home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

Infective endocarditis Causes: दिल के चैम्बर्स में सूजन के हो सकते हैं ये कारण!

Infective endocarditis Causes: दिल के चैम्बर्स में सूजन के हो सकते हैं ये कारण!

इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस हार्ट इंफेक्शन से संबंधित है। हार्ट वॉल्व और एंडोकार्डियम के इंफेक्शन को इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस कहा जाता है। इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण में बैक्टीरिया का इंफेक्शन शामिल है। जब ब्लड स्ट्रीम में ये बैक्टीरिया पहुंचता है, जो दिल को संक्रमित करता है। बैक्टीरिया शरीर के विभिन्न हिस्सों से खून के माध्यम में हार्ट में पहुंच जाता है और हार्ट इंफेक्शन का कारण बनता है। इस समस्या को बैक्टीरियल एंडोकार्डाइटिस (bacterial endocarditis) के नाम से भी जानते हैं। जरूरी नहीं है कि दिल में होने वाले इस इंफेक्शन का कारण हमेशा बैक्टीरिया ही हो, कुछ मामलों में कवक और अन्य माइक्रोऑर्गेनिज्म भी इस संक्रमण का कारण हो सकते हैं। आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण (Infective endocarditis Causes) के बारे में जानकारी देंगे।

और पढ़ें: हार्ट इंफेक्शन और माइट्रल वॉल्व इंफेक्शन: बैक्टीरिया बन सकते हैं इस संक्रमण की वजह

इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण (Infective endocarditis Causes)

इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण

हम सभी के शरीर में किसी न किसी कारण से आसानी से बैक्टीरिया प्रवेश कर जाता है। शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली या इम्यून सिस्टम ब्लडस्ट्रीम में ही बैक्टीरिया को खत्म करने का काम करती है। कुछ बैक्टीरिया जो कि मुंह, गले या फिर शरीर के अन्य भागों जैसे कि स्किन या गट में रहते हैं, एंडोकार्डाइटिस (Infective endocarditis) का कारण बन सकते हैं। जिन लोगों को हार्ट संबंधी कोई समस्या नहीं होती है या फिर जिनका हार्ट हेल्दी होता है, उनमें हार्ट इंफेक्शन की संभावना बहुत कम होती है। बुखार, कमजोरी (Weakness), सीने में दर्द, ठंड लगना, यूरिन के साथ खून आना, स्किन रैशेज (Skin rashes), जोड़ों में दर्द (Joint pain), सांस लेने में दिक्कत, वेट लॉस (Weight loss) आदि लक्षण नजर आते हैं। जानिए इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण (Infective endocarditis Causes) क्या हो सकते हैं।

और पढ़ें: मायोकार्डियल बायोप्सी: हार्ट इंफेक्शन में इस तरह से किया जाता है यह टेस्ट!

इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण:दांतों की देखभाल न करना

इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण (Infective endocarditis Causes) में दांतों की सही से देखभाल न हो पाना शामिल है। अब आप सोच रहे होंगे कि दांतों की खराब हेल्थ से क्या हार्ट को भी नुकसान पहुंच सकता है। जी हां! ये बात बिल्कुल सही है। अगर आपको रोजाना प्रॉपर तरीके से दांतों की सफाई नहीं करते हैं और गम डिजीज (Gum disease) या यानी मसूड़ों की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। टीथ और मसूड़ों की सही से देखभाल न करने पर इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है और मसूड़ों से ब्लीडिंग भी हो सकती है। इस कारण से बैक्टीरिया आसानी से ब्लडस्ट्रीम में प्रवेश कर जाता है।

और पढ़ें: जान लीजिए इस गंभीर हार्ट इंफेक्शन के कारण, ताकि समय रहते कर सकें बचाव

कैथेटर हो सकता है इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण

इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण (Infective endocarditis Causes) के कारण में कैथेटर का इस्तेमाल भी शामिल है। यूरीनरी कैथेटर ट्यूब सॉफ्ट होती है, जिसके माध्यम से यूरिन पास की जाती है। जो लोग ब्लैडर को नैचुरल तरीके से खाली नहीं कर पाते हैं, उनके लिए कैथेटर का इस्तेमाल किया जाता है। जब लंबे समय तक कैथेटर का इस्तेमाल किया जाता है, तो ऐसे में इंफेक्शन की संभावना बढ़ जाती है और हार्ट इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है।

अवैध IV ड्रग का इस्तेमाल (Illegal IV drug use)

अवैध IV ड्रग का इस्तेमाल करने से भी इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस (Infective endocarditis) की समस्या हो सकती है। हेरोइन या कोकीन जैसी अवैध IV दवाओं का इस्तेमाल करना और गंदी निडिल या सिरेंज का इस्तेमाल इंफेक्शन की संभावना को बढ़ाने का काम करता है।

इम्प्लांटेड हार्ट डिवाइस (Implanted heart device)

जब हार्ट में कोई डिवाइस इम्प्लांट की जाती है, तो भी हार्ट इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। ऐसा जरूरी नहीं है कि सभी पेशेंट्स के साथ ऐसा हो लेकिन डिवाइस इम्प्लांट करने के बाद संक्रमण का खतरा काफी हद तक बढ़ जाता है। पेसमेकर (Pacemaker) इम्प्लांट पेशेंट्स को अधिक खतरा रहता है।

और पढ़ें: नमक की ज्यादा मात्रा कैसे बढ़ा देती है हार्ट इंफेक्शन से जूझ रहे पेशेंट की मुसीबत?

बैक्टीरियल एंडोकार्डाइटिस से जुड़े रिस्क फैक्टर (Risk factors associated with bacterial endocarditis)

इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस या बैक्टीरियल एंडोकार्डाइटिस का जोखिम उन पेशेंट्स में अधिक होता है, जिनको एक्वायर्ड वॉल्व डिजीज (Acquired valve disease ), आर्टिफिशियल हार्ट वॉल्व, प्रीवियस बैक्टीरियल एंडोकार्डाइटिस, कुछ जन्मजात हृदय दोष (Congenital heart defects), पेसमेकर ( pacemakers) डिवाइस का इस्तेमाल, हाइपरट्रॉपिक कार्डियोमायोपैथी (Hypertrophic cardiomyopathy) आदि की समस्या हो। अगर आपको दी गई इस समस्याओं में से कोई भी समस्या है, तो ऐसे में हार्ट इंफेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। ब्लड कल्चर (Blood cluture) , सीबीसी (CBC), इकोकार्डियोग्राम (Echocardiogram), ईसीजी, चेस्ट एक्स रे (Chest x ray), सीटी स्कैन और एमआरआई आदि की सहायता से बैक्टीरियल एंडोकर्डाइटिस डायग्नोज किया जाता है। अगर आपको शरीर में किसी भी तरह की परेशानी हो, तो डॉक्टर को बताएं और साथ ही जांच भी कराएं।

और पढ़ें: हार्ट इंफेक्शन्स में कोर्टिकोस्टेरॉइड ड्रग्स: जानिए किस तरह करते हैं मदद

बचना है इंफेक्शन से, तो ध्यान रखें ये बातें

आप इस संक्रमण से बचाव कर सकते हैं। कुछ ऐसे कारण है, जिनपर आप ध्यान दें, तो बैक्टीरिया के इंफेक्शन से हार्ट को बचा सकते हैं। आपको दांतों की सफाई रखनी चाहिए और मसूड़ों से ब्लीडिंग होने पर तुरंत डेंटिस्ट को दिखाना चाहिए। आपको अवैध आईवी ड्रग्स से दूरी बनानी चाहिए क्योंकि ये शरीर के लिए बहुत हानिकारक होते हैं। अगर आपके दांतों में बैक्टीरियल इंफेक्शन है, तो एंटीबायोटि दवाओं का सेवन डॉक्टर की सलाह से जरूर करें। अगर आपको बैक्टीरियल इंफेक्शन है, तो डॉक्टर से प्रॉपर ट्रीटमेंट लें और जब तक इंफेक्शन न खत्म हो जाए, तब तक दवाओं का सेवन जरूर करें।

डॉक्टर इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस का ट्रीटमेंट करने से पहले इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण (Infective endocarditis Causes) के बारे में जानते हैं और फिर एंटीबायोटिक दवाओं को खाने की सलाह देते हैं। आपको दवाओं का पूरा कोर्स करना चाहिए। आपको हर छह महीने में डॉक्टर से दांतों की जांच करवानी चाहिए। रोजाना दो बार ब्रश करें और साथ ही हेल्दी फूड्स भी खाएं

और पढ़ें: लीकी हार्ट वॉल्व : कितनी गंभीर हो सकती है हार्ट वॉल्वस से जुड़ी यह परेशानी?

शरीर में किसी भी प्रकार के बदलाव होने पर आपको लापवाही नहीं करनी चाहिए और तुरंत डॉक्टर से जांच करानी चाहिए। कई बार छोटी सी समस्या का ट्रीटमेंट न कराने पर आपके लिए बड़ी मुसीबत के रूप में सामने आ सकती है। आपको इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण के बारे में डॉक्टर से अधिक जानकारी लेनी चाहिए।

हैलो हेल्थ किसी भी प्रकार की चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार उपलब्ध नहीं कराता हैं। इस आर्टिकल के माध्यम से हमने आपको इंफेक्टिव एंडोकार्डाइटिस के कारण (Infective endocarditis Causes) के संबंध में जानकारी मिल गई होगी। उम्मीद है आपको हैलो हेल्थ की दी हुई जानकारियां पसंद आई होंगी। अगर आपको इस संबंध में अधिक जानकारी चाहिए, तो हमसे जरूर पूछें। हम आपके सवालों के जवाब मेडिकल एक्सर्ट्स द्वारा दिलाने की कोशिश करेंगे।

हार्ट के बारे में रखते हैं जानकारी, तो खेलें ये क्विज

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 19/08/2021 को
और Admin Writer द्वारा फैक्ट चेक्ड
x