home

आपकी क्या चिंताएं हैं?

close
गलत
समझना मुश्किल है
अन्य

लिंक कॉपी करें

आपके शरीर में दिखने वाले स्किन टैग, हो सकते हैं डायबिटीज का संकेत...

आपके शरीर में दिखने वाले स्किन टैग, हो सकते हैं डायबिटीज का संकेत...

डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है, जो एक बार हो जाए, तो जिंदगी भर बनी रहती है। बस इसे कंट्रोल कर के रखा जा सकता है। डायबिटीज उस स्थिति को कहते हैं, जब आपके रक्त में शुगर की मात्रा बढ़ जाती है, ऐसा तब होता है, जब शरीर में इंसुलिन की सही मात्रा का निमार्ण नहीं हो पाता है। डायबिटीज की वजह से शरीर में और भी कई तरह की गंभीर बीमारी होने का खतरा बना रहता है, जिसमें हार्ट डिजीज, किडनी प्रॉबलम और आंखों से जुड़ी संबंधित समस्या होने का खतरा बढ़ जाता है। शरीर में जब ग्लूकोज (GLUCOSE) की मात्रा बढ़ती है, तो उस दौरान त्वचा में कुछ संकते दिखने लगते हैं, जिसे हम स्किन टैग भी कहते हैं। आइए जानते हैं कि स्किन टैग है क्या‌ और डायबिटीज और स्किन टैग (Diabetes and skin tags) में क्या संबंध है।

और पढ़ें: विटामिन सी टैबलेट्स: ग्लोइंग और हेल्दी स्किन के सपने को कर सकती हैं पूरा

डायबिटीज और स्किन टैग: क्या है स्किन टैग (Skin Tag)?

डायबिटीज और स्किन टैग (Diabetes and skin tags) में संबंध जानने से पहले यह जान लेते हैं कि स्किन टैग के बारे में। त्वचा पर होने वाले छोटे-छोटे उभार को स्किन टैग कहते हैं। यह शरीर के किसी भी हिस्से में हो सकता है, जैसे कि चेहरे, हाथ, पैर और गर्दन, कहीं पर भी हो सकता है। शरीर पर होने वाले स्किन टैग को मस्सा भी कहते हैं और यह कई बीमारियों का संकेत भी हो सकता है। यह शरीर के उन हिस्सों पर ज्यादा होता है, जहां नमी होती है। वैसे तो स्किन टैग दर्दनाक (Painful Skin Tag) नहीं होता है। लकिन यह कई बीमारियों का संकेत हो सकता है। डॉक्टर इसे डायबिटीज की समस्या (Diabetes problem) से भी जोड़ते हैं। इसके अलावा यह और भी कई बीमारियों का संकेत हो सकता है। इसे बिल्कुल भी अनदेखा नहीं करना चाहिए। इससे त्चचा में दाग भी पड़ सकता है।

मधुमेह वाले लोगो में स्किन टैग (Skin Tag) के विकसित होने का खतरा ज्यादा होता है, लेकिन ये अन्य कई स्थितियों और जीवनशैली कारकों से संबंधित होने के कारण भी इसकी ग्रोथ हो सकती है। इसलिए यदि आपमें स्किन टैग की प्रॉब्लम है, तो इसका मतलब यह नहीं है कि आपको मधुमेह है। हालांकि, यदि त्वचा के टैग दिखाई देते हैं, तो अपने चिकित्सक को दिखाएं और इसके कारणों के बारे में पता करें। डाॅक्टर भी पहले आपका डायबिटीज टेस्ट (Diabetes test) की करवाएंगे।

स्किन टेग को डॉक्टर नाॅन कैंसर (Non Cancer) वाला टयूमर भी कहते हैं। यह यह नर्व सेल्स, फैट सेल्स और एपिडर्मिस में होता है। यह इस तरह के दिखायी दे सकते हैं, जैसे कि:

  • पल्कों में (Eyelids)
  • अंडरआर्म में (Underarm)
  • स्तनों के नीचे (Breast)
  • ब्रेस्ट के ऊपरी हिस्से में
  • गर्दन आदि में(Neck)

वे अक्सर ऐसी जगाहों में हो जाता है, जहां लोगों का ध्यान नहीं जाता है। कपड़ों के कारण इनमें बार-बार रगड़ या खरोंच भी आ जाती है, उदाहरण के लिए, कपड़े, गहने या शेविंग के समय।

और पढ़ें: मुहांसे कम न कर दें आपके चेहरे की रौनक, इन तरीकों से पाएं एक्ने फ्री स्किन

डायबिटीज और स्किन टैग के लक्षणों में संबंध (Relationship between skin tags and diabetes)

डायबिटीज और स्किन टैग (Diabetes and skin tags) के बीच कुछ लक्षण एक सामन मिलते जुलते हो सकते हैं,जो इसके होने का संकेत देते हैं, आइए जानते हैं जिनके बारे में।

1. ब्राउन पैच होना: अगर आपको डायबिटी के कारण स्किन टैग की प्रॉब्लम है तो आपमें गर्दन के आसपास, हाथों में, अंडरआर्म्स में, या पेट में डार्क पैच वाले स्किन टैग नजर आ सकते हैं। डार्क पैच (Dark Patch) की तरह नजर आने वाले यह पैच छूने में वेल्वेट जैसा महसूस हो सकता है। यानि कि यह प्री-डायबिटीज का भी संकेत हो सकता है। इसे एकैनथोसिस निग्रीकैन्स (Acanthosis nigricans) कहते हैं ।

2. स्किन पर लाल टैग होना: यदि आपको स्किन में बहुत खुजली महसूस होती है और साथ में दर्द बना रहता है, तो इस तरह के स्किन टैग की प्रॉब्लम को भी डायबिटीज से जोड़ा जा सकता है। दर्द वाले स्किन टैग होने पर आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। ऐसा किसी बीमारी के कारण ही होता है।

3. स्किन टैग उभरे हुए: कई बार स्किन पर त्वचा के डार्क रेड कलर के उभरे हुए लाल रंग के ही कुछ ग्रोथ उभर आते हैं जो स्किन से चिपकर लटके रहते हैं। इन्हें स्किन टैग्स (Skin Tags) कहते हैं। स्किन टैग की ये समस्या भी हाय ब्लड शुगर लेवल बढ़ने का संकेत हो सकता है। लगभग 30 प्रतिशत लोगों में ऐसा हो सकता है

और पढ़ें: स्किन की जरूरत के हिसाब से करें सनस्क्रीन का चुनाव, ये सनस्क्रीन हैं बेस्ट!

डायबिटीज और स्किन टैग: डायबिटीज और स्किन टैग: स्किन टैग का उपचार (Treatment for skin tags)

स्किन टैग का इलाज बहुत जरूरी है। कुछ लोग इसे लेकर काफी चिंतत हो जाते हैं। लेकर, इसका यह मतलब नहीं है कि आपका डॉक्टर को दिखाना जरूरी नहीं है। लेकिन इससे आपको दिक्कत हो रही है, तो आपको डर्मेटोलाॅजिस्ट का सहारा लेना चाहिए। डॉक्टर आपके त्वचा से टैग हटाने के लिए निम्नलिखित तरीके अपना सकते हैं।

  • सर्जिकल रिमूवल (Surgical removal)- स्केलपेल का उपयोग करके डॉक्टर स्किन टैग को हटा सकते हैं कुछ सर्जरी का उपयोग कर के स्किन टैग हटाए जाते हैं, जिसमें बाद में कुछ दिनों के लिए ब्लीडिंग और खूजली की समस्या हो सकती है।
  • क्रायोथेरेपी (Cryotherapy)- लिक्विड नाइट्रोजन के द्वारा स्किन ट्रैग को फ्रिज कर दिया जाता है
  • लिंगेसन (Ligation)- इसमें स्किन टैग को सर्जिकल थ्रेड द्वारा बांध दिया जाता है। ताकि उस हिस्से में रक्त का संचार न हो, वो निकल जाए )
  • इलेक्ट्रोसर्जरी (Electrosurgery)- त्वचा टैग को जलाने के लिए हाय फ्रिक्यूवेंसी इलैक्ट्रिकल एनर्जी का इस्तेमाल किया जाता है)

कुछ लोग स्किन टैग को हटाने के लिए प्राकृतिक उपचार भी अपना सकते हैं। इसके लिए आप कुछ घरेलू उपचार अपनाया जा सकता है, जैसे कि सेब साइडर सिरका, चाय के पेड़ का तेल, और नींबू का रस।

लेकिन इन उपायों में इस बात को ध्यान में रखते हुए अपनाना चाहिए कि कोई संक्रमण न फैले। ऐसे में डायबिटीज वालों के लिए ज्यादा खतरा होता है।घर पर स्किन टैग को हटाना आपमें खतरे को बढ़ा सकता है। यदि आप में यह स्किन टैग डायबिटीज से संबंधित हैं। तो ऐसे में उनके लिए ज्यादा दिक्कत भरा हो सकता है।

और पढ़ें: विटामिन सी टैबलेट्स: ग्लोइंग और हेल्दी स्किन के सपने को कर सकती हैं पूरा

डायबिटीज और स्किन टैग: स्किन टैग के रिस्क फैक्टर (Risk Factor of skin tag)

त्वचा टैग अधिक सामान्य प्रतीत होते हैं:

अध्ययन में पाया गया कि त्वचा के टैग के साथ होने की अधिक संभावना है:

और पढ़ें: सुंदर त्चचा के लिए करें मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल

डायबिटीज और स्किन टैग: घरेलू उपचार (Home remedies for diabetes and skin tag)

डायबिटीज और स्किन टैग के बीच के संबंध को तो आप जान ही चुके हैं। इसके होने पर आपको मेडकिल मेडिकेशन की जरूरत होती है। इसी के साथ आप डायबिटीज और स्किन टैग के लिए कुछ घरेलू उपायों को भी अपना सकते हैं।

  • एप्पल साइडर विनेगर को स्किन टैग रिमूवल के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें अधिक मात्रा में एसिड पाया जाता है , जोकि त्वचा पर निकले मोल यानि की स्किन टैग को धीरे-धीरे खत्म कम करता जाएगा। इसके लिए आप कॉटन की सहायता से स्किन टैग को रिमूव कर दें।
  • स्किन टैग की समस्या को दूर करने के लिए विटामिन ई ऑयल का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें मौजद एंटीऑक्सिडेंट गुण पाए जाते हैं जो त्वचा को कोमल बनाने में मदद करते हैं।
  • टी ट्री ऑयल एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर है और कई स्किन प्रॉब्लम को भी दूर करता है, जैसे कि कील-मुंहासे, एक्जिमा और स्किन टैग को दूर करने में काफी प्रभावी है।
  • नींबू के रस में साइट्रिक एसिड पाया जाता है, जो कि स्किन टैग में मौजूद कोशिकाओं को कमजोर कर के कम करते जाता है और धीरे-धीरे स्किन टैग को हटाता है। इसमें कई प्रभावी एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं।
  • एक स्पूर बेकिंग सोडा में कुछ बूंदें कैस्टर ऑयल का मिलाएं। इसे स्किन टैग पर लगाकर एक घंटे बाद धो दें।
  • कोटोनट ऑयल में एंटी माइक्रोबियल लौरिक एसिड पाया जाता है, जो बैक्टीरिया को खत्म करता है, इसका इस्तेमाल स्किन टैग रिमूवल के लिए होम रेमिडीज अपनाने के बाद इसे इस्तेमाल कर सकते हैं।

इस तरह की होम रेमिडीज अपनाने से पहले एक बार डॉक्टर से भी जरूर सलाह करें।

और पढ़ें: सावधान! संक्रामक त्वचा रोग कहीं आपकी स्किन की बिगाड़ ना दें रंगत

जैसा कि आपने जाना कि डायबिटीज और स्किन टैग (Diabetes and skin tags) में क्या संबंध है। स्किन टैग की प्रॉबलम है क्या और इसका डायबिटीज से क्या संबंध है। यह समस्या कई तरह के हाॅमोर्नल प्रॉब्लम की वजह से भी सकती है, जिसमें से डायबिटीज भी एक है। यह कई लोगों में डायबिटीज के बढ़ने का संकेत भी देती है। इस तरह की समस्या होने पर, शुगर पेशेंट को को तो खासतौर पर तुरंत डॉक्टर से मिलन चाहिए। इसके बाद कोई उपचार अपनाना चाहिए। नहीं तो यह स्किन टैग आपमें गंभीर रूप भी ले सकते हैं।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

लेखक की तस्वीर badge
Niharika Jaiswal द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 20/09/2021 को
डॉ. प्रणाली पाटील के द्वारा मेडिकली रिव्यूड