home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

अगर गैस की समस्या से आपको बचना है तो इन फूड्स का सेवन न करें

अगर गैस की समस्या से आपको बचना है तो इन फूड्स का सेवन न करें

सुबह-सुबह हम जल्दबाजी में घर का काम खत्म करके कुछ भी हल्का फुल्का खाकर दिन भर के लिए आप घर से बाहर निकल जाते हैं।थककर जब घर लौटते हैं तो उस समय जो बनाना सबसे सरल होता है, वहीं बनाकर हम खा लेते हैं। तो वहीं कुछ लोग खाने के इतने शौकीन होते हैं की थकने के बाद भी वो रात में अपना मनपसंद भोजन ही करना पसंद करते हैं। इसके चलते गैस की समस्या आपको परेशान कर देती है। दरअसल इतनी थकान के बाद आप इतना सोच नहीं पाते हैं की आपके लिए क्या हेल्दी है।

यही आपकी गलती ज्यादातर मामले में आपके गैस की समस्या बनती है। यदि आपको बार-बार गैस की समस्या हो जाती है। लेकिन आप खाने के शौकीन है तो आपको खुद को रोकने की जरुरत है। कई बार आप नही समझ पाते हैं ऐसे में क्या न खाएं। आज इस लेख में आपकी बार-बार होने वाली गैस की समस्या से राहत मिल जाएगा इसके साथ ही आप यह जानेगें की आपको रात में क्या खाने से बचना है।

और पढ़ें – फूड प्वाइजनिंग के लक्षण, कारण और बचाव

रात का खाना क्यों जरुरी होता है?

बहुत से लोगों के मन में ये सवाल आना लाजमी है, की आखिर रात का खाना क्यों इतना जरूरी होता है। आपको शायद पता नहीं होगा लेकिन दुनिया में लगभग 70 हजार लोग अनिद्रा से पीड़ित हैं। दरअसल रात का खाना ही यह तय करता है, की आपको रात में नींद कैसे आएगी, नींद आएगी या नहीं। दरअसल रात में नींद न आने के 2 सबसे प्रमुख कारण हो सकते हैं एक तो कुछ लोगों को अनिद्रा की समस्या होती है दूसरा उनको रोत के खाने का कारण गैस की समस्या हो जाती है।

दिल में जलन के कारण वो ठीक तरीके से नींद नहीं ले पाते हैं। इसीलिए रात को केवल ऐसे खाद्य पदार्थों को चयन करना चाहिए जिनसे आपकी नींद पर प्रभाव न पड़े।जिनको एसीडिटी की समस्या होती है उनको इस बात जरुर गौर करना चाहिए। आखिर गैस की समस्या पर क्या न खाएं?

और पढ़ें – पेट के लिए लाभदायक सेतुबंधासन करने का आसान तरीका, फायदे और सावधानियों के बारे में जानें

गैस की समस्या क्यों होती है?

गैस की समस्या के कई कारण है। लेकिन यदि हम आमतौर पर गैस के बारे में कहे तो सही ढ़ंग से खान-पान न करना, सोने के समय के करीब भोजन करना, हाई डोज की दवा का सेवन करना,अपनी दिनचर्या को सही रुटीन से फॉलो न करने से आपको गैस की समस्या होती है।

कभी-कभी हर रात आपको गैस की समस्या होना गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स रोग का संकेत हो सकता है, लेकिन यह जरुरी नहीं है। बहुत से ऐसे घरेलू उपचार हैं जिनसे आप गैस से छुटकारा पा सकते हैं।आपको यह भी तय करना जरुरी है की गैस की समस्या पर क्या न खाएं।

और पढ़ें – पेट दर्द (Stomach pain) के ये लक्षण जो सामान्य नहीं हैं

गैस की समस्या के कारण कब्ज

एक सामान्य वयस्क दिन में 13 से 21 बार गैस पास करते हैं। गैस पाचन प्रक्रिया का एक सामान्य प्रोसेस है। लेकिन अगर गैस आपकी आंतों में बढ़ने लगती है और आप उसे पास नहीं कर पाते हैं तो आपको दर्द और असुविधाजनक महसूस हो सकता है।

गैस कब्ज और दस्त होने पर और अधिक गंभीर हो जाती है। कब्ज में खाना मल के जरिए पास नहीं हो पाता है और आंतों में और अधिक गैस बढ़ने लगती है।

इस स्थिति में गैस से पहले कब्ज का इलाज करना ज्यादा जरूरी हो जाता है। कब्ज से छुटकारा पाने के लिए सबसे बेहतरीन उपाय है डायट में बदलाव करना। कब्ज के कारण होने वाली गैस से छुटकारा पाने के लिए लो-फर्मेंटेबल, ओलिगोसैकेराइड्स, डिसाकेराइड्स, मोनोसैकेराइड्स और पॉलीओल्स (FODMAPs) डायट का पालन करना चाहिए। इसमें शामिल हैं –

  • सेब
  • खुबानी (आड़ू)
  • बींस और दाल
  • लहसुन
  • आइस क्रीम
  • दूध
  • प्याज
  • बेर
  • अनाज

आप इन सभी आहार को धीरे-धीरे अपनी डायट में शामिल कर सकते हैं और यह जान सकते हैं कि किसके कारण आपको गैस की समस्या होने लगती है।

और पढ़ें : दूसरी तिमाही की परेशानी कब्ज, हार्ट बर्न और गैस से राहत पाने के कुछ आसान टिप्स

गैस की समस्या पर क्या न खाएं

आइए जानते हैं गैस की समस्या पर क्या न खाएं जिससे आपको रात में एक अच्छी नींद मिल सके।

तेल मसालेदार भोजन

गैस की समस्या पर क्या न खाएं में सबसे पहले आता मसालेदार भोजन। जी हां मिर्च और मसालेदार भोजन आपको रात में नहीं खाना चाहिए। गैस को दूर भगाने का एक अच्छा तरीका है। यदि आप खाने के बाद जल्दी सोना चाहते हैं। तो आपको बिस्तर पर जाने से पहले मसालेदार भोजन खाने से बचना चाहिए। इससे आपको गैस होने की संभावना अधिक होती है।

इसके आलवा हमारी नींद को प्रभावित करने वाले मसालों में से एक तरीका हमारे गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स (जीईआरडी) को ट्रिगर करता है। यदि गैस की समस्या को हटा दें तो भी यह नींद जल्दी न आने का कारण बनता है।, मसालेदार खाद्य पदार्थ शरीर के तापमान को बढ़ाकर नींद को प्रभावित करने की क्षमता रखते हैं।

और पढ़ें – पेट की परेशानियों को दूर करता है पवनमुक्तासन, जानिए इसे करने का तरीका और फायदे

बींस

यदि आप अभी भी यही सोच रहे हैं की,गैस की समस्या पर क्या न खाएं तो उसमें आप बींस का नाम शामिल कर सकते हैं। ये गैस बनाने वाले आहार में आता है। तो रात में इसका सेवन करने से बचे। बीन्स में बहुत सारे रैफ़िनोज़ होते हैं, जो एक जटिल चीनी है जिसे शरीर को पचाने में परेशानी होती है।

रैफिनोज बड़ी आंतों में छोटी आंतों से गुजरता है जहां बैक्टीरिया इसे तोड़ते हैं, हाइड्रोजन, कार्बन डाइऑक्साइड और मीथेन गैस का उत्पादन करते हैं, इसीलिए इसका उपयोग रात में न करें।

और पढ़ें – Indigestion: बदहजमी या अपच क्या है? जानें लक्षण, कारण और उपाय

प्याज

प्याज में फ्रक्टोज नामक एक प्राकृतिक शर्करा होती है। रैफिनोज और सोर्बिटोल की तरह, फ्रुक्टोज गैस में योगदान देता है जब आंतों में बैक्टीरिया इसे तोड़ते हैं। जो आपके शरीर में गैस बनाने का कार्य कर सकता है।

और पढ़ें – उबकाई/डकार (Belching) क्यों आती है?

सोडा

जिन खाद्य पदार्थों में सोडा की मौजूदगी होती है उन्हें रात में लेने से बचना चाहिए। सोडा रहित कोल्ड ड्रिंक पेट में गैस बनाता हैंं। इनको जल्दी पचाना मुश्किल होता है।कोलड्रिंक्स में एयर होती है जो गैस का कारण बनती है। कोलड्रिंक को मीठा करने के लिए फ्रक्टोज भी मिलाया जाता है। ये भी पचने में मुश्किल होता है और गैस बनाता है।

डेयरी प्रोडक्ट

डेयरी प्रोडक्ट का रात में अधिक प्रयोग से आपको रात में गैस की समस्या हो सकती है। जिससे आपकी रात भर की नींद खराब हो सकती है। बादाम का दूध या सोया “डेयरी” उत्पाद, या लैक्टोज युक्त खाद्य पदार्थ खाने से आपको गैस की समस्या हो सकती है।

और पढ़ें – दूध या अन्य डेयरी प्रोडक्ट डाइजेस्ट नहीं होने के ये कारण भी हो सकते हैं

कैफीन से गैस की समस्या

कैफीन बिस्तर पर जाने से पहले लेने से आपकी पूरी नींद खराब हो सकती है। जब आप पूरी रात सो नहीं पाते हैं तो आपकी सुबह अच्छी नहीं हो पाती है। इस कारण दिन भर आपको गैस और दिल में जलन की शिकायत होती है। कैफीन एक उत्तेजक पदार्थ है, इसलिए आपको सोने में मदद करने के बजाय, यह आपको जगाए रखता है।

लेकिन यह कुछ लोगों के लिए बेअसर हो जाता है। जिन लोगों को प्रतिदिन यह रात में लेने की आदत है। इसके बाद भी उनको नींद आ जाती है। तो उनको इसकी आदत हो जाती है। उनका शरीर इसके प्रभाव से लड़ने की क्षमता रखता है। इस कारण उन्हे इसके बाद भी नींद आ जाती है।

और पढ़ें – पेट की समस्या से बचने के प्राकृतिक और घरेलू उपाय

फल

गैस की समस्या पर क्या न खाएं इसके नाम पर कुछ भी आपके ,सामने आ सकते हैं जो गैस बनाने का कार्य करते हैं जिसमें सेब, आड़ू, नाशपाती, जैसे फल शामिल है। इन फलों में प्राकृतिक चीनी शराब, सोर्बिटोल होते है जो आसानी से डाइजेस्ट नहीं होते हैं। कई फलों में घुलनशील फाइबर भी होता है, जो एक प्रकार का फाइबर होता है जो पानी में घुल जाता है।

सॉर्बिटोल और घुलनशील फाइबर दोनों को बड़ी आंतों से भी गुजरना चाहिए, जहां बैक्टीरिया हाइड्रोजन, कार्बन डाइऑक्साइड और मीथेन गैस बनाने के लिए उन्हें तोड़ते हैं। इस कारण ये गैस बनाने का कारण बन सकता है।

और पढ़ें – प्रोटीन का पाचन और अवशोषण शरीर में कैसे होता है? जानें प्रोटीन की कमी को दूर करना क्यों है जरूरी

ओट्स से गैस की समस्या

वैसे तो ओट्स बहुत हेल्दी होता है। लेकिन इसमें मौजूद हाई सॉल्यूबल फाइबर कंटेंट आपके गैस बनने का कारण होता है।चाहे आप ओट्स खाएं,ओट्स बिस्कुट यह सभी आपके अंदर गैस बनाने का कारण बनते हैं।गैस की समस्या पर क्या न खाएं इसके जवाब में ओट्स का नाम भी है।

सब्जियां

गोभी, शतावरी और फूलगोभी जैसी कुछ सब्जियों को अतिरिक्त गैस का कारण माना जाता है। फाइबर ज्यादा होने के कारण ही खाद्य पदार्थ गैस बनाते हैं।

और पढ़ें : एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकते हैं ये 10 खाद्य पदार्थ, ओट्स से लेकर सोया प्रोड्क्टस तक हैं शामिल

गैस की समस्या होने पर क्या खाएं

आमतौर पर गैस की समस्या आहार से होती है। खाना मुख्य रूप से छोटी आंत में पचता है। अन्य बचा हुआ खाना बैक्टीरिया, फंगी और यीस्ट के साथ कोलन में चला जाता है जो कि पाचन का ही हिस्सा होता है।

ज्यादातर लोगों में आहार में बदलाव लाने से गैस के लक्षणों को कम हो जाता है। गैस का पता लगाने का सबसे अच्छा तरीका है अपने आहार की लिस्ट बनाना और यह जानना की कौन-सा आहर आपको गैस की समस्या देता है। अपच, कब्ज, दस्त और गैस की समस्या होने पर निम्न आहारों का सेवन करने से राहत मिलती है –

गैस की परेशानी कई बार दर्दनाक हो सकती है लेकिन यह खतरनाक नहीं होती है। अगर गैस का दर्द या पेट फूलना आपके लिए समस्या है तो अपनी डायट और जीवनशैली में परिवर्तन कर के आप इससे छुटकारा पा सकते हैं। ज्यादातर मामलों में इन दोनों उपायों की मदद से समस्या को पूरी तरह से खत्म किया जा सकता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

The Best and Worst Foods for Acid Reflux

https://www.uhhospitals.org/Healthy-at-UH/articles/2014/04/best-and-worst-foods-for-acid-reflux

Accessed on 13-05-2020

5 Top Foods to Stave Off Acid Reflux Symptoms

https://www.aarp.org/health/conditions-treatments/info-2017/foods-help-acid-reflux-fd.html

Accessed on 13-05-2020

10 Ways to Reduce Acid Reflux

https://www.fishertitus.org/health/10-ways-to-reduce-acid-reflux

Accessed on 13-05-2020

GERD Diet: Foods That Help with Acid Reflux (Heartburn)

https://www.hopkinsmedicine.org/health/wellness-and-prevention/gerd-diet-foods-that-help-with-acid-reflux-heartburn

Accessed on 13-05-2020

Food Acidity: Acid Content of Various Fruits and Vegetables and How to Preserve or Can Them at Home

https://www.pickyourown.org/food_acidity.htm

Accessed on 13-05-2020

Acid reflux: symptoms, causes and foods to avoid

https://www.netdoctor.co.uk/healthy-eating/a27622/foods-and-drinks-to-should-avoid-for-acid-reflux/

Accessed on 13-05-2020

Constipation and indigestion

https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/13013942/

Accessed on 21-09-2020

लेखक की तस्वीर badge
shalu द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/02/2021 को
डॉ. पूजा दाफळ के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड
x