डेवी स्किन पाने के लिए अपनाएं ये आसान टिप्स

    डेवी स्किन पाने के लिए अपनाएं ये आसान टिप्स

    डेवी स्किन (Dewy Skin) शब्द का उपयोग ऐसी स्किन के लिए किया जाता है जो हायड्रेटेड, फ्रेश, चमकदार और चिकनी हो। बता दें कि त्वचा का कोमल दिखना दरअसल कोशिकाओं द्वारा रिटेन करने वाले वॉटर की वजह से होता है। जब आपके दिमाग में यह सवाल आ सकता है कि डेवी स्किन कैसे पाई जाए? इसके तरीके अलग-अलग हैं, लेकिन हेल्दी डायट से लेकर स्किन केयर रूटीन तक इसमें महत्वूपर्ण रोल प्ले करते हैं। यहां कुछ ऐसे टिप्स बताए जा रहे हैं जिनको आप डेवी स्किन (Dewy Skin) को पाने के लिए फॉलो कर सकते हैं।

    डेवी स्किन रूटीन (Dewy skin routine)

    डेवी स्किन पाने के लिए स्किन केयर रूटीन में हायड्रेट, एक्सफोलिएट, स्किन को एंटीऑक्सिडेंट्स और विटामिन्स से पोषण प्रदान करना शामिल होता है। इसके साथ ही स्किन डैमेज से बचने के लिए सनस्क्रीन का यूज करना। नीचे चार स्टेप बताए जा रहे हैं जो डेवी स्किन (Dewy Skin) पाने में मदद कर सकते हैं।

    क्लीन्स (Cleanse)

    हेल्दी स्किन पाने के लिए यह जरूरी स्टेप है। इसके लिए हार्श कैमिकल युक्त प्रोडक्ट्स का यूज नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे स्किन ड्राय हो जाती है। इसकी जगह माइल्ड प्रोडक्ट का यूज किया जाना चाहिए।

    और पढ़ें: एक्ने के लिए जिंक सप्लीमेंट : क्योंकि त्वचा को है इसकी जरूरत!

    एक्सफोलिएट (Exfoliate)

    क्लींजिंग प्रॉसेस का यह एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। इससे डेड स्किन की लेयर्स निकल जाती है जिससे नई कोशिकाएं उनकी जगह ले लेती हैं जिससे स्किन चिकनी और चमकदार बनती है। फिजिकल एक्सफ्लोइएशन असरकारक हो सकता है, लेकिन इसमें परेशानी हो सकती है। कुछ लोग स्किन पर हार्श हो सकते हैं। फिजिकल एक्सफोलिएशन आमतौर पर सॉफ्ट ब्रिस्टल्ड टूल, माइक्रो बेड्स और दूसरे मटेरियल और क्लीनजिंग सॉल्यूशन का उपयोग किया जाता है। वहीं कैमिकल एक्सफोलिएशन में कैमिकल्स का यूज किया जाता है। एक्सपर्ट इसके लिए सैलिसिलिक एसिड, सिटरिक एसिड और ग्लाकोलिक एसिड यूज करने की सलाह देते हैं।

    मॉश्चराइज (Moisturize)

    स्किन को माश्चराइज करने और हायड्रेट करने में अंतर है। मॉश्चराइजर मॉश्चर को स्किल में सील कर देते हैं वहीं हमेक्टेंट्स (Humectants) स्किन को हायड्रेट करते हैं। यह कोशिका में कई गुना पानी को खींचते हैं। अगर आपकी त्वचा डल, ड्राय और डैमेज है तो सिर्फ मॉश्चराइजर लगाना पर्याप्त नहीं होगा। डेवी स्किन (Dewy Skin) के लिए हमेक्टेंट्स (Humectants) का यूज करना जरूरी माना जाता है। जैसे ग्लिसरीन या हेयाल्यूरोनिक एसिड (Hyaluronic acid)। यह आमतौर पर सीरम के फॉर्म में आते हैं।

    एक सौम्य, सुगंध रहित मॉश्चराइजर भी नमी को रोक सकता है। एक्सपर्ट इसके लिए भी क्लींजर की तरह ही दूध या कैमोमाइल जैसे माइल्ड इंग्रीडिएंट की तलाश करने की सलाह देता है।

    डेवी स्किन (Dewy Skin)

    और पढ़ें: डर्मेटाइटिस हेरपेटिफॉर्मिस: त्वचा की इस समस्या से राहत पाने का उपाय है ग्लूटेन फ्री आहार

    डेवी स्किन के लिए विटामिन सी (Vitamin C) को एड करें

    डेवी स्किन के लिए विटामिन सी को अपने स्किन केयर रूटीन में एड करना जरूरी है। यह ना सिर्फ स्किन सेल्स को इम्प्रूव करता है बल्कि स्किन को ब्राइट करने और अनइवन टोन को ठीक करने में भी मदद करता है। साथ ही फ्री रेडिकल्स को न्यूट्रिलाइज करने में सहायक है।

    डेवी स्किन पाने में ये टिप्स भी हो सकती हैं मददगार (These tips can also be helpful in getting dewy skin)

    आप चेहरे जो इंग्रीडिएंट लगाते हैं उनका असर दिखने में काफी समय लग सकता है। इसी प्रकार का रिजल्ट लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव करने से मिल सकते हैं।

    हायड्रेटेड रहें (Stay hydrated)

    हायड्रेशन ओवरऑल हेल्थ के लिए जरूरी है, लेकिन यह स्किन हेल्थ के लिए बहुत जरूरी है। यह हेल्दी लुक्स पाने में मदद करता है। अगर स्किन अच्छी तरह से हायड्रेट है तो वह ड्राय और रफ नहीं दिखती। अच्छी तरह से हायड्रेट रहने से स्किन डेंसिटी, थिकनेस बढ़ सकती है। आप हायड्रेशन का पता लगा सकते हैं बॉडी में दिखाई देने वाले कुछ संकेतों को देखकर। जिसमें क्लियर और पेल यूरिन हायड्रेटेड होने का संकेत है। इसलिए पर्याप्त मात्रा में पानी पीते रहें अगर डेवी स्किन पाना चाहते हैं।

    हेल्दी फैट को आजमाएं (Try healthy fats)

    एनसीबीआई (NCBI) में छपी स्टडी के अनुसार आप जो खाते उसका असर स्किन पर दिखता है और अगर बात डेवी स्किन (Dewy Skin) की हो तो गुड फैट्स का इसमें महत्वूपर्ण योगदान है। ओमेगा-3 फैटी एसिड्स आपकी स्किन को थिक और मॉश्चराइज रखने में महत्वपूर्ण रोल प्ले करता है। अगर स्किन में ओमेगा-3 फैटी एसिड्स की कमी होती है तो ड्राय स्किन की समस्या हो सकती है। फलों में पाए जाने वाले हेल्दी फैट्स का लिंक युवा और चिकनी स्किन से बताया गया है। हेल्दी फैट्स निम्न खाद्य पदार्थों में पाया जाता है:

    • एवोकाडो (Avocados)
    • साल्मन (Salmon)
    • फ्लैक्स सीड्स (Flax seeds)
    • अखरोट (Walnuts)

    हेल्दी स्किन पाने के लिए इन्हें डायट में शामिल किया जा सकता है।

    और पढ़ें: स्किन के लिए बेस्ट ऑयल्स की तलाश यहां हो सकती है खत्म!

    एंटीऑक्सिडेंट्स (Anti-oxidants) की मदद लें

    रिसर्च में पाया गया है कि एंटीऑक्सिडेंट्स भी स्किन हेल्थ में अहम रोल प्ले करते हैं। ये आम तौर पर बेरीज में पाए जाते हैं। बेरीज विटामिन सी भी पाया जाता है जो कोलेजन (Collagen) के प्रोडक्शन में मदद करता है। जो एक प्रकार का प्रोटीन है जो स्किन का हेल्दी रखने में मदद करता है। ग्रीन टी में एंटीऑक्सिडेंट्स पाए जाते हैं जो स्किन के मॉश्चर, इलास्टिटी और थिकनेस इम्प्रूव करता है।

    शुगर से बचकर रहें (Go easy on sugar)

    मीठे खाद्य पदार्थों का स्किन पर बुरा असर देखा गया है। उदाहरण के लिए 2014 के एक अध्ययन में पाया गया कि उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स (High glycemic index) वाले खाद्य पदार्थ शरीर द्वारा तेजी से अवशोषित होते हैं, जो उच्च रक्त शर्करा और इंसुलिन के स्तर में योगदान कर सकते हैं। उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले कुछ खाद्य पदार्थों में शामिल हैं:

    • सफेद ब्रेड (White bread)
    • सफेद चावल (White rice)
    • सोडा (Soda)
    • फ्राइज (Fries)

    इंसुलिन और IGF-1 को आपके शरीर द्वारा उत्पादित सीबम (ग्रंथियों द्वारा उत्पादित एक तैलीय, वैक्सी पदार्थ) की मात्रा को बढ़ाने के लिए दिखाया गया है। वे शरीर में एंड्रोजन नामक हॉर्मोन के संश्लेषण को प्रोत्साहित करने के लिए भी दिखाए जाते हैं। दोनों मुंहासे पैदा करने में भूमिका निभाते हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि आपको चीनी को पूरी तरह से छोड़ देना चाहिए, लेकिन इसका सीमित मात्रा में सेवन करना महत्वपूर्ण है।

    स्मोकिंग कम करें (Limit smoking)

    डेवी स्किन (Dewy Skin) पाना चाहते हैं तो कुछ आदतों को बाय बाय कहना होगा। धूम्रपान का त्वचा के स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है, क्योंकि निकोटीन रक्त वाहिकाओं को संकीर्ण कर सकता है, जिससे आपकी त्वचा की कोशिकाओं में ऑक्सीजन और पोषक तत्वों का प्रवाह कम हो जाता है। एनसीबीआई में छपी स्टडी के अनुसार 28 धूम्रपान करने वालों और 24 गैर धूम्रपान करने वालों ने पाया कि धूम्रपान ने उनकी त्वचा की कई विशेषताओं को नकारात्मक रूप से प्रभावित किया, जिसमें त्वचा की मोटाई, लोच और झुर्रियों की उपस्थिति शामिल है।

    और पढ़ें: Exfoliative Dermatitis: किस कारण से होती है स्किन संबंधी ये कंडीशन, जानिए यहां

    नींद पर ध्यान दें (Prioritize sleep)

    अच्छी त्वचा के लिए आराम करना जरूरी है। अगर आप ठीक से नहीं सो रहे हैं तो इसका प्रभाव आपके चेहरे पर स्पष्ट रूप से दिखाई देगा। उदाहरण के लिए, 2017 के एक अध्ययन में पाया गया कि, जब लोग केवल 2 दिनों के लिए नींद से वंचित थे, तो उन्हें अच्छी नींद लेने वालों की तुलना में कम आकर्षक, कम स्वस्थ के रूप में देखा गया। और, समय के साथ, यह आपकी एपीरिएंस और आपकी त्वचा के स्वास्थ्य दोनों पर भारी पड़ सकता है। अनुसंधान ने नींद को उम्र बढ़ने के अधिक संकेतों, स्किन डैमेज और स्किन के ग्लो कम होने से जोड़कर देखा है।

    उम्मीद करते हैं कि आपको डेवी स्किन (Dewy Skin) से संबंधित जरूरी जानकारियां मिल गई होंगी। अधिक जानकारी के लिए एक्सपर्ट से सलाह जरूर लें। अगर आपके मन में अन्य कोई सवाल हैं तो आप हमारे फेसबुक पेज पर पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब आपको कमेंट बॉक्स में देने की पूरी कोशिश करेंगे। अपने करीबियों को इस जानकारी से अवगत कराने के लिए आप ये आर्टिकल जरूर शेयर करें।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    सूत्र

    Antioxidants in dermatology*/
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5514576/Accessed on 7/01/2022

    Skin Care and aging/ https://www.nia.nih.gov/health/skin-care-and-aging/

    Accessed on 7/01/2022

    Healthy Aging/ https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/conditionsandtreatments/healthy-ageing-the-skin/

    Accessed on 7/01/2022

    Smoking/
    https://medlineplus.gov/smoking.html/Accessed on 7/01/2022

    Skin care: 5 tips for healthy skin
    https://www.mayoclinic.org/healthy-lifestyle/adult-health/in-depth/skin-care/art-20048237/Accessed on 7/01/2022

    लेखक की तस्वीर badge
    Manjari Khare द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/01/2022 को
    Sayali Chaudhari के द्वारा मेडिकली रिव्यूड