home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस क्या है? क्यों होती है डिलिवरी के बाद ये समस्या?

पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस क्या है? क्यों होती है डिलिवरी के बाद ये समस्या?

जब महिला बच्चे को जन्म देती है, उसके बाद शरीर में कई बदलाव देखने को मिलते हैं। शरीर में होने वाले बदलाव में मुख्य रूप से हॉर्मोन का चेंज होना शामिल किया जाता है। हॉर्मोन का कम होना या ज्यादा होना प्रेग्नेंसी (Pregnancy) के दौरान आम होता है। डिलिवरी के बाद हार्मोन की गड़बड़ी को ठीक होने में थोड़ा समय लगता है। हार्मोन के कम बनने के कारण कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ता है जिसमें हेयर लॉस की समस्या आम है। पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस (Eyebrow loss after pregnancy) यानी प्रेग्नेंसी के बाद आइब्रो के बाल में कमी आना भी इसी समस्या के अंतर्गत आता है।

डिलिवरी के तीन महीने बाद हेयर लॉस (Hair loss) की समस्या रहती है। कुछ महिलाओं में हेयर लॉस ज्यादा होता है, वहीं कुछ महिलाओं को ये समस्या कम होती है। इसे मेडिकल टर्म में टेलोजन अफल्यूवियम कहा जाता है। ये ज्यादातर नई मां को प्रभावित करता है। आपको इससे परेशान होने की जरूरत नहीं है क्योंकि पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस (Postmortem eyebrow loss) कुछ महीने बाद अपने आप ठीक हो जाता है।

और पढ़ें : क्या हैं शिशु की बर्थ पुजिशन्स? जानें उन्हें ठीक करने का तरीका

क्यों होता है पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस (Postmortem eyebrow loss)?

डिलिवरी के बाद आपको जिन समस्याओं का सामना करना पड़ता है उसके लिए हार्मोन की गड़बड़ी को जिम्मेदार माना जाता है। प्रेग्नेंसी के समय हॉर्मोन ज्यादा मात्रा में निकलते हैं वहीं, डिलिवरी के बाद हाॅर्मोन की मात्रा में कमी हो जाती है। कुछ समय बाद हाॅर्मोन संतुलित मात्रा में निकलना शुरू हो जाते हैं और सभी समस्याएं अपने आप ठीक हो जाती हैं। पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस (Postmortem eyebrow loss) भी इसी कारण होता है। प्रोजेस्ट्रॉन और ईस्ट्रोजन हार्मोन की मात्रा में गड़बड़ी के कारण ही हेयर फॉल की समस्या का सामना करना पड़ता है। फिर चाहे वह पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस हो या सिर के बालों का झड़ना (Hair loss)।

और पढ़ें : डिलिवरी के वक्त होती हैं ऐसी 10 चीजें, जान लें इनके बारे में

पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस (Postmortem eyebrow loss) को कैसे कम कर सकते हैं?

अगर आपको भी पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस की समस्या हो रही है तो घबराने की जरूरत नहीं है, क्योंकि ये समस्या कुछ समय बाद ठीक हो जाएगी। लोगों को ऐसा लगता है कि उनके सभी बाल झड़ (Hair loss) जाएंगे, लेकिन ऐसा होता नहीं है। सब एक ही रात में नहीं होगा। यह एक प्रॉसेस है जो डिलिवरी के बाद होती है। अगर आपको पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस की समस्या का सामना अधिक करना पड़ रहा है तो एक बार अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

और पढ़ें : डिलिवरी के बाद क्यों होती है कब्ज की समस्या? जानिए इसका इलाज

आईलैश (Eyelash) पर भी पड़ता है असर

आपको आइब्रो के साथ ही आईलैश में भी कमी नजर आ सकती है। बेबी को बर्थ देने के बाद आप महसूस करेंगी कि आपकी घनी आईब्रो में कमी आने के साथ ही आईलैशेज में भी कमी आ जाती है। आप इस समस्या से उबरने के लिए कुछ टेक्नीक भी अपना सकती हैं जिससे आइब्रो (Eyebrow) और आईलैश (Eyelash) घनी दिखाई दें।

[mc4wp_form id=”183492″]

मस्कारा और आईलाइनर से छुपाएं पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस

पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस (Postmortem eyebrow loss) से घबराने की जरूरत नहीं है। आप अच्छे मस्कारा और आईलाइनर (Eyeliner) का यूज कर सकती हैं। आप चाहे तो परमानेंट मेकअप का भी इस्तेमाल कर सकती है। लैश एक्सटेंशन और लैश लिफ्ट ट्रीटमेंट का इस्तेमाल कर सकती हैं।

डिलिवरी के बाद आपको अपना ज्यादातर समय बच्चे को देना होता है, इसलिए आप रोज मस्कारा या आईलाइनर का यूज नहीं कर पाएंगी। आप चाहे तो परमानेंट मेकअप ट्राई कर सकती हैं ताकि पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस (Postmortem eyebrow loss) छुप सके।

और पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान जरूरी होते हैं ये टेस्ट, जानिए इनका महत्व

नई मां को ध्यान रखनी चाहिए ये बातें

1.पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस या पोस्टपार्टम हेयर लॉस (Postmortem eyebrow loss) एक समय के बाद बंद हो जाएगा। आपके सभी बाल नहीं झड़ेंगे। जो बाल भी झड़े हैं, उनकी जगह नए बाल आ जाएंगे।

2. आपको ऐसे समय में अपना कॉन्फिडेंस खोने की जरूरत नहीं है। पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस (Postmortem eyebrow loss) एक शारीरिक प्रक्रिया जो कुछ समय बाद नॉर्मल हो जाती है। पहले जैसा बनने के लिए आपको थोड़ा समय चाहिए, फिर सब कुछ नॉर्मल हो जाएगा।

3. अगर आपको मेकअप या फिर परमानेंट मेकअप करना नहीं अच्छा लगता है तो आप इसे इग्नोर करें। आपका सादापन ही आपकी खूबसूरती है।

4. डिलिवरी के बाद हेल्दी फूड (Healthy food) को इग्नोर न करें। आपको हेल्दी फूड की जरूरत है और आपके बच्चे को मां के दूध की।

5. ऐसे समय में अपने बच्चे का पूरा ख्याल रखने के साथ ही अपना भी ख्याल रखें।

6. एक स्वस्थ्य मां ही बच्चे के स्वास्थ्य की देख रेख कर सकती है। आपको इस बारे में जरूर ध्यान रखना चाहिए।

डिलिवरी के बाद पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस (Postmortem eyebrow loss) एक सामान्य प्रक्रिया है। अगर आपके साथ भी ऐसा कुछ हो रहा है तो परेशान न हो। आपको ये लग रहा है कि जरूरत से ज्यादा बाल कम हो रहे हैं तो एक बार अपने डॉक्टर से संपर्क जरूर करें। बता दें पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस के साथ पोस्टपार्टम हेयर लॉस भी होता है।

प्रेग्नेंसी के पहले एक दिन में आपके 80 से 90 बाल गिरते हैं तो ये सामान्य कहा जाएगा, लेकिन डिलिवरी के बाद (Post delivery) एक दिन में 400 बाल तक गिर सकते हैं। डिलिवरी के छह से सात महीने बाद तक बालों का गिरना कम होने लगता है। अगर तय समय अंतराल के बाद भी बाल झड़ना बंद नहीं हो रहे हैं तो हो सकता है कि बॉडी में कोई और समस्या उत्पन्न हो चुकी हो। डॉक्टर आपको ब्लड टेस्ट (Blood test) के लिए कह सकता है।

और पढ़ें: क्या है गर्भावस्था के दौरान केसर के फायदे, जिनसे आप हैं अनजान

प्रेग्नेंसी में हो रहा है हेयरफॉल तो रखें इन बातों का ध्यान:

गर्भावस्था के दौरान और प्रसव के बाद अपने बालों की देखभाल के लिए नीचे दिए टिप्स को अपनाएं।

गर्भवती महिला इस बारे में चिंता करने के बजाए उपायों और संभावित इलाज की कोशिश करें। ऐसे कई आसान तरीके हैं जिनसे आप गर्भावस्था के दौरान और बाद में अपने बालों की देखभाल कर सकती हैं।

  • अपनी सिर पर सीधे सूरज की किरणों को न पड़ने दें और गर्मी से बचें।
  • आहार में हरी सब्जियों और फलों की मात्रा बढ़ाएं। खासकर उन्हें जिनमें पानी की मात्रा अधिक होती है।
  • थायरॉइड (Thyroid) लेवल सामान्य है या नहीं यह जांचने के लिए ब्लड-टेस्ट (Blood test) करवाएं।
  • बालों को गीला होने पर कंघी न करें।
  • अपने बालों को ब्रश करने के लिए चौड़े दांतों वाले ब्रश का इस्तेमाल करें।
  • स्प्लिट एंड्स से बचने के लिए बालों को नियमित अंतराल पर ट्रिम करें, क्योंकि इससे बाल गिरने की समस्या होती है।

हमें उम्मीद है कि इस आर्टिकल में दी गई पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस से जुड़ी जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी। अगर आप पोस्टपार्टम आइब्रो लॉस (Postmortem eyebrow loss) और हेयर लॉस (Hair loss) का सामना कर रही हैं तो यहां बताएं गए टिप्स आपके काम आ सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए डॉक्टर से संपर्क करें। हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

अपने पीरियड सायकल को ट्रैक करना, अपने सबसे फर्टाइल डे के बारे में पता लगाना और कंसीव करने के चांस को बढ़ाना या बर्थ कंट्रोल के लिए अप्लाय करना।

ओव्यूलेशन कैलक्युलेटर

सायकल की लेंथ

(दिन)

28

ऑब्जेक्टिव्स

(दिन)

7

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Pregnancy and Hair Loss: https://americanpregnancy.org/pregnancy-health/hair-loss-during-pregnancy/ Accessed July 29, 2020

How to Deal With Hair Loss After Pregnancy: https://health.clevelandclinic.org/how-to-deal-with-hair-loss-after-pregnancy/ Accessed July 29, 2020

HAIR LOSS IN NEW MOMS: https://www.aad.org/public/diseases/hair-loss/insider/new-moms Accessed July 29, 2020

Postpartum Hair Loss: Will It Come Back?: https://rmccares.org/2020/01/09/postpartum-hair-loss-will-it-come-back/ Accessed July 29, 2020

 

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 24/09/2021 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड