सोलो सेक्स क्या है? इसको कैसे करेंगे एन्जॉय?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित | द्वारा

अपडेट डेट अक्टूबर 28, 2020 . 7 मिनट में पढ़ें
अब शेयर करें

इसमें कोई शक नहीं है कि कपल सेक्स बहुत अधिक मजेदार होता है। लेकिन अगर हम बात करें सोलो सेक्स की, तो ये भी इस रेस में पीछे नहीं है। दरअसल हर चीज की अपनी अलग जरूरत और अलग फायदे होते हैं। ऐसे में सोलो सेक्स के बारे में लोगों को जानना बेहद जरूरी है। जरा सोचिए ऐसा सेक्स, जिसमें आप किसी से कुछ नहीं चाहते हैं, बल्कि खुद से खुद को प्यार करते हैं। जिसमें केवल आप ही आपके लिए काफी होते हैं। सुनने में ये काफी दिलचस्प लग रहा है। लेकिन आपके मन में ये सवाल आना लाजमी है कि आखिर सोलो सेक्स में कोई एंजॉय कैसे कर सकता है? इसके लिए मूड कैसे बन सकता है? तो इस आर्टिकल में सोलो सेक्स से जुड़ी आपको हर एक बात बताएंगे।

सोलो सेक्स क्या है

सोलो सेक्स एक प्रकार से हस्तमैथुन की एक अच्छी परिभाषा है। जी हां, चौंकिए मत ये सच है, यह एक तरह का मास्टरबेशन ही है। इसे महिला और पुरूष दोनों ही कर सकते हैं। इसमें आप अपने आपको उत्तेजित करने के लिए कुछ चीजे देखते हैं या पढ़ते हैं। इसमें आप अपने आपको छूकर, प्यार से महसूस करते हैं। इसमें आपको किसी पार्टनर की आवश्यकता नहीं होती है। इसमें आप अपने यौन अंगों को विभिन्न वस्तुओं की मदद से यौन सुख की प्राप्ति करते हैं। इसमें आप किसी और के बिना सेक्स करने की खुशी को महसूस कर सकते हैं। बहुत से  ऐसे लोग हैं, जो सेक्स को लेकर अपनी भावनाओं को खुलकर प्रकट नहीं कर पाते हैं। उनके लिए सोलो सेक्स द्वारा खुद को प्यार करना बहुत अच्छा जरिया है।

हैलो स्वास्थ्य का न्यूजलेटर प्राप्त करें

मधुमेह, हृदय रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, कैंसर और भी बहुत कुछ...
सब्सक्राइब' पर क्लिक करके मैं सभी नियमों व शर्तों तथा गोपनीयता नीति को स्वीकार करता/करती हूं। मैं हैलो स्वास्थ्य से भविष्य में मिलने वाले ईमेल को भी स्वीकार करता/करती हूं और जानता/जानती हूं कि मैं हैलो स्वास्थ्य के सब्सक्रिप्शन को किसी भी समय बंद कर सकता/सकती हूं।

और पढ़ें: सेक्स को एंजॉय करने के लिए ट्राय करें सेक्स लुब्रिकेंट्स (sex lubricants)

सोलो सेक्स क्यों करते हैं?

  • यौन सुख के लिए
  • उनके शरीर के बारे में जानने या बेहतर समझने के लिए
  • चरमसुख के लिए
  • पार्टनर सेक्स के विकल्प के रूप में
  • सामान्य यौन असंतोष के कारण
  • जिसका पार्टनर नहीं होता है

सोलो सेक्स का मूड कैसे बनाएं

यदि आप यह करना चाहें तो, आखिर इसके लिए मूड कैसे बनाएं? ये बड़ा सवाल आपको परेशान करता है। लेकिन सोलो सेक्स के लिए अपना मूड बनाने के बहुत से तरीके हैं। इसके लिए आपको बहुत मेहनत करने की जरूरत नहीं है। ध्यान से पढ़ें सोलो सेक्स के लिए मूड बनाने का तरीका।

  • अपने कमरे की लाइट्स पर काम करें। साधारण लाइट्स की जगह ब्लू या रेड लाइट्स लगाकर सजावट करें। 
  • एक खूबसूरत खुशबू वाले कैंडल जलाएं। रोशनी और हल्की मोमबत्तियां हटा दें।
  • अपने शरीर के सभी अंगों पर क्रीम या तेल से हल्के हाथ से मालिश करें।
  • अब सेक्स प्लेलिस्ट बनाएं और देखें।
  • गहरी सांसें लें।
  • आप अपने किसी फेवरेट सेक्स पुजिशन, मूमेंट या क्रश के बारे में गहराई से सोच सकते हैं।
  • आप बाथटब में लेटकर भी अपना मूड बना सकते हैं।

और पढ़ें: First time Sex: महिलाओं के पहली बार सेक्स के दौरान होने वाले शारीरिक बदलाव

सोलो सेक्स कैसे करें?

सोलो सेक्स करने के तमाम तरीके हैं। सभी तरीकों को दर्शाना मुश्किल है। लेकिन आपके लिए जो सबसे बेहतर तरीका हो सकता है। हम वो तरीका आपके लिए इस आर्टिकल में लिखने वाले हैं। जो इस प्रकार से हैं।

हाथों से ट्राय करें सोलो सेक्स

  • अपने कमरे को बंद कर लें। 
  • जैसा माहौल आपने बनाया है, उसमें ही अब अपने बेड पर लेट जाएं। 
  • अपनी बॉडी को टच करते हुए सहलाएं।
  • अब अपने हाथ को अपनी वजायना के पास धीरे से ले जाएं। वहां हल्के से हाथ को घुमाएं।
  • हाथ को तिरछे बायें से दायें, फिर दायें से बायें ऐसा करके घुमाएं।
  • अब अपने मॉन्स प्यूबिस पर हल्का सा दबाव डालें।
  • अब तक आप पूरी तरह से उत्तेजित हो चुकी होगीं। 
  • यदि आप अब तक उत्तेजना महसूस नहीं कर रही हैं, तो इसे और देर तक थोड़ी स्पीड में करें।

आर्टिफिशियल लिंग से सोलो सेक्स

यदि आपके पास आर्टिफिशिल लिंग है, तो उसको अपने गले और ब्रेस्ट से होते हुए अपनी वजायना तक ले जाएं। इसी प्रकार पुरुष भी आर्टिफिशियल वजायना का उपयोग कर सकते है।

  • अब उसे अपनी वजायना के आस-पास के एरिया पर घुमाएं।
  • धीरे-धीरे अपने वजायना पर ले जाएं।
  • अपनी आंखें बंद कर लें। लिंग को घुमाते हुए अपने वजायना के ऊपर गोल-गोल घुमाएं।
  • यदि आपको ड्राई महसूस हो रहा है। तो लिंग पर या वजायना पर लोशन या ऑयल लगाएं।
  • एक हाथ से अपने ब्रेस्ट को स्पर्श करें और दूसरे हाथ से लिंग को वजायना पर चलाएं।
  • धीरे-धीरे लिंग को अपने जी-स्पॉट पर ले जाएं।
  • सोलो सेक्स की खास बात यह भी है कि इसमें आपको संभोग करने की या लिंग से इंटरकोर्स कराना आवश्यक नहीं होता है। उसके बिना भी आप ऑर्गैज्म प्राप्त कर सकते हैं।

और पढ़ें: Quiz: महिलाओं में मेनोपॉज का दिल की बीमारी से रिश्ता जानने के लिए खेलें क्विज

शॉवर से ट्राय करें सोलो सेक्स

अपने डेली शॉवर को कभी-कभार आप मसालेदार बना सकते हैं। जी हां, इसके लिए आपको अपने शॉवर में कुछ चीजें शामिल करने की आवश्यकता है। इसके लिए आपको एक वाटर प्रूफ वाइब्रेटर लेने की जरूरत है। शॉवर को आप ऐसे एंगल से लें कि वो आपके जननांगों के संवेदनशील पार्ट्स पर लगे। जिससे आपको गुदगुदापन महसूस हो सके। अब इसी के साथ आप वाइब्रेटर का इस्तेमाल करें। शॉवर के नीचे वाइब्रेटर का इस्तेमाल आपको बहुत जल्दी उत्तेजित कर सकता है।

बिना वाइब्रेशन वाले वाइब्रेटर से ट्राय करें सोलो सेक्स

कुछ लोगों को लगता है कि बिना वाइब्रेशन वाले वाइब्रेटर का उपयोग करने से उनको चरमसुख की प्राप्ति नहीं हो सकती है। लेकिन यह एक गलत धारणा है, लोगों की पसंद के आधार पर यह भी बहुत उपयोग हो सकता है। इससे आप अपने पसंद के हिसाब से जी-स्पॉट क्षेत्र में उसको घुमा सकते हैं। जिससे आसानी से आपको चरमसुख प्राप्त हो सकता है।

रिमोट कंट्रोल वाइब्रेटर का उपयोग करें

सोलो सेक्स का लुफ्त उठाने के लिए रिमोट कंट्रोल वाइब्रेटर आपको बहुत अधिक पसंद आ सकता है। यह एक ऐसा सेक्स ट्वॉय है, जिसमें आप सेक्स के बीच में भी उसकी स्पीड में परिवर्तन कर सकते हैं। इसमें होने वाला वाइब्रेशन आपको बहुत उत्तेजित कर सकता है। यह कंपन के साथ-साथ आपकी वजायना में गोल-गोल घूमता है। आप चाहे तो इसे ऊपर और अंदर तक डालकर चरमसुख प्राप्त कर सकते हैं। इसकी शुरूआत में मूड बनाने के लिए आप पैंटी के ऊपर भी वाइब्रेटर को चला सकते हैं। इससे आपको थोड़ी गुदगुदी भी लग सकती है। शायद इसी कारण से सोलो सेक्स करने के लिए रिमोट कंट्रोल वाइब्रेटर आपका पसंददीदा खिलौना हो सकता है।

सेक्स पीलो से करें सोलो सेक्स ट्राय

सेक्स पिलो के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं, लेकिन जिन लोगों ने सेक्स पिलो का उपयोग किया है। वो लोग इसके महत्व के बारे में जानते हैं। सेक्स पिलो सेक्स पुजिशन ट्राय करने में  बहुत मददगार होते हैं। इसलिए जब आप सोलो सेक्स ट्राय करें तो पिलो सेक्स को लें। अपने कमर के निचले हिस्से के नीचे उसे रखें। इससे आपका पैर अच्छी तरह से स्ट्रेच हो जाता है। इसके साथ ही आपकी वजायना भी स्ट्रेच हो जाती है। 

और पढ़ें: यौन उत्पीड़न क्या है, जानिए इससे जुड़े कानून और बचाव

मैं अपने लिए सही वाइब्रेटर का चुनाव कैसे करूं

प्रत्येक व्यक्ति की जरूरत अलग-अलग होती है, उसी के आधार पर उनको किसी भी सामान का चुनाव करना चाहिए। यहां हम सेक्स ट्वॉय के रूप में उपयोग किया जाने वाला उपकरण वाइब्रेटर की बात कर रहे हैं कि हम अपने लिए सही वाइब्रेटर का चुनाव कैसे करें। यह ज्यादा मुश्किल नहीं है, इसके लिए आप वाइब्रेटर शॉप पर खुलकर अपनी डिजायर के बारे में बता सकते हैं। उसी के आधार पर वह आपको वाइब्रेटर लेने की सलाह देगा। इसके आलावा आप इसको ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं, क्योंकि वहीं उसके बारे में स्पीड और साइज से जुड़ी सभी बातें लिखी होती हैं। 

सोलो सेक्स के फायदे क्या हैं

सोलो सेक्स एक तरह का सेक्स ही है, जिसमें आप खुद को एक्सप्लोर करते हैं, अपने आपको प्यार करते हैं। इसलिए इसके फायदे साधारण सेक्स की तरह ही अनेक प्रकार के हैं। जो इस प्रकार हो सकते हैं।

  • तनाव मुक्त बनाता है
  • खुश रखने में मदद करता है
  • कॉन्फीडेंट बनाता है
  • शर्म को दूर करता है
  • मानसिक रूप से मजबूत बनाता है
  • एक्सप्लोर करने में मदद करता है
  • प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है
  • संक्रमण और बीमारी से लड़ने में मदद करता है
  • डायस्टोलिक रक्तचाप को कम करता है

और पढ़ें: Quiz: पहली बार सेक्शुअल इंटरकोर्स के दौरान इन बातों की जानकारी है आपको?

  • यौन अंगों को स्वस्थ रखता है
  • रक्त प्रवाह में सुधार करता है
  • नींद के साथ मदद करता है
  • व्यवहार में परिवर्तन लाता है
  • सेल्फ लव बढ़ाता है
  • बिना पार्टनर के अकेले खुश रहना सिखाता है
  • अवसाद से छुटकारा दिलाता है
  • हृदय रोग के जोखिम को कम करता है
  • लक्ष्य के लिए फोकस्ड बनाता है
  • आपको सुकून देता है
  • हेल्थ के लिए बेहतर माना जाता है
  • सेक्स डिजायर बढ़ाता है

सोलो सेक्स पुजिशन

अगर आपको लगता है कि सेक्स पुजिशन सिर्फ कपल्स सेक्स में ही काम आती है, तो आप गलत हैं। सोलो सेक्स में भी आप अलग-अलग पुजिशन के सहारे अपनी एंजॉयमेंट को बढ़ा सकते हैं। आइए, कुछ सोलो सेक्स पुजिशन के बारे में जानते हैं, जो आपके लिए बेहतर साबित हो सकते हैं।

स्टमक स्ट्रोकर

यह पुजिशन आपके एक्सपीरियंस को शानदार बनाने में काफी मदद करेगी। इस में आप बॉडीवेट और ग्रेविटी को तालमेल बैठाकर ऑर्गैज्म प्राप्त कर सकते हैं। इसे ट्राय करने के लिए आपको पेट के बल लेट जाना है और अब अगर आप फीमेल हैं, तो वाइब्रेटर को अपने क्लिटोरियल के पास रखें और अगर आप मेल हैं, तो उसे पीनस हेड के पास रखें। अब वाइब्रेटर को ऑन कर दें। इससे आपके सेंशुअल पार्ट्स पर एक्सट्रा प्रेशर पड़ेगा और आपको ऑर्गैज्म प्राप्त करने में आसानी होगी।

राइड फॉर वन

यह पुजिशन आपको कपल्स सेक्स के बिल्कुल आसपास ले जाएगी। यह पुजिशन कपल्स सेक्स के दौरान ट्राय की जाने वाली काउगर्ल पुजिशन के जैसी है। बस इसमें मेल पार्टनर की जगह आर्टिफिशियल पीनस का इस्तेमाल करना होता है। इस पुजिशन को ट्राय करने के लिए आप मार्केट या ऑनलाइन प्लेटफॉर्म से ऐसे आर्टिफिशियल पीनस को खरीदें, जिसमें नीचे से वैक्यूम स्पेस हो और वह जमीन पर फिक्स हो जाए। अब आप इस आर्टिफिशियल पीनस पर राइड कर सकती हैं। इसके साथ ही आप किसी वाइब्रेटर से अपने क्लिटोरियल को स्टिम्युलेट करके ब्लेंडेड ऑर्गैज्म भी प्राप्त कर सकती हैं।

और पढ़ें: डाले अपने सेक्स जीवन में नयी मिठास तंत्र सेक्स के साथ

powered by Typeform

स्टैंड एंड स्टिम्युलेट

यह सेक्स पुजिशन आपके सोलो सेक्स में एक्सपैरिमेंट और नयापन लाने के लिए काफी मददगार है। इस पुजिशन को आप बेडरूम, किचन या फिर बाथरूम में भी ट्राय कर सकते हैं। शॉवर लेने के दौरान यह पुजिशन आपके अनुभव को एक अलग लेवल तक ले जाने में मदद करती है। इसे ट्राय करने के लिए आप किसी दीवार के सहारे खड़े हो जाएं। अब धीरे-धीरे अपने प्राइवेट पार्ट्स को रब या स्ट्रोक करना शुरू करें। यह ध्यान रखें कि आपके हाथों की मूवमेंट शुरुआत में काफी हल्की हो और इमेजिनेशन काफी स्ट्रॉन्ग। क्योंकि सोलो सेक्स में रियल पार्टनर न होने के कारण आपकी इमेजिनेशन और फैंटेसी काफी महत्वपूर्ण रोल निभाती है। अब इमेजिनेशन को बढ़ाने के साथ-साथ हाथों की स्पीड को भी बढ़ाएं।

सोलो सेक्स को मजेदार बनाने के अन्य टिप्स:

  • आपं सोलो सेक्स करते हुए एक शीशे को अपने सामने रख सकते हैं। यह आपकी उत्तेजना बढ़ाने में काफी मदद करेगा।
  • इसके अलावा अगर आपका पार्टनर भी है, तो आप दोनों एक साथ सोलो सेक्स ट्राय कर सकते हैं, यह तरीका भी आपके अनुभव और इंटीमेसी को बढ़ाने में मदद करेगा।
  • आप अपने पार्टनर के साथ फेस टाइम पर भी सोलो सेक्स कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए थोड़ी सावधानी बरतना बहुत जरूरी है। क्योंकि एक गैर-भरोसेमंद इंसान आपके तनाव का कारण भी बन सकता है।
  • आप सोलो सेक्स को एक अलग लेवल तक ले जाने के लिए सेक्सटिंग की मदद ले सकती हैं। इसमें आपका पार्टनर आपको मैसेज या कॉल पर बताता है कि आपको क्या करना है। इससे आप ज्यादा एंजॉय कर पाते हैं।

ऊपर दी गई जानकारी चिकित्सा सलाह का विकल्प नहीं है। इसलिए किसी भी दवा या सप्लिमेंट का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर करें।

हैलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या उपचार प्रदान नहीं करता है

क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
happy unhappy
सूत्र

शायद आपको यह भी अच्छा लगे

मास्टरबेशन के अनोखे शारीरिक और मानसिक लाभ

जानिए मास्टरबेशन के लाभ in Hindi, हस्थमैथुन करने के फायदे, Masturbation Ke Labh, मास्टरबेशन के लाभ क्या है, हस्तमैथुन का शरीर पर प्रभाव।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Aamir Khan

मास्टरबेशन घुटनों के दर्द का कारण बन सकता है या नहीं?

जानिए मास्टरबेशन in HIndi, हस्तमैथुन क्या है, Masturbation के फायदे, मास्टरबेट करना नुकसानदेह है या नहीं, मास्टरबेट का घुटनों पर प्रभाव।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Bhardwaj
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra

हस्तमैथुन (Masturbation) के फायदे नुकसान और इससे बचने के उपाय

जानिए हस्तमैथुन in Hindi, हस्तमैथुन करने के फायदे, Masturbation के नुकसान, मास्टरबेशन मतलब क्या है, मास्टरबेशन क्यों करते हैं।

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Bhardwaj
के द्वारा लिखा गया Aamir Khan

प्रेग्नेंसी के दौरान मास्टरबेशन (Masturbation) कितना सही है? जानिए यहां

प्रेग्नेंसी के दौरान मास्टरबेशन करना क्या बच्चे के लिए खतरनाक हो सकता है, प्रेग्नेंसी के दौरान मास्टरबेशन करने से मां के स्वास्थ्य पर प्रभाव, Masturbation during Pregnancy.

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pooja Bhardwaj
के द्वारा लिखा गया Ankita mishra

Recommended for you

यूरेथ्रल साउंडिंग-Urethral sounding

मूत्रमार्ग का हस्तमैथुन युवक को पड़ गया भारी, जानें यूरेथ्रल साउंडिंग क्या है? 

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ जुलाई 6, 2020 . 9 मिनट में पढ़ें
महिलाओं के लिए मास्टरबेशन पोजिशन

महिलाओं के लिए मास्टरबेशन पोजिशन, शायद आप नहीं जानती होंगीं इनके बारे में

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Shayali Rekha
प्रकाशित हुआ अप्रैल 16, 2020 . 6 मिनट में पढ़ें
एनल फिस्टिंग/ गुदा फिस्टिंग

महिलाओं को जरूर जानने चाहिए मास्टरबेशन के फायदे

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Hemakshi J
के द्वारा लिखा गया Shikha Patel
प्रकाशित हुआ नवम्बर 27, 2019 . 4 मिनट में पढ़ें
पुरुष हस्तमैथुन-Male masturbation

पुरुष हस्तमैथुन: क्या मास्टरबेशन करने से घटता है स्पर्म काउंट?

चिकित्सक द्वारा समीक्षित Dr. Pranali Patil
के द्वारा लिखा गया Pawan Upadhyaya
प्रकाशित हुआ जुलाई 8, 2019 . 6 मिनट में पढ़ें