home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

आर्थोपेडिक सर्जरी के बाद जल्दी रिकवरी है संभव, बस अपनाएं कुछ आसान तरीके

आर्थोपेडिक सर्जरी के बाद जल्दी रिकवरी है संभव, बस अपनाएं कुछ आसान तरीके

शारीरिक समस्याओं का उपचार उनके कारणों, लक्षणों और कई अन्य कारकों पर निर्भर करता है। कम गंभीर समस्या की स्थिति में उपचार के लिए सर्जरी की जरूरत नहीं पड़ती, लेकिन गंभीर स्थितियों में सर्जरी की जरूरत हो सकती है। सर्जरी एक चिकित्सा है, जिसमे रोग या चोट की स्थिति की जांच या उपचार के लिए ऑपरेटिव मैनुअल और इंस्ट्रूमेंटल तकनीकों का उपयोग किया जाता है। इन्हीं में से एक है ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery)। ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) या आर्थोपेडिक्स, मस्कुलोस्केलेटल सिस्टम (Musculoskeletal system) से जुड़ी स्थितियों से संबंधित सर्जरी की ब्रांच है। आर्थोपेडिक सर्जन सर्जिकल और नॉनसर्जिकल दोनों साधनों का प्रयोग मस्कुलोस्केलेटल ट्रॉमा (Musculoskeletal Trauma), रीढ़ की बीमारियों (Spine Diseases), स्पोर्ट्स इंजरी (Sports Injuries), संक्रमण, ट्यूमर और जन्मजात विकारों (Congenital Disorders) के इलाज के लिए करते हैं। जानिए क्या है ऑर्थोपेडिक सर्जरी?

ऑर्थोपेडिक सर्जरी क्या है? (What is orthopedic surgery)

ऑर्थोपेडिक, या आर्थोपेडिक्स, मस्कुलोस्केलेटल प्रणाली के उपचार पर केंद्रित है। जिसमें हड्डियों, जोड़ों, स्नायुबंधन, मांसपेशियों, नसों और यहां तक ​​कि त्वचा भी शामिल है। ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) के कई अलग-अलग प्रकार हैं, जो जन्म दोष से लेकर गठिया तक किसी भी चीज का इलाज कर सकते हैं। ऑर्थोपेडिक सर्जन (Orthopedic Surgeon) हड्डियों, जोड़ों, स्नायुबंधन, टेंडन और मांसपेशियों संबंधी विकारों की रोकथाम, निदान और उपचार के लिए काम करते हैं।

यह भी पढ़ें: सर्जरी के बाद हो सकती है एक दूसरी परेशानी जिसका नाम है ‘कब्ज’, जानिए बचने के तरीके

ऑर्थोपेडिक सर्जरी के प्रकार (Types of Orthopedic Surgery)

अगर आपको डॉक्टर ने सर्जरी के लिए कहा गया है तो इससे आपको यह बात जानने में मदद मिल सकती हैं कि आपकी समस्या सामान्य है या नहीं। कुछ सबसे सामान्य ऑर्थोपेडिक सर्जरीज (Orthopedic Surgeries) इस प्रकार हैं:

ऑर्थोपेडिक सर्जरी

नी रिप्लेसमेंट (Knee Replacement)

नी यानी घुटने हमारे शरीर के सबसे ज्यादा प्रयोग होने वाले जोड़ हैं। लेकिन, दुर्भाग्यवश अधिक प्रयोग होने के कारण इन्हें ज्यादा नुकसान का भी सामना करना पड़ता है। नी रिप्लेसमेंट सर्जरी (Knee Replacement Surgery) में या तो नी का कुछ हिस्सा या इसे पूरा ही बदल दिया जाता है। इनकी जगह आर्टिफिशियल का प्रयोग किया जाता है। यह जरूरी है क्योंकि अधिकतर मामलों में, जोड़ों में उपास्थित कार्टिलेज क्षतिग्रस्त हो गया होता है, जिससे मूवमेंट में समस्या होती है। घुटने में समस्या के कई कारण हो सकते हैं। जैसे घुटनों में ट्रामा या मोटापा आदि।

एंटीरीयर क्रूसीएट लिगामेंट सर्जरी या ACL सर्जरी (Anterior Cruciate Ligament Reconstruction Surgery )

