home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर: कैंसर के लक्षणों और इलाज को समझें यहां!

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर: कैंसर के लक्षणों और इलाज को समझें यहां!

कैंसर शरीर के अलग-अलग अंगों में होने वाली गंभीर बीमारी है। नैशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इंफॉर्मेशन (NCBI) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार पैंक्रियाटिक कैंसर की समस्या विकसित देशों में कम देखी जाती है और पैंक्रियाटिक कैंसर चौथा सबसे सामान्य होने वाला कैंसर है। रिपोर्ट के अनुसार भारत में 100,000 पुरुषों में 0.5 से 2.4 प्रतिशत और 100,000 महिलाओं में 0.2 से 1.8 प्रतिशत पैंक्रियाटिक कैंसर के पेशेंट देखे जाते हैं। आज इस आर्टिकल में पैंक्रियाज, पैंक्रियाटिक कैंसर और स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer) से जुड़ी पूरी जानकारी आपसे शेयर करेंगे।

और पढ़ें : सर्वाइकल कैंसर का पता लगाने के लिए की जाती है कोन बायोप्सी (Cone Biopsy), ऐसी होती है प्रॉसेस

पैंक्रियाज (Pancreas) क्या है?

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer)

पैंक्रियाज डायजेस्टिव सिस्टम का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है, जिसे हिंदी में अग्नाशय ग्रंथि कहते हैं। पैंक्रियाज पेट, स्मॉल इंटेस्टाइन एवं लिवर के बीच में मौजूद होता है। अगर डायजेस्टिव सिस्टम की इमेज को गौर से देखेंगे, तो पैंक्रियाज पेट एवं रीढ़ की हड्डी के बीच में नजर आएगी। पैंक्रियाज के दो मुख्य काम होते हैं पहला खाना पचाना और दूसरा ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल रखना। चलिए अब इस आर्टिकल में जानेंगे पैंक्रियाटिक कैंसर एवं स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer) बारे में।

पैंक्रियाटिक कैंसर (Pancreatic Cancer) क्या है?

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer)

कैंसर को अगर लाइन में समझा जाए कि यह क्या है, तो इसका सीधा सा जवाब है कि जब मनुष्य के शरीर में मौजूद सेल्स अनियंत्रित तरीके से बढ़ने लगे, तो ऐसी स्थिति कैंसर को दावत देती है। कोशिकाओं का अनियंत्रित होकर बढ़ाना शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है। इसलिए जिस अंग में कैंसर की समस्या शुरू होती है, उसे कैंसर के साथ जोड़ दिया जाता है। जैसे : लिवर कैंसर (Liver cancer), ब्रेस्ट कैंसर (Breast cancer), प्रोस्टेट कैंसर (Prostate cancer) या फिर पैंक्रियाटिक कैंसर (Pancreatic Cancer)। दरअसल जब पैंक्रियाज में मौजूद सेल्स भी अनियंत्रित होकर बढ़ने लगते हैं, पैंक्रियाटिक कैंसर की समस्या शुरू होने लगती है और धीरे-धीरे यही स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर का रूप ले लेती है। नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट (National Cancer Institute) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार पैंक्रियाटिक कैंसर दो अलग-अलग तरह के होते हैं। जैसे: एक्सोक्राइन और एंडोक्राइन पैंक्रियाटिक कैंसर।

  1. एक्सोक्राइन (Exocrine)- पैंक्रियाटिक ग्लैंड के अंदर होने वाले कैंसर को एक्सोक्राइन पैंक्रियाटिक कैंसर (Exocrine Pancreatic Cancer) कहते हैं।
  2. एंडोक्राइन (Endocrine)- हॉर्मोन से जुड़ी गड़बड़ी की वजह एंडोक्राइन ट्यूमर डेवलप होने लगते हैं, जिसे एंडोक्राइन पैंक्रियाटिक कैंसर (Endocrine Pancreatic Cancer) कहते हैं।

रिसर्च रिपोर्ट्स के अनुसार ज्यादातर लोगों में एक्सोक्राइन पैंक्रियाटिक कैंसर की ही समस्या देखी जाती है, जो तेजी से फैलता है। स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer) को समझें से पहले पैंक्रियाटिक कैंसर के कारण और लक्षणों को समझ लेते हैं। कहते हैं अगर किसी भी बीमारी के लक्षणों को शुरुआती स्टेज में समझना और उसके कारणों को जानकारी कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों को हराया जा सकता है।

और पढ़ें : एनल कैंसर को कहीं आप पाइल्स समझकर इग्नोर तो नहीं कर रहें?

पैंक्रियाटिक कैंसर के लक्षण क्या हैं? (Symptoms of Pancreatic Cancer)

पैंक्रियाटिक कैंसर के लक्षण निम्नलिखित हैं। जैसे:

ये लक्षण पैंक्रियाटिक कैंसर के ओर इशारा करते हैं। इसलिए इन लक्षणों को इग्नोर ना करें। कुछ केसेस में पैंक्रियाटिक कैंसर होने पर पेशेंट के नाक से ब्लीडिंग की भी समस्या हो सकती है। ऐसी स्थिति में घबराएं नहीं और जल्द से जल्द डॉक्टर से कंसल्टेशन करें।

और पढ़ें : ब्रेन सर्जरी के बाद रिकवरी में मदद कर सकती हैं ये 3 थेरिपी, जरूर लें इनका

पैंक्रियाटिक कैंसर के कारण क्या हैं? (Cause of Pancreatic Cancer)

पैंक्रियाटिक कैंसर (Pancreatic Cancer) के कारण निम्नलिखित हो सकते हैं। जैसे:

  • स्मोकिंग (Smoking) करना
  • डायबिटीज (Diabetes) की समस्या होना।
  • जेनेटिक सिंड्रोम (Genetic syndrome) से जुड़ी फैमली हिस्ट्री होना।
  • शरीर का वजन (Obesity) जरूरत से ज्यादा होना।
  • फैमिली एटिपिकल मल्टीपल मोल मेलेनोमा सिंड्रोम (FAMMM) होना।
  • परिवार में किसी को पैंक्रियाटिक कैंसर होना।
  • व्यक्ति की उम्र 65 वर्ष या इससे ज्यादा (Older age) उम्र होना।

पैंक्रियाटिक कैंसर के ये खास कारण माने जाते हैं, हालांकि कभी-कभी इसके अन्य कारण भी हो सकते हैं। अब आर्टिकल में आगे जानेंगे स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer) से जुड़ी जानकरी महत्वपूर्ण जानकारियां।

और पढ़ें : स्मॉल सेल लंग कैंसर क्या है? क्या हैं इसके कारण, लक्षण और उपचार?

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer)

किसी भी कैंसर के स्टेज (Cancer stage) को ही समझकर इसका इलाज करना आसान होता है। पैंक्रियाटिक कैंसर के डायग्नोसिस रिपोर्ट्स के अनुसार कैंसर (Cancer) से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी मिल जाती है। स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer) को समझकर ही इसका इलाज किया है। कैंसर रिसर्च ऑफ यूके (Cancer Research UK) में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर 4 cm से बड़ा नहीं होता है और यह इस स्टेज में पैंक्रियाज (Pancreas) के बाहर भी नहीं फैलता है। हालांकि स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer) दो अलग-अलग स्टेज में बट जाता है, जिसे बारे में आगे जानेंगे।

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर: स्टेज 1 ए (Stage 1A)

स्टेज 1 ए (Stage 1A) का अर्थ है कैंसरस सेल्स पैंक्रियाज के अंदर है और इसका आकार 2cm या फिर इससे कम है। स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर के स्टेज 1 ए (Stage 1A in Stage 1 Pancreatic Cancer) के दौरान कैंसर लिम्फ नॉड्स में नहीं होता है।

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर: स्टेज 1 बी (Stage 1B)

पैंक्रियाटिक कैंसर जब स्टेज 1 बी में पहुंच जाए, तो इसका अर्थ है कैंसरस सेल्स का साइज 2cm से बड़ा और 4cm से छोटा हो सकता है। स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर के स्टेज 1 बी (Stage 1B in Stage 1 Pancreatic Cancer) के वक्त भी कैंसरस सेल्स लिम्फ नॉड्स में नहीं होता है।

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer) इन्हीं दो अलग-अलग स्टेज में होता है। कैंसर का इलाज कैंसर के स्टेज को ध्यान में रखकर किया जाता है।

और पढ़ें : कैंसर रेमिशन (Cancer remission) को ना समझें कैंसर का ठीक होना, जानिए इसके बारे में पूरी जानकारी

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर निदान कैसे किया जाता है? (Diagnosis of Stage 1 Pancreatic Cancer)

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर हो या पैंक्रियाटिक कैंसर (Pancreatic Cancer) की शुरुआत होने पर निम्नलिखित टेस्ट करवाने की सलाह दी जाती है। जैसे:

इन टेस्ट के अलावा पेशेंट के हेल्थ कंडिशन (Health condition) को ध्यान में रखते हुए अन्य टेस्ट की भी सलाह दी जा सकती है और फिर इलाज की प्रक्रिया शुरू की जाती है।

और पढ़ें : सर्वाइकल कैंसर का पता लगाने के लिए की जाती है कोन बायोप्सी (Cone Biopsy), ऐसी होती है प्रॉसेस

स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर का इलाज कैसे किया जाता है? (Treatment for Stage 1 Pancreatic Cancer)

गवर्मेंट साइट्स में पब्लिश्ड रिपोर्ट के अनुसार अगर किसी व्यक्ति को पैंक्रियाटिक कैंसर (Pancreatic Cancer) है और वह स्टेज 1 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 1 Pancreatic Cancer) की समस्या से पीड़ित है, तो सबसे पहले पेशेंट के हेल्थ कंडिशन को ध्यान में रखकर इलाज शुरू किया जाता है। जैसे:

पैंक्रियाटिक कैंसर सर्जरी (Pancreatic Cancer surgery)

अगर कैंसर ट्रीटमेंट होने के बाद भी ट्यूमर पैंक्रियाज में रहता है, तो उसे हटाने के लिए पैंक्रियाटिक कैंसर सर्जरी की मदद ली जाती है। सर्जरी की सहायता से कैंसर को पूरी तरह से खत्म करने की कोशिश की जाती है। व्हिपल प्रक्रिया (Whipple procedure) की सहायता से ट्यूमर सेल्स को पैंक्रियाज (अग्नाशय) से हटाया जाता है। इस प्रक्रिया के तहत पैंक्रियाज के सिर के साथ ही करीब 20 प्रतिशत तक भाग को भी निकाला जा सकता है। फिलहाल सर्जरी (Surgery) के दौरान जरूरत पड़ने पर पेट का कुछ हिस्सा भी निकाल दिया जाता है।

पेशेंट को सर्जरी की जरूरत पड़ेगी या फिर नहीं, ये बात डॉक्टर जांच के बाद ही बताते हैं। अगर आपको पैंक्रिएटिक कैंसर सर्जरी (Pancreatic Cancer surgery) के बारे में अधिक जानकारी चाहिए तो बेहतर होगा कि आप सर्जन या फिर डॉक्टर से इसकी जानकारी लें। कैंसर का इलाज सही समय पर ट्रीटमेंट कराने पर काफी हद तक निर्भर करता है। अगर सही समय पर इलाज हो जाए तो कैंसर को पूरी तरह से खत्म किया जा सकता है।

पैंक्रियाटिक कैंसर स्टेज 1 (Stage 1 Pancreatic Cancer) का समय पर डायग्नोस नहीं होने पर और इलाज वक्त पर शुरू नहीं होने की स्थिति में यह जानलेवा भी हो सकता है। कैंसर से जुड़े एक्सपर्ट मानते हैं कि पैंक्रियाटिक कैंसर (Pancreatic Cancer) होने पर एक साल में 19 फीसदी लोग ही बच पाते हैं। वहीं इस बीमारी के साथ पांच साल तक रहने से लगभग चार फीसदी लोग ही बच पाते हैं। ऐसे में समय पर इस बीमारी का निदान करना जरूरी हो जाता है।

पैंक्रियाटिक कैंसर के स्टेज 1 की जानकारी यहां आपसे शेयर की गई है आगे स्टेज 2 पैंक्रियाटिक कैंसर (Stage 2 Pancreatic Cancer) से जुड़ी अहम जानकारी भी आपसे शेयर करेंगे।

अगर आप पैंक्रियाटिक कैंसर (Pancreatic Cancer) या पैंक्रियाटिक कैंसर स्टेज 1 (Stage 1 Pancreatic Cancer) से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं, तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर पूछ सकते हैं। हमारे हेल्थ एक्सपर्ट आपके सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे। हालांकि अगर आप पैंक्रियाटिक कैंसर (Pancreatic Cancer) से पीड़ित हैं, तो डॉक्टर से कंसल्टेशन करें, क्योंकि ऐसी स्थिति में डॉक्टर आपके हेल्थ कंडिशन (Health condition) को ध्यान में रखकर और पैंक्रियाटिक कैंसर के लक्षण को समझकर जल्द से जल्द इलाज शुरू करेंगे।

कैंसर (Cancer) से जुड़ी जानकरी छिपी है नीचे दिए इस क्विज में। क्विज खेलिए और जानिए अपना स्कोर।

powered by Typeform

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र
All you need to know about Pancreatic Cancer/https://www.narayanahealth.org/pancreatic-cancer/Accessed on 07/06/2021
Pancreatic Cancer Treatment (Adult) (PDQ®)–Patient Version/https://www.cancer.gov/types/pancreatic/patient/pancreatic-treatment-pdq/Accessed on 07/06/2021
लेखक की तस्वीर badge
Nidhi Sinha द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 07/06/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड