backup og meta

टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी को लेकर क्या कहती है रिसर्च? जानें

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 14/01/2022

    टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी को लेकर क्या कहती है रिसर्च? जानें

    डायबिटीज (Diabetes) को मैनेज करने के लिए एक्सरसाइज महत्वपूर्ण मानी जाती है। जिसमें खासकर एरोबिक एक्सरसाइज करने की सलाह दी जाती है। जिसमें वॉकिंग, स्वीमिंग और जॉगिंग आदि शामिल हैं। डायबिटीज पेशेंट के लिए एक्सरसाइज ब्लड शुगर लेवल और वेट को कंट्रोल में रखने में मदद करती हैं। हालांकि, हर डायबिटीज के पेशेंट की एक्सरसाइज करने की कैपिसिटी में अंतर होता है। टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी (Exercise Capacity of Obese Type 2 diabetes Patient) में काफी अंतर देखने को मिलता है। जो उनकी उम्र, जेंडर और बॉडी पर आधारित होता है। टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी के विषय पर की गई स्टडी में इस बात का खुलासा हुआ है। चलिए इसके बारे में विस्तार से जान लेते हैं।

    टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी (Exercise Capacity of Obese Type 2 diabetes Patient)

    डायबिटीज जर्नल में छपी स्टडी के अनुसार हमने कार्डियोवैस्कुलर, मेटाबॉलिक और बॉडी कंपोजिशन के साथ एक्सरसाइज कैपेसिटी को मेजर करने के लिए 5,145 ओवरवेट या ओबेस महिला और पुरुषों का अध्ययन किया जो टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित थे। इस स्टडी में हमने ट्रेडमिल स्पीड और ग्रेड को मेजर किया। साथ ही कमर की चौड़ाई (Waist circumference), बीएमआई, टाइप 2 डायबिटीज का ड्यूरेशन, किस प्रकार की दवाओं का यूज किया जा रहा, कार्डियोवैस्कुलकर डिजीज की हिस्ट्री, मेटाबॉलिक सिंड्रोम, बीटा ब्लॉकर का उपयोग, रेस (Race) को भी मेजर किया।

    और पढ़ें: जानिए टाइप 2 डायबिटीज पेशेंट के लिए क्यों है कैल्शियम एवं मैग्नीशियम आवश्यक

    टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी पर की गई स्टडी का रिजल्ट

    इस स्टडी में यह सामने आया कि टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी (Exercise Capacity of Obese Type 2 diabetes Patient) में अंतर हो सकता है। क्योंकि स्टडी में हमने पाया कि पीक एक्सरसाइज कैपिसिटी महिलाओं की तुलना में पुरुषों में अधिक थी। इसके साथ ही उम्र बढ़ने के साथ दोनों जेंडर की एक्सरसाइज कैपेसिटी में गिरावट आई और बीएमआई और कमर की परिधि के स्तर waist circumference levels में वृद्धि हुई। उम्र बढ़ने से कमर की परिध और बीएमआई में वृद्धि हुई, डायबिटीज की लंबी अवधि ग्लायकेटेड हीमोग्लोबिन (Glycated hemoglobin) की वृद्धि का कारण बनी।

    कार्डियोवैस्कुलर बीमारी का इतिहास, मेटाबोलिक सिंड्रोम का होना, बीटा ब्लॉकर का उपयोग, और कोकेशियान (श्वेत लोग) होने की तुलना में अफ्रीकी अमेरिकी होने का कारण दोनों जेंडर के लिए लोअर एक्सरसाइज कैपेसिटी से जुड़े थे। उच्च रक्तचाप और मधुमेह की दवाओं का उपयोग महिलाओं में निम्नतम व्यायाम क्षमता से जुड़ा था।

    स्टडी के सारांश में बताया गया कि टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी (Exercise Capacity of Obese Type 2 diabetes Patient) भिन्न होती है। मधुमेह वाले मरीज जो अधिक वजन या मोटापे से ग्रस्त हैं, उनमें व्यायाम क्षमता क्षीण होती है, जो मुख्य रूप से उम्र, महिला लिंग और नस्ल के साथ-साथ खराब चयापचय नियंत्रण (Poor metabolic control), बीएमआई (BMI) और केंद्रीय मोटापे (Central obesity) से संबंधित है।

    एक्सरसाइज कैपेसिटी (Exercise Capacity) क्या है?

    एक्सरसाइज कैपेसिटी फिजिकल एर्ग्जशन की अधिकतम मात्रा है जिसे एक रोगी बनाए रख सकता है। व्यायाम क्षमता के सटीक मूल्यांकन के लिए आवश्यक है कि अधिकतम एर्ग्जशन र्प्याप्त रूप से लंबे समय के लिए हो जिसका सर्कुलेशन पर एक स्थिर प्रभाव हो और मरीज का उसके प्रति रिस्पॉन्स कंसिस्टेंट हो जब परिश्रम को दोहराया जाए।

    और पढ़ें: डायबिटीज नर्व पेन के लिए एक्सरसाइज : समस्या में आराम पाने का है अच्छा उपाय!

    टाइप 2 डायबिटीज और एक्सरसाइज (Type 2 diabetes and exercise)

    टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी (Exercise Capacity of Obese Type 2 diabetes Patient) के बाद ये भी जान लीजिए कि टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों को कौन सी एक्सरसाइज करनी चाहिए। जब लोग टाइप 2 डायबिटीज के लिए डायग्नोस होते हैं। वे ओवरवेट होते हैं। ऐसे में एक्सरसाइज करना कठिन लग सकता है, लेकिन अपने स्वास्थ्य के लिए एक अच्छी शुरुआत करना जरूरी है। इसलिए एक अच्छा एक्सरसाइज प्लान बनाया जा सकता है, लेकिन इसके पहले आपको डॉक्टर से सलाह लेनी होगी।

    डॉक्टर मरीज की हार्ट हेल्थ के बारे में पता करेंगे जो कि काफी जरूरी है अगर आपकी आर्टरीज ब्लॉक हो गई हैं या आपको हार्ट ब्लड प्रेशर की परेशानी है। इसके साथ ही डॉक्टर किसी प्रकार की डायबिटीज से संबंधित कॉम्प्लिकेशन जैसे कि रेटिनोपैथी, न्यूरोपैथी होने पर उसके हिसाब से एक्सरसाइज सजेस्ट करेंगे।

    एक्सरसाइज रूटीन सेट करने से पहले इस बात का ध्यान रखें कि आपका गोल रियलस्टिक हो। अगर पहले से एक्सरसाइज नहीं कर रहे हैं तो शुरुआत स्लो करें और फिर धीरे-धीरे बढ़ाएं। साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि पानी एक्सरसाइज के दौरान खुद को हायड्रेट रखें। टाइप 2 मधुमेह का निदान होने से आपका जीवन बदल जाता है, लेकिन अपनी दिनचर्या में छोटे-छोटे बदलाव करने से आपको अपने दिन में अधिक शारीरिक गतिविधि शामिल करने में मदद मिल सकती है।

    टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी (Exercise Capacity of Obese Type 2 diabetes Patient) और एक्सरसाइज रूटीन की शुरुआत कैसे करनी चाहिए ये तो आप समझ ही चुके हैं। अब ये भी जान लीजिए कि कौन सी एक्सरसाइज की जा सकती हैं।

    एरोबिक एक्सरसाइज (Aerobic exercise)

    हर हफ्ते 30 मिनट कार्डियो या एरोबिक एक्सरसाइज करें। अगर 30 मिनिट मुश्किल लग रहे हैं तो आप एक्सरसाइज को शॉर्ट पीरियड्स में ब्रेक कर सकते हैं। एरोबिक एक्सरसाइज में निम्न शामिल हैं।

  • टेनिस
  • जुंबा
  • जॉगिंग और रनिंग
  • वॉकिंग
  • बास्केटबॉल
  • स्विमिंग
  • धीरे-धीरे 30 मिनट में कुछ और मिनट एड करना शुरू करें। इसके अलावा, जब व्यायाम में फिट होने की बात आती है तो अपनी रचनात्मकता को बढ़ाएं। दोपहर के भोजन पर टहलें, या बास्केटबॉल के गेम के लिए रात के खाने के बाद पूरे परिवार को बाहर ले जाएं। याद रखें कि अपने कुत्ते को टहलाना व्यायाम का एक रूप है। सीढ़ियां चढ़ना व्यायाम है। अपनी कार से और स्टोर में चलना व्यायाम है। इसलिए कार को दूर पार्क करें।

    और पढ़ें: डायबिटीज में एरोबिक एक्सरसाइज: मधुमेह के रोगियों के लिए बेहद फायदेमंद साबित हो सकते हैं ये व्यायाम!

    स्ट्रेंथ ट्रेनिंग (Strength training)

    एक बार जब आप एरोबिक एक्टिविटी को अपने रूटील में शामिल करने में सक्षम हो जाते हैं, तो आप कुछ रेजिस्टेंस ट्रेनिंग को एड करना शुरू कर सकते हैं। स्ट्रेंथ ट्रेनिंग आपको लीन, मसल्स को प्राप्त करने में मदद करता है। वॉक या जॉगिंग के साथ स्ट्रेंथ ट्रेनिंग को जोड़ने से स्ट्रॉन्ग और हेल्दी बोन्स प्राप्त करने में मदद मिलती है। टाइप 2 मधुमेह होने पर फैट के स्थान पर अधिक मांसपेशियों का निर्माण विशेष रूप से फायदेमंद होता है क्योंकि मांसपेशियां सबसे अधिक ग्लूकोज का उपयोग करती हैं, इसलिए जितना अधिक आप अपनी मांसपेशियों का उपयोग करेंगे, आप अपने रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में उतने ही प्रभावी होंगे।

    वेट ट्रेनिंग स्ट्रेंथ बिल्डिंग टेक्नीक से एक है। जब आप एक वेट लिफ्टिंग कार्यक्रम की शुरुआत कर रहे हों, तो सुनिश्चित करें कि आप सभी उपकरणों का उपयोग करना जानते हैं। जिम के कर्मचारियों से पूछें कि आपको वजन का सही तरीके से उपयोग कैसे करना चाहिए, या अपने लिए सर्वोत्तम व्यायाम सीखने के लिए एक निजी प्रशिक्षक लेने पर विचार करें। स्ट्रेंथ ट्रेनिंग के पूर्ण लाभ प्राप्त करने के लिए सप्ताह में दो या तीन बार 20-30 मिनट के लिए वजन उठाना पर्याप्त है।

    टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी (Exercise Capacity of Obese Type 2 diabetes Patient)

    फ्लैग्जिबिलिटी एक्सरसाइज (Flexibility Exercises)

    लचीलेपन के प्रशिक्षण के साथ, आप महसूस करेंगे कि आपकी मांसपेशियां और जोड़ कितनी अच्छी तरह काम कर रहे हैं। व्यायाम से पहले और बाद में (विशेषकर व्यायाम के बाद) स्ट्रेचिंग करने से मांसपेशियों में दर्द कम होता है और वास्तव में आपकी मांसपेशियों को आराम मिलता है।

    और पढ़ें: क्या डायबिटीज में बैलेंस एक्सरसाइज के फायदों से अंजान हैं आप?

    उम्मीद करते हैं कि आपको टाइप 2 डायबिटीज के ओबेस पेशेंट्स में एक्सरसाइज कैपेसिटी (Exercise Capacity of Obese Type 2 diabetes Patient) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

     

    डिस्क्लेमर

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. प्रणाली पाटील

    फार्मेसी · Hello Swasthya


    Manjari Khare द्वारा लिखित · अपडेटेड 14/01/2022

    advertisement iconadvertisement

    Was this article helpful?

    advertisement iconadvertisement
    advertisement iconadvertisement