एंटीरीयर क्रूसीएट लिगामेंट (ACL) नी का एक महत्वपूर्ण भाग है। जो आपको उस समय स्थिर रहने में मदद करता है जब आप टांग को हिलाते हैं। अगर यह लिगमेंट टूट जाता है, तो रिकंस्ट्रक्टिव सर्जरी इसे ठीक करने के लिए की जाती है। आमतौर, पर यह सर्जरी मेजर नहीं होती और रोगी उसी दिन अस्पताल से घर वापस आ सकता है।

हिप रिप्लेसमेंट (Hip Replacement)

अन्य सामान्य जोड़, जिसे बदला जा सकता है वो है हिप। हिप ऐसीटैबुलम (Acetabulum) और फेमोरल हेड (Femoral Head) से बना होता है। घुटने की तरह यह भी, दो अलग-अलग प्रकार की रिप्लेसमेंट सर्जरी हैं। इसके अधिकतर मामलों में पूरा जॉइंट ही बदल दिया जाता है हालांकि एक अन्य प्रक्रिया भी है, जिसमें केवल उसी भाग को बदलते हैं, जिसमें समस्या है।

शोल्डर रिप्लेसमेंट (Shoulder Replacement)

अन्य सामान्य जॉइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी कंधे की होती है। घुटने और हिप की तरह कंधे पर भी सामान्य से अधिक दबाव पड़ता है। आमतौर पर अगर ह्यूमरस (Humerus) का ऊपरी हिस्सा टूट जाता है तो उसे निकाल कर मेटल बॉल से बदल दिया जाता है। लेकिन, अगर रोटेटर कफ ( Rotator Cuff) को नुकसान हुआ होता है तो इसमें आर्म बोन के ऊपर सॉकेट जो मेटल से बना होता है और प्लास्टिक रिप्लेसमेंट का प्रयोग किया जाता है।

Quiz: रयूमेटाइड अर्थराइटिस के कारण शरीर के किन अंगों को हो सकता है नुकसान?

ऑर्थ्रोस्कोपी (Arthroscopy)

अर्थरोस्कोपी वो प्रक्रिया है जो घुटने और कंधे पर की जाती है। यह न्यूनतम इनवेसिव ऑर्थोपेडिक (Minimally Invasive Orthopedic) प्रक्रियाओं में से एक है, जिससे सर्जन जिस जगह पर चोट लगी है, वहां की साफ इमेज प्राप्त करने के लिए जोड़ के पास शरीर में एक छोटा कैमरा लगा पाता है। आपको घुटने या कंधे के प्रतिस्थापन से पहले एक आर्थ्रोस्कोपी (Arthroscopy) करने की आवश्यकता हो सकती है ताकि सर्जन को पता चले कि समस्या कितनी बड़ी है और वास्तव में क्या करने की आवश्यकता है।

जॉइंट फ्यूजन (Joint Fusion)

अगर आपको अर्थराइटिस है. तो आपको जॉइंट फ्यूजन प्रोसीजर अपनाना चाहिए। इस सर्जरी में कार्टिलेज को शरीर के उस हिस्से से निकाल दिया जाता है जहां चोट न लगी हो और इसे उस जगह पर लगा दिया जाता है जहां नुकसान हुआ है।

ऑर्थोपेडिक सर्जरी से पहले किन बातों का ध्यान रखें? (Orthopedic Surgery)

ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) से पहले आपका पूरी तरह से शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार होना जरूरी है। जानिए, ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) से पहले किन बातों का ध्यान रखना आवश्यक है:

सबसे जरूरी है आपका स्वस्थ होना (Most Important is your Health)

ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) से पहले इस बात का ख्याल रखना बेहद जरूरी है कि आप स्वस्थ हों। अगर आप स्वस्थ होंगे तो न केवल आपकी सर्जरी में कोई समस्या नहीं होगी बल्कि आपको जल्दी स्वस्थ होने में भी मदद मिलेगी। स्वस्थ रहने के लिए आपको सही आहार लेना चाहिए। हेल्दी फूड आपके शरीर को पौष्टिक तत्व प्रदान करता है। सर्जरी से पहले आपको फल,सब्जियां, लीन मीट, हेल्दी फैट्स आदि लेने चाहिए। इसके साथ ही आहार इसमें प्रोटीन (Protein), विटामिन सी (Vitamin C), जिंक (Zinc) आदि भी हों। इससे आपको जल्दी ठीक होने में मदद मिलेगी। अधिक से अधिक पानी पीना न भूलें।

यह भी पढ़ें: हिप्‍स में दर्द को ना करें इग्नोर, क्योंकि बढ़ सकती है तकलीफ और करवाना पड़ सकता है ज्वाइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी!

ऑर्थोपेडिक सर्जरी से पहले जानें पूरी प्रक्रिया (Learn the Entire Procedure before Orthopedic Surgery)

ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) से पहले इस सर्जरी के पूरे प्रोसेस को समझ लें। ताकि आपको इन चीजों की पूरी समझ हो :

  • संक्रमण की रोकथाम के उपाय जैसे क्लोरहेक्सिडिन ग्लूकोनेट (Chlorhexidine Gluconate) साबुन का प्रयोग। जो एक एंटीसेप्टिक है जो संक्रमण के जोखिम को कम करता है।
  • इसके साथ ही आपको इन चीजों के बारे में भी जान लेना चाहिए कि आपको रिकवरी के दौरान क्या करना चाहिए और किन चीजों को नहीं करना है।
  • सर्जरी से पहले आपको किन एक्सरसाइजेज (Exercises) को करना चाहिए, यह व्यायाम आपको सर्जरी के लिए तैयार करते हैं।

ऑर्थोपेडिक सर्जरी

सर्जरी से पहले कीमती सामान को घर पर ही रहने दें

सर्जरी के दौरान आपको जिन चीजों की जरूरत है केवल उन्हें ही लेकर जाएं। जिन चीजों की जरूरत नहीं हैं और कीमती चीजों जैसे गहनों, चाबियों, क्रेडिट कार्ड्स आदि को घर पर ही रहने दें।

सर्जरी के बाद कैसे करें देखभाल? (care after Surgery)

यदि आप सर्जरी करवा रहे हैं, तो आप यह भी जानना चाहेंगे कि आप किस तरह से जल्दी ठीक हो सकते हैं और अपने काम पर लौट सकते हैं। इसके लिए डॉक्टर आपका पूरा मार्गदर्शन करेंगे। लेकिन आपको भी कुछ चीजों का खास ध्यान रखना चाहिए, जैसे:

अपने डॉक्टर की इंस्ट्रक्शंस का पालन करें (Follow Doctor’s Instructions)

कुछ रोगी सर्जरी के बाद डॉक्टर की सलाहों का पूरी तरह से पालन करते हैं। लेकिन, कुछ इन्हें इतनी गंभीरता से नहीं लेते। लेकिन, आपको डॉक्टर की सलाह का पालन करना चाहिए। इसके साथ ही आपको अपॉइंटमेंट्स लेकर नियमित चेकअप भी अवश्य कराना चाहिए।

यह भी पढ़ें: हिप्‍स में दर्द को ना करें इग्नोर, क्योंकि बढ़ सकती है तकलीफ और करवाना पड़ सकता है ज्वाइंट रिप्लेसमेंट सर्जरी!

इंफेक्शन से बचें (Avoid infection)

सर्जरी के बाद इंफेक्शन से बचाव बेहद बहुत जरूरी है। इसके लिए आपको अपना पूरा ख्याल रखना होगा। जैसे साफ-सफाई का ध्यान रखना, हाथों को धोते रहना आदि।

सही और संतुलित आहार का सेवन (Eat Right and Balanced Diet)

कुछ लोगों का सर्जरी के बाद कुछ भी खाने का मन नहीं करता। इसका कारण उनके मन का खराब होना, कब्ज होना या भूख न लगना आदि कुछ भी हो सकता है। लेकिन, हाइड्रेटेड रहना और हेल्दी डायट सर्जरी के बाद जरूरी है ताकि आप जल्दी ठीक हो सके।

दर्द को कंट्रोल करें (Control Pain)

सर्जरी के बाद दर्द को कंट्रोल में रखना जरूरी है। कुछ रोगी दर्द दूर करने वाली दवाईयों को लेने से बचते हैं। उन्हें ऐसा लगता है कि इससे उन्हें इन दवाईयों की आदत पड़ जाएगी। लेकिन, ऐसा नहीं है। उन्हें इन दवाईयों को लेना नहीं भूलना चाहिए।

मूव करते रहें (Keep Moving)

सर्जरी के बाद मूव करते रहना बेहद जरूरी है ताकि आप सही रहें। यह हालांकि आपको आसान सी चीज लग रही होगी, लेकिन इससे गंभीर समस्याओं से बचा जा सकता है। मूव करने और कुछ समय बाद डॉक्टर की सलाह के बाद व्यायाम करने से आपको जल्दी रिकवर होने में मदद मिलेगी।

योगा की मदद से बीमारियों के इलाज के बारे में जानने के लिए यहां क्लिक करें-

ऑर्थोपेडिक सर्जरी के बाद लाइफस्टाइल में क्या बदलाव लाना है जरूरी

ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) या किसी भी अन्य सर्जरी के बाद सबसे पहला सवाल जो मन में आता है वो यह है कि रिकवरी में कितना समय लगेगा? दरअसल यह रिकवरी आपके लाइफस्टाइल और कई अन्य चीजों पर निर्भर करती है। जैसे आप कैसा आहार लेते हैं, पर्याप्त नींद ले पा रहे हैं या नहीं आदि। जानिए आपको अपने लाइफस्टाइल में क्या परिवर्तन लाने चाहिए:

सही आहार (Right Food)

ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) के बाद आपका आहार सही होना बेहद जरूरी है। सर्जरी के बाद रिकवरी पीरियड में आपको सही और पौष्टिक तत्वों से भरपूर आहार लेना चाहिए। इसके दौरान जंक फूड, चीनी या अधिक नमक युक्त आहार आदि का सेवन न करें। विटामिन ए, विटामिन सी, प्रोटीन और जिंक से भरपूर आहार लेने से आपको जल्दी ठीक होने में मदद मिलेगी। सर्जरी के बाद रिकवरी के लिए आपका हाइड्रेट रहना भी जरूरी है। इसलिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं।

आराम करें (Take Rest)

ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) के बाद आपको कुछ समय लगेगा पूरी तरह से ठीक होने में। ऐसे में अपने शरीर को हील होने के लिए समय दें। इसके लिए आपका पूरा आराम करना जरूरी है। डॉक्टर की सलाह के अनुसार गतिविधियों को करें।

Orthopedic Surgery

व्यायाम (Exercise)

ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) के तुरंत बाद आपका शारीरिक रूप से अधिक एक्टिव रहना संभव नहीं है। लेकिन, डॉक्टर की सलाह के अनुसार आप अपने शरीर को हिला-दुला सकते हैं। जैसे मान लीजिये आपकी नी सर्जरी हुई है तो आप बैठे हुए ही अपने हाथों और पैरों को थोड़ा बहुत हिला सकते हैं। जब आप थोड़ा रिकवर हो जाएंगे तो आप अन्य व्यायाम भी कर सकते हैं। ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) के बाद किसी अच्छे फिजीयोथेरेपिस्ट की सलाह लें और जरूरी व्यायाम के बारे में जानें।

यह भी पढ़ें: होंठों को आकर्षक बनाने के लिए करवाई जाती है लिप कॉस्मेटिक सर्जरी, जानें इसके फायदे और नुकसान

ऑर्थोपेडिक सर्जरी (Orthopedic Surgery) एक सामान्य सर्जरी है लेकिन कई लोग इसका नाम सुन कर घबराते हैं और इससे बचते हैं। अगर आप सर्जरी के बाद फिजिशियन की सलाह का पालन करेंगे और सेहतमंद आदतों को अपनाएंगे तो आप जल्दी रिकवर हो पाएंगे। इसके साथ ही आपका पूरी नींद लेना और सकारात्मक रहना भी जरूरी है ताकि आप इस मुश्किल समय का आसानी से सामना कर के सामान्य जीवन जी पाएं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Orthopaedic Surgery:https://www7.aaos.org/member/directory/definition.htm . Accessed on 20/3/21

Orthopaedic Surgery: Seven Things You Need to Know.https://www.pennmedicine.org/updates/blogs/musculoskeletal-and-rheumatology/2019/december/ortho-surgeons-7-things-to-know . Accessed on 20/3/21

Orthopedic Surgery.https://www.mayoclinic.org/departments-centers/orthopedic-surgery/sections/tests-procedures/orc-20126757 . Accessed on 20/3/21

Orthopaedic Surgery.https://www.hopkinsmedicine.org/orthopaedic-surgery/specialty-areas/ . Accessed on 20/3/21

Orthopedic surgery.https://pubmed.ncbi.nlm.nih.gov/21871990/ . Accessed on 20/3/21

American Board of Orthopaedic Surgery.https://www.abms.org/board/american-board-of-orthopaedic-surgery/ . Accessed on 20/3/21

लेखक की तस्वीर badge
AnuSharma द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 25/05/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x