आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

Salmon fish: जानिए सैल्मन मछली के 7 फायदे!

    Salmon fish: जानिए सैल्मन मछली के 7 फायदे!

    शरीर को स्वस्थ्य रखने के लिए पौष्टिक खान-पान बेहद जरूरी है और हेल्दी फूड के लिए कुछ लोग वेजिटेरियन तो कुछ लोग नॉन वेजिटेरियन खाना पसंद करते हैं। इसलिए आज इस आर्टिकल में नॉन वेजिटेरियन खाना खासकर मछली के सेवन से जुड़ी हुई जानकारी शेयर करने जा रहें हैं। मछली भी अलग-अलग तरह की होती है, लेकिन सेहत के लिए सैल्मन मछली (Salmon fish) को लाभकारी बताया गया है। इसलिए सैल्मन फिश के फायदे एवं इससे संबंधित कई सवालों के जवाब यहां आपके साथ साझा करने जा रहें हैं।

    • सैल्मन मछली क्‍या है?
    • सैल्मन मछली में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं?
    • सैल्मन मछली के फायदे क्या हैं?
    • सैल्मन मछली को डायट में कैसे शामिल करें?
    • सैल्मन मछली के नुकसान भी हो सकते हैं?

    चलिए अब इन सभी सवालों का जवाब एक-एक कर जानते हैं।

    सैल्मन मछली (Salmon fish) क्‍या है?

    सैल्मन मछली (Salmon fish)

    सैल्मन मछली हल्के गुलाबी रंग की होती है, जो ताजे पानी के साथ-साथ खारे पानी में भी रहती है। यह फिश दिखने में पूरी तरह से चांदी जैसी होती है और जब इसके ऊपरी सतह को हटाया जाता है, तो सैल्मन फिश की स्किन हल्के नारंगी रंग की नजर आती है । सैल्मन फिश (Salmon fish) को सेहत के लिए लाभकारी बताया गया है, क्योंकि इसमें मौजूद पोषक तत्व शरीर को फायदा पहुंचाते हैं।

    और पढ़ें : Turmeric and Curcumin Health Benefits: एक नहीं, बल्कि कई बीमारियों में हल्दी और करक्यूमिन के फायदे मिल सकते हैं!

    सैल्मन मछली में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं? (Properties in Salmon fish)

    सैल्मन फिश में निम्नलिखित पोषक तत्व मौजूद होते हैं। जैसे:

    • पानी
    • ऊर्जा
    • प्रोटीन
    • टोटल लिपिड
    • कैल्शियम
    • आयरन
    • मैग्नीशियम
    • फास्फोरस
    • पोटैशियम
    • सोडियम
    • जिंक
    • कॉपर
    • सेलेनियम
    • थायमिन
    • राइबोफ्लेविन
    • नियासिन (विटामिन बी3)
    • विटामिन-ए
    • विटामिन बी-6
    • विटामिन बी-12
    • फोलेट
    • लिपिड
    • फैटी एसिड टोटल सैचुरेटेड
    • फैटी एसिड, टोटल मोनोअनसैचुरेटेड
    • फैटी एसिड, टोटल पॉलीअनसैचुरेटेड

    सैल्मन मछली में मौजूद ये सभी पौष्टिक तत्व जैसे मिनरल, विटामिन एवं लिपिड सेहत के लिए लाभकारी हैं और इसके कई फायदे होते हैं।

    और पढ़ें : डायबिटीज है! पनीर डोडा का कर सकते हैं सेवन, लेकिन डॉक्टर के इजाजत के बाद!

    सैल्मन मछली के फायदे क्या हैं? (Benefits of Salmon fish)

    सैल्मन मछली के फायदे एक नहीं, बल्कि कई हैं जो इस प्रकार हैं-

    1. ब्रेन के लिए है लाभकारी (Healthy for Brain)- सैल्मन मछली दिमाग के लिए फायदेमंद है। नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन (National Center for Biotechnology Information) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार सैल्मन फिश में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड (Omega 3 Fatty Acid) दिमाग की कार्यक्षमता को बढ़ाने में सहायक है। इसके साथ ही अगर मूड डिसऑर्डर (Mood Disorder) जैसी समस्याओं को भी दूर करने में मददगार मानी गई है।
    2. हार्ट के लिए है हेल्दी (Healthy Heart)- अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन (American Heart Association) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार दिल के मरीजों के लिए सैल्मन फिश अत्यंत लाभकारी है, क्योंकि इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड की मौजूदगी दिल को स्वस्थ रखने में मददगार है
    3. वजन करें कम (Loss weight)- सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (Center for Disease Control and Prevention) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार सैल्मन मछली में मौजूद फाइबर (Fiber) की मात्रा वजन कम करने में मददगार होती है। इसलिए अगर आप अपने एक्स्ट्रा वेट को कम करने के लिए टिप्स अपना रहें हैं, सैल्मन मछली का सेवन करें इससे आपको लाभ मिल सकता है।
    4. सूजन की तकलीफ होगी दूर (Helpful in Swelling)- यू.एस. डिपार्टमेंट ऑफ हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विसेस (U.S. Department of Health and Human Services) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार सैल्मन मछली में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी तत्व (Anti-inflammatory properties) एवं ओमेगा-3 फैटी एसिड (Omega 3 Fatty Acid) शरीर में होने वाली सूजन की समस्या को कम करने में मददगार है। वैसे अगर सूजन की समस्या ज्यादा होती है, तो ऐसी स्थिति में डॉक्टर से जरूर कंसल्ट करें।
    5. कैंसर से बचाव (Prevents Cancer)- एनसीबीआई में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार सैल्मन मछली को डायट में शामिल करने से कैंसर की संभावना भी कम होती है, क्योंकि सैल्मन मछली में ओमेगा-3 फैटी एसिड कोलन कैंसर (Colon Cancer), प्रोस्टेट कैंसर (Prostate Cancer) और ब्रेस्ट कैंसर (Breast Cancer) जैसी गंभीर बीमारियों से बचाव में मदद करती है।
    6. त्वचा के लिए है लाभकारी (Healthy for Skin)- स्किन केयर के लिए कई टिप्स को हमसभी फॉलो करते हैं। वहीं यू.एस. डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर (U.S. DEPARTMENT OF AGRICULTURE) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार स्किन केयर टिप्स के साथ-साथ सैल्मन मछली का सेवन किया जाए तो इससे त्वचा को हेल्दी और ग्लोइंग बनाने में विशेष लाभ मिल सकता है।
    7. बालों के लिए है लाभकारी (Healthy for Hair)- सैल्मन फिश के फायदे बालों को भी मिलते हैं, क्योंकि इसमें मौजूद विटामिन डी-3 (Vitamin D3) बालों को घना, मजबूत एवं पूरी तरह से हल्दी बनाने में सहायक है।

    सैल्मन फिश के फायदे इसके संतुलित मात्रा में सेवन करने से मिल सकते हैं। वहीं जरूरत से ज्यादा सेवन करने से परेशानी भी हो सकती है।

    नोट: अगर आप किसी बीमारी से पीड़ित हैं और बीमारी में सैल्मन फिश के फायदे हो सकते हैं, लेकिन सैल्मन मछली के सेवन के साथ-साथ बीमारी का इलाज भी करवाना आवश्यक है।

    और पढ़ें : Best Diet for Heart Health: हार्ट हेल्थ को बनाए रखने के लिए जानिए किन चीजों को खाएं और किन से करें परहेज

    सैल्मन मछली को डायट में कैसे शामिल करें? (How to eat Salmon fish)

    सैल्मन फिश के फायदे के लिए इसका सेवन निम्नलिखित तरह से किया जा सकता है। जैसे:

    • मछली को तेल में फ्राई करें और फिर इसका सेवन करें।
    • सैल्मन फिश करी को भी लंच या डिनर में शामिल किया जा सकता है।
    • सैल्मन फिश को रोस्ट करने के साथ-साथ आप इसे अपने कुकिंग स्टाइल में भी बनाकर सेवन कर सकते हैं।

    नोट: सैल्मन फिश को अत्यधिक तेल-मसाले में ना बनायें, क्योंकि ज्यादा तेल मसाले का सेवन डायजेशन से जुड़ी परेशानी पैदा कर सकता है। ध्यान रखें कच्चे मीट या मछली का सेवन ना करें, क्योंकि कच्चे मीट या मछली के सेवन से अन्य बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है।

    और पढ़ें : अगर आपका पहला प्यार है फिटनेस, तो आपको भारत के टॉप 10 BCAA और एमिनो एसिड सप्लिमेंट्स के बारे में जरूर जानना चाहिए

    सैल्मन मछली के नुकसान भी हो सकते हैं? (Side effects of Salmon fish)

    सैल्मन मछली से वैसे नुकसान तो नहीं होता है, लेकिन कुछ केसेस में इसके सेवन से परेशानी हो सकती है। जैसे:

    1. कई दिनों से बर्फ पर रखी हुई मछली का सेवन करना।
    2. अगर आपको मीट से एलर्जी है, तो मछली का सेवन भी ना करें।
    3. मछली के सेवन के बाद अगर आपको उल्टी या स्किन एलर्जी हो तो इसका सेवन ना करें।

    इन ऊपर बताई गई तीन बातों को ध्यान में रखकर सैल्मन मछली के सेवन से लाभ मिल सकता है। वहीं अगर मछली के सेवन से आपको कोई भी परेशानी महसूस होती है, तो इसे इग्नोर ना करें।

    सैल्मन मछली के फायदे या सेवन से जुड़े किसी सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज पर अपना सवाल पूछ सकते हैं। वहीं अगर आपको सैल्मन मछली के सेवन से कोई परेशानी हो या गर्भवती होने के दौरान इसके सेवन से पहले डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

    हेल्दी रहने के लिए अच्छे खानपान के साथ-साथ एक्सरसाइज या योग को भी अपने दिनचर्या में शामिल करना चाहिए। इसलिए इस नीचे दिए गए वीडियो लिंक पर क्लिक कर योगा एक्सपर्ट से जानिए कौन-कौन से योगासन नियमित किये जाने चाहिए और कैसे।

    health-tool-icon

    बीएमआर कैलक्युलेटर

    अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

    पुरुष

    महिला

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Salmon, raw/https://fdc.nal.usda.gov/fdc-app.html#/food-details/1098960/nutrients/Accessed on 08/04/2022

    Omega-3 fatty acids/https://medlineplus.gov/ency/imagepages/19302.htm/Accessed on 08/04/2022

    Seafood suggestions for heart health/https://www.health.harvard.edu/heart-health/seafood-suggestions-for-heart-health#:~:targetText=Eating%20fatty%20fish%20such%20as,the%20health%20benefits%20of%20seafood./Accessed on 08/04/2022

    How many species of salmon are there and how large can they get?/https://www.usgs.gov/faqs/how-many-species-salmon-are-there-and-how-large-can-they-get?qt-news_science_products=0#qt-news_science_products/Accessed on 08/04/2022

    Nutrition of women with hair loss problem during the period of menopause/ https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4828511/Accessed on 08/04/2022

    The effect of triploidy on vaccine side-effects in Atlantic salmon/https://pubag.nal.usda.gov/catalog/5323421/Accessed on 08/04/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 08/04/2022 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
    Next article: