home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

कोकोनट वॉटर से वेट लॉस होता है, क्या आप इस बारे में जानते हैं?

कोकोनट वॉटर से वेट लॉस होता है, क्या आप इस बारे में जानते हैं?

पानी हम सब के शरीर के लिए बहुत जरूरी है। हमारा शरीर 70 प्रतिशत पानी से बना है। जैसे कि शरीर के लिए पानी जरूरी है, ठीक वैसे ही कोकोनट वॉटर से वेट लॉस की समस्या कम होती है। कोकोनट वॉटर से वेट लॉस का मतलब है कि कोकोनट वॉटर में उपस्थित न्यूट्रिएंट्स हेल्दी बॉडी के लिए जरूरी होते हैं। कोकोनट वॉटर से वेट लॉस का क्या संबंध है, ये बात कई लोगों को सुनने में रोचक लग सकती है। कोकोनट वॉटर से वेट लॉस कुछ तथ्यों से जुड़ा हुआ है। कोकोनट वॉटर को वंडर ड्रिंक के नाम से भी जानते हैं। कोकोनट वॉटर का टेस्ट भी अमेजिंग होता है। कोकोनट वॉटर को एनर्जी ड्रिंक के रूप में भी लिया जाता है। इस आर्टिकल के माध्यम से जानिए कि आखिर क्यों कोकोनट वॉटर से वेट लॉस होता है।

कोकोनट वॉटर से वेट लॉस की जानकारी

कोकोनट वॉटर से वेट लॉस का संबंध जानने से पहले ये जानना जरूरी है कि कोकोनट वॉटर में क्या पाया जाता है। कोकोनट वॉटर में लो कैलोरी पाई जाती है। कोकोनट वॉटर में नैचुरल एंजाइम के साथ ही मिनरल जैसे पोटेशियम भी पाया जाता है, जोकि इसे नैचुरल ड्रिंक बनाता है। सही टाइम में फ्रेश कोकोनट वॉटर से वेट लॉस की संभावना बढ़ जाती है। कोकोनट वॉटर में विटामिन और मिनरल्स पाया जाता है। ये बॉडी के इलेक्ट्रोलाइट्स को बैलेंस करने का काम भी करता है। कोकोनट वॉटर बॉडी को फ्रेश रखने के साथ ही हाइड्रेड भी रखता है। हफ्ते के सभी दिनों में कोकोनट वॉटर जरूर पीना चाहिए।

यह भी पढ़ें : फ्लैट एब्स पाना चाहते हैं? ट्राई करें ये 10 पिलाटे व्यायाम

कोकोनट वॉटर से वेट लॉस का संबंध है मेटाबॉलिज्म रेट से

कोकोनट वॉटर में लो कैलोरी होती है और साथ ही एक्टिव एंजाइम होते है। एक्टिव एंजाइम डायजेशन को आसान करने के साथ ही मेटाबॉलिज्म को बूस्ट कर सकते हैं। मेटाबॉलीक रेट के हाई होने से फैट अधिक मात्रा में बर्न होता है। कोकोनट वॉटर से वेट लॉस करने में इसलिए आसानी होती है क्योंकि कार्बोहाइड्रेड का कम कन्संट्रेशन पाया जाता है। कोकोनट वॉटर से वेट लॉस का सबसे आसान लॉजिक ये भी माना जाता है कि इसे पीने से कुछ समय तक भूख नहीं लगती है। ऐसा महसूस होता है कि खाना खाया है। अगर आपको कोकोनट वॉटर से किसी प्रकार कि समस्या नहीं है तो दिन में तीन से चार बार भी कोकोनट वॉटर पिया जा सकता है।

जान लें क्या होता है मेटाबॉलिज्म रेट

जिस भी व्यक्ति का मेटाबॉलिज्म रेट अच्छा होता है, उसके शरीर में कम फैट जमा होता है। शरीर में खानपान का ऊर्जा में परिवर्तित होने की प्रक्रिया को मेटाबॉलिज्म की प्रक्रिया कहते हैं। इस रासायनिक प्रक्रिया में ऊर्जा प्राप्त करने के लिए भोजन से मिलाने वाले कैलोरीज को ऑक्सीजन के साथ मिश्रित करता है, इस तरह से एनर्जी का निर्माण होता है। यहां तक ​​कि जब आप आराम कर रहे होते हैं, तब भी आपके शरीर को अपने सभी धीमे कामों के लिए एनर्जी की जरूरत होती है, जैसे कि सांस लेना, रक्त संचार करना, हॉर्मोन के स्तर को बनाएं रखना और सेल्स को बढ़ाना और मरम्मत करना। इन बुनियादी कार्यों को करने के लिए आपके शरीर द्वारा उपयोग की जाने वाली कैलोरी की संख्या को ‘चयापचय’ कह सकते हैं।

यह भी पढ़ें- जल्दी से वजन बढ़ाना है तो खाएं यह 10 चीजें

कोकोनट वॉटर से वेट लॉस होने के मुख्य कारण

फाइबर

एक कप कोकोनट वॉटर में 3 ग्राम फाइबर होता है। अगर दूसरे ड्रिंक के साथ इसकी तुलना की जाए तो फाइबर की मात्रा में कोकोनट वॉटर बेहतर होता है। पानी, कोला,सोडा के साथ ही दूसरे ड्रिंक में फाइबर की मात्रा कोकोनट जितनी नहीं होती है। फाइबर में कैलोरी नहीं होती है। कोकोनट वॉटर फूड क्रैविंग को भी रोकने का काम करता है। मॉर्डन रिसर्च में ये बात सामने आई है कि फाइबर कोलन में तेजी से भोजन को आगे बढ़ाने का काम करता है जिससे वेस्ट वॉटर शरीर से जल्दी बाहर निकल जाता है।

पोटैशियम

एक कप कोकोनट वॉटर में 300 ग्राम पोटैशियम होता है। केले से भी ज्यादा पोटेशियम कोकोनट वॉटर में पाई जाती है। पोटेशियम एक्सीलेंट इलेक्ट्रोलाइट है जो खाने को तेजी से एनर्जी में बदलने का काम करता है। पोटैशियम बॉडी की मसल्स को स्ट्रेंथ देने के काम आता है। मसल्स फैट के कम्पेयर में कैलोरी को ज्यादा बर्न करती हैं।

यह भी पढ़ें- मोटापा छुपाने के लिए पहनते थे ढीले कपड़े, अब दिखते हैं ऐसे

प्रोटीन

एक कप कोकोनट वॉटर में 2 ग्राम प्रोटीन होती है। प्रोटीन की मात्रा लेने पर भूख का एहसास कम होता है। साथ ही जिन लोगों को वेट लॉस करना है, उनके लिए हाई प्रोटीन लेना बेहतर विकल्प होता है। इस तथ्य के साथ ही कोकोनट वॉटर से वेट लॉस का रास्ता और भी आसान हो जाता है।

विटामिन-सी

एक कप कोकोनट वॉटर में रोज की जरूरत के हिसाब से 10 परसेंट विटामिन-सी उपस्थित होता है। स्टडी में ये बात सामने आई है कि विटामिन-सी शरीर में हॉर्मोन प्रोड्यूस करता है जिसे कार्निटाइन कहते हैं। इस हार्मोन के कारण जल्द की एनर्जी सेल्स तक पहुंचती है।

एंजाइम

कोकोनट वॉटर में कई एंजाइम जैसे कैटालेज, पेरोक्सीडेज, डिहाइड्रोजनेज, डायस्टेज, आरएनए पोलीमरेज और फॉस्फेटेज आदि उपस्थित होते हैं। ये एंजाइम पाचन के साथ ही मेटाबॉलिक सिस्टम को भी बेहतर रखने में मदद करते हैं।

यह भी पढ़ें- वजन घटाने के लिए फॉलो कर सकते हैं डिटॉक्स डाइट प्लान

फ्रूट जूस या कोकोनट वॉटर

वेट लॉस के लिए लोग अक्सर फलों को खाना या फिर फलों का जूस पीना भी पसंद करते हैं। सच तो ये है कि फलों के रस में शुगर भी रहती है। इस बारे में कुछ लोगों को जानकारी नहीं होती है। जबकि कोकोनट वॉटर में किसी भी जूस की अपेक्षा अधिक मिनरल्स होते हैं। साथ ही शुगर की मात्रा भी बहुत कम होती है। कोकोनट वॉटर से वेट लॉस चाहते हैं तो उसे पीने का समय निर्धारित करना भी बहुत जरूरी है। जो लोग सुबह खाली पेट कोकोनट वॉटर पीते हैं, उनमे वेट लॉस की संभावना बढ़ जाती है। वैसे तो कोकोनट वॉटर को दिन या फिर रात, किसी भी समय लिया जा सकता है। लेकिन खाली पेट कोकोनट वॉटर का असर शरीर में अधिक दिखाई देता है। खासतौर पर उन लोगों के लिए जो वजन को कम करना चाहते हैं। कोकोनट वॉटर में लौरिक एसिड (Lauric acid) होता है। ये इम्युनिटी को बिल्ट करने में भी हेल्प करता है।

कोकोनट वॉटर सभी लोगों के लिए स्वास्थ्य वर्धक होता है। कोकोनट वॉटर से वेट लॉस करना एक अच्छा ऑप्शन साबित हो सकता है। कोकोनट वॉटर से वेट लॉस के साथ ही अन्य लाभ भी शरीर को मिलते हैं। अगर आपको बीपी की समस्या या फिर अन्य समस्या है तो कोकोनट वॉटर लेने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करें।

health-tool-icon

बीएमआर कैलक्युलेटर

अपनी ऊंचाई, वजन, आयु और गतिविधि स्तर के आधार पर अपनी दैनिक कैलोरी आवश्यकताओं को निर्धारित करने के लिए हमारे कैलोरी-सेवन कैलक्युलेटर का उपयोग करें।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 02/06/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x