डायबिटीज पेशेंट्स को नहीं डरना चाहिए फ्रूट्स से, इन फलों का जरूर करें सेवन!

    डायबिटीज पेशेंट्स को नहीं डरना चाहिए फ्रूट्स से, इन फलों का जरूर करें सेवन!

    डायबिटीज (Diabetes) की बीमारी होने पर डायबिटीज पेशेंट के मन में जो एक सवाल सबसे पहले आता है, वो है कि क्या उसे सभी मीठास वाली चीजों से दूरी बनानी होगी? मधुमेह या फिर डायबिटीज होने पर यकीनन मीठी चीजों से दूरी बनानी होती है। डायबिटीज और फल एक साथ सुनने में अजीब लग सकते हैं, क्योंकि फलों में मिठास होती है। फलों में नैचुरल मिठास होती है,जो सेहत के लिए फायदेमंद होती हैं। आपको डायबिटीज और फल का नाम सुनकर डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि ऐसे में अगर आप फ्रूट्स से दूरी बना लेंगे, तो आपको ज्यादा नुकसान होगा। डायबिटीज पेशेंट के लिए फल (Fruit for diabetes patient) सेहत के खजाने की तरह हैं।

    शुगर लेवल (Sugar level) को कंट्रोल करने के लिए खानपान में सख्त डायट होना बहुत जरूरी है। अगर डायट पर ध्यान न दिया जाए, तो डायबिटीज के कारण हार्ट (Heart), किडनी (Kidney) और लिवर (Liver) आदि की बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको डायबिटीज पेशेंट के लिए फल (Fruit for diabetes patient) से संबंधित अहम जानकारी प्रदान करेंगे और साथ ही फलों से पहुंचने वाले लाभों के बारे में भी बताएंगे।

    और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज में न्यू ड्रग ट्रीटमेंट : जानिए क्या है ये खास ट्रीटमेंट?

    डायबिटीज पेशेंट के लिए फल (Fruit for diabetes patient)

    फ्रूट्स में कार्बोहायड्रेट के साथ ही नैचुरल शुगर होती है, जिसे फ्रक्टोज के नाम से जाना जाता है। फ्रक्टोज भले ही ब्लड में शुगर की मात्रा को बढ़ाने का काम करता है लेकिन सभी फल ऐसा नहीं करते हैं। फलों में विटामिन (Vitamins), मिनिरल्स (Minerals) के साथ ही फाइटोकैमिकल्स पाए जाते हैं। ये हार्ट डिजीज (Heart disease), कैंसर (Cancer) के साथ ही स्ट्रोक के खतरे को भी कम करने का काम करते हैं। बहुत से फ्रूट्स में अधिक मात्रा में फाइबर पाई जाती है, जो डायजेशन को बेहतर बनाने के साथ ही शुगर स्पाइक से बचा सकते हैं।

    आप फ्रूट्स का सेवन करने के अपने ब्लड शुगर लेवल की जांच भी करते रहे। दवाइयों का सही समय पर सेवन और लाइफस्टाइल च्वॉइज को बेहतर बनाकर आप बेहतर जीवन जी सकते हैं। डायबिटीज पेशेंट (Diabetic patient) ज्यादातर फलों का सेवन कर सकते हैं। कुछ फल जैसे कि सूखा खजूर, अन्नानास, पका हुआ केला आदि के सेवन से बचना चाहिए। बाकी फलों का सेवन किया जा सकता है। जानिए मधुमेह में फल संबंधित अहम जानकारियों के बारे में।

    और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज और GI इशूज : क्या है दोनों के बीच में संबंध, जानिए

    डायबिटीज पेशेंट के लिए फल (Fruit for diabetes patient) में शामिल करें सेब

    अगर आप रोजाना एक सेब खाते हैं, तो आप कई बीमारियों से बच सकते हैं। डायबिटीज में सेब (Apple) का सेवन किया जा सकता है। सेब में शुगर, फाइबर और कार्बोहाइड्रेट की पर्याप्त मात्रा पाई जाती है। सेब में विटामिन ई, विटामिन ए (Vitamin A), , विटामिन के और विटामिन बी (Vitamin B), फाइबर, कैल्शियम, प्रोटीन, सोडियम, विटामिन सी (vitamin C), जिंक आदि पाए जाते हैं। डायबिटीज पेशेंट के लिए फल (Fruit for diabetes patient) में सेब को बिना किसी परेशानी के शामिल किया जा सकता है।

    डायबिटीज पेशेंट के लिए फल (Fruit for diabetes patient) में शामिल करें तरबूज

    गर्मियों में तरबूज की डिमांड बढ़ जाती है। तरबूज में नैचुरल मिठास होने के साथ ही ये न्यूट्रिएंट्स का खजाना होता है। तरबूज में विटामिन ए, विटामिन बी 1 (Vitamin B1) , विटामिन बी 6, विटामिन सी (Vitamin C), पोटैशियम, मैग्नीशियम, फाइबर (Fiber), आयरन, कैल्शियम आदि होते हैं। तरबूत का सेवन सीमित मात्रा में ही करें। आप रोजाना अलग-अलग फलों का सेवन कर सकते हैं। तरबूज की जीआई हाय होती है, इसलिए आपको बहुत कम मात्रा में इसका सेवन करना चाहिए।

    और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज के लॉन्ग टर्म कॉम्प्लीकेशन में शामिल हो सकती हैं ये समस्याएं!

    डायबिटीज है तो खाएं नाशपाती (Pear)

    नाशपाती (Pear) का स्वाद मीठा होता है और ये विटामिन सी से भरपूर फल है। हम सभी जानते हैं कि हमारे शरीर की इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में विटामिन सी (Vitamin C) अहम रोल अदा करता है। मजबूत इम्यूनिटी के कारण शरीर कई संक्रमण से लड़ने में सक्षम हो जाता है। डायबिटीज पेशेंट के लिए फल (Fruit for diabetes patient) में नाशपाती को शामिल करना अच्छा विकल्प है। आप दिन में एक नाशपाती का सेवन कर सकते हैं।

    सेहत से भरपूर है स्ट्रॉबेरी (Strawberry)

    स्ट्रॉबेरी जितना दिखने में अच्छा होता है, उतना ही उसका स्वाद भी अच्छा होता है। स्ट्रॉबेरी में मिनिरल्स साथ ही इसमें प्रोटीन, नियासिन और जरूरी मिनिरल्स होते हैं। करीब 100 ग्राम फल में 33 कैलोरी होती है। सोडियम, पोटैशियम के साथ ही इसमें विटामिन सी भी होती है। ये आयरन और मैग्नीशियम का भी सोर्स है।

    डायबिटीज में उपरोक्त दिए गए फलों के साथ ही आड़ू, बेर, पपीता (Papaya), कम पका केला, आम, संतरा, अंगूर, ब्लू बैरीज, शहतूत (Blackberries) आदि का सेवन भी कर सकते हैं। आप अगर अपनी डायट में किसी फल को शामिल करने जा रहे हैं, तो डॉक्टर से इस बारे में जानकारी जरूर लें।

    और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज और जंक फूड : यह स्वादिष्ट आहार कहीं बन ना जाए जी का जंजाल!

    मधुमेह के पेशेंट्स के लिए ड्राय फ्रूट्स (Dry fruits for diabetic patients)

    मधुमेह के पेशेंट्स के लिए ड्राई फ्रूट्स का विकल्प भी बेहतर होता है। अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन (American Diabetes Association ) की मानें, तो ड्राई फ्रूट्स (Dried fruit) मधुमेह के पेशेंट्स के लिए गुड ऑप्शन है लेकिन पोर्शन साइज छोटा होना चाहिए। यानी आप कम मात्रा में ड्राई फ्रूट्स (Dried fruit) का सेवन भी कर सकते हैं। अगर आप अधिक मात्रा में किशमिश का सेवन करते हैं, तो ब्लड में तेजी से शुगर के लेवल को बढ़ा सकता है, इसलिए सावधानी रखना बहुत जरूरी है।

    डायबिटीज पेशेंट के लिए फल (Fruit for diabetes patient) चुनते वक्त इन बातों का रखें ध्यान

    • डायबिटीज में फलों का सेवन करने के दौरान आपको कुछ बातों का ख्याल रखने की भी जरूरत है। ड्राइड फ्रूट्स खाते समय पोर्शन साइज का ध्यान रखें।
    • हमेशा ताजे फलों का सेवन करें। बेहतर होगा कि आप प्रोसेस्ड फ्रूट्स को खाने में शामिल न करें। प्रोसेस्ड फ्रूट्स (Processed fruits) ब्लड शुगर लेवल को तेजी से बढ़ा सकते हैं।
    • डायबिटीज पेशेंट के लिए फल बेहतर होता है या फिर जूस, जो इसका जवाब है फल। फलों के जूस को पीने से बेहतर है आप फल खाएं। फलों के जूस का सेवन करने से पर्याप्त मात्रा में फाइबर मिल जाता है, जो डायजेशन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आप चाहे तो जूस का सेवन कर सकते हैं।
    • एक साथ फलों का सेवन करने से बचें। आप एक फल नाश्ते में खा सकते हैं दूसरा फल लंच के बाद।
    • पैक्ड जूस में एडेड शुगर होती है, तो ये आपके लिए हानिकारक हो सकती है।

    डायबिटीज पेशेंट के लिए फल (fruit for diabetes patient) का चयन करने से पहले फलों में उपस्थित कार्ब की मात्रा के बारे में जानकारी बहुत जरूरी है। 1/2 मीडियम सेब या केला, 1 कप ब्लैकबेरी या रास्पबेरी, 3/4 कप ब्लूबेरी, 1 कप स्ट्रॉबेरी 1 कप हनीड्यू मेलन और 1/8 कप किशमिश (Raisin) में 15 ग्राम कार्ब होता है। आज फलों का सेवन करने से पहले एक्सपर्ट या डॉक्टर से इस बारे में जानकारी जरूर लें कि दिन में कितने फल खाएं जा सकते हैं या फिर किन फलों का चुनाव करना बेहतर होगा। बिना जानकारी के फलों का अधिक सेवन आपको नुकसान पहुंचा सकता है।

    और पढ़ें: टाइप 2 डायबिटीज का आयुर्वेदिक उपचार: क्या इसे जड़ से खत्म किया जा सकता है, जानें एक्सपर्ट की राय

    हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता हैं। इस आर्टिकल के माध्यम से आपको डायबिटीज पेशेंट के लिए फल (fruit for diabetes patient) से संबंधित जानकारी मिल गई होगी। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Diabetes diet, eating, & physical activity
    https://www.niddk.nih.gov/health-information/diabetes/overview/diet-eating-physical-activity/Accessed on 16/8/2021

    Diabetes meal planning.
    https://www.cdc.gov/diabetes/managing/eat-well/meal-plan-method.html/Accessed on 16/8/2021

    Fresh fruit consumption in relation to incident diabetes and diabetic vascular complications: A 7-y prospective study of 0.5 million Chinese adults.
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5388466/Accessed on 16/8/2021

    Diabetes and fruit
    https://www.diabetes.org.uk/guide-to-diabetes/enjoy-food/eating-with-diabetes/food-groups/fruit-and-diabetes/Accessed on 16/8/2021

    Fruit/https://www.diabetes.org/healthy-living/recipes-nutrition/eating-well/fruit/Accessed on 16/8/2021

    लेखक की तस्वीर badge
    Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/11/2021 को
    Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड