home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Ebastine+Phenylephrine: ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

Ebastine+Phenylephrine: ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

उपयोग

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन (Ebastine+Phenylephrine) का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन दो दवाइयों का कॉम्बिनेशन है। यह कॉम्बिनेशन एलर्जी के वजह से छींक और नाक बहने की समस्या में राहत देता है। एबस्टाइन एक एंटीएलर्जिक दवा है, जो हिस्टामाइन (histamine) कैमिकल को ब्लॉक देती है। यह कैमिकल नाक बहने और छींक आने के लिए जिम्मेदार होता है। फीनाइलेफ्रीन नाक की सिकुड़ी हुई रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करके अस्थाई राहत प्रदान करता है। इन रक्त वाहिकाओं के सिकुड़ने से कंजेशन हो जाता है।

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन (Ebastine+Phenylephrine) का इस्तेमाल कैसे करना चाहिए?

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन को डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही उपयोग करें। इसके अलावा आप दवा के लेबल पर छपे दिशा निर्देशों का सावधानीपूर्वक पढ़ें। यदि आपको कोई बात समझ नहीं आती है, तो अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें। बिना डॉक्टर की सलाह के इस कॉम्बिनेशन के डोज में इजाफा या कमी न करें। निर्देशित अवधि से ज्यादा समय तक इसका इस्तेमाल न करें। यदि आपको कुछ ही समय या दिनों में राहत मिल जाती है तो निर्देशित अवधि से पहले इसका इस्तेमाल बंद न करें। ऐसा करने से समस्या दोबारा लौट सकती है।

और पढ़ें : Lobate Gm Neo: लोबाटे जीएम नियो क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन (Ebastine+Phenylephrine) को कैसे स्टोर करना चाहिए?

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना है। ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन के अलग-अलग ब्रांड्स को अलग तरीकों से स्टोर किया जाता है। इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें। सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा न जाए, तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है। आवश्यकता न रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : Clobetasol : क्लोबेटासोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

सावधानी और चेतावनी

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन (Ebastine+Phenylephrine) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें:

  • चार वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन का इस्तेमाल असुरक्षित है। ऐसा करने पर घातक साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं।
  • यदि आपको विगत समय में थाइरॉयड की समस्या रही हो।
  • यदि आपको ह्रदय की गंभीर परेशानियां रही हों।
  • यदि आपको डायबिटीज, प्रोस्टेट इनलार्जमेंट की समस्या है।
  • यदि आप प्रेग्नेंट या ब्रेस्टफीडिंग करा रही हैं। प्रेग्नेंसी के दौरान उन्हीं दवाइयों का सेवन करना चाहिए, जिनका आवश्यकता हो। बिना डॉक्टर की सलाह के आपको किसी भी हर्बल प्रोडक्ट या दवा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इसमें डॉक्टर की सलाह के बिना मार्केट में खरीद के लिए उपलब्ध हर्बल प्रोडक्ट और कंप्लिमेंट्री दवाइयां भी शामिल हैं।
  • यदि आपको ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन के किसी पदार्थ या अन्य दवा या औषधि से एलर्जी है।

और पढ़ें : Sucralfate : सुक्रालफेट क्या है? जानिए उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन (Ebastine+Phenylephrine) को प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान इस दवा के इस्तेमाल की सुरक्षा को लेकर पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले हमेशा इसके संभावित फायदों की तुलना इसके नुकसान से की जानी चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श लें।

अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) ने इसके प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी-C में रखा है।

FDA की प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी निम्नलिखित है:

  • A= कोई खतरा नहीं
  • B= कुछ अध्ययनों में कोई खतरा नहीं
  • C= कुछ खतरे हो सकते हैं
  • D= खतरे के सकारात्मक सुबूत
  • X= सहमति नहीं
  • N= कोई जानकारी नहीं
और पढ़ें : Clonidine : क्लोनिडीन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

साइड इफेक्ट्स

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन (Ebastine+Phenylephrine) के साइड इफेक्ट्स क्या हैं?

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन से आपको निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • दिल की धड़कन का असामान्य रूप से धीमा होना।
  • दिल की मांसपेशियों में असामान्य कॉन्ट्रैक्शन होना।
  • हाइपरटेंशन
  • ह्रदय की धड़कन का असामान्य रूप से तेज होना।
  • सिरदर्द
  • चक्कर आना
  • घबराहट
  • आंख में जलन
  • धुंधला दिखना
  • उबकाई
  • थकावट
  • सुस्ती आना
  • मुंह सूखना
  • अपच
  • नाक से ब्लीडिंग
  • सीने में जकड़न

हालांकि, हर व्यक्ति को यह साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं। उपरोक्त दुष्प्रभाव के अलावा भी ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन के कुछ साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं, जिन्हें ऊपर सूचीबद्ध नहीं किया गया है। यदि आप इसके साइड इफेक्ट्स को लेकर चिंतित हैं तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें।

और पढ़ें : Dolo 650MG Tablet : डोलो 650 एमजी टैबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

रिएक्शन

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन (Ebastine+Phenylephrine) के साथ कौन सी दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं?

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन आपकी मौजूदा दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकता है या दवा का कार्य करने का तरीका बदल सकता है। यह कॉम्बिनेशन समान प्रभाव वाली एंटीहिस्टामाइन और डीकंजेस्टेंट दवाइयों के साथ रिएक्शन कर सकता है। निम्नलिखित दवाइयों के साथ इस कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल करने की सलाह नहीं दी जाती है:

  • एलफुजोसिन (Alfuzosin)
  • एमिओडारोन (Amiodarone)
  • एमिसुल्प्राइड (Amisulpride)
  • एमिट्रिप्टायलाइन (Amitriptyline)
  • एम्प्रेनाविर (Amprenavir)
  • एनाग्रेलाइड (Anagrelide)
  • एपोमोरफाइन (Apomorphine)
  • एरिपिप्राजोल (Aripiprazole)
  • एरिपिप्राजोल लेउरोक्सिल (Aripiprazole Lauroxil)
  • एरेसेनिक ट्रिओक्साइड (Arsenic Trioxide)
  • एरटेमेथर (Artemether)
  • एसेनापाइन (Asenapine)
  • एस्टेमिजोल (Astemizole)
  • एटाजानाविर (Atazanavir)
  • एजिथ्रोमायसिन (Azithromycin)
  • बीडाक्विलाइन (Bedaquiline)
  • बेप्रिडिल (Bepridil)

उपरोक्त दवाइयों के अलावा भी कुछ ऐसी दवाइयां हैं, जिनके साथ इस कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें। किसी भी दवा का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा उसके फायदों की तुलना नुकसान से करना बेहद ही जरूरी है।

और पढ़ें : Ibugesic Plus : इबूगेसिक प्लस क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

क्या एल्कोहॉल के साथ ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन (Ebastine+Phenylephrine) का इस्तेमाल सुरक्षित है?

एल्कोहॉल के साथ ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन का सेवन असुरक्षित है। ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन का एल्कोहॉल के साथ सेवन करने से आपको अतिरिक्त रूप से चक्कर आ सकते हैं या आपको उनींदापन हो सकता है। इस स्थिति में ऐसा कोई कार्य ना करें, जिसमें मानसिक ध्यान लगाने की आवश्यकता हो। जब तक आप स्वस्थ महसूस ना करने लगें तब तक ऐसे किसी कार्य को करने से बचें।

और पढ़ें : Acetylcysteine : एसीटाइलसिस्टिन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन (Ebastine+Phenylephrine) का हेल्थ पर क्या असर पड़ सकता है?

एंटीहिस्टामाइन (antihistamine) दवाइयां सेंट्रल नर्वस सिस्टम को धीमा कर देती हैं, जिसकी वजह से आपको सुस्ती और उनींदापन होता है। यह कॉम्बिनेशन आपकी मौजूदा हेल्थ को प्रभावित कर सकता है। यदि आप बुखार, अन्य प्रकार की एलर्जी, सर्दी या नींद की दवा ले रहे हैं तो इस कॉम्बिनेशन का आपके ऊपर गलत असर पड़ सकता है। यदि आप उपरोक्त समस्या में से किसी की दवा का सेवन कर रहे हैं तो इस कॉम्बिनेशन का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से सूचित करें। दूसरी तरफ डीकंजेस्टेंट दवाइयां सेंट्रल नर्वस सिस्टम को स्टिमुलेंट करती हैं और डायट पर प्रभाव डालती हैं। इस स्थिति में बिना डॉक्टर की मंजूरी के भूख को कंट्रोल करने के लिए इस दवा का प्रयोग ना करें।

और पढ़ें : सीफोटेक्सीम क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन (Ebastine+Phenylephrine) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

ईबैस्टिन+फीनाइलेफ्रीन का डोज मिस हो जाता है तो जल्द से जल्द इसे लें। हालांकि, यदि आपका अगली खुराक का समय नजदीक आ गया है तो भूले हुए डोज को न खाएं। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक न खाएं।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Sunil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 01/04/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x