
  • परित्याग मुद्दे
  • अगर आपका बचपन में किसी ने ख्याल न रखा हो
  • अहंकार

white knight syndrome

यह भी पढ़ें: Contraction Stress Test : कॉन्ट्रेक्शन स्ट्रेस टेस्ट क्या है?

वाइट नाइट सिंड्रोम (White Knight Syndrome) का उपचार

सेवियर कॉम्प्लेक्स (Savior complex) का उपचार पीड़ित व्यक्ति के व्यवहार को पहचानने और उसके द्वारा खुद इस समस्या को स्वीकार करने के साथ शुरू होता है। अगर किसी व्यक्ति को हीरो सिंड्रोम(Hero Syndrome) का पता चल जाए, तो उसे इसे बदलने के लिए काम करना चाहिए। इस समस्या से पीड़ित कुछ लोग बहुत जल्दी ठीक हो जाते हैं। वाइट नाइट सिंड्रोम की समस्या ज्यादातर पुरुषों में देखी जाती है। ऐसे में रोगी को महिलाओं के साथ अपने व्यवहार, भावनात्मक रिएक्शन और कुछ निजी विचारों को बदलने की आवश्यकता है। जैसे:

  • पीड़ित व्यक्ति को अपनी ताकत को पहचानना होगा और खुद की छवि में सुधार लाना होगा।
  • महिलाओं को आदर्श बनाना बंद करना चाहिए और उनकी स्वीकृति लेना सीखना चाहिए।
  • खुद में कुछ अच्छे लक्षणों को विकसित करना चाहिए जैसे आत्मविश्वास बढ़ाना। इसके साथ ही स्वीकारात्मकता, महत्वाकांक्षा, सामाजिक कौशल, नेतृत्व जैसे गुणों को बढ़ावा देना चाहिए।
  • व्यक्तिगत सीमाओं को निर्धारित करना सीखना चाहिए। खुद से यह जानना कि आप क्या चाहते हैं और आपकी रूचि किस में है।
  • अपनी जरूरतों का ख्याल रखना और दूसरों से ध्यान हटा कर अन्य रुचियों को पूरा करना। अपने प्रियजन, मित्र को स्वयं अपने कार्य करने दें।
  • अपनी सोशल लाइफ को सुधारना चाहिए और इनमें पुरुष और महिलाएं दोनों शामिल होने चाहिए।
  • अपने आपसी मुद्दों पर बात करने और सलाह के लिए किसी थेरेपिस्ट से मिलें।

Quiz: मूड स्विंग्स से जुड़ी ये जरूरी बातें नहीं जानते होंगे आप, क्विज खेलें और बढ़ाएं अपना ज्ञान

यह भी पढ़ें: Wernicke Korsakoff Syndrome : वेर्निक कोर्साकोफ सिंड्रोम क्या है?

वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome) से पीड़ित लोग किसी भी उम्र, लिंग, कल्चर के हो सकते हैं। सेवियर कॉम्प्लेक्स (Savior complex) केवल रोमैंटिक रिश्तों तक ही सीमित नहीं है। बल्कि, यह बिजनेस, रिलेशनशिप या दोस्ती जैसे रिश्तों में भी देखा जा सकता है। वाइट नाइट सिंड्रोम(White Knight Syndrome) से बाहर आने के लिए आपको अपने बाहर और अंदर दोनों से निजी बदलाव लाने होंगे। इस समस्या के ठीक होने में समय तो लगता है लेकिन, खुद में बदलाव लाकर व्यक्ति पूरी तरह से स्वस्थ हो सकता है

अगर आप इस समस्या से बाहर निकलना चाहते हैं, तो ऊपर बताए आसान तरीकों से आपको खुद को बदलने के लिए काम करना होगा। इसके साथ ही स्वस्थ जीवनशैली को अपनाएं जैसे व्यायाम करें, पर्याप्त नींद लें, सही आहार का सेवन करें और नशे आदि से बचे। इन सब से भी आपको शारीरिक, मानसिक और भावनात्मक रूप से सेहतमंद रहने में मदद मिलेगी जिससे आप इस सिंड्रोम से भी राहत पा सकते हैं। लेकिन, इन सब के साथ ही डॉक्टर की सलाह लेना और उसका पालन करना अनिवार्य है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

The white knight syndrome: Rescuing yourself from your need to rescue others. https://psycnet.apa.org/record/2009-11806-000 .Accessed on 1  January 2021

White Knight Syndrome.https://hpou.org/psych-services-cops-white-knight-syndrome-with-distressed-damsels/ .Accessed on 1  January 2021

Identifying White Knight Syndrome. https://thescholarship.ecu.edu/handle/10342/3860.Accessed on 1  January 2021

WHITE KNIGHT SYNDROME – THE NEED TO FIX YOUR PARTNER. https://www.healthguidance.org/entry/17837/1/white-knight-syndrome-the-need-to-fix-your-partner.html.Accessed on 1  January 2021

The White Knight Syndrome.https://www.kqed.org/forum/906171000/the-white-knight-syndrome.Accessed on 1  January 2021

 

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/01/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x