ये 5 आसन दिलाएंगे तनाव से छुटकारा, जरूर करें ट्राई

    ये 5 आसन दिलाएंगे तनाव से छुटकारा, जरूर करें ट्राई

    क्या आप जानते हैं कि एक इंसान अपने जीवन का 65% समय केवल चिंता में ही गुजार देता है? पिछले कुछ सालों में चिंता या तनाव जैसे रोगों में बहुत अधिक बढ़ोतरी हुई है। तथ्यों की मानें, तो 50 सालों में यह समस्या लगभग दोगुनी हो गई है। अभी दुनिया भर में लगभग 40 करोड़ लोग तनाव का शिकार हैं। इस रोग में व्यक्ति एक नीरस और उदास जीवन व्यतीत करता है। तनाव को आजकल के दौर की सबसे खतरनाक बीमारी माना जाता है। इससे छुटकारा पाने के लिए जो तरीका दवाइयों से भी अच्छा है, वो है योग। योग मनुष्य को तनाव से मुक्ति दिला कर एक खुशहाल जीवन बिताने में मदद करता है। ऐसे कुछ योगासन हैं, जिन्हें करने के बाद आप अपने जीवन को तनाव मुक्त बना सकते हैं। आइए जानते हैं तनाव के लिए आसन के बारे में।

    1. तनाव के लिए आसन: बालासन

    exercise

    अपने जीवन से तनाव, चिंता और अवसाद को दूर भगाने के लिए नियमित रूप से बालासन करें। इस एक सरल और आरामदायक आसन है। इसे करने से कमर दर्द की शिकायत दूर होती है और शारीरिक के साथ-साथ मानसिक थकावट से भी छुटकारा मिलता है।

    कैसे करें?

    • अपनी एड़ियों के बल वज्रासन जैसी पुजिशन में बैठ जाएं।
    • ऐसे बैठें कि आपकी एड़ी ऊंची हो। इस दौरान सांस अंदर की तरफ भर लें।
    • इसके बाद, धीरे से आगे इस तरह से झुकें कि आपका माथा जमीन को लगे और सांस छोड़ दें।
    • अपने हाथों को अपने सिर के आगे ले जा कर फैला दें।
    • अब अपनी छाती को अपने घुटनों के पास लाएं।
    • ऐसे ही कुछ देर रहें। इस दौरान केवल सकारात्मक सोचें।
    • इस आसन को करते समय बार-बार अपनी सांस को अंदर लें और बाहर छोड़ें।
    • धीरे-धीरे इस मुद्रा से बाहर निकले और दोहराएं।

    2. तनाव के लिए आसन: मत्स्यासन

    exercise

    मत्स्यासन का नाम मछली से लिया गया है। इस आसन में व्यक्ति का शरीर मछली की तरह लगता है, इसलिए इसे यह नाम दिया गया है। मन को शांत करने और टेंशन दूर करने के लिए यह योग बेहतरीन है। कमर दर्द और गर्दन की समस्याएं भी इससे दूर होती है। अगर आपको माइग्रेन है या कहीं चोट लगी है, तो योग का यह आसन न करें।

    [mc4wp_form id=”183492″]

    कैसे करें?

    • इस आसान को करने के लिए सबसे पहले योगामैट या दरी पर बैठ जाएं।
    • अब अपने सिर को पीछे करते हुए पीछे की तरफ झुकें।
    • अपने दोनों पैरों के अंगूठों को अपने हाथों से पकड़ें।
    • अपनी गर्दन को पीछे झुकाते हुए जमीन को छुएं।
    • ध्यान रखें कि आपकी कोहनियां उस समय जमीन को छू रही हों।
    • इस आसन को करते समय सांस लेते और छोड़ते रहें।
    • जितनी देर तक हो सके इस पुजिशन में रहें। इसके बाद इस वापिस सामान्य पुजिशन में आ जाएं।

    और पढ़ें : वजन कम करने में फायदेमंद हैं ये योगासन, जरूर करें ट्राई

    3. तनाव के लिए आसन: शवासन

    exercise

    शवासन में शव का अर्थ है मृत शरीर। दरअसल, इस आसन में केवल लेटना होता है। इस आसन को नियमित रूप से करने से न केवल थकान दूर होती है बल्कि, तनाव और चिंता में भी राहत पहुंचती है। इससे शरीर में एक नई चुस्ती आती है। मन शांत होता है और एकाग्रता बढ़ती है।

    कैसे करें?

    • शवासन करने के लिए सबसे पहले किसी शांत जगह पर योगामैट या कोई दरी बिछा लें।
    • इसके बाद उस पर पीठ के सहारे लेट जाएं।
    • दोनों हाथों को अपने शरीर के दोनों तरफ रखें और पैरों के बीच भी थोड़ा फासला रखें।
    • अपनी आंखों को बंद कर के सांस लें और बहार छोड़ें।
    • अपने मन से सभी चिंताओं को छोड़ सकारात्मक सोचते हुए इसी पुजिशन में थोड़ी देर रहें।

    और पढ़ें: तनाव से लेकर कैंसर तक, जानिए चीकू के चमत्कारी फायदे

    4. तनाव के लिए आसन: तितली आसन

    मानसिक स्वास्थ्य के लिए तितली आसन एक अच्छा उपाय है। तनाव के लिए आसन करने के लिए आप इस आसन को कर सकते हैं। इससे तन और मन दोनों को आराम मिलता है। इस योग को करने से हमारी इम्यूनिटी भी करने से बढ़ती है। तितली आसन में तितली के पंखों की तरह टांगों को हिलाना पड़ता है इसलिए, इसे तितली आसन कहा जाता है।

    और पढ़ें : मांसपेशियां बनाने के दौरान महिलाएं करती हैं यह गलतियां

    कैसे करें?

    • तितली आसन को करने के लिए सबसे पहले जमीन पर सीधे तन कर बैठें।
    • अपने पैरों को सामने रखें और उनके तलवों को जोड़ दें।
    • अब पैरों को अपने हाथों से पकड़ लें।
    • अपने पैरों को जितना हो सके अपने शरीर के पास ले कर आएं।
    • आपकी रीढ़ की हड्डी इस दौरान सीधी होनी चाहिए।
    • अब सांस लें और छोड़ें।
    • अपनी टांगों को ऐसे हिलाएं, जिस तरह से तितली के पंख हिलती है।
    • जितनी तेजी से हो सके अपनी टांगों को आप हिला सकते हैं।
    • जितनी देर चाहें इस आसन को करने के बाद आप अपनी सामान्य स्थिति में आ जाएं।

    और पढ़ें: चिंता और तनाव को करना है दूर तो कुछ अच्छा खाएं

    5. तनाव के लिए आसन: मार्जरासन

    exercise

    मार्जरासन तनाव को दूर करने और मन को शांत करने में सहायक है। तनाव के लिए आसन करने के लिए आप इस आसन को अपना सकते हैं। इसे करने से हमारे कंधे और हड्डियां मजबूत होती हैं और शरीर से चर्बी भी बाहर निकल जाती है। इस आसन में शरीर की मुद्रा बिल्ली की तरह लगती है।

    और पढ़ें: फिटनेस के लिए कुछ इस तरह करें घर पर व्यायाम

    कैसे करें?

    • मार्जरासन करने के लिए सबसे पहले आप जमीन पर दरी बिछा लें।
    • उस पर अपने घुटनों के बल बैठें।
    • अपने हाथों को आगे रखें और उन पर अपने शरीर का भार डालते हुए अपने शरीर के पीछे के भाग को ऊपर उठा लें।
    • अपनी टांगों को सीधा रखें। इस स्थिति में आप बिल्ली की तरह लगेंगे।
    • एक गहरी सांस लें और अपने सिर को पीछे की ओर ले जाएं और अपनी कमर को ऊपर उठाएं।
    • अब सांस को छोड़ें और अपने सिर को नीचे की तरफ झुकाएं। अपनी चिन को अपनी चेस्ट से लगाने की कोशिश करें।
    • ध्यान रहे कि इस दौरान आपके हाथ सीधे रहें।
    • धीरे-धीरे इस मुद्रा से बाहर आएं और फिर दोहराएं।

    इन आसनों के अलावा, सेतुबंधासन, सूर्य नमस्कार, शीर्षासन, विपरीत करणी, हस्तपादासन जैसे आसन भी तनाव को दूर करने में लाभकारी हैं। ध्यान रहे, योग का कोई भी आसन करने के लिए सबसे पहले उनका अच्छे से अभ्यास कर लेना चाहिए। क्योंकि, अगर इन आसनों को सही से न किया जाए, तो उसके विपरीत परिणाम भी हो सकते हैं। कोई बीमारी या समस्या है, तो किसी अनुभवी व्यक्ति की राय के बिना योग के किसी भी आसन को न करें। तनाव के लिए आसन करने के लिए आप ऊपर बताए गए आसन कर सकते हैं।

    हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

    के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

    डॉ. हेमाक्षी जत्तानी

    डेंटिस्ट्री · Consultant Orthodontist


    Shivani Verma द्वारा लिखित · अपडेटेड 04/05/2021

    advertisement
    advertisement
    advertisement
    advertisement