backup og meta

वीगन और वेजिटेरियन डायट में क्या है अंतर?

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 25/11/2020

वीगन और वेजिटेरियन डायट में क्या है अंतर?

कहते हैं जैसा खाए अन्न, वैसा होए मन… जिसका अर्थ है आप जैसा खाना खाएंगे वैसा ही आपका मन भी होगा। वैसे इनदिनों लोग फिट रहने के लिए वर्कआउट के साथ-साथ अपने डायट प्लान पर भी ध्यान ज्यादा फोकस कर रहें हैं। उम्र के साथ-साथ शरीर में बदलाव होने की बात तो जग जाहिर है, इसलिए तो कहते हैं टू चेंज योर बॉडी, यू मस्ट चेंज योर माइंड। और इस ‘वीगन डे’ पर हैलो स्वास्थ्य आपके लिए लेकर आया है वीगन डायट से जुड़ी खास जानकारी एवं वीगन और वेजिटेरियन डायट में क्या है अंतर? यह जानकारी आपसे शेयर कर रहें। इस आर्टिकल में समझेंगे-

  • वीगन डायट (Vegan diet) क्या है?
  • वेजिटेरियन डायट (Vegetarian diet) क्या है?
  • वीगन और वेजिटेरियन डायट में क्या है अंतर?
  • डायट एक्सपर्ट कविता देवगन की क्या है राय?

क्या है वीगन डायट? (What is Vegan diet?)

Vegan & Vegetarian diet- वीगन और वेजिटेरियन डायट

वैसी डायट जिसमें नॉनवेज, अंडा, दूध या किसी भी डेयरी प्रोडक्ट शामिल न हो, तो उसे वीगन डायट कहते हैं। वीगन डायट में फल, सब्जियां, नट्स एवं सीड्स जैसे अन्य खाने की चीजों को शामिल किया जाता है। हालांकि कई लोगों को ऐसा लगता है कि वीगन डायट ही वेजिटेरियन  डायट है। जबकि ऐसा नहीं है। वीगन और वेजिटेरियन डायट दोनों अलग-अलग हैं। अमेरिकन डाइटेटिक्स एसोसिएशन, अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन एवं नेशनल कोलेस्ट्रॉल एजुकेशन की ओर से वीगन डायट को हेल्दी माना गया है, उन लोगों के लिए जो वजन कम करना चाहते हैं

और पढ़ें : पालक से शिमला मिर्च तक 8 हरी सब्जियों के फायदों के साथ जानें किन-किन बीमारियों से बचाती हैं ये

वीगन डायट अलग-अलग तरह के होते हैं। (Types of Vegan diet)

वीगन डायट अलग-अलग तरह के होते हैं। जैसे:

  • साबुत अनाज (Whole-food vegan diet)- आहार जिनमें फल, सब्जियां, साबुत अनाज, फलियां, नट्स और सीड्स शामिल हों।
  • रॉ फूड वीगन डायट (Raw-food vegan diet)- इस डायट में खाने की चीजें जैसे फल, सब्जी एवं नट्स शामिल होते हैं। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन (NCBI) के अनुसार साग एवं हरी सब्जियों को 118°F (48°C) टेम्प्रेचर के नीचे बनाना चाहिए।
  • 80/10/10 वीगन डायट (80/10/10 Vegan Diet)- 80/10/10 वीगन डायट को अगर आसान शब्दों में समझें, तो इसमें फैट की मात्रा कम रखी जाती है (ऐसी खाने की चीजें जिनमें फैट कम हो जैसे एवोकैडो, उबले आलू, ओटमील एवं सेब)।
  • लो फैट-हाई कार्ब (Low fat-High carb)- लो फैट-हाई कार्ब डायट का अर्थ है कुक की हुई खाने की चीजें जैसे चावल, कॉर्न या आलू। ध्यान रखें लो फैट-हाई कार्ब में फलों को शामिल नहीं किया जाता है।
  • जंक फूड वीगन डायट (Junk-food vegan diet)-  ये है हेल्दी जंक फूड। जंक फूड वीगन डायट के तौर पर पनीर एवं अन्य हेल्दी खाने की चीजों से डेजर्ट का सेवन किया जा सकता है।

इन ऊपर बताई गई वीगन डायट के साथ-साथ इनमें रॉ फूड भी शामिल किया जाता है, जिनका सेवन शाम 4 बजे तक करना सेहत के लिए बेहतर माना जाता है। उसके बाद रात के डिनर के दौरान प्लांट बेस्ड मील शामिल करना चाहिए।

और पढ़ें : वर्कआउट के बाद मांसपेशियों के दर्द से राहत दिला सकते हैं ये फूड, डायट में कर लें शामिल

एक्सपर्ट की राय

प्रोटीन और कई जरूरी पोषक तत्वों के लिए अक्सर लोग नॉनवेज फूड को ज्यादा अच्छा मानते हैं, पर ऐसा नही है। कई ऐसे वेजिटेरियन फूड भी हैं, जिनमें नॉनवेज से भी ज्यादा पोषक तत्व पाए जाते हैं। इस बारे में डायटीशियन एंड फिटनेस एक्सपर्ट मनीषा  चाेपड़ा का कहना है कि  वीगन डायट में भी कई ऐसे फूड हैं, जिनमें मीट और चिकन के बराबर प्राेटीन और अन्य पोषक तत्व की मात्रा पाए जाते हैं, जैसे कि सोया, कच्चा केला और हरी पत्तेदार सब्जियां। सोया में विटामिन-बी और प्रोटीन की भरपूर मात्रा पायी जाती है। इसी तरह कच्चे में फाइबर की उच्च मात्रा मिलती है। हरी सब्जियों में मीट से भी ज्यादा पोषक तत्व वेजिटेरियन लोग प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा और भी जरूरी पोषक तत्वों के लिए आप टोफू, नट्स एंड सीड़स का सेवन भी फायदेमंद होता है।

वीगन डायट के फायदे क्या हैं? (Benefits of Vegan diet)

वीगन डायट के कई फायदे हैं। जैसे:

1. वेट लॉस

वजन कम करने के लिए वीगन डायट लाभकारी माना जाता है। हेल्थ एक्सपर्ट की माने, तो जो लोग वीगन डायट फॉलो नहीं करते उनकी तुलना में वीगन डायट फॉलो करने वाले लोगों का बॉडी मास इंडेक्स (BMI) कम होता है। रिसर्च के अनुसार कम कैलोरी वाले डायट फॉलो करने के मुकाबले वीगन डायट फॉलोवर्स का वजन तेजी से कम होता है। दरअसल इस डायट में फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है, जिसकी वजह से बार-बार भूख लगने की परेशानी दूर होने के साथ-साथ वजन कम करने में भी सहायता मिलती है।

2.  डायबिटीज होता है कंट्रोल

अगर आपको टाइप-2 डायबिटीज (Type-2 Diabetes) का डर है या फिर आपका शुगर लेवल बढ़ा रहता है, तो आपके लिए वीगन डायट फायदेमंद है। स्टडीज के अनुसार इस डायट को फॉलो करने से ब्लड शुगर लेवल ( Blood Sugar Level) को बैलेंस रखा जा सकता है।

3. हेल्दी हार्ट हेल्थ

अगर आप किसी के दिल का ख्याल रखना चाहती हैं, तो फूलो की बजाये वीगन डायट से रखें। रिसर्च के अनुसार वीगन डायट से हाई ब्लड प्रेशर के खतरे को कम करने के साथ ही हार्ट प्रॉब्लम से भी दूर रहने में आपकी मदद करता है।
इन ऊपर बताये हेल्थ बेनिफिट्स के साथ-साथ वीगन डायट कैंसर (Cancer), अर्थराइटिस (Arthritis), किडनी (Kidney) एवं अल्जाइमर (Alzheimer’s) जैसी बीमारियों से भी आपकी रक्षा करता है।  वीगन डायट के फायदे के बाद समझते हैं वेजिटेरियन डायट क्या है? और उसके बाद समझेंगे वीगन और वेजिटेरियन डायट में अंतर क्या है?

वेजिटेरियन डायट (Vegetarian diet) क्या है?

Vegan & Vegetarian diet- वीगन और वेजिटेरियन डायट

फल एवं सब्जियों के साथ दूध दही जैसे अन्य डेयरी प्रोडक्ट का सेवन वेजिटेरियन डायट कहलाता है। इस डायट प्लान में नॉन-वेजिटेरियन में शामिल मछली, मीट, क्रैब या कोई अन्य सी-फूड का सेवन नहीं करते हैं। वैसे कई वेजिटेरियन लोग होते हैं, जो अंडे का सेवन करते हैं। इसलिए यह आप पर निर्भर करता है कि आप साग, हरी सब्जियों और फलों के अलावा अंडा पसंद करते हैं, तो आप खा सकते हैं।

वेजिटेरियन डायट प्लान में तकरीबन सभी शाकाहारी खाने-पीने की चीजों को शामिल किया जाता है। आपके बॉडी स्ट्रक्चर के अनुसार डायटीशियन आपको डायट प्लान करने की सलाह दे सकती हैं।

और पढ़ें : वेट लॉस से लेकर जॉइंट पेन तक, जानिए क्रैब वॉकिंग के फायदे

वेजिटेरियन डायट के फायदे क्या हैं?

वेजिटेरियन डायट के कई फायदे हैं। जैसे:

1. वजन कम करना

अगर आप वजन कम करना चाहते हैं, तो आपको वेजिटेरियन डायट प्लान जरूर फॉलो करना चाहिए। नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन (NCBI) के द्वारा 12 लोगों पर रिसर्च कर यह पाया गया है कि वेजिटेरियन डायट प्लान फॉलो करने से 18 सप्ताह में 2 kg वजन कम किया गया। अगर आप वजन कम करना चाहते हैं, तो वेजिटेरियन डायट पर स्विच करना बेहतर विकल्प माना जाता है।

2. कैंसर का टल सकता है खतरा

रिसर्च के अनुसार वेजिटेरियन डायट प्लान से ब्रेस्ट कैंसर, कोलोन कैंसर, रेक्टम कैंसर और पेट के कैंसर की बीमारी से बचा जा सकता है। हालांकि अभी भी इससे जुड़े रिसर्च जारी है।

3. बैलेंस होता है ब्लड शुगर लेवल

डायबिटीज की परेशानी से बचने के लिए ब्लड शुगर लेवल बैलेंस रखने के लिए वेजिटेरियन डायट फायदेमंद माना जाता है।

4. दिल रहता है स्वस्थ्य

वेजिटेरियन डायट प्लान फॉलो करने से दिल को स्वस्थ्य रखने में मदद मिलती है। क्योंकि ब्लड प्रेशर भी बैलेंस रहता है और दिल को हेल्दी रहने में साथ निभाता है।

वीगन और वेजिटेरियन डायट प्लान क्या है और इसके फायदे क्या हैं। यह समझने के बाद जानते हैं वीगन और वेजिटेरियन डायट में अंतर क्या है?

वीगन और वेजिटेरियन डायट में अंतर क्या है? (Difference between Vegan and Vegetarian diet)

Vegan & Vegetarian diet- वीगन और वेजिटेरियन डायट
वीगन और वेजिटेरियन डायट दोनों हैं फायदेमंद

तकरीबन एक जैसे दिखने वाले वीगन और वेजिटेरियन डायट में खास अंतर नहीं है। दरअसल:-

  1. अगर इसे ध्यान से समझा या पढ़ा जाए, तो वीगन फूड में पेड़-पौधे वाले खाने की चीजें ज्यादा होती हैं। वहीं वेजिटेरियन डायट में पेड़-पौधे जैसे सब्जियों के साथ-साथ डेयरी प्रोडक्ट को भी शामिल किया जाता है।
  2. वीगन डायट में ऑर्गेनिक फूड का सेवन किया जाता है। जिसका अर्थ है वैसे खाद्य पदार्थ जिनमें कोई केमिकल न मिला हो।

इन ऊपर बताई दो कारणों की वजह से वीगन और वेजिटेरियन डायट अलग-अलग होते हैं। वीगन डायट अपनाने से एक प्रॉब्लम यह होती है कि इनके सेवन से कुछ पोषक तत्वों की कमी हो सकती है और कई लोग विटामिन एवं मिनिरल की कमियों को दूर करने के लिए सप्लीमेंट्स का सहारा ले लेते हैं। अपनी मर्जी से किसी भी सप्लीमेंट का सेवन शरीर पर नेगिटिव असर डालता है।

और पढ़ें : जानिए किडनी के रोगी का डायट प्लान,क्या खाएं क्या नहीं

डायट एक्सपर्ट कविता देवगन की क्या है राय?

सवाल: क्या वीगन डायट फॉलो करने के साथ-साथ विटामिन-बी 12 का सेवन करना चाहिए?

जवाब: वीगन डायट फॉलो करने के दौरान विटामिन-बी 12 का सेवन किया जा सकता है, लेकिन ध्यान रखें किसी भी पोषक तत्व का जरूरत से ज्यादा होना शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए अत्यधिक सेवन से बचें।

सवाल: वीगन और वेजिटेरियन डायट के साइड इफेक्ट्स क्या हो सकते हैं?

जवाब: हेल्दी लाइफ स्टाइल जीने के लिए वीगन और वेजिटेरियन डायट दोनों ही फायदेमंद हैं। लेकिन दोनों ही डायट में सिर्फ कुछ खाने-पीने की चीजें शामिल करने से पहले यह जरूर समझें की आपके लिए कौन-कौन सी चीजें हेल्दी हैं, जो आपको किसी भी साइड इफेक्ट्स से बचे रहने में आपकी मदद कर सकते हैं। इसलिए डेली डायट में प्रोटीन के साथ-साथ निम्नलिखित न्यूट्रिशन शामिल करें। जैसे:

  • विटामिन-बी 12 का सेवन करें। विटामिन-बी 12 से नर्व और ब्लड सेल्स को हेल्दी रखा जा सकता है।
  • कैरेटिन (Creatine) अपने आहार में शामिल करें। इससे मांसपेशिया मजबूत होती हैं।
  • करनोसिन (Carnosine) को शामिल करें। दरअसल करनोसिन से डायबिटीज, मोतियाबिंद, अल्जाइमर एवं पार्किसंस जैसे बीमारियों से बचा जा सकता है।
  • विटामिन-के 2 युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें। इससे शरीर में कैल्शियम आसानी से हड्डियों तक पहुंचती है और हड्डियां मजबूत होती हैं।
  • जिंक से भरपूर खाने-पीने की चीजें जैसे मशरूम, किडनी बीन्स, टोफू, काले और साबूत अनाज अपने डेली डायट में शामिल करें।

सवाल: वीगन या वेजिटेरियन डायट को कबतक फॉलो किया जा सकता है?

जवाब: यह आपके बॉडी टाइप पर निर्भर करता है और किसी भी डायट के बेनिफिट के लिए अपने डायटीशियन से जरूर कंसल्ट करें।

सवाल: वीगन या वेजिटेरियन डायट फॉलो करने वालों के लिए टिप्स।

जवाब:  वीगन या वेजिटेरियन डायट फॉलो करना हर किसी के लिए संभव नहीं है, लेकिन ये इतना मुश्किल भी नहीं है। अगर आप वीगन डायट या वेजिटेरियन डायट फॉलो कर रहें हैं, तो यह ध्यान रखें कि सब्जियों और अनाज का सेवन जरूर करें।

वीगन और वेजिटेरियन डायट दोनों के अपने-अपने फायदे हैं और दोनों अलग-अलग बॉडी टाइप पर निर्भर करता है कि किन लोगों को वीगन और किन्हें वेजिटेरियन डायट की जरूरत है। अगर आप वीगन और वेजिटेरियन डायट से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. प्रणाली पाटील

फार्मेसी · Hello Swasthya


Nidhi Sinha द्वारा लिखित · अपडेटेड 25/11/2020

ad iconadvertisement

Was this article helpful?

ad iconadvertisement
ad iconadvertisement