home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

इटली के वैज्ञानिकों ने कोविड-19 वैक्सीन बनाने का किया दावाः जानिए इस खबर की पूरी सच्चाई

इटली के वैज्ञानिकों ने कोविड-19 वैक्सीन बनाने का किया दावाः जानिए इस खबर की पूरी सच्चाई

कोविड-19 ने दुनिया भर में जिस तरह से हाहाकार मचाया हुआ है, उससे लोगों को ऐसा लग रहा था कि कहीं इस बीमारी के कारण पूरी दुनिया ही खत्म न हो जाए। विश्व भर के लोग इस वायरस से आतंकित हो गए हैं और रोज डरे-सहमे अपना जीवन गुजारने को मजबूर हैं, क्योंकि नोवल कोरोना वायरस के कारण अब तक दुनिया भर में 37 लाख से अधिक मरीज संक्रमित हो चुके हैं। कोरोना महामारी के कारण मरने वाले मरीजों की संख्या भी तीन लाख की संख्या के पास पहुंचने वाली है। यह बीमारी अभी भी बढ़ती जा रही है और इसके कारण दुनिया निराशा के सागर में डूब रही थी, तब सभी के लिए एक बहुत बड़ी खुशी की खबर आई है। जानकारी मिली है कि कोरोना वायरस की पहली वैक्सीन बना ली गई है। है, न खुशी की खबर। आप भी जरूर जानना चाहते होंगे कि किस देश को भयंकर कोरोना वायरस का पहला टीका बनाने में सफलता मिली है? आइए पढ़ते हैं पूरी खबर

ये भी पढ़ेंः कोरोना लॉकडाउन और क्वारंटाइन के दौरान पुरुष इन तरीकों से रखें अपनी त्वचा का ख्याल

कोरोना वायरस (कोविड-19) की वैक्सीनः इटली ने किया टीका बनाने का दावा

इटली में कोरोना वायरस से अब तक दो लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं और सिर्फ इटली में इस महामारी के कारण लगभग 30 हजार मरीज की मृत्यु हो चुकी है। दुनिया में रोजाना से सैकड़ों लोगों के मरने की खबर आती थी, लेकिन आज यह जानकारी मिली है कि इटली में कोरोना वायरस का पहला टीका बना लिया गया है। अगर यह खबर पूरी तरह सच है, तो यह पूरी दुनिया के लिए खुशी की बात होगी कि किसी देश ने कोविड-19 का टीका बना लिया हो।

कोरोना वायरस का वैक्सीन-corona virus ka vaccine

ये भी पढ़ेंः कोरोना वायरस डाइट प्लान : लॉकडाउन और क्वारंटाइन के दौरान क्या खाएं और क्या न खाएं?

कोरोना वायरस (कोविड-19) की वैक्सीनः चूहों में पैदा किया गया एंटीबॉडी

इटली के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि उसने दुनिया का कोरोना वायरस का पहला टीका बना लिया है। कोविड-19 का यह टीका रोम के हॉस्पिटल में बनाया गया है। खबर है कि रोम के हॉस्पिटल में नोवल कोरोना वायस के वैक्सीन का परीक्षण किया गया। यह परीक्षण चूहों के ऊपर किया गया और चूहों में कोरोना वायरस के एंटीबॉडी को उत्पन्न किया गया।

कोरोना वायरस का वैक्सीन-corona virus ka vaccine

वैज्ञानिकों का कहना है कि ये एंडीबॉडी मानव कोशिकाओं पर भी काम कर सकते हैं। रोम के हॉस्पिटल के डॉक्टरों का कहना है कि चूहों के शरीर में रहने वाला एंटीबॉडी इंसान के शरीर में भी नोवल कोरोना वायरस को खत्म कर सकता है।

ये भी पढ़ेंः कोरोना वायरस और इम्यूनिटी पावरः एक चीज आपकी इम्यूनिटी पावर को कम कर सकती है

कोरोना वायरस (कोविड-19) के वैक्सीन से इंसान के शरीर में भी बनने लगता है एंटीबॉडी

जानकारी यह भी मिली है कि इटली के वैज्ञानिक कई दिनों से कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने की कोशिश कर रहे थे। हॉस्पिटल के लैब में लगातार इसके लिए परीक्षण किए जा रहे थे। वैज्ञानिकों को जब कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने में सफलता मिली, तो इसे मानव के ऊपर जांच भी किया गया। इस सकारात्मक परिणाम से सभी वैज्ञानिक उत्साहित हैं। यह कोरोना मरीजों के लिए बेहद जरूरी है।

कोरोना वायरस का वैक्सीन-corona virus ka vaccine

ये भी पढ़ेंः कोविड-19 और मानसिक स्वास्थ्य : महामारी में नशीले पदार्थों से बचना बेहद जरूरी

कोरोना वायरस (कोविड-19) की वैक्सीनः दुनिया से खत्म हो सकेगा कोरोना का प्रकोप

इटली में कोरोना वायरस का पहला टीका बनने को लेकर दूसरे विशेषज्ञों ने कहा कि वास्तव में यह बहुत बड़ी बात है, क्योंकि अगर कोविड-19 का यह टीका उम्मीद के अनुसार काम करने लगता है, तो इससे कोरोना वायरस का दुनिया से प्रकोप खत्म होने लगेगा। इसे भविष्य की चिकित्सा के लिए बहुत ही बेहतर आविष्कार माना जाएगा। हालांकि विशेषज्ञों ने यह भी कहा कि अभी सिर्फ यह खबर है और असलियत में यह कितना काम करता है, यह देखना बाकी है।

कोरोना वायरस का वैक्सीन-corona virus ka vaccine

ये भी पढ़ेंः कोविड-19 और अल्जाइमर मरीजः जानिए रोगी की देखभाल के लिए विशेषज्ञ डॉक्टरों के बताए हुए उपाय

कोरोना वायरस (कोविड-19) की वैक्सीनः अमेरिका और भारत भी कर रहे वैक्सीन बनाने की कोशिश

बता दें कि इससे पहले भी कई देशों ने कोरोना वायरस का टीका बनाने की कोशिश की थी, लेकिन अभी तक किसी देश कों सफलता नहीं मिली थी। चीन भी कई महीनों से कोविड-19 का टीका बनाने की कोशिश कर रहा है। चीन के साथ-साथ ब्रिटेन, जर्मनी, अमेरिका और फ्रांस जैसे देशों के वैज्ञानिक भी दिन-रात कोविड-19 की वैक्सीन बनाने में जुटे हुए हैं।

कोरोना वायरस का वैक्सीन-corona virus ka vaccine

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियों ने भी इस संबंध में कुछ दिन पहले बयान दिया था कि कोरोना वायरस की वैक्सीन जल्द बनेगा और यह वैक्सीन अमेरिका और भारत के संयुक्त प्रयास से बनेगा। इसके बाद अमेरिका सहित भारत वासियों को उम्मीद है कि जल्द ही दोनों देश में कोविड-19 की वैक्सीन बन जाएगा और लोगों का जीवन बचाया जा सकेगा।

ये भी पढ़ेंः नोवल कोरोना वायरस संक्रमणः बीते 100 दिनों में बदल गई पूरी दुनिया

COVID-19 Outbreak updates
Country: India
Data

1,435,453

Confirmed

917,568

Recovered

32,771

Death
Distribution Map

ये भी पढ़ेंः क्या कोविड-19 के कारण समाज में धीरे-धीरे जन्म ले रही अकेलेपन की समस्या?

कोरोना वायरस (कोविड-19) की वैक्सीनः अब आपको वायरस से डरने की जरूरत नहीं

कहा जा सकता है कि इटली से आई इस खबर ने दुनिया भर के लोगों के गिरते मनोबल में नई जान फूंक दी है। दुनिया भर के लोग लगातार कई महीनों से टेंशन में जीवन गुजार रहे थे। कोरोना वायरस के डर से घर से बाहर नहीं निकल रहे थे। सोशल डिस्टेंसिंग और क्वारंटीन का पालन कर रहे थे। बीमारी से बचने के लिए पूरी सतर्कता अपना रहे थे, क्योंकि लोगों को कोविड-19 से संक्रमित होने का डर था।

नोवल कोरोना वायरस के कारण ही भारत में लॉकडाउन लगा दिया गया। इसके कारण लाखों करोड़ों लोगों की जीवनशैली बिगड़ गई। लाखों लोगों की नौकरियां चली गई। हालांकि कुछ राज्यों ने लॉकडाउन में थोड़ी छूट दी है, लेकिन अब भी पता नहीं है कि पूरे देश से लॉकडाउन कब तक खत्म होगा। ऐसे में यह खबर सचमुच पूरे भारत वासियों को आनंदित करने वाली है।

कोरोना वायरस का वैक्सीन-corona virus ka vaccine

उम्मीद है कि वैक्सीन लोगों की उम्मीदों को पूरा करेगी और कोरोना वायरस को खत्म करने में मददगार साबित होगी। अगर ऐसा होता है, तो भारत में भी कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों का इलाज संभव हो पाएगा।

ये भी पढ़ेंः विश्व के किन देशों को कोरोना वायरस ने नहीं किया प्रभावित? क्या हैं इन देशों के कोविड-19 से बचने के उपाय?

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है। अगर आपको किसी भी तरह की समस्या हो, तो आप अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

और पढ़ेंः

कोविड-19 (कोरोना वायरस): जानें क्यों पुरुषों को महिलाओं की तुलना में है संक्रमण का अधिक खतरा!

कोविड-19 में मासिक धर्म स्वच्छता का ध्यान रखना है बेहद जरूरी

किडनी मरीजों को कोविड-19 से कितना खतरा? जानिए भारत के किडनी विशेषज्ञ डॉक्टरों की राय

कॉन्टैक्ट लेंस से कोविड-19 के संक्रमण का खतरा! जानिए एक्सपर्ट की राय

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

All  accessed on 06/05/2020

1.Coronavirus-worldometer-https://www.worldometers.info/coronavirus/

2.Italy claims world’s first COVID-19 vaccine that works on humans-https://timesofindia.indiatimes.com/videos/international/italy-claims-worlds-first-covid-19-vaccine-that-works-on-humans/videoshow/75560866.cms

3.US, India working jointly on Covid vaccine: Pompeo-https://timesofindia.indiatimes.com/india/us-india-working-jointly-on-covid-vaccine-pompeo/articleshow/75189469.cms

4.Covid: India, US to partner on developing Covid vaccine; Pompeo calls up Jaishankar-https://www.tribuneindia.com/news/nation/covid-india-us-to-partner-on-developing-covid-vaccine-pompeo-calls-up-jaishankar-641095.Coronavirus-https://www.who.int/health-topics/coronavirus-
6.Coronavirus disease (COVID-19) Pandemic –https://www.who.int/emergencies/diseases/novel-coronavirus-2019
7.India ramps up efforts to contain the spread of novel coronavirus-https://www.who.int/india/emergencies/novel-coronavirus-2019
8.#IndiaFightsCorona COVID-19 –https://www.mygov.in/covid-19

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Suraj Kumar Das द्वारा लिखित
अपडेटेड 06/05/2020
x