home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

सेक्शुअल अट्रैक्शन या रोमांटिक अट्रैक्शन : दोनों के बीच फर्क समझें

सेक्शुअल अट्रैक्शन या रोमांटिक अट्रैक्शन : दोनों के बीच फर्क समझें

किसी को पहली बार देखा और देखते ही प्यार हो गया, ऐसा आपने कई लोगों के मुंह से सुना होगा। लेकिन क्या पहली नजर में होने वाला प्यार वाकई में रोमांटिक अट्रैक्शन है या सेक्शुअल अट्रैक्शन इस बात को कैसे समझा जाए। आज के समय में सेक्शुअल अट्रैक्शन या रोमांटिक अट्रैक्शन का पता लगाना बहुत मुश्किल है। क्योंकि, दोनों के संकेत लगभग एक जैसे ही होते हैं, जिनका फर्क समझने में अक्सर लोग देरी कर जाते हैं। दरअसल, सेक्शुअल अट्रैक्शन या रोमांटिक अट्रैक्शन के बारे में खुद को भी नहीं पता होता। इसलिए, कई लोगों को इसकी वजह से अपने जीवन में कई तरह की परेशानियों का सामना भी करना पड़ सकता है।

कई मामलों में देखा भी जाता है कि जहां किसी रिश्ते में एक साथी सेक्शुअल अट्रैक्शन के कारण बंधा हुआ है, तो वहीं दूसरा साथी रोमांटिक अट्रैक्शन की वजह से उस रिश्ते में बंधा हुआ होता है। लेकिन जब इस बात से दोनों का आमना सामना होता है यो यह कई तरह की मुश्किलें लेकर आता है। इसलिए, किसी भी रिश्ते को शुरू करने से पहले इस बात का पता लगाएं कि वह सेक्शुअल अट्रैक्शन है या रोमाटिंक अट्रैक्शन। हैलो स्वास्थ्य के इस आर्टिकल में हम सेक्शुअल अट्रैक्शन और रोमांटिक अट्रैक्शन के बीच

कैसे पता लगाएं सेक्शुअल अट्रैक्शन या रोमांटिक अट्रैक्शन के बारे में?

सेक्शुअल अट्रैक्शन या रोमाटिंक अट्रैक्शन का पता लगाने के लिए आपको खुद की भावनाओं के साथ-साथ साथी के भावनाओं को भी समझना की जरूरत हो सकती है। साथ ही, दोनों को मिलकर इस बारे में बात भी करनी चाहिए। यहां नीचे हम कुछ बातें बता रहें हैं, जिनसे आप सेक्शुअल अट्रैक्शन या रोमांटिक अट्रैक्शन का पता आसानी से लगा सकते हैं।

कब हो सकता है रिश्ते में सेक्शुअल अट्रैक्शन?

आपके सेक्शुअल अट्रैक्शन है या रोमांटिक अट्रैक्शन, इन दोनों के बीच का फर्क कई तरीकों से पता चल सकता है। फिलहाल हम नीचे कुछ बातें बता रहे हैं, जिनसे आप जान पाएंगे कि आपको सेक्शुअल अट्रैक्शन है। जिसे आप प्यार समझ रहे हैं वो प्यार नहीं है, बस सेक्शुअल अट्रैक्शन है

  • अगर रिश्ते में सिर्फ सेक्शुअल अट्रैक्शन ही है, तो हो सकता है कि आप या आपका साथी एक-दूसरे में सिर्फ शारीरिक तौर पर ही दिलचस्पी लेना पसंद करता हों।
  • दोनों एक-दूसरे के लुक और शारीरिक बनावट के बारे में विचार करते हों।
  • सेक्शुअल अट्रैक्शन होने पर दोनों के रिश्ते में धीरे-धीरे दूरी बढ़ने लग सकती है।
  • बिना बात के एक-दूसरे से झगड़े हो सकते हैं।
  • एक-दूसरे पर हमेशा शक करना।
  • सेक्शुअल अट्रैक्शन होने पर रिश्ते के शुरुआत में ही शारीरिक संबंध बनाने की जल्दी करना।
  • अधिकतर मामलों में यह भी देखा जाता है कि ऐसे कपल, जो किसी डेटिंग साइट से एक-दूसरे से प्रभावित होते हैं, उनके बीच सेक्शुअल अट्रैक्शन ज्यादा होता है।इनकी वजह से उनका रिश्ता भी बहुत जल्दी टूट जाता है।
  • अगर रिश्ते में सिर्फ सेक्शुअल अट्रैक्शन है, तो हो सकता है कि आपका रिश्ता कुछ ही हफ्तों या महीनों में ही टूट जाए।
  • सेक्शुअल अट्रैक्शन होने पर साथी एक-दूसरे की परवाह तो करते हैं लेकिन, उन्हें समझने में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाते हैं।
  • सेक्शुअल अट्रैक्शन होने पर आप अपने साथी के साथ कुछ ही घंटों में बोरियत महसूस कर सकते हैं।
  • सेक्शुअल अट्रैक्शन होने पर आप साथी के साथ सिर्फ शारीरिक रिश्ते के दौरान ही अच्छा महसूस करते हों। लेकिन, कभी भी उनकी खुशी या नापसंद के बारे में जानने की दिलचस्पी नहीं होती हो।
  • सेक्शुअल अट्रैक्शन होने पर आप साथी के साथ एक समय बाद शारीरिक संबंध बनाने में भी बोरियत महसूस कर सकते हैं।

और पढ़ें : क्या डेटिंग साइट्स से सच में मिलता है प्यार?

आइए आपको अब बताते हैं कि रोमांटिक अट्रैक्शन कब हो सकता है।

कब हो सकता है रिश्ते में रोमांटिक अट्रैक्शन?

अगर आप जानना चाहते हैं कि रोमांटिक अट्रैक्शन कब हो सकता है तो इसके भी कुछ संकेत हो सकते हैं। आप नीचे बताए गए संकेतों के को समझकर जान पाएंगे कि आपको रोमांटिक अट्रैक्शन हुआ है। जानिए रोमांटिक अट्रैक्शन कब हो सकता है :

  • रोमाटिंक अट्रैक्शन होने पर कपल्स एक-दूसरे के साथ शारीरिक संबंध बनाने से पहले उन्हें करीब से जानने के लिए बेताब हो सकते हैं।
  • रोमाटिंक अट्रैक्शन में आपको उनके साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताना अच्छा लगता हो।
  • उनकी बातों को सुनना और उनकी पसंद-नापसंद जानने के लिए हमेशा बेताब रहना।
  • रिश्ते में शारीरिक संबंध न होने पर भी एक-दूसरे की मानसिक स्थिति को समझना।
  • एक-दूसरे के साथ भविष्य के बारे में बात करना।
  • हर समय उनके आसपास रहने की कोशिश करना।
  • उनकी उलझनों में खुद को शामिल करना।
  • उनकी कमजोरी और गलतियों को स्वीकार करना।
  • आपके रिश्ते से जुड़े हर फैसले के बारे में उनकी राय जानना।
  • उनकी छोटी-छोटी खुशियों और आदतों का ख्याल रखना।
  • रोमांटिक अट्रैक्शन में इमोश्नल के साथ-साथ शारीरिक संबंध भी हो सकता है।
  • हालांकि, रोमांटिक अट्रैक्शन होने पर साथी एक-दूसरे को शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव नहीं डालेंगे।

क्या है लोगों की राय

सेक्शुअल अट्रैक्शन या रोमांटिक अट्रैक्शन में लोग कैसे फर्क समझते हैं, यह जानने के लिए हैलो स्वास्थ्य की टीम ने लोगों से उनकी राय जानी। जिसके बीच के फर्क को समझने के लिए लोगों ने अलग-अलग मत दिए हैं।

साथ रहना जरूरी, अनिकेत

मुंबई के अनिकेत कहते हैं “साथ के साथ सेक्शुअल अट्रैक्शन है या रोमांटिक अट्रैक्शन इसके पता लगाने के लिए साथी के साथ रहना जरूरी हो सकता है। क्योंकि, जबतक साथी के साथ समय नहीं बिताएंगे तब तक वो एक-दूसरे को अच्छे से समझ नहीं सकते हैं।”

और पढ़ें : सेक्स करने से महिलाओं को मिलते हैं ये 9 स्वास्थ्य लाभ

इसके अलावा, अगर आपके रिश्ते में रोमांटिक अट्रैक्शन है, तो आपका साथी आपसे जुड़ी हर छोटी और बड़ी बात का ध्यान रखेगा। यहां तक कि कभी-कभी वो आपको कुछ लोगों से मिलने-जुलने के लिए भी मना कर सकता हैं। लेकिन, अगर रिश्ते में सिर्फ सेक्शुअल अट्रैक्शन होगा, तो आप रिश्ते में होते हुए भी खुद को हमेशा अकेला महसूस करेंगे।

तो आपको अब समझ आ गया होगा कि सेक्शुअल अट्रैक्शन और रोमांटिक अट्रैक्शन के बीच क्या फर्क होता है। इस आर्टिकल के माध्यम से आपको इन दोनों के बीच के अंतर को समझने में मदद मिलेगी। तो अगर कभी आपको लगे कि आपको किसी से पहली नजर का प्यार होने लगा है, तो एक बार ठहरिए और सोचिए कि क्या ये वाकई में रोमांटिक अट्रैक्शन है या फिर ये सिर्फ सेक्शुअल अट्रैक्शन है। उम्मीद है आपको हैलो स्वास्थ्य का ये आर्टिकल पसंद आया होगा। आपको हमारा ये आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं और लोगों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Ankita mishra द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 26/04/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x