home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

जिम में क्या ना करें?

जिम में क्या ना करें?

फिट और टोन्ड बॉडी भला कौन नहीं चाहता? और इसी चाहत को पूरा करने के लिए अक्सर लोग जिम जाते हैं, लेकिन सिर्फ जिम जाने से ही फिट बॉडी नहीं बन जाती, बल्कि आपको जिम में सही तरीके से वर्कआउट भी करना चाहिए और साथ ही आपको यह भी जानना चाहिए कि आखिर जिम में क्या न करें जिससे शरीर पर कोई नकारात्मक प्रभाव न पड़े। साथ ही कुछ चीजें ऐसी होती हैं जिन्हें करने से बचना चाहिए। अगर आप भी जिम जाते हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे हैं कि जिम में क्या न करें।

चलिए अब आपको बताते हैं कि जिम में क्या न करें। जिम का पूरा फायदा उठाना चाहते हैं तो आपको कुछ गलतियों से बचना चाहिए। जानते हैं उनके बारे में।

और पढ़ेंः पोस्ट वर्कआउट ड्रिंक : वॉटर मेलन जूस से पूरा करें अपना फिटनेस गोल

वार्मअप न करना

किसी भी तरह की एक्सरसाइज से पहले वार्मअप बहुत जरूरी है। यह मसल्स को लूज करने के साथ ही बॉडी टेम्प्रेचर बढ़ाकर आपके शरीर को वर्कआउट के लिए तैयार करता है। वार्मअप करने से वर्कआउट के दौरान इंजुरी की संभावना कम हो जाती है और इससे मसल्स एक्सरसाइज के लिए पूरी तरह रेडी होती हैं। इसलिए कभी भी बिना वार्मअप के वर्कआउट शुरू न करें।

अकेले हैवी वेट उठाना

