home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

अगर आप गर्भवती होने की कोशिश कर रही हैं तो ऑव्युलेशन के लक्षण जरूर जान लें

अगर आप गर्भवती होने की कोशिश कर रही हैं तो ऑव्युलेशन के लक्षण जरूर जान लें

अगर आप गर्भवती होने की कोशिश कर रही हैं, तो ऑव्युलेशन के लक्षण को पहचानना बेहद जरूरी है। ऑव्युलेशन गर्भधारण की प्रक्रिया को आसान बनाने का काम करता है। ऑव्युलेशन वह प्रक्रिया है जिसमें महिला का शरीर अंडाशय से एक या एक से अधिक एग रिलीज करता है। यदि अंडा निषेचित हो जाता और इसका इम्प्लांटेशन हो जाता है तो आप गर्भवती हो सकती हैं।

दिल्ली के मदर लैप आईवीएफ सेंटर की मेडिकल डायरेक्टर और IVF स्पेशलिस्ट डॉ शोभा गुप्ता बताती हैं कि ‘एक महिला के प्रेग्नेंट न होने के पीछे ऑव्युलेशन की बहुत बड़ी भूमिका होती है। कंसीव करने में देरी का एक मुख्य कारण यह भी है कि महिलाएं ऑव्युलेशन के लक्षण को पहचान नहीं पाती। फर्टिलिटी कम होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे थायरॉइड, पीसीओएस या PID आदि।’

इसलिए कंसीव करने के लिए ऑव्युलेशन के लक्षण को पहचानना बेहद आवश्यक है ताकि ऑव्युलेशन के एक-दो रोज पहले या बाद में सेक्स करें। इससे गर्भावस्था के चांसेस बढ़ते हैं। इस दौरान शारीरिक संबंध बनाने से गर्भवती महिलाएं गर्भाधारण में आने वाली परेशानियों को दूर सकती हैं।

और पढ़ें- प्रेंग्नेंसी की दूसरी तिमाही में होने वाले हॉर्मोनल और शारीरिक बदलाव क्या हैं?

क्या हैं ऑव्युलेशन के लक्षण और कैसे पहचानें ऑव्युलेशन के लक्षण?

मेंस्ट्रुअल चार्ट से जानें ऑव्युलेशन के लक्षण

ऑव्युलेशन के लक्षण पहचानने का एक सरल तरीका यह है कि आप उन दिनों को रिकॉर्ड रखें जब पीरियड्स शुरू होता है और कब तक समाप्त होता है? यदि आपका मासिक धर्म सामान्य हैं तो मासिक धर्म से लगभग 14 दिन पहले ऑव्युलेशन होने की संभावना हैं। जब भी ऑव्युलेशन के संभावित संकेतों का अनुभव हो तो उसका एक चार्ट बनाएं। ऑव्युलेशन के संकेत में ऐंठन, ग्रीवा में वृद्धि, स्तन कोमलता, फ्लूइड रिटेंशन, और भूख या मनोदशा में बदलाव शामिल हैं।

ऑव्युलेशन दर्द

इसे मित्तलस्केमर्ज के रूप में भी जाना जाता है। कुछ महिलाओं को एग रिलीज होने पर ऑव्युलेशन दर्द, ऐंठन या मरोड़ का अनुभव होता है। अन्य लक्षणों में सुस्ती या तेज और अचानक दर्द शामिल हो सकता है जो आमतौर पर हल्का होता है। यह आमतौर पर कुछ मिनटों या कुछ घंटों तक रहता है, लेकिन एक या दो दिन तक रह सकता है।

और पढ़ें : किन मेडिकल कंडिशन्स में पड़ती है आईवीएफ (IVF) की जरूरत?

ऑव्युलेशन के लक्षण: बेसल बॉडी टेम्प्रेचर

अमेरिकन कॉलेज ऑफ ओब्स्टेट्रिशियन एंड गायनेकोलॉजिस्ट (ACOG) के अनुसार, एग रिलीज करने के बाद ज्यादातर महिलाएं शरीर के तापमान में मामूली वृद्धि का अनुभव करती हैं। सुबह बेसल बॉडी टेम्प्रेचर की निगरानी करके और शरीर के तापमान चार्ट को ट्रैक करके भी आप यह पता लगा सकती हैं कि आप ऑव्युलेट हुई हैं। हालांकि बुखार, बेचैनी, नींद जैसी स्थिति तापमान रीडिंग की सटीकता को प्रभावित कर सकते हैं।

सर्वाइकल म्यूकस में परिवर्तन

जब आप ऑव्युलेशन के करीब होती हैं तो आपका शरीर ईस्ट्रोजन का अधिक उत्पादन करता है, जिससे सर्विकल म्यूकस अंडे की सफेदी की तरह स्पष्ट हो जाता है। जो शुक्राणु को अंडाणु के साथ तैरने में मदद करता है। ज्यादातर महिलाओं में सर्वाइकल म्यूकस में बदलाव होता है, लेकिन यह सभी महिलाओं में भिन्न होता है। ऑव्युलेशन के लिए इसका परीक्षण हेतु योनि में एक साफ उंगली डालें, कुछ म्यूकस को हटा दें और फिर अपने अंगूठे और उंगली के बीच के डिस्चार्ज को बाहर निकालें। यदि यह चिपचिपा और फैला हुआ या बहुत गीला और फिसलन भरा है, तो यह एक अच्छा संकेत है कि आप फर्टिलाइज अवस्था में हैं।

और पढ़ें: हमारे ऑव्युलेशन कैलक्युलेटर का उपयोग करके जानें अपने ऑव्युलेशन का सही समय

गंध सूंघने की शक्ति का बढ़ना

कुछ महिलाओं में सामान्य मासिक धर्म के बाद गंध के प्रति अधिक संवेदनशीलता या सूंघने की शक्ति में बदलाव ऑव्युलेशन का संकेत हो सकता है। इस दौरान आपके शरीर को पुरुष फेरोमोन एंड्रोस्टोन के प्रति अधिक आकर्षित होने का आभास होता है। इस दौरान सेक्स करने की इच्छा लगातार बनी रहती है।

योनि से अधिक डिस्चार्ज होना

वजायनल डिस्चार्ज होना महिलाओं के लिए सामान्य है, लेकिन ऑव्युलेशन के समय परिस्थितयां भिन्न होती हैं। जब एक महिला ऑव्युलेट होने के करीब हो या हो चुकी हो तब सफेद, डार्क ब्राउन कलर का चिपचिपा पदार्थ अंदरूनी कपड़ों पर देख सकती हैं। दरअसल यह रॉ एग होता है। यह डिस्चार्ज स्पर्म को अंडाणु तक पहुंचने के पाथ को चिकना करता है। इसे ग्रीवा म्यूकस कहते हैं।

और पढ़ें: ऑव्युलेशन टेस्‍ट किट के नतीजे कितने सही होते हैं?

थकान का अधिक महसूस होना

जिस हफ्ते में आप ऑव्युलेशन से गुजरेंगी उस दौरान चूंकि शरीर मे प्रोजेस्ट्रॉन हॉर्मोन बहुत बन रहा होता है, शरीर अधिक थकता है। इसलिए आप थका-थका महसूस करेंगी। खासकर सुबह के समय आप बहुत अधिक थकान महसूस कर सकती हैं। यह ऑव्युलेशन के लक्षण में से प्रमुख लक्षण है।

और पढ़ें : गर्भावस्था में पेरेंटल बॉन्डिंग कैसे बनाएं?

महिलाएं यह सोचती हैं कि क्या वे ऑव्युलेशन को महसूस कर सकती हैं? जवाब है ‘हां’! आमतौर पर पेट के निचले हिस्से में दर्द के रूप में इसे पहचाना जा सकता है। ऑव्युलेशन के लक्षण में आप इस दौरान दर्द के साथ हल्की वजायनल ब्लीडिंग, डिस्चार्ज या मतली का अनुभव भी कर सकती हैं, जो आमतौर पर हल्का और कम रहता है।

ऑव्युलेशन के लक्षण जिनसे पता चले आप प्रेग्नेंट नहीं हैं

अगर आप ऑव्युलेट नहीं कर रहे हैं, तो आप गर्भवती नहीं हो सकते। अगर आप अनियमित रूप से ऑव्यूलेट कर रहे हैं तो आपके लिए गर्भधारण करना कठिन हो सकता है। एनोव्यूलेशन ओवुलेटिंग के लिए चिकित्सा शब्द है। एनऑव्युलेशन अनियमित ओव्युलेशन के लिए मेडिकल शब्द है।

यहां ऑव्युलेशन समस्या के कुछ संभावित संकेत दिए गए हैं।

और पढ़ें: पीरियड्स मिस होने के पहले ही मिल जाती है प्रेग्नेंसी की जानकारी!

अनियमित साइकिल

अगर आपके पीरियड्स अप्रत्याशित हैं तो आपको ऑव्युलेशन की समस्या हो सकती है। अगर आपका पीरीयड्स हर महीने एक दो दिन आगे-पीछे आता है तो यह सामान्य है। लेकिन अगर यह परेशानी कई दिनों तक चलती है तो यह सामान्य नहीं है।

ऑव्युलेशन के दर्द के बारे में चिंता करने की जरूरत नहीं है जो एक ओटीसी या एंटी-इंफ्लमेटरी दवा के साथ चला जाता है, लेकिन अगर दर्द लगातार या गंभीर है तो एंडोमेट्रियोसिस या ऑवेरियन सिस्ट जैसी स्थितियों का पता लगाने के लिए डॉक्टर से परामर्श करें। इसलिए आप किसी भी असामान्य ऑव्युलेशन के लक्षण को महसूस करें या शंका हो तो बेझिझक अपने गायनेकोलॉजिस्ट से संपर्क करें।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Signs of Ovulation That Help Detect Your Most Fertile Time /accessed/19/November/2019/10:00

Am I Ovulating? /accessed/19/November/2019/10:20

Signs of Ovulation /accessed/18/November/2019/10:40

Signs of Ovulation to Know If You’re Trying to Get Pregnant /accessed/18/November/2019/10:55

https://americanpregnancy.org/getting-pregnant/signs-of-ovulation/ accessed/18/November/2019/10:55

https://www.verywellfamily.com/signs-of-ovulation-1960281 accessed/18/November/2019/10:55

लेखक की तस्वीर badge
Nikhil Kumar द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 2 weeks ago को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x