एयर स्‍क्‍वैट (Air squat) क्या है, जानिए इसके लाभ

    एयर स्‍क्‍वैट (Air squat) क्या है, जानिए इसके लाभ

    स्‍क्वैट एक्सरसाइज व्यायाम का बेहतरीन तरीका है, जिससे पूरे शरीर का व्यायाम होता है। शरीर के निचले भाग और टांगों के लिए यह एक्सरसाइज बहुत ही अच्छी मानी जाती है। एयर स्‍क्‍वैट (Air squat) भी इसी एक्सरसाइज का एक प्रकार है जिसे बॉडीवेट स्‍क्‍वैट के नाम से भी जाना जाता है। क्रॉसफिट ट्रेनिंग प्रोग्राम और वर्कआउट रुटीन में इसका प्रयोग सामान्य तौर पर किया जाता है। एयर स्‍क्‍वैट (Air squat) में केवल अपने शरीर के वजन का ही प्रयोग किया जाता है। हालांकि, सामान्य स्‍क्वैट में अतिरिक्त वजन का प्रयोग भी किया जाता है। अपनी जांघों और कूल्हों की चर्बी को कम करने में भी यह एक्सरसाइज बेहतरीन है। जानिए एयर स्‍क्वैट (Air squat) क्या हैं और इसके लाभ विस्तार से।

    और पढ़ें : बच्चों के लिए पिलाटे एक्सरसाइज हो सकती है फायदेमंद, बढ़ाती है एकाग्रता

    ऐस करें एयर स्‍क्वैट (Air squat)

    Air squat

    • एयर स्‍क्वैट (Air squat) करने के लिए सीधे खड़े हो जाएं। आपके पैरों में दूरी होनी चाहिए और अपनी बाजुओं को सीधा रखें।
    • कूल्हों को पीछे की तरफ करते हुए इस तरह से नीचे जमीन की तरफ ले जाएं, जैसे आप किसी कुर्सी पर बैठ रहे हों।
    • आपके कूल्हे आपके घुटनों से नीचे होने चाहिए।
    • जैसे कूल्हे नीचे जाएंगे, अपने हाथों को भी अपने सामने ला कर जोड़ लें।
    • ध्यान रहे, इस दौरान आपके शरीर का ऊपरी भाग बिल्कुल सीधा हो।
    • कुछ देर इसी स्थिति में रहने के बाद अपनी सामान्य स्थिति में आ जाएं।
    • इस एक्सरसाइज को दोहराएं।

    और पढ़ें : एथलीट्स से जिम जाने वालों तक, जानिए कैसे व्हे प्रोटीन आपके रूटीन में हो सकता है एड

    एयर स्‍क्वैट के लाभ (Benefits of air squat)

    सामान्य स्‍क्वैट के फायदे तो हम सभी जानते हैं। अगर आप सामान्य स्‍क्वैट अच्छे से कर सकते हैं, तो अब समय है एक लेवल आगे बढ़ने का। सामान्य स्‍क्वैट के मुकाबले एयर स्‍क्वैट अधिक चुनौतीपूर्ण है। यही नहीं, इसे करना भी सामान्य स्‍क्वैट से 10 गुना अधिक मुश्किल है। करना मुश्किल है का अर्थ यह है कि यह सामान्य स्‍क्वैट से उतना ही अधिक फायदेमंद भी हैं। जानिए क्या लाभ हैं इसके

    शरीर के निचले हिस्से को मजबूत बनाए (Make the lower body strong)

    एयर स्‍क्वैट हमारे शरीर के निचले हिस्से के संतुलन को बनाए रखने और निचले हिस्से को मजबूत करने में मददगार है। एयर स्‍क्वैट शरीर के निचले हिस्सों जैसे जांघों, पैरों, क्वाड्रिसेप्स आदि के संतुलन को बनाए रखने में लाभदायक है। एयर स्‍क्वैट करने से हमारे शरीर के यह अंग शेप में आते हैं।

    और पढ़ें : ऑटोइम्यून डिसऑर्डर के मरीजों के लिए एक्सरसाइज से जुड़े टिप्स

    मसल्स बनाए (Make muscles)

    एयर स्‍क्वैट से मसल्स के लिए लाभदायक है। इस व्यायाम से मसल्स बनने में सहायता मिलती है। इसे करने से हम अपने शरीर के अतिरिक्त कैलोरी कम होती है।

    शरीर का संतुलन बनाए (Balance the body)

    शरीर के संतुलन, लचीलेपन और गतिशीलता को बढ़ाने में भी एयर स्‍क्वैट लाभदायक है। इसे करने से आपकी व्यायाम करने की परफॉरमेंस बढ़ती है, जिससे आप अधिक तेजी से दौड़ सकते हैं और अच्छा कूद सकते हैं। यानी इस एक व्यायाम के कई फायदे हैं।

    और पढ़ें : वजन कम करने में फायदेमंद हैं ये योगासन, जरूर करें ट्राई

    करना है आसान

    एयर स्‍क्वैट को आप कहीं भी कर सकते हैं। इसे करने के लिए आपको किसी खास उपकरण की आवश्यकता नहीं पड़ती। इसे करने से आप कुछ ही समय में मजबूत, सुंदर और स्वस्थ बन सकते हैं। अगर आप रोजाना इसे करते हैं, तो आपको अन्य किसी व्यायाम की आवश्यकता नहीं पड़ती।

    पूरे शरीर का व्यायाम

    एयर स्‍क्वैट करने के लिए आपको अधिक जगह की आवश्यकता नहीं पड़ती। इससे पूरे शरीर का अच्छे से व्यायाम हो जाता है। अगर आप अच्छे से एयर स्‍क्वैट करते हैं, तो आपकी टांगों और कूल्हों के मसल्स का अच्छे से व्यायाम हो जाता है। इसके साथ ही हमारे कोर, पीठ और कंधों की भी एक्सरसाइज अच्छे से हो जाती है, जिससे यह मजबूत होते हैं।

    शरीर की मोबिलिटी बढ़ाए (Increase body mobility)

    एयर स्‍क्वैट करने से हमारे शरीर की मोबिलिटी यानी गतिशीलता बढ़ती है। स्‍क्वैट करने के लिए आपके कूल्हे, एड़िया और धड़ का संतुलन होना जरूरी है। रोजाना एयर स्‍क्वैट करने से हमारे शरीर के हर जोड़ की मजबूती और लचीलापन बढ़ता है, जिससे व्यायाम करते हुए चोट लगने की संभावना कम हो जाती है।

    और पढ़ें : पुरानी एक्सरसाइज से हो गए हैं बोर तो ट्राई करें केलेस्थेनिक्स वर्कआउट

    एक्टिव बनाए

    यह फंक्शनल फिटनेस का ही तरीका है। अगर अपने रोजाना के वर्कआउट में एयर स्‍क्वैट करते हैं, तो आप अपने रोजाना की गतिविधियों से कम थकते हैं, तो कम चोटिल होते हैं। यही नहीं, यह एक्सरसाइज आपको शारीरिक और मानसिक दोनों रूप से मजबूत बनाएगी।

    हार्ट के लिए बेहतरीन (Best for heart)

    इसे करने के शरीर का बेहतरीन तरीके से निचला हिस्सा कसता है, क्योंकि इसमें हमारा शरीर सामान्य स्‍क्वैट से अधिक मूवमेंट करता है। इसके साथ ही, इसके करते हुए हमारा हार्ट रेट बढ़ता है। यानी हमारे हार्ट के लिए यह एक्सरसाइज बहुत अच्छी है।

    अगर आप सूर्य नमस्कार करना चाहते हैं, तो देखें ये वीडियो-

    और पढ़ें : फिटनेस के लिए कुछ इस तरह करें घर पर व्यायाम

    अगर आप अपने घुटनों में दर्द महसूस करते हैं, तो हो सकता है कि आप इस एक्सरसाइज को सही से नहीं कर रहे हैं। अपने पैरों की एड़ियों की जगह पैर की उंगलियों पर भार डालने के कारण घुटनों में दर्द हो सकता है। अगर आप कमर में दर्द महसूस करते हैं तो यह स्‍क्वैट करते हुए अपनी छाती को अनजाने में आगे की तरफ अधिक झुकाने के कारण ऐसा हो सकता है, जिससे कमर के निचले भाग में खिंचाव आता है। इसके कारण आप रोजाना एयर स्‍क्वैट नहीं करना चाहिए। इसकी जगह, आपको सप्ताह में कम से कम एक दिन आराम करना चाहिए, ताकि मांसपेशियां ठीक हो सकें और बढ़ सकें।

    एयर स्‍क्वैट पूरे शरीर का व्यायाम करने का अच्छा तरीका है। अन्य एक्सरसाइज की जगह अगर आप आप एयर स्‍क्वैट ही करते हैं, तब भी आपको उसका फायदा मिलेगा, लेकिन पूरी तरफ से सीखने या किसी ऐसे व्यक्ति के मार्गदर्शन के बाद ही इसे करें, जो इसमें निपुण हो, क्योंकि खुद से इसे करना आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है।

    एयर स्क्वैट जिसे बॉडी वेट स्क्वैट भी कहा जाता है सबसे जरूरी मूवमेंट में से एक है। यह एक्सट्रा वेट का उपयोग किए बिना एक रेगुलर स्क्वाट है। इस एक्सरसाइज का उपयोग अक्सर एंड्योरेंस, फैट बर्निंग और शरीर के लोअर पार्ट की स्ट्रेंथ बढ़ाने और कोर स्ट्रेंथ के लिए किया जाता है। यह सभी लेवल के एथलीटों के लिए जरूरी है। सही तरह से स्क्वाट करना शरीर के पूरे विकास के लिए अच्छा होता है। एयर स्क्वैट हमेशा बॉडी की स्ट्रेंथ के लिए अच्छा होता है। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी प्रकार की चिकित्सा और उपचार प्रदान नहीं करता है। हम उम्मीद करते हैं कि आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। आप स्वास्थ्य संबंधी अधिक जानकारी के लिए हैलो स्वास्थ्य की वेबसाइट विजिट कर सकते हैं। अगर आपके मन में कोई प्रश्न है, तो हैलो स्वास्थ्य के फेसबुक पेज में आप कमेंट बॉक्स में प्रश्न पूछ सकते हैं और अन्य लोगों के साथ साझा कर सकते हैं।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. हेमाक्षी जत्तानी

    डेंटिस्ट्री · Consultant Orthodontist


    Anu sharma द्वारा लिखित · अपडेटेड 21/10/2021

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement