home

What are your concerns?

close
Inaccurate
Hard to understand
Other

लिंक कॉपी करें

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री को हुआ कोरोना, कोविड-19 की दूसरी जांच आई पॉजिटिव

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री को हुआ कोरोना, कोविड-19 की दूसरी जांच आई पॉजिटिव

इन दिनों भारत में दो प्रदेशों का नाम सबकी जुबान पर है। एक तो है देश की आर्थिक राजधानी मुंबई और वहीं दूसरा प्रदेश है, देश की राजधानी दिल्ली। ये दोनों प्रदेश इस समय कोरोना के हॉटस्पॉट बने हैं। ऐसे में दिल्ली से एक खबर आई कि दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री को कोरोना जैसे लक्षण दिखाई दिए है। उन्हें 15 जून, 2020 की रात को दिल्ली के राजीव गांधी सुपर स्पेशियालिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को सांस लेने में समस्या और तेज बुखार जैसी समस्या हुई थी। जिसके बाद दोबारा हुई जांच में वो कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। आइए जानते हैं दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षण और अन्य कोरोना के लक्षणों के बारे में विस्तार से :

और पढ़ें : दिल्ली और मुंबई ने लॉकडाउन व सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं किया सख्ती से पालन!

दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षण आए सामने

दिल्ली में कोरोना के मामले दिन बदिन बढ़ते ही जा रहे हैं। ऐसे में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री की सेहत खराब हो गई है। दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षण दिखाई दिए है। वर्तमान में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की हालत 15 जून, 2020 की रात को ज्यादा खराब हो गई थी। उन्हें सांस लेने में समस्या होने के साथ ही उन्हें तेज बुखार हो गया। जिसके बाद दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को दिल्ली के राजीव गांधी सुपर स्पेशियालिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया जहां पर दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षण की जांच की गई। दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षण के आधार पर की गई जांच की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। लेकिन उनका बुखार ठीक ना होने पर डॉक्टर ने फिर से कोविड की जांच करने की सलाह दी। ऐसे में उनकी दूसरी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई है।

और पढ़ें : महामारी पर महंगाई की मार झेल रहे हैं गैर-कोरोना मरीज, ट्रीटमेंट चार्जेज की बढ़ोत्तरी से हैं परेशान

दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने ट्वीट कर के दी जानकारी

दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षणDelhi Health Minister Satyender Jain Tested for COVID-19

दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षण की जानकारी खुद दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दी। उन्होंने ट्वीट कर के कहा कि “मुझे कल रात में तेज बुखार हो गया और साथ में ऑक्सीजन का लेवल भी कम हो गया। मैंने खुद को राजीव गांधी सुपर स्पेशियालिटी हॉस्पिटल में एडमिट करा लिया है। ” इस पर दिल्ली के मुख्यमंत्री ने उन्हें जल्दी ही ठीक होने की शुभकामना भी दी है। वहीं, उनके स्वास्थ्य के गंभीरता को देखते हुए राजीव गांधी सुपर स्पेशियालिटी हॉस्पिटल के डॉक्टर्स ने उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट सिस्टम पर रख दिया था। 16 जून, 2020 की सुबह कोविड-19 की जांच की।

दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षणDelhi Health Minister Satyender Jain Tested for COVID-19

इसके बाद रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षण बने रहे, तो डॉक्टर्स ने फिर से कोविड-19 का टेस्ट करने के लिए कहा। दोबारा आई रिपोर्ट में सत्येंद्र जैन कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसके बाद उन्होंने खुद को सेल्फ आइसोलेट कर लिया है। ये बात उन्होंने ट्वीट कर के दी कि वे कोरोना पॉजिटिव है।

और पढ़ें : कोविड-19 सर्वाइवर आश्विन ने शेयर किया अपना अनुभव कि उन्होंने कोरोना से कैसे जीता ये जंग

दिल्ली के मुख्यमंत्री में भी सामने आए थे कोरोना के लक्षण

कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से जहां दिल्ली बेहाल है वहीं, 9 जून,2020 को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तबीयत अचानक बिगड़ गई। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के स्वास्थ्य को लेकर मीडिया में उनमें गले की खराश और हल्के बुखार की जानकारी दी थी। उस वक्त अरविंद केजरीवाल में कोरोना के लक्षण होने की वजह से उन्होंने खुद को होम आइसोलेट कर लिया था। उनमें दिखने वाले कोरोना के लक्षण जैसे कि बुखार और गले में खराश की समस्या पाई गई। उन्हें डायबिटीज की परेशानी है, इसलिए वे कोरोना के हाई रिस्क पर थे। इसलिए 10 जून, 2020 को सीएम अरविंद केजरीवाल का कोरोना टेस्ट करवाया गया। जिसके बाद उसी दिन शाम को उनकी नोवल कोरोना की जांच की रिपोर्ट निगेटिव आई।

और पढ़ें : एक्सपर्ट ने दी कोरोनावायरस (कोविड-19) ट्रेवल एडवाइस, यात्रा में रहेंगे सेफ

कोरोना वायरस के सामान्य लक्षण क्या हैं?

कोरोना के लक्षण निम्न हैं, जो बेहद सामान्य है :

दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षण में तेज बुखार और सांस लेने में समस्या महसूस हुई। इसलिए डॉक्टर ने उनका कोविड-19 टेस्ट किया।

इसके अलावा जर्मनी के एक्सपर्ट्स के मुताबिक ये बात मानी गई है कि कोरोना से संक्रमित लोगों में सूंघने और स्वाद लेने की क्षमता कमजोर हो जाती है। कहने का मतलब ये है कि लोगों में कोरोना संक्रमण होने पर टेस्ट और स्मेल पावर पर फर्क पड़ता है जिससे किसी चीज की ना तो महक मिलती है और ना ही स्वाद। स्वाद और महक के लक्षण 66 प्रतिशत मरीजों में नजर आए हैं। कोरोना का एक अन्य लक्षण डायरिया भी हो सकता है। कोरोना के 20 प्रतिशत मरीजों में डायरिया की शिकायत देखने को मिली है।

और पढ़ें : सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है कोरोना का इलाज, सतर्क रहें इस फर्जी प्रिस्क्रिप्शन से

कोरोना संक्रमण से इम्यूनिटी हो जाती है कमजोर

हाल ही में आई एक स्टडी के मुताबिक जिन लोगों का इम्यून सिस्टम कमजोर होता है, ऐसे लोगों को ये जानकारी बिल्कुल नहीं हो पाई थी कि वे संक्रमित कैसे हो गए। ज्यादातर मरीजों का कहना था कि वे किसी भी संक्रमित व्यक्तियों के संपर्क में आए ही नहीं हैं। स्टडी में पाया गया कि जिन लोगों को पेट संबंधी समस्या थी, उनकी समस्या समय के साथ ज्यादा बढ़ गई। वहीं, जिन लोगों में डायजेस्टिव प्रॉब्लम नहीं था, इन लोगों में लिवर डैमेज होने के मामले सामने आए। कोरोना वायरस लिवर पर अटैक कर के इम्यून सिस्टम को प्रभावित करता है जिससे व्यक्ति की इम्यूनिटी खुद ही बहुत कमजोर हो जाती है। कोरोना से लड़ने के लिए मजबूत इम्यून सिस्टम की जरूरत होती है।

कोरोना से बचने के लिए क्या करें?

कोरोना से बचने के लिए आपको निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए :

  • सोशल डिस्टेंसिंग का हमेशा ध्यान रखना चाहिए। घर के बाहर दूसरे लोगों से कम से कम छह फीट की दूरी बना कर रखें। इससे आप कोरोना के संक्रमण से बच सकते हैं।
  • हमेशा अपने चेहरे पर फेस मास्क लगा कर रखें। जब आप बाहर जाएं तो चेहरे पर मास्क लगाए रहें। इससे आप किसी भी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने पर कोरोना के इंफेक्शन से बच सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें कि मास्क को अपने हाथों से बार-बार न छुएं।
  • हर आधे से एक घंटे पर अपने हाथों को धुलते रहने की आदत बना लें। आप जब भी घर से बाहर जाएं तो 70% एल्कोहॉल से बने हुए सैनिटाइजर का इस्तेमाल करते रहें। किसी भी सार्वजनिक सतह को छूने के बाद हाथों को सैनिटाइज करना ना भूलें।
  • चेहरे को अपने हाथों से छूने से बचें। जब आप अपने गंदे हाथों से आंख, नाक और मुंह को छूते हैं तो आप कोरोना से इंफेक्टेड हो सकते हैं।
  • आंखों से कोरोना संक्रमण होने से बचने के लिए पूरी तरह से आंखों को ढकने वाला चशमा या फेस शील्ड पहनें।
  • संतुलित आहार का सेवन करते रहें और विटामिन सी से भरपूर भोजन का सेवन करें।

[mc4wp_form id=”183492″]

फिलहाल दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री में कोरोना के लक्षण नहीं पाए गए, बल्कि वो सामान्य बुखार से पीड़ित थे। दिल्ली स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद सबने राहत भरी सांस ली। हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई मेडिकल जानकारी और इलाज मुहैया नहीं कराता है।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Shayali Rekha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 19/06/2020 को
डॉ. पूजा दाफळ के द्वारा एक्स्पर्टली रिव्यूड