home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Clarithromycin: क्लैरीथ्रोमाइसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Clarithromycin: क्लैरीथ्रोमाइसिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्लैरीथ्रोमाइसिन का इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के बैक्टीरियल इंफेक्शन का इलाज करने के लिए होता है। क्लैरीथ्रोमाइसिन का इस्तेमाल एंटी-अल्सर दवाइयों के कॉम्बिनेशन के साथ पेट के अल्सर के इलाज में होता है। क्लैरीथ्रोमाइसिन को मैक्रोलाइड एंटीबायोटिक के रूप में जाना जाता है। यह बैक्टीरिया को विकसित होने से रोक देती है। यह एक एंटीबायोटिक है, जो सिर्फ बैक्टीरियल इंफेक्शन्स का इलाज करती है। वायरल इंफेक्शन्स (जैसे सर्दी-जुकाम) में यह दवा कार्य नहीं करती है। किसी भी एंटीबायोटिक दवा का गैर जरूरी उपयोग या गलत इस्तेमाल दवाइयों की प्रभाविकता को कम कर देता है।

मुझे क्लैरिथ्रोमाइसिन का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए? (How to Use Clarithromycin)

  • क्लैरीथ्रोमाइसिन को डॉक्टर की सलाह पर सीधे मुंह में खाने के साथ या खाली पेट लिया जा सकता है। आमतौर पर हर 12 घंटे बाद इसे लिया जाता है। यदि आपका पेट खराब होता है तो इसे भोजन या दूध के साथ लिया जा सकता है। सिरप का डोज को लेने से पहले बोतल को अच्छे से हिला लें। खुराक को मापने के लिए विशेष चम्मच का इस्तेमाल करें। क्लैरीथ्रोमाइसिन की खुराक लेते वक्त घरेलू चम्मच का इस्तेमाल ना करें क्योंकि इससे आपको पर्याप्त डोज नहीं मिलेगा।
  • एंटीबायोटिक दवाइयों उस स्थिति में सबसे बेहतर कार्य करती हैं, जब आपकी बॉडी में इनका स्तर लगातार बना रहता है। इसके मद्देनजर, क्लैरोथ्रोमाइसिन के हर डोज को अंतराल पर लें। रोजाना इसके डोज को याद रखने के लिए हर दिन समान समय पर खुराक लें।
  • इस दवा की खुराक आपके इलाज और मेडिकल कंडिशन पर निर्भर करेगी। साथ ही आपकी बॉडी उपचार को कैसी प्रतिक्रिया देती है यह भी डोज को निर्धारित करता है। वहीं, बच्चों के मामले में उनके वजन के अनुसार इसकी खुराक तय की जाती है।
  • यदि आप इंफेक्शन के इलाज में इस दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो डॉक्टर के सुझाए गए दिशा निर्देशों के पूरा होने तक इसे जारी रखें। यहां तक कि इसके सेवन के कुछ दिनों बाद परेशानी के लक्षण ना नजर आने की स्थिति में क्लैरोथ्रोमाइसिन का सेवन बंद ना करें। क्लैरोथ्रोमाइसिन का सेवन तय समय से पहले बंद करने से इंफेक्शन की वापसी हो सकती है। यदि आपकी स्थिति लागातर गंभीर हो रही है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

और पढ़ें: बैक्टीरियल जॉइन्ट इन्फ्लेमेशन! जानिए दर्द और इंफेक्शन से जुड़ी इस तकलीफ को

मैं क्लैरीथ्रोमाइसिन को कैसे स्टोर करूं? (How to Store Clarithromycin)

क्लैरीथ्रोमाइसिन को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको क्लैरीथ्रोमाइसिनन को बाथरूम या फ्रिज में नहीं रखना है।

इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें। सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा ना जाए तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको क्लैरीथ्रोमाइसिन को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है।

आवश्यकता ना रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें: Bacterial pneumonia: बैक्टीरियल निमोनिया क्या है?

क्लैरीथ्रोमाइसिन का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए? (Precautions & warnings)

क्लैरीथ्रोमाइसिन के इस्तेमाल का निर्णय लेने से पहले इसके संभावित फायदों और नुकसान का आंकलन करना जरूरी है। इसके इस्तेमाल का निर्णय आप और आपके डॉक्टर को लेना है। क्लैरोथ्रोमाइसिन का इस्तेमाल करने से पहले निम्नलिखित चीजों का ध्यान रखा जाना चाहिए:

एलर्जी (Allergy)

विगत समय में आपको क्लैरीथ्रोमाइसिन या अन्य दवा से यदि एलर्जी हुई हो तो इसकी सूजना डॉक्टर को दें। यदि आपको फूड्स, डाई, प्रिजरवेटिव्स या जानवरों से एलर्जी है तो इसकी जानकारी अपने डॉक्टर को दें। डॉक्टर के गैर सुझाए प्रोडक्ट्स के लेबल पर छपी इंग्रीडिएंट्स की जानकारी को सावधानी पूर्वक पढ़ें।

पीडियाट्रिक्स (बच्चों में)

छह महीने से कम उम्र के बच्चों में बैक्टीरियल इंफेक्शन के इलाज में क्लैरीथ्रोमाइसिन सुरक्षित है या नहीं? इस संबंध में पर्याप्त शोध मौजूद नही हैं। इस दवा को डॉक्टर की सलाह के बिना बच्चों को ना दें।

बुजुर्गों में

बुजुर्गों क्लैरीथ्रोमाइसिन में कितनी असरदार है? या उम्र इसकी प्रभाविकता को सीमित करती है? इस संबंध में पर्याप्त शोध किए गए। इन अध्ययनों में यह साबित नहीं हो पाया कि उम्र इसकी प्रभाविकता को सीमित करती है।

हालांकि, बुजुर्गों मरीजों में गुर्दे की गंभीर और दिल की रिदम की दिक्कतों की संभावना रहती है। इसे देखते हुए क्लैरीथ्रोमाइसिन के डोज को मरीजे के अनुसार अडजस्ट किया जाना चाहिए। साथ ही इस उम्र के लोगों में इस दवा को लेकर विशेष सावधानी बरतनी चाहिए।

और पढ़ें: कैसे शरीर को प्रभावित करता है बैक्टीरियल गैस्ट्रोएंटेराइटिस?

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग में क्लैरीथ्रोमाइसिन (Clarithromycin) को लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान क्लैरीथ्रोमाइसिन लेना कितना सुरक्षित है, इसको लेकर अभी तक पर्याप्त अध्ययन नहीं किए गए हैं। क्लैरीथ्रोमाइसिन को लेने से पहले इसके संभावित फायदों और नुकसान का आंकलन करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर से संपर्क करें। अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के मुताबिक, प्रेग्नेंसी में क्लैरीथ्रोमाइसिन का रिस्क c कैटेगरी है। एफडीए के प्रेग्नेंसी रिस्क की कैटेगरी नीचे दी गई है:

A= कोई खतरा नहीं।

B= कुछ अध्ययनों में कोई खतरा नहीं बताया गया।

C= इसके कुछ खतरे हो सकते हैं।

D= इसके खतरे के सकारात्मक सुबूत मौजूद हैं।

X= कॉन्ट्राडिकेट

N= कोई पता नहीं।

क्लैरीथ्रोमाइसिन के क्या दुष्प्रभाव हैं? (Clarithromycin Side effects)

निम्नलिखित एलर्जी रिएक्शन नजर आने पर तुरंत आपातकालीन चिकित्सा मदद लें:

  • सांस लेने में दिक्कत, चेहरे, होठ, जुबान या गले में सूजन आना।
  • यदि आपको निम्नलिखित में से कोई भी गंभीर साइडइफेक्ट्स होते हैं तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें:
  • सीने के साथ सिर में दर्द और गंभीर रूप से चक्कर आना, दिल की धड़कन का तेज होना, सांसों का छोटा होना, बेहोशी।
  • खूनी या वॉट्री डायरिया होना।
  • बुखार, ग्लैंड्स में सूजन, शरीर में दर्द, फ्लू के लक्षण, नई और गंभीर रूप से खांसी आना।
  • त्वचा पर रैशेस, चोट लगना या ब्लीडिंग होना, गंभीर झुनझुनी, सुन्न पड़ना, दर्द, मांसपेशियों में कमजोरी
  • भ्रांति, उल्टी, सूजन, तेजी से वजन बढ़ना, सामान्य से कम यूरिन पास करना या यूरिन पास ना होना।
  • सुनने में दिक्कत आना।
  • गंभीर स्किन रिएक्शन: बुखार, गले में अकड़न, चेहरे या जुबान पर सूजन, आंखों में जलन, त्वचा पर बैंगनी या लाल लालिमा (विशेषकर चेहरे पर या अपर बॉडी पर) पड़ने से स्किन में दर्द। इससे त्वचा पर छाले पड़ जाते हैं या वह छिल जाती है।

क्लैरीथ्रोमाइसिन से लिवर के कुछ गंभीर लक्षण नजर आ सकते हैं। लिवर में निम्नलिखित लक्षण नजर आने पर तुरंत क्लैरोथ्रोमाइसिन का सेवन बंद कर दें और अपने डॉक्टर से संपर्क करें:

  • हल्का बुखार, खुजली
  • उबकाई, ऊपरी पेट में दर्द, भूख कम होना।
  • डार्क यूरिन, स्टूल मिट्टी जैसे रंग में आना या पीलिया (त्वचा या आंखों का पीला पड़ना) होना।
  • क्लैरोथ्रोमाइसिन के कम गंभीर दुष्प्रभाव निम्नलिखित हैं:
  • पेट खराब, उल्टी, डायरिया
  • असामान्य या मुंह का स्वाद खराब होना
  • दांतों में डिसलोकेशन
  • सिर दर्द
  • हल्की खुजली या लालिमा पड़ना
  • वजायना में खुजली या डिस्चार्ज

हर व्यक्ति को यह दुष्प्रभाव नहीं होते हैं। उपरोक्त दुष्प्रभावों के अलावा भी क्लैरीथ्रोमाइसिन के कुछ साइडइफेक्ट्स हो सकते हैं, जिनके बारे में ऊपर नहीं बताया गया है। यदि आप इस दवा के दुष्प्रभाव को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह ले सकते हैं।

और पढ़ें: दालचीनी के लाभ: हार्ट अटैक के खतरे को करती है कम, बचाती है बैक्टीरियल इंफेक्शन से

किन दवाइयों के साथ क्लैरीथ्रोमाइसिन को नहीं लिया जा सकता? (Clarithromycin interactions)

  • क्लैरीथ्रोमाइसिन अन्य दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकती है, जिससे इसके काम करने के तरीके में बदलाव या गंभीर दुष्प्रभावों की संभावना बढ़ जाती है। क्लैरोथ्रोमाइसिन के किसी भी संभावित दुष्प्रभाव से बचने के लिए उन सभी दवाइयों (डॉक्टर की लिखी हुई और गैर लिखी हुई हर्बल मेडिसिन) की एक लिस्ट बनाएं। इस लिस्ट को अपने डॉक्टर और फार्मासिस्ट के साथ साझा करें। अपने सुरक्षा के लिए डॉक्टर की बिना मंजूरी के किसी भी दवा को शुरू, बंद या डोज में बदलाव ना करें।
  • निम्नलिखित दवाइयों के साथ क्लैरीथ्रोमाइसिन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इन दवाइयों के साथ क्लैरोथ्रोमाइसिन के इस्तेमाल को लेकर आपका डॉक्टर यह निर्णय लेगा कि आपका इलाज इन दवाइयों के कॉम्बिनेशन के साथ चलाया जाना चाहिए या नहीं। वह अन्य दवाइयों के साथ इन्हें बदल सकता है।
  • अल्फ्यूजोसिन, अमिफेमप्रिडाइन, एस्टेमिजोल, बेप्रिडिल, सिसाप्राइड, कोलसिसाइन, कोनविपेटन, डिहाइड्रोगोटामाइन, ड्रोनेड्रोन, इलेट्रिपेटन, इलिग्लूस्टट, इप्लररेनोन, इरगोलोयड मायसलेट, इरगोनोवाइन, इरगोटामाइन, फ्लूकोनोजोल, इवाब्राडाइन, केटोकोनेजोल, लोमिटापाइड, लोवास्टेटिन, लूरासिडोन, मेराविरोक, मेसरिडाजाइन, मेथाइलगोनोवाइन, मेथास्रेगाइड, नेलोक्सेजोल, नेलफ्लिनाविर, निमोडिपाइन पिमोजाइड, पापरक्वाइन, पोसोकोनेजोल रोनालोजाइन, सेक्वानवार, सिल्डोसिन, सिमवास्टेटिन, स्पेरफ्लोक्सिन, टेराफेनेडाइन, थाइरोडाजाइन, टोल्वाप्टेन, जिप्रासिडोन के साथ इसे नहीं लिया जाना चाहिए।

क्या भोजन या एल्कोहॉल के साथ क्लैरीथ्रोमाइसिन (Clarithromycin) का इस्तेमाल किया जा सकता है?

क्लैरीथ्रोमाइसिन का भोजन या एल्कोहॉल के साथ रिएक्शन होने पर इसका कार्य करने का तरीका बदल सकता है। इसका इस्तेमाल करने के लिए इसके संभावित फायदे और नुकसान का आंकलन करने के लिए अपने डॉक्टर से सलाह लें।

क्लैरीथ्रोमाइसिन (Clarithromycin) से हेल्थ पर क्या रिएक्शन्स हो सकते हैं?

क्लैरीथ्रोमाइसिनआपकी हेल्थ पर असर डाल सकती है। इस रिएक्शन से आपकी हेल्थ बदतर हो सकती है या इस दवा के कार्य करने का तरीका बदल सकता है। इस स्थिति में यह सबसे जरूरी है कि आप अपनी मौजूदा स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में डॉक्टर को सूचना दें। विशेषकर निम्नलिखित स्थितियों में डॉक्टर को अवश्य सूचित करें:

  • कोलेस्टिक पीलिया या इसकी हिस्ट्री
  • दिल की रिदम से जुड़ी परेशानियां
  • लिवर की बीमारी या इसकी हिस्ट्री, जिन लोगों को क्लैरोथ्रोमाइसिन से यह दिक्कतें हुई हैं उन्हें यह दवा नहीं लेनी चाहिए।
  • किडनी फंक्शन में कमी आना
  • एंजायम से जुड़ी समस्या
  • डायरिया
  • दिल की बीमारी
  • लिवर की बीमारी
  • मासंपेशियों का गंभीर रूप से कमजोर होना
  • हाइपोकैल्मिया (HYPOKALEMIA) (ब्लड में पोटैशियम कम होना)
  • हाइपोमैग्नीशीमिया (PRONUNCIATION- hypomagnesemia) (ब्लड में मैग्नीशियम कम होना)
  • किडनी की बीमारी

आपात स्थिति या ओवरडोज होने पर मुझे क्या करना चाहिए?

आपात स्थिति या ओवरडोज होने पर अपनी स्थानीय आपातकीलन सेवा या नजदीकी अस्पताल से संपर्क करें।

  • ओवरडोज की स्थिति में आपको निम्नलिखित लक्षण नजर आ सकते हैं:
  • पेट दर्द
  • उबकाई आना
  • उल्टी
  • डायरिया

और पढ़ें: कहीं आप गलती से तो नहीं ले रहे हायपरटेंशन बढ़ाने वाली दवाएं?

यदि मुझसे क्लैरीथ्रोमाइसिन (Clarithromycin) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

यदि आपसे क्लैरीथ्रोमाइसिन का डोज मिस हो जाता है तो जल्द से जल्द इसे लें। हालांकि, यदि आपका अगली खुराक का समय नजदीक आ गया है तो भूले हुए डोज को ना खाएं। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक ना खाएं।

उम्मीद करते हैं कि आपको क्लैरीथ्रोमाइसिन से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Clarithromycin 500mg Tablets/https://www.medicines.org.uk/emc/product/6094/smpc#gref/ Accessed on 20th June 2021

Clarithromycin for bacterial infections/https://www.medicinesforchildren.org.uk/clarithromycin-bacterial-infections/Accessed on 20th June 2021

clarithromycin/https://www.uofmhealth.org/health-library/d00097a1/Accessed on 20th June 2021

Clarithromycin (Oral Route)/https://www.mayoclinic.org/drugs-supplements/clarithromycin-oral-route/proper-use/drg-20067672?p=1/Accessed on 20th June 2021

लेखक की तस्वीर badge
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 20/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड