स्वस्थ जीवन शैली के लाभ के लिए ऑफिस डायट ख्याल रखना है बेहद जरूरी, फॉलों करें ये टिप्स

    स्वस्थ जीवन शैली के लाभ के लिए ऑफिस डायट ख्याल रखना है बेहद जरूरी, फॉलों करें ये टिप्स

    भले ही पहले घर का कोई एक सदस्य ऑफिस जाकर काम करता था और बाकी लोग घर में रहते थे, लेकिन अब महिला और पुरुष दोनों ही ऑफिस जाकर काम करते हैं। ऑफिस में दिन के नौ से दस घंटे आराम से निकल जाते हैं। इसलिए ऑफिस में खुद के स्वास्थ्य का ध्यान रखना भी बेहद जरूरी होता है जिसमें सबसे जरूरी होती है डायट क्योंकि सही डायट न लेने पर कमजोरी के साथ ही अन्य स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए आज इस आर्टिकल में स्वस्थ जीवनशैली के लाभ से जुड़ी बातों को समझने की कोशिश करेंगे।

    हेल्थ कॉन्शियस लोग ऑफिस डायट को मेंटेन रखते हैं और टाइम के मुताबिक उनके पास खाने के लिए हेल्दी फूड (Healthy food) भी अवेलेबल रहते हैं। अक्सर कुछ लोग ऑफिस में हेल्दी फूड नहीं ले पाते, वजह सिर्फ इतनी होती है कि रोजाना ऑफिस जाना और साथ में हेल्दी खाना ले जाना पॉसिबल नहीं हो पाता है। ऐसा अक्सर समय की कमी के कारण होता है। ऐसे में लाइफ स्टाइल गड़बड़ाने लगती है और स्वस्थ जीवनशैली के लाभ हमें नहीं मिल पाते। इस आर्टिकल में हम आपको ऑफिस में स्वास्थ्य और सुरक्षा के कुछ टिप्स देने जा रहे हैं। अगर आप ऑफिस में कुछ बातों को ध्यान देंगे तो स्वस्थ जीवनशैली के लाभ आसानी से ले सकेंगे।

    और पढ़ें: ग्रीन टी आपकी बॉडी को हेल्दी रखने में ग्रीन सिग्नल की तरह करती है काम

    स्वस्थ जीवनशैली के लाभ के लिए टिप्स: ब्रेकफास्ट (Breakfast) से करें शुरुआत

    ऑफिस जाने वालो के लिए सुबह हेल्दी ब्रेकफास्ट (Healthy breakfast) करना बहुत जरूरी होता है। हेल्दी ब्रेकफास्ट लेने से पूरा दिन एनर्जी से भरपूर रहता है। अगर आप ब्रेकफास्ट नहीं करते हैं तो आपका शरीर लंबे समय के लिए भूखा रह जाता है। कुछ भी खा लेने की आदत से बचना चाहिए। ब्रेकफास्ट रात भर के आठ से नौ घंटे के फास्ट को तोड़ने का काम करता है। अगर हेल्दी ब्रेकफास्ट लिया जाएगा तो वो कुछ ही समय बाद शरीर द्वारा आसानी से अब्जॉर्व कर लिया जाएगा। अगर आप ये सोच रहे हैं कि ब्रेकफास्ट को स्किप कर दें तो मोटापे (Obesity) में कमी आएगी, तो ये एकदम गलत सोच है। अगर मोटापे की समस्या से दूर रहना चाहते हैं तो बेहतर होगा कि हेल्दी ब्रेकफास्ट लेना तुरंत शुरू कर दें।

    कार्ब (Carb), प्रोटीन (Protein), फैट्स, फाइबर, विटामिन (Vitamin), मिनिरल्स आदि को अपने नाश्ते में शामिल करें। एक ग्लास दूध के साथ पराठा, बेसन चीला, मसाला ओमलेट, उबले हुए अंडे, मल्टीग्रेन टोस्ट और एक कटोरी फल को नाश्ते में शामिल किया जा सकता है। अपनी पसंद का नाश्ता करने से आपको जल्दी-जल्दी भूख भी नहीं लगेगी। स्वस्थ जीवनशैली के लाभ उठाने के लिए ये तरीका अपनाकर देखें।

    और पढ़ें: Vitamin B12: विटामिन बी-12 क्या है?

    स्वस्थ जीवनशैली के लाभ के लिए टिप्स: लंच के लिए हेल्दी डायट

    सुबह के समय जब आप ब्रेकफास्ट करते हैं, उस समय मेटाबॉलिज्म थोड़ा तेज रहता है, लेकिन दिन के समय मेटाबॉलिज्म धीमा हो जाता है। ऐसे में लंच ऐसा होना चाहिए, जिसे खाकर नींद न आए। साथ ही लंच ऐसा भी नहीं हो कि आपको कुछ समय बाद ही भूख का एहसास भी होने लगे। इन समस्याओं से बचने के लिए हेल्दी डायट का चुनाव करना बहुत जरूरी है। भारतीय घरों में लंच में राइस, रोटी, दाल, सब्जी और सलाद को पौष्टिक आहार (Healthy food) माना गया है। यकीन मानिए कि ऑफिस डायट में इसे शामिल करने से आपको दिनभर ऊर्जा का एहसास होता रहेगा। आप चाहे तो अपनी पसंद के अनुसार दही को भी शामिल कर सकते हैं। स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिहाज से सादा और पौष्टिक आहार लंच में शामिल करना चाहिए। स्वस्थ जीवनशैली के लाभ उठाने के लिए ये तरीका अपनाकर देखें।

    स्वस्थ जीवनशैली के लाभ के लिए टिप्स:स्नैक्स लेते समय न करें लापरवाही

    लंच के बाद का समय अच्छे से गुजरता है क्योंकि कुछ देर तक भूख नहीं लगती है। जब खाना डायजेस्ट हो जाता है तो उसके बाद फिर से भूख लगने लगती है। ऑफिस डायट में स्नैक के नाम पर लोग कुछ भी खा लेते हैं। ऐसा नहीं करना चाहिए। हेल्दी स्नैक्स को डायट में शामिल करना बहुत जरूरी है। करीब 4 बजे से 6 बजे तक लोगों को अक्सर अधिक भूख का एहसास होता है। ऐसे में सैंडविच, चिप्स, समोसा, ब्रेड पकौड़ा, पेटीज आपकी ऑफिस कैंटीन में आसानी से उपबल्ध होती है, जो कि आपकी फेवरेट भी हो सकती है, लेकिन आपको इन सबको न कहना चाहिए। स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिहाज से आपको स्नैक्स में स्प्राउट सलाद, चिक-पी सलाद, राजमा सलाद, थोड़े ड्राई फ्रूट्स, वेजीटेबल सलाद या फिर योगर्ट या छाछ लेना चाहिए। अगर आप स्नैक्स में ये सब शामिल करते हैं तो आपकी भूख भी मिट जाएगी और आपकी हेल्थ को भी फायदा पहुंचेगा। अगली बार जब भी स्नैक्स का टाइम हो तो समोसा या पेटीज की जगह हेल्दी स्नैक्स खाएं। स्वस्थ जीवन शैली के लाभ उठाने के लिए ये तरीका अपनाकर देखें।

    और पढ़ें: कैलोरी और एनर्जी में क्या है संबंध? जानें कैसे इसका पड़ता है आपके शरीर पर असर

    स्वस्थ जीवनशैली के लाभ के लिए टिप्स: डिनर के लिए हेल्दी डायट का चुनाव

    ऑफिस से घर पहुंचते रात हो जाती है। अगर आप घर 8 या 9 बजे तक पहुंचते हैं तो ऐसे में हैवी फूड लेना आपके लिए सही नहीं रहेगा। बेहतर होगा कि आप आपने साथ ऑफिस रोटी रोल भी ले जाएं जो 7 बजे तक खा लें। ऐसा करने से आपको रात में घर पहुंचते हुए बहुत अधिक भूख का एहसास नहीं होगा। डिनर में दाल, सब्जी, चावल, सूप और मन के मुताबिक एक मल्टीग्रेन रोटी को शामिल किया जा सकता है। रात में खाना जल्दी लेना चाहिए। यानी खाने के बाद और सोने से पहले समय के अंतर का हिसाब जरूर रखें। अगर आप खाने के तुरंत बाद सो जाएंगे तो खाना पचने में समस्या हो सकती है। बेहतर होगा कि 7 बजे तक डिनर लें और फिर दस बजे तक सो जाएं।

    हेल्दी डायट के साथ ये भी है जरूरी (Tips for healthy lifestyle)

    स्वस्थ जीवनशैली के लाभ के लिए टिप्स: लंबे समय तक न बैठे एक जगह

    ऑफिस में स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिहाज के केवल हेल्दी डायट ही मायने नहीं रखती है, बल्कि और भी कई बातें हैं जिनका ध्यान रखना जरूरी होता है। आपने ऑफिस में ऐसे लोगों को देखा होगा जो कि लंबे समय तक लैपटॉप के सामने बैठकर काम किया करते हैं। ऐसा करने से आंख (Eye) और कंधे दोनों में परेशानी हो सकती है। काम करने के दौरान खुद को थोड़ा रिलैक्स भी देना चाहिए। आप एक से दो घंटे के अंतर में अपने स्थान से उठकर थोड़ा रिलैक्स कर सकते है। आखों को बंद करें और सांस तेजी से खींचे। ऐसा करने से बहुत राहत मिलती है। आंखों को भी कुछ समय के लिए राहत मिल जाती है। ये प्रॉसेस दिन में तीन से चार बार जरूर करें।

    और पढ़ें: जानिए कैसे वजन घटाने के लिए काम करता है अश्वगंधा

    स्वस्थ जीवनशैली के लाभ के लिए टिप्स: ऑफिस में कर सकते हैं वॉक

    ये जरूरी नहीं है कि बाहर टहलने जाएं। ऑफिस में लंबे वर्किंग आवर होते हैं। ऐसे में एक ही जगह में लंबे समय तक बैठकर काम करने से कंधे और पीठ दर्द (Back pain) की समस्या हो सकती है। बेहतर रहेगा कि ऑफिस में लिफ्ट का यूज न करें। स्टेयर्स का यूज करने से बॉडी मूवमेंट होगा और आपकी बॉडी को भी रिलेक्स मिलेगा। पांच से दस मिनट की वॉक भी आपको बहुत राहत महसूस करा सकती है।

    ऑफिस में अगर कुछ बातों का ध्यान दिया जाए तो आपको किसी भी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा और आपको स्वस्थ जीवन शैली के लाभ भी मिलना शुरु हो जाएंगे। अगर आप एक बार शेड्यूल पर ध्यान देंगी तो आपको कुछ समय बाद परेशानी महसूस नहीं होगी। अगर आपको किसी भी प्रकार की हेल्थ कंडीशन (Health condition) हो, तो बेहतर होगा कि स्वास्थ्य और सुरक्षा की दृष्टि से डायट के बारे में एक बार डॉक्टर से जरूर सलाह लें।

    हैलो स्वास्थ्य किसी प्रकार की मेडिकल एडवाइज, उपचार और निदान प्रदान नहीं करता।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    लेखक की तस्वीर badge
    Bhawana Awasthi द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 27/09/2021 को
    डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड