home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

Drotin-M Tablet : ड्रोटिन-एम टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) क्या है?|दवा का उपयोग|फंक्शन|इस्तेमाल के लिए निर्देश|सावधानी और चेतावनी|प्रेग्नेंसी और स्तनपान में दवा का उपयोग|साइड इफेक्ट्स|रिएक्शन|डोसेज|स्टोरेज और डिस्पोजेबल तरीके|उपलब्ध खुराक
Drotin-M Tablet : ड्रोटिन-एम टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) क्या है?

दवा का नाम और कैटेगरी

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) एक नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लमेटरी एजेंट, एंटी-स्पास्मोडिक ड्रग है।

ओटीसी (OTC) या प्रिस्क्रिप्शन ड्रग

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) प्रिस्क्रिप्शन ड्रग है। इसका इस्तेमाल डॉक्टर द्वारा दवा के पर्चे पर लिखे जाने के बाद ही किया जा सकता है।

एक्टिव इंग्रिडेंट

इस टैबलेट में सक्रिय तत्व के रूप में ड्रोटावेराइन (Drotaverine) 80mg और मेफेनैमिक एसिड (Mefenamic acid) 250 mg पाया जाता है।

विशिष्ट उपयोग

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) का मुख्य इस्तेमाल पेट दर्द और ऐंठन के लक्षणों के इलाज के लिए किया जाता है।

और पढ़ें : Nucoxia P : न्यूकॉक्सिया पी टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

दवा का उपयोग

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) का इस्तेमाल किन बीमारियों के उपचार के लिए किया जाता है?

पेट दर्द या पेट में ऐंठन

पेट दर्द और पेट में ऐंठन होने पर डॉक्टर द्वारा इस दवा का सेवन करने की सलाह दी जाती है। पीरियड क्रैम्प, इर्रिटेबल बोवेल सिंड्रोम आदि होने पर भी इस दवा का सेवन किया जाता है।

फंक्शन

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) कैसे काम करती है?

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) दो जेनेरिक फार्मूला से मिल कर बना होता है- ड्रोटावेरिन और मेफेनैमिक एसिड। ड्रोटावेरिन एंटी-स्पास्मोडिक मेडिसिन है, जो मांसपेशियों को दर्द से आराम पहुंचाता है। मेफेनैमिक एसिड ऐसे केमिकल को बनने से रोकता है, जो शरीर में सूजन, दर्द और बुखार का कारण बनते हैं।

[mc4wp_form id=”183492″]

इस्तेमाल के लिए निर्देश

  • ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) को डॉक्टर के निर्देश के अनुसार लेना चाहिए।
  • इस दवा को लेते समय लेबल पर लिखे सभी निर्देशों का पालन करें। दवा को डॉक्टर द्वारा बताए गए तय समय पर ही लें।
  • इसका सेवन भोजन के साथ या भोजन के बिना किया जा सकता है।
  • इस दवा के सेवन के 30 से 60 मिनट के बाद राहत होने लगती है, लेकिन इसका असर कितने घंटे तक रहता है, इसकी जानकारी नहीं है।
  • इस दवा का उपयोग बिना डॉक्टरी की सलाह के अचानक से बंद नहीं करना चाहिए।
और पढ़ें : Loxof 500 : लोक्सॉफ 500 क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

सावधानी और चेतावनी

इन स्थितियों में ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) का उपयोग न करें

एलर्जी

अगर आपको ड्रोटावेरिन और मेफेनैमिक एसिड से एलर्जी हो तो इस दवा के सेवन से बचें। इसके अलावा अगर आपको नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लमेटरी एजेंट, एंटी-स्पास्मोडिक कैटेगरी की दवाओं से एलर्जी है तो इस दवा का सेवन न करें, क्योंकि इससे आपको सेहत संबंधी समस्या हो सकती है।

किडनी इम्पेयरमेंट

अगर आपको किडनी से संबंधित कोई भी समस्या है तो आप इस टैबलेट का सेवन न करें। इससे आपकी तबियत और ज्यादा बिगड़ सकती है। अगर आपको किडनी संबंधी पहले से कोई समस्या है तो दवा को लेने से पहले डॉक्टर को जरूर बता दें।

लिवर इम्पेयरमेंट

अगर आपको लिवर से जुड़ी कोई भी समस्या है तो आप इस टैबलेट का इस्तेमाल न करें। इस टैबलेट के इस्तेमाल से लिवर में घाव हो सकता है। मरीज की स्थिति और ज्यादा बिगड़ सकती है। इस स्थिति में अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

हार्ट फेलियर

अगर आप हार्ट फेलियर की समस्या से गुजर रहे हैं या आपका हार्ट ब्लड को पर्याप्त मात्रा में पंप नहीं कर पा रहा है, तो इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे पेशेंट की हालत और बिगड़ सकती है।

कोरोनरी आर्टरी बाइपास सर्जरी (CABG)

अगर आपको कोरोनरी आर्टरी बाइपास सर्जरी करानी है या पहले कभी करा चुके हैं तो इस दवा का सेवन ना करें।

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या जानना चाहिए?

ड्राइविंग करना या हैवी मशीन ऑपरेशन

अगर दवा का सेवन कर आप ड्राइविंग या हैवी मशीन चलाते हैं तो ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है। क्योंकि दवा के सेवन के बाद ऊपर बताए गए साइड इफेक्ट्स, जैसे- सिरदर्द, चक्कर आना आदि में से कोई भी लक्षण महसूस हो सकते हैं। ऐसे में सही यही होगा कि दवा का सेवन करने के बाद ड्राइविंग न करें और न ही कोई भारी मशीन को ऑपरेट करें।

एल्कोहॉल का सेवन

इस टैबलेट के सेवन के दौरान शराब ना पिएं, क्योंकि यह इस दवा के साथ एल्कोहॉल इंटरैक्ट कर सकती है। जिससे नींद आने की समस्या हो सकती है। इसके अलावा अगर आप ने गलती से इस दवा का सेवन एल्कोहॉल के साथ कर लिया है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

बच्चों के लिए नहीं है ये दवा

इस दवा का इस्तेमाल 12 साल से कम उम्र के बच्चों में नहीं करना चाहिए। इससे बच्चों में साइड इफेक्ट देखने को मिल सकता है।

हाइपोटेंशन (Hypotension)

अगर आपको हाइपोटेंशन यानी कि लो ब्लड प्रेशर की समस्या है तो आप इस दवा का सेवन ना करें। जिन्हें लो ब्लड प्रेशर की शिकायत रहती हैं, वे अगर इस दवा का सेवन करते हैं तो आपको ब्लड प्रेशर और लो हो सकता है। इसलिए इस दवा के किसी अन्य विकल्प के बारे में अपने डॉक्टर से पूछें।

एडिमा

अगर आप एडिमा से परेशान हैं तो इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसी स्थिति में इस दवा का सेवन करने से समस्या हो सकती है।

स्किन रिएक्शन

इस दवा के सेवन से गंभीर और घातक स्किन एलर्जी हो सकती है। जिसके काण रैशेज, हाइव्स, बुखार आदि लक्षण सामने आ सकते हैं। ऐसे में आप दवा का सेवन बंद करें और डॉक्टर से जा कर तुरंत मिलें।

और पढ़ें : Lupituss Syrup : लूपिटस सिरप क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

प्रेग्नेंसी और स्तनपान में दवा का उपयोग

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) लेना सुरक्षित है?

गर्भावस्था के दौरान उपयोग करने के लिए ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) असुरक्षित है। कोई भी डॉक्टर इस दवा को प्रेग्नेंसी में लेने की सलाह तभी देते हैं, जब ये दवा गर्भवती के लिए बहुत जरूरी हो। ये दवा मां और गर्भ में पल रहे बच्चे के जीवन के लिए हानिकारक हो सकती है। वहीं, स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी बिना डॉक्टर की सलाह के इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए। इससे बच्चे में कई तरह से साइड इफेक्ट्स देखने को मिल सकते हैं। हालांकि, दवा लेने से पहले डॉक्टर से इस दवा के फायदे, नुकसान और जोखिमों के बारे में जरूर पूछ लें।

साइड इफेक्ट्स

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) के क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

इसके अलावा कुछ अन्य साइड इफेक्ट्स भी हैं, जो काफी रेयर हैं :

उपरोक्त साइड इफेक्ट्स के अलावा कुछ और भी साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं। अगर आपको दवा के इस्तेमाल के दौरान यदि कोई भी असामान्य लक्षण दिखें, तो डॉक्टर से तुरंत संपर्क करें।

रिएक्शन

कौन-सी दवाइयां ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) के साथ रिएक्शन कर सकती हैं?

यूं तो हर दवा हर व्यक्ति पर अलग-अलग तरह से रिएक्ट करती है। इस दवा को लेने से पहले भी इसके रिएक्शन को लेकर डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें।

क्या ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) किसी फूड के साथ रिएक्शन करती है?

कुछ दवाएं ऐसी होती हैं जो हम खाते हैं, उसके साथ रिएक्ट करती है। लेकिन ये दवा भोजन के साथ रिएक्ट करती है या नहीं, अभी तक इसकी कोई जानकारी नहीं मिल सकी है। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

क्या ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) किसी स्वास्थ्य स्थिति के साथ इंटरैक्ट करती है?

यह टैबलेट कुछ स्वास्थ्य स्थितियों के साथ इंटरैक्ट कर सकती है, जैसे :

और पढ़ें : Sinarest LP Tablet : सिनारेस्ट एलपी टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

डोसेज

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) की सामान्य खुराक क्या है?

पेट दर्द होने पर वयस्क की खुराक

से दवा बच्चों के लिए नहीं होती है, ऐसे में पेट दर्द होने पर वयस्क की खुराक 40 से 80 मिलीग्राम है। 40 से 80 मिलीग्राम दिन में तीन बार लेना होता है।

नोट : इस टैबलेट के डोज के लिए आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। बिना डॉक्टर के परामर्श के आपको किसी भी दवा का सेवन नहीं करना चाहिए।

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) की खुराक मिस हो जाए तो क्या करें?

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) की खुराक अगर मिस हो जाए तो जितनी जल्दी आपको याद आएं, उतनी जल्दी ही आपको दवा का सेवन कर लेना चाहिए। अगर आपके अगले डोज का वक्त हो गया है तो मिस हुई डोज को छोड़ दें। लेकिन दवा का डबल डोज एक साथ न लें। इससे आपकी सेहत को नुकसान हो सकता है।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

अगर गलती से आपने इस टैबलेट का ओवर डोज ले लिया है तो आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। किसी भी दवा का ओवरडोज होना खुद में एक मेडिकल इमरजेंसी हो सकती है।

और पढ़ें : Drotin Plus Tablet : ड्रोटिन प्लस टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग और साइड इफेक्ट्स

स्टोरेज और डिस्पोजेबल तरीके

ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) को कैसे स्टोर और डिस्पोज करें?

  • इस टैबलेट को रूम टेम्प्रेचर पर या 10 से 30 डिग्री सेल्सियस तापमान पर रखना चाहिए, कोशिश करें कि उसे सीधे धूप में न रखें। ड्रोटिन-एम टैबलेट (Drotin-M Tablet) को फ्रिज में नहीं रखना चाहिए। इसके साथ ही इस दवा को बच्चों और पालतू जानवरों की पहुंच से दूर रखें।।
  • दवा की एक्सपायरी हो जाने पर इस टैबलेट का उपयोग न करें। दवा एक्सपायर हो जाए तो उसे कैसे डिस्पोज करना है उसको लेकर फॉर्मासिस्ट से सलाह लेनी चाहिए। टैबलेट के रैपर को डस्टबिन में डिस्पोज करें ताकि बाद में इसे रिसाइकिल किया जा सके। इसे टॉयलेट में फ्लश न करें।

उपलब्ध खुराक

यह दवा किस रूप में उपलब्ध है?

यह दवा टैबलेट के रूप में 80mg और 250 mg की मात्रा में 10 टैबलेट्स की स्ट्रेंथ में बाजार में उपलब्ध है।

दवा की उपलब्धता की स्थिति : यह टैबलेट भारत में प्रतिबंधित नहीं है।

उम्मीद है कि ये आर्टिकल आपके लिए बहुत मददगार होगा। इस आर्टिकल में बताए गए सभी दिशा-निर्देशों के बाद भी अपने डॉक्टर के द्वारा सलाह दिए जाने पर ही इस टैबलेट का सेवन करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 03/09/2020 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड