home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

खून बढ़ाने की डायट में इन फूड्स को करें शामिल, मिल सकते हैं अच्छे रिजल्ट्स !

खून बढ़ाने की डायट में इन फूड्स को करें शामिल, मिल सकते हैं अच्छे रिजल्ट्स !

आज की व्यस्त जीवनशैली में लोगों के पास अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखने के लिए समय का अभाव है। ऐसे में स्वास्थ्य से जुड़ी नई-नई परेशानियां सामने आती रहती हैं। जिनमें से एक खून की कमी होना भी है। हालांकि, यह बीमारी नई नहीं है, लेकिन अक्सर लोगों को परेशान करती है। जिसे एनीमिया (Anemia) भी कहा जाता है। हालांकि, खून बढ़ाने की डायट (Diet for improve blood) फॉलो करके इस बीमारी से निजात पाई जा सकती है। ये डायट कैसी होनी चाहिए? इसमें क्या-क्या शामिल होना चाहिए इस आर्टिकल में आपके ये सभी जानकारियां दी जाएंगी।

खून बढ़ाने की डायट से पहले जानें खून की कमी के बारे में

खून की कमी को एनीमिया कहते हैं। जिसमें व्यक्ति को अक्सर थकान का अनुभव होता है। एनीमिया तब होता है जब आपको शरीर में रेड ब्लड सेल की मात्रा कम हो जाती है। जब रेड ब्लड सेल्स का काउंट कम हो जाता है तो आपके शरीर को ऑक्सिजन को बॉडी में ट्रांसफर करने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है। आरबीसी मानव रक्त में सबसे आम कोशिकाएं हैं। शरीर प्रतिदिन लाखों आरबीसी का उत्पादन करता है। अस्थि मज्जा में आरबीसी का निर्माण होता है और 120 दिनों तक पूरे शरीर में घूमती रहती हैं। फिर, वे लिवर में जाती हैं, जो उन्हें नष्ट कर देता है और उनके सेलुलर कंपोनेंट्स को रिसाइकल करता है।

खून की कमी की वजह से कई सारे कॉम्प्लिकेशन हो सकते हैं। इसलिए जरूरी है कि आप अपने आरबीसी लेवल (RBC Level) को ट्रैक पर रखें। खून बढ़ाने वाली डायट इसमें आपकी मदद कर सकती है।

और पढ़ें: ये हैं हीमोग्लोबिन बढ़ाने के फूड्स, खून की कमी होने पर करें इनका सेवन

खून बढ़ाने की डायट (Diet for improve blood) में शामिल करें ये फूड

निम्न फूड आइटम्स को खून बढ़ाने की डायट (Diet for improve blood) में शामिल करना चाहिए। ये आपकी मदद कर सकते हैं।

पत्तेदार सब्जियां (Green leafy vegetables)

खून बढ़ाने की डायट में सब्जियों की जगह कोई नहीं ले सकता। पत्तेदार हरी सब्जियां आयरन का अच्छा सोर्स होती हैं। जिसमें पालक , डेंडेलियन ग्रीन्स शामिल हैं। कुछ पत्तेदार सब्जियों में फोलेट भी होता है जो फोलेट (Folate) की कमी को दूर करता है क्योंकि इससे फोलेट डेफिसिएंशी एनीमिया (Folate deficiency anemia) हो सकता है। खट्टे फल, बीन्स और साबुत अनाज फोलेट का अच्छा सोर्स होते है

खून बढ़ाने की डायट (Diet for improve blood)

विटामिन सी पेट को आयरन को एब्जॉर्ब करने में मदद करता है। खून बढ़ाने वाली डायट में हरी पत्तेदार सब्जियों के साथ खट्टे फलों को शामिल करेंगे तो आयरन एब्जॉर्प्शन को बढ़ाने में मदद मिलेगी। कुछ पत्तेदार सब्जियां विटामिन सी (Vitamin c) भी सोर्स होती हैं उनकी भी मदद ली जा सकती है जैसे कि खटुआ और बथुआ भाजी।

फिश (Fish)

खून बढ़ाने की डायट में फिश को शामिल करना ना भूलें। कुछ सीफूड्स में आयरन होता है। जिसमें मछलियां, केकड़े और झींगा शामिल हैं। अगर आप इन सबमें से खून बढ़ाने की डायट में फिश को एड करना चाहते हैं तो सामन (Salmon) और टूना (Tuna) फिश को ट्राय कर सकते हैं। बता दें कि हाय कैल्शियम फूड्स को आयरन रिच फूड्स के साथ नहीं खाना चाहिए। जिसमें डेयरी मिल्क, फोर्टिफाइड प्लांट मिल्क, योगर्ट, चीज, टोफू आदि।

और पढ़ें: कोलेस्ट्रॉल ब्रेकफास्ट फूड्स : कोलेस्ट्रॉल को कम करें इन हेल्दी ब्रेकफास्ट ऑप्शन्स की मदद से!

बीन्स (Beans)

बीन्स वेजिटेरियन्स के लिए आयरन का अच्छा सोर्स हैं। यह आसानी से उपलब्ध और बेहद फायदेमंद हैं। जिसमें राजमा, चने, सोयबीन, मटर, काली बीन्स शामिल हैं। इनको खून बढ़ाने की डायट में शामिल करने के कई ऑप्शन हैं। इन्हें सलाद के रूप में उपयोग करने के साथ ही आप इनकी सब्जी बना सकते हैं, पुलाव में इनका उपयोग कर सकते हैं या बीन्स चाट बनाकर खा सकते हैं।

नट्स और सीड्स (Nuts and seeds)

खून बढ़ाने की डायट में नट्स और सीड्स को शामिल करना भूलें। कई प्रकार के नट्स आयरन के अच्छे सोर्स हैं। इन्हें ऐसे ही खाने के साथ आप सलाद में भी इनका उपयोग कर सकते हैं। जिसमें कद्दू के बीच, काजू, पिस्ता, चिलगोजा (Pine nuts), सूरजमुखी के बीज आदि शामिल हैं। इनको रोस्टेड और रॉ दोनों प्रकार के नट्स में समान मात्रा में आयरन पाया जाता है। बादाम में भी अच्छी मात्रा में आयरन पाया जाता है, लेकिन इसमें कैल्शियम भी भरपूर मात्रा में होता है। इसलिए यह आपके आयरन लेवल को इतना नहीं बढ़ा सकते। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से सलाह लें।

अब तक आपने जाना फूड बढ़ाने की डायट में किन चीजों को शामिल करना चाहिए। अब हम आपको कुछ ऐसे पोषक तत्वों के बारे में बता रहे हैं जो खून बढ़ाने की डायट (Diet for improve blood) के लिए जरूरी हैं। आप फूड्स में मौजूद इन पोषक तत्वों के हिसाब से भी इन्हें अपनी डायट में एड कर सकते हैं। इसमें एक जरूरी न्यूट्रिएंट आयरन है। जिसके बारे में जब आपको जानकारी दे चुके हैं। अब जान लीजिए खून बढ़ाने की डायट (Diet for improve blood) के लिए जरूरी दूसरे 4 पोषक तत्वों के बारे में।

फोलिक एसिड (Folic acid)

खून बढ़ाने की डायट (Diet for improve blood) में कुछ विटामिन बी को शामिल करना भी बेहद फायदेमंद हो सकता है। एनरिच्ड ब्रेड्स (Enriched breads) और एनरिच्ड सीरियल्स (Enriched cereals), दालें, नट्स, हरी सब्जियां और बीन्स विटामिन बी का अच्छा सोर्स हैं। इन्हें आसानी से डायट में शामिल किया जा सकता है।

और पढ़ें: प्रेग्नेंसी में खून की कमी कैसे दूर करें?

विटामिन बी-12 (Vitamin B-12)

खून बढ़ाने की डायट (Diet for improve blood) के लिए विटामिन बी-12 भी जरूरी है। विटामिन बी-12 के अच्छे सोर्स में फिश, अंडे, डेयरी प्रोडक्ट्स जैसे कि मिल्क और चीज शामिल हैं।

कॉपर (Copper)

कॉपर इंटेक सीधे तौर पर रेड ब्लड सेल्स के प्रोडक्शन पर असर नहीं दिखाता, लेकिन यह आरबीसी के लिए आयरन की पहुंच को आसान बनाने में मदद करता है जो उनकी वृद्धि के लिए जरूरी है। हाय कॉपर फूड्स में अंडे, बीन्स, चेरीज और ड्राय फ्रूट्स शामिल हैं।

विटामिन ए (Vitamin A)

विटामिन ए रेड ब्लड सेल प्रोडक्शन में मदद करता है। विटामिन ए फूड्स में हरी पत्तेदार सब्जियां, पालक, शकरकंद, गाजर, रेड पेपर्स, फल जैसे कि तरबूज, अंगूर आदि शामिल हैं।

अगर आप डायट से पोषक तत्वों को प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं, तो आपको डॉक्टर से सप्लिमेंट्स के बारे में सलाह ले सकते हैं। कुछ सप्लिमेंट्स आरबीसी प्रोडक्शन (RBC production) में मदद कर सकते हैं। कुछ सप्लिमेंट्स दूसरी दवाइयों के साथ इंटरैक्ट कर सकते हैं। इसलिए इसके बारे में डॉक्टर को जरूर बताएं। ताकि वे इंटरैक्शन से बच सकें। सप्लिमेंट्स को कभी भी रिकमंडेड डोसेज से ज्यादा ना लें और डॉक्टर के बताए दिशा निर्देशों का पालन करें। इस दौरान डॉक्टर निम्न सप्लिमेंट्स सजेस्ट कर सकते हैं।

  • आयरन सप्लिमेंट्स (Iron supplements)
  • विटामिन सी सप्लिमेंट्स (Vitamin C supplements)
  • कॉपर (Copper)
  • विटामिन ए (Vitamin A)
  • विटामिन बी-12 (Vitamin B-12)
  • विटामिन बी-6 (Vitamin B-6)
  • विटामिन ई (Vitamin E)

और पढ़ें: नॉरमोसाइटिक एनीमिया: क्या एनीमिया के इस प्रकार के बारे में जानते हैं आप?

लाइफस्टाइल चेंजेस (Lifestyle changes)

यदि आप एक हेल्दी खा रहे हैं या सप्लिमेंट्स ले रहे हैं, तो आप एक अच्छी शुरुआत कर रहे हैं। एल्कोहॉलिक ड्रिंक्स का सेवन कम करके या पूरा तरह इसे बंद करके आप इस डायट को सफल बना सकते हैं। अत्यधिक शराब पीने से आपकी आरबीसी संख्या कम हो सकती है। महिलाओं के लिए, इसे एक दिन में एक से अधिक पेय के रूप में परिभाषित किया गया है। पुरुषों के लिए, यह एक दिन में दो से अधिक पेय है।

नियमित एक्सरसाइज भी फायदेमंद होता है। ओवरऑल हेल्थ को बढ़ावा देने के अलावा, एक्सरसाइज आरबीसी प्रोडक्शन की कुंजी है। व्यायाम से आपके शरीर को अधिक ऑक्सिजन की आवश्यकता होती है। जब आपको अधिक ऑक्सिजन की आवश्यकता होती है, तो आपका मस्तिष्क आपके शरीर को अधिक आरबीसी बनाने का संकेत देता है।

व्यायाम में आप निम्न को शामिल कर सकते हैं

  • जॉगिंग (Jogging)
  • दौड़ना (Running)
  • तैराकी (Swimming)

उम्मीद करते हैं कि आपको खून बढ़ाने की डायट से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

 

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Iron deficiency anemia/ https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/iron-deficiency-anemia/symptoms-causes/syc-20355034/ Accessed on 16th November 2021

Anemia/nhlbi.nih.gov/health-topics/anemia/Accessed on 16th November 2021

Folic acid (folate) deficiency/ncbi.nlm.nih.gov/books/NBK535377/Accessed on 16th November 2021

Iron/ods.od.nih.gov/factsheets/Iron-Hea/Accessed on 16th November 2021

Vitamin deficiency anemia/mayoclinic.org/diseases-conditions/vitamin-deficiency-anemia/home/ovc-20265306/

Accessed on 16th November 2021

 

लेखक की तस्वीर badge
Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट कुछ हफ्ते पहले को
Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड