Combiflam Tablet: कॉम्बिफ्लेम टेबलेट क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

Medically reviewed by | By

Update Date मार्च 9, 2020
Share now

उपयोग

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) का इस्तेमाल किस लिए होता है?

  • कॉम्बिफ्लेम दो दवाइयों का एक कॉम्बिनेशन है। इसमें पैरासिटामोल और आइबूप्रोफेन एक एक्टिव इनग्रीडिएंट के रूप में होते हैं। यह दवा एक नॉन स्टेरॉयडल एंटी-इन्फ्लमेट्रिक ड्रग (एनएसएआईडी) है। कॉम्बिफ्लेम का इस्तेमाल कई प्रकार के दर्द, बुखार और सूजन को कम करने के लिए होता है। साथ ही इसका इस्तेमाल सिर दर्द, मांसपेशियों के दर्द, पीरियड्स में होने वाले दर्द, दांत दर्द, सर्दी और जोड़ों के दर्द (गठिया) के इलाज में किया जाता है।
  • यदि आपको गठिया की समस्या है और आप इसका उपचार करा रहे हैं तो इसमें ली जाने वाली दवा या दर्द को कम करने वाली औषधियों के संबंध में अपने डॉक्टर से जानकारी अवश्य लें।
  • अगर आप पहले भी कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का इस्तेमाल कर चुके हैं तो भी दवा के लेबल पर दी गई घटकों से जुड़ी जानकारी को जरूर पढ़ें। कई बार दवा मैन्युफैक्चर्र इनग्रीडिएंट्स में बदलाव भी कर सकते हैं। इसके अलावा, समान नामों वाले प्रोडक्ट्स में विभिन्न उद्देश्यों के लिए अलग-अलग घटकों का इस्तेमाल किया जाता है। गलत दवा का इस्तेमाल करने से आपकी सेहत को नुकसान हो सकता है। इसलिए दवा का उपयोग करने से पहले लेवल पर नाम व अन्य चीजों को ध्यान से पढ़ें।

अन्य उपयोगः अन्य समस्याओं में भी इस दवा का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसकी अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से सलाह लें। अगर आप इसका सेवन बिना डॉक्टर की निगरानी में कर रहे हैं तो दवा के लेबल पर छपे दिशा निर्देशों को सावधानी पूर्वक अवश्य पढ़ें।

मैं कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) को कैसे इस्तेमाल करूं?

  • यदि आप कोई ओवर-दि-काउंटर दवा का इस्तेमाल कर रहे हैं तो कॉम्बिफ्लेम टेबलेट लेने से पहले उत्पाद पैकेज पर सभी निर्देशों को ध्यान से पढ़ें। यदि आपके डॉक्टर ने आपको कॉम्बिफ्लेम टेबलेट लेने का सुझाव दिया है तो अपने फार्मासिस्ट द्वारा प्रदान किए गए दवा गाइड को पढ़ें। अगर इसको लेकर आपके मन में किसी तरह का कोई शक है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करिए।
  • इस दवा का इस्तेमाल आप 4 से 6 घंटे के बीच एक ग्लास पानी (8 औंस / 240 मिलीलीटर) के साथ डॉक्टर के निर्देश के अनुसार किया जा सकता है।
  • अगर आपको दवा का इस्तेमाल करने से पेट में किसी तरह की समस्या होती है तो इसे खाने या एंटासिड के साथ लें।
  • इस दवा की खुराक आपकी चिकित्सा स्थिति और उपचार की प्रतिक्रिया पर आधारित है। पेट से जुड़े और अन्य दुष्प्रभावों के अपने जोखिम को कम करने के लिए इस दवा का इस्तेमाल कम समय के लिए किया जाता है। अगर आपको इसके अलावा किसी और तरह की समस्या होती है तो इसके बारे में अपने डॉक्टर से संपर्क करें। अगर आपको गठिया जैसी कोई भी बीमारी है तो डॉक्टर के आदेश पर ही कॉम्बिफ्लेम का इस्तेमाल जारी रखें। कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का इस्तेमाल आपकी मेडिकल कंडिशन और इलाज के प्रति आपकी बॉडी की प्रतिक्रिया पर आधारित है।
  • अगर आप बच्चों के लिए कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसकी मात्रा बच्चे के वजन पर आधारित होती है। बच्चे को दवा की कितनी खुराक देनी है इसके बारे में ध्यान से दवा के पैक पर दिए गए निर्देशों को पढ़ें। अगर आपको बच्चे को यह दवा देने में किसी भी तरह का कोई सवाल है तो इसके बारे में अपने डॉक्टर से संपर्क करें।
  • यदि आप इस दवा को आवश्यकतानुसार (नियमित समय पर) ले रहे हैं, तो याद रखें कि दर्द की दवाइयां सबसे अच्छी तरह से काम करती हैं यदि वे दर्द के पहले लक्षणों के रूप में उपयोग की जाती हैं। अगर आप भी इन चीजों का इंतजार कर रहे हैं तो हो सकता है कि दर्द बढ़ जाए, तो दवा वक्त पर काम नहीं करेगी।
  • यदि आपको फायदा नहीं मिलता है या हालत और बिगड़ जाती है या यदि आपको लगता है कि आपको कोई गंभीर बीमारी दवा का सेवन से आपको हो गई है या होने वाली है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करिए। अगर आप बच्चे या खुद के लिए नॉनस्प्रिस्क्रिप्शन उत्पाद का सेवन कर रहे हैं और बुखार 3 दिन या उससे अधिक रहता है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करिए।

मैं कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) को कैसे स्टोर करूं?

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट को स्टोर करने का सबसे बेहतर तरीका है इसे कमरे के तापमान पर रखना। इसे सूर्य की सीधी किरणों और नमी से दूर रखें। दवा को खराब होने से बचाने के लिए आपको कॉम्बिफ्लेम टेबलेट को बाथरूम या फ्रीजर में नहीं रखना है। इसे रखने से पहले सबसे बेहतर होगा कि आप दवा के पैकेज पर छपे निर्देशों को पढ़ लें या फार्मासिस्ट से पूछें। सुरक्षा की दृष्टि से सभी दवाइयों को अपने बच्चों और पेट्स से दूर रखें। जब तक कहा ना जाए तब तक सुरक्षा की दृष्टि से आपको कॉम्बिफ्लेम टेबलेट को टॉयलेट या नाली में नहीं बहाना है। आवश्यकता ना रहने या एक्सपायरी की स्थिति में दवा का समुचित तरीके से निस्तारण जरूरी है। सुरक्षित तरीके से इसका निस्तारण करने के लिए अपने फार्मासिस्ट से सलाह लें।

यह भी पढ़ें: ऑटोइम्यून डिसऑर्डर के मरीजों के लिए एक्सरसाइज से जुड़े टिप्स

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) का इस्तेमाल करने से पहले मुझे क्या पता होना चाहिए?

निम्नलिखित स्थितियों में इस दवा का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें:

  • कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का उपयोग करना सेहत के लिए जोखिम भरा हो सकता है। इसलिए इससे होने वाले फायदे के साथ-साथ इससे होने वाली हानियों को भी पूरी तरह से समझना चाहिए। इस्तेमाल से पहले एक बार जरूर डॉक्टर की सलाह लें।
  • अगर आपको कॉम्बिफ्लेम टेबलेट, एस्पिरिन या अन्य NSAIDs जैसे कि केटोप्रोफेन (ओरुडीस केटी, एक्ट्रॉन) और नेप्रोक्सेन (एलेव, नेप्रोसिन), किसी भी दवाइयों से किसी भी तरह की एलर्जी है तो इसके बारे में अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को बताएं। अपने फार्मासिस्ट से पूछें या निष्क्रिय सामग्री की सूची के लिए पैकेज पर लेबल की जांच करें।
  • आप वर्तमान में किन दवाओं और हर्बल प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल कर रहे हैं इसकी जानकारी अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट को जरूर बताएं।

यदि आप निम्नलिखित दवाइयों का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसकी सूचना अपने डॉक्टर को अवश्य दें।

  • कैप्टोप्रिल (कैपेसन)
  • एनालाप्रिल (वासोटेक)
  • फोसिनोपिल (मोनोप्रिल)
  • लिसिनोप्रिल प्रिवीविल, जेस्ट्रिल), मोएक्सिप्रिल (यूनीवैक), पेरिंडोप्रिल (ऐसोन)
  • क्विनप्रिल (एक्यूप्रिल), रामिप्रिल (अल्टेस)
  • ट्रैंडोलैप्रिल (मविक)
  • मूत्रवर्धक (‘पानी की गोलियां’)
  • लिथियम (Eskalith, Lithobid)
  • मेथोट्रेक्सेट (रूमेट्रेक्स)
  • अगर आप इन दवाओं की खुराक को बदल रहे हैं या इन दवाओं के सााथ कॉम्बिफ्लेम का इस्तेमाल कर रहे हैं तो एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
  • दर्द के लिए किसी अन्य दवा के साथ नॉनप्रिस्क्रिप्शन कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का इस्तेमाल बिना डॉक्टर के सलाह के नहीं करना चाहिए।
  • कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का इस्तेमाल करने से अपने डॉक्टर को इस बात की जानकारी अवश्य दें कि आपको अस्थमा जैसी कोई अन्य बीमारी तो नहीं है। खासतौर पर अगर बहती नाक, नेजल पोलिप्स (नाक के अंदर की सूजन), हाथ, पैर, टखनों या निचले पैरों में सूजन, ल्यूपस (एक ऐसी स्थिति जिसमें शरीर अपने स्वयं के कई टिशूज और अंगों पर हमला करते हैं। यदि आपको त्वचा, जोड़ों, रक्त और गुर्दे या लिवर की बीमारी है तो इसकी जानकारी अपने डॉक्टर को अवश्य दें।
  • यदि आपका बच्चा लिक्विड नहीं पी रहा है और बार-बार उल्टी, दस्त जैसी समस्याएं हैं और आप उसे कॉम्बिफ्लेम दे रहे हैं तो इसके बारे में पहले डॉक्टर से बातचीत करें।
  • यदि आप डेंटल सर्जरी या कोई अन्य सर्जरी करवा रहे हैं तो डॉक्टर को इस बात की जानकारी अवश्य दें कि आप कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का इस्तेमाल कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: आर्थराइटिस के दर्द से ये एक्सरसाइज दिलाएंगी निजात

क्या प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) लेना सुरक्षित है?

प्रेग्नेंसी या ब्रेस्टफीडिंग के दौरान कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का सेवन सुरक्षित है या नहीं, इस संबंध में पर्याप्त जानकारी उपलब्ध नहीं है। इस स्थिति में इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें। अमेरिकी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) ने इसे प्रेग्नेंसी के शुरुआती छह महीनों में प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी C कैटेगरी में रखा है। वहीं, गर्भावस्था के आखिरी 3 महीनों में इस दवा का इस्तेमाल प्रेग्नेंसी रिस्क कैटेगरी D में रखा गया है।

एफडीए गर्भावस्था जोखिम श्रेणी:

  • A = कोई जोखिम नहीं
  • B = कुछ अध्ययनों में कोई जोखिम नहीं
  • C = कुछ जोखिम हो सकते हैं
  • D = जोखिम के सकारात्मक प्रमाण हैं
  • X = निषेध
  • N = कोई जानकारी नहीं।

यह भी पढ़ें: गर्भ में जुड़वां बच्चों में से एक की मौत हो जाए तो क्या होता है दूसरे के साथ?

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) से मुझे क्या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं?

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट से आपको निम्नलिखित साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं:

  • सांस लेने में परेशानी
  • होठ, जुबान और गले की सूजन जैसे समस्याओं का अनुभव होते ही तत्काल इसकी सूचना अपने डॉक्टर को दें।
  • निम्नलिखित गंभीर साइड इफेक्ट्स के लक्षण सामने आते ही अपने डॉक्टर से संपर्क करें:
  • सीने में दर्द, कमजोरी, सांस की तकलीफ, दृष्टि या संतुलन के साथ समस्याएं
  • काला और खूनी स्टूल, खांसी या खून की उल्टी
  • सूजन या तेजी से वजन बढ़ना
  • सामान्य से कम यूरिन पास होना या बिलकुल भी नहीं होना
  • मतली, ऊपरी पेट में दर्द, खुजली, भूख में कमी, डार्क कलर की यूरिन, मिट्टी के रंग का मल, पीलिया (त्वचा या आंखों का पीला होना)
  • बुखार, गले में खराश, छाला और त्वचा पर लाल चकत्ते के साथ सिरदर्द
  • चोट, गंभीर झुनझुनी, सुन्नता, दर्द, मांसपेशियों की कमजोरी
  • गंभीर सिरदर्द, गर्दन की जकड़न, ठंड लगना, प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता में वृद्धि, दौरे पड़ना (ऐंठन)

कम गंभीर दुष्प्रभाव :

  • पेट खराब, दस्त, कब्ज
  • सूजन, गैस
  • चक्कर आना, सिरदर्द, घबराहट
  • त्वचा की खुजली या दाने
  • धुंधला दिखना
  • कानों का बजना (टिनीटस)

इनके अलावा कई ऐसे दुष्प्रभाव भी हैं, जिसकी जानकारी यहां नहीं दी गई है। दवा का इस्तेमाल करने के बाद आपको किसी तरह की परेशानी होती है तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करिए।

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) के साथ कौन सी दवाइयां रिएक्शन कर सकती हैं?

हालांकि कुछ दवाओं के साथ इसका उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। अगर आप पहले से ही किसी अन्य दवा का सेवन कर रहे हैं तो अपने डॉक्टर से बात करें। साथ ही अगर किसी तरह के घरेलू नुस्खे या बिना डॉक्टर की देख-रेख में काउंटर पर मिलने वाली दवाइयों का सेवन कर रहें तो अपने डॉक्टर से इसकी जानकारी साझा करें। किसी दवा का सेवन करने या दवाओं का इस्तेमाल बीच में रोकने से आपके स्वास्थ्य पर किसी तरह का असर तो नहीं होगा इसके लिए अपने डॉक्टर से जानकारी प्राप्त करें।

  • अगर आप निम्मनिलिखत दवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं तो आइबूप्रोफेन का इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर को इसकी जानकारी अवश्य दें।
  • एस्पिरिन या अन्य NSAIDs जैसे कि नेप्रोक्सेन (एलेव, नेप्रोसिन, नेपरेलन, ट्रेमेसेट), सेलेकॉक्सिब (सेलेब्रेक्स), डाइक्लोफेनाक (आर्थ्रोटेक, कंबिया, कैटाफ्लम, वोल्टेरेन, फेल्टर पैच, टैगैड, सोलारेज़), इंडोमेथेसिन (इंडोकैस्टिन)
  • हार्ट या ब्लड प्रेशर की दवा जैसे बेनाजिप्रिल (लोटेन्सिन), एनालाप्रिल (वासोटेक), लिसिनोप्रिल (प्रिंसीली, ज़ेस्टिल), क्विनप्रिल (एक्यूप्रिल), रामिप्रिल (अल्तास, और अन्य)।
  • लिथियम (Eskalith, Lithobid)
  • मूत्रवर्धक (पानी की गोलियां) जैसे कि फ़्यूरोसेमाइड (लासिक्स)
  • मेथोट्रेक्सेट (रूमेट्रेक्स, ट्रेक्साल)
  • स्टेरॉयड (प्रेडनिसोन और अन्य)
  • वारफारिन (कौमडिन, जैंटोवन)

यह भी पढ़ें: Figwort: फिगवॉर्ट क्या है?

क्या एल्कोहॉल के साथ कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet)का इस्तेमाल किया जा सकता है?

एल्कोहॉल के साथ कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का सेवन करना असुरक्षित हो सकता है। ऐसा करने पर परिणाम घातक हो सकते हैं। यदि आप एल्कोहॉल का सेवन कर रहे हैं तो कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) खाने से स्वास्थ्य पर किस तरह का प्रभाव पड़ सकता है?

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट आपकी मौजूदा हेल्थ कंडिशन को प्रभावित कर सकती है। कई मामलों में यह दवा घातक भी साबित हो सकती है। इस स्थिति में जरूरी है कि इसके इस्तेमाल से पहले अपने मौजूदा स्वास्थ्य की विस्तृत जानकारी अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट के साथ साझा करें।
निम्नलिखित समस्याओं में कॉम्बिफ्लेम का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें:

  • एनीमिया
  • दमा
  • पेट या आंतों के अल्सर या रक्तस्राव
  • खून बहने की समस्या
  • खून के थक्के
  • एडिमा (शरीर की सूजन)
  • हार्ट अटैक (पहले कभी हुआ)
  • हृदय रोग
  • हाई बल्ड प्रेशर
  • गुर्दे की बीमारी
  • हेपेटाइटिस
  • यदि आपको विगत समय में स्ट्रोक की समस्या रही है तो इसका इस्तेमाल सावधानी पूर्वक करें। कई बार इस दवा का इस्तेमाल करने से आपकी हालत और बदतर हो सकती है।
  • अगर आपको एस्पिरिन से किसी तरह की परेशानी हो तो इस दवा का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।
  • इस दवा के सस्पेंशन में शुगर की मात्रा होती है इसलिए डायबिटीज के मरीजों को इसका सेवन सावधानी से करना चाहिए।
  • हार्ट सर्जरी (जैसे, कोरोनरी धमनी बाईपास ग्राफ्ट [CABG] सर्जरी) वालों को इस दवा का इस्तेमाल दर्द से राहत पाने के लिए नहीं करना चाहिए। सर्जरी के दौरान या बाद किसी तरह का दर्द आपको महसूस होता है तो इसकी जानकारी अपने डॉक्टर को दीजिए।

नीचे दी गई जानकारी किसी चिकित्सक की सलाह नहीं है। इसका इस्तेमाल करने से पहले अपने चिकित्सक या फार्मासिस्ट से संपर्क करें।

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) का सामान्य डोज क्या है?

अडलट्स के लिए सामान्य डोज: 325 से 650 mg हर चार से छह घंटे के अंतराल पर।

मैक्सिमम डोज: प्रतिदिन चार ग्राम।

बच्चों के लिए डोज: प्रतिकिलो वजन के हिसाब से 10 से 15 mg हर चार से छह घंटे के अंतराल पर।

यह भी पढ़ें: जुड़वां बच्चों का जन्म रिस्की क्यों होता है?

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) किस रूप में उपलब्ध है?

कॉम्बिफ्लेम निम्नलिखित रूपों और स्ट्रेंथ में उपलब्ध है:

  • ओरल सस्पेंशन
  • टेबलेट
  • कॉम्बिफ्लेम में की टेबलेट में आइबूप्रोफेन 400 mg और पैरासिटामोल 325 mg स्ट्रेंथ में होता है।

ओवरडोज या आपात स्थिति में मुझे क्या करना चाहिए?

आपात या ओवरडोज की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी डॉक्टर या आपातकालीन सेवा से संपर्क करें।

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट (Combiflam Tablet) का डोज मिस हो जाए तो क्या करूं?

कॉम्बिफ्लेम टेबलेट का डोज मिस हो जाता है तो जल्द से जल्द इसे लें। हालांकि, यदि आपका अगली खुराक का समय नजदीक आ गया है तो भूले हुए डोज को ना खाएं। पहले से तय नियमित डोज को लें। एक बार में दो खुराक ना खाएं।

हेलो हेल्थ ग्रुप चिकित्सा सलाह, निदान या इलाज मुहैया नहीं कराता है।

और पढ़ें:-

Paracetamol : पैरासिटामोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Nicip: निसिप क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

Isatis: आइसाटिस क्या है?

Ibuprofen : आइबूप्रोफेन क्या है? जानिए इसके उपयोग, साइड इफेक्ट्स और सावधानियां

संबंधित लेख:

    क्या यह आर्टिकल आपके लिए फायदेमंद था?
    happy unhappy"

    शायद आपको यह भी अच्छा लगे

    एक्यूप्रेशर और एक्यूपंक्चर में है अंतर, जानिए दोनों के फायदे

    एक्यूप्रेशर क्या है, एक्यूप्रेशर के फायदे, एक्यूप्रेशर और एक्यूपंक्चर में अंतर क्या है, इससे इलाज कैसे किया जाता है, acupressure difference in Hindi.

    Medically reviewed by Dr. Pranali Patil
    Written by Shayali Rekha

    मां और पिता से विरासत में मिलती है माइग्रेन की समस्या, क्विज खेलें और बढ़ाएं अपना ज्ञान

    जानिए माइग्रेन की समस्या in Hindi, माइग्रेन की समस्या क्या है, माइग्रेन का कारण, माइग्रेन के लक्षण, माइग्रेन के प्रकार, Migraine के उपचार।

    Written by Ankita Mishra
    क्विज फ़रवरी 13, 2020

    Etoricoxib+Paracetamol: एटोरिकॉक्सिब+पैरासिटामोल क्या है? जानिए इसके उपयोग, डोज और सावधानियां

    जानिए एटोरिकॉसिब+पैरासिटामोल की जानकारी in hindi, फायदे, लाभ, एटोरिकॉसिब+पैरासिटामोल उपयोग, इस्तेमाल कैसे करें, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, डोज, ओवरडोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां।

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Sunil Kumar

    Broken Tailbone: ब्रोकेन टेलबोन (टेलबोन में फ्रैक्चर) क्या है?

    जानिए ब्रोकेन टेलबोन क्या है in hindi, ब्रोकेन टेलबोन के कारण, जोखिम और उपचार क्या है, Broken Tailbone को ठीक करने के लिए आप इस तरह के घरेलू उपाय अपना सकते हैं।

    Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
    Written by Anoop Singh

    Recommended for you

    लम्बर स्पाइनल स्टेनोसिस

    Lumbar spinal stenosis: लम्बर स्पाइनल स्टेनोसिस क्या है ?

    Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
    Written by Siddharth Srivastav
    Published on अप्रैल 12, 2020

    Pompe Disease: जानें पोम्पे रोग क्या है?

    Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
    Written by shalu
    Published on अप्रैल 9, 2020
    एपिडर्मल सिस्ट-Epidermal

    Epidermal: एपिडर्मल सिस्ट क्या है?

    Medically reviewed by Dr. Pooja Daphal
    Written by Kanchan Singh
    Published on मार्च 30, 2020
    आईब्रिट

    Eyebright: आईब्रिट क्या है?

    Medically reviewed by Dr. Hemakshi J
    Written by Sunil Kumar
    Published on मार्च 30, 2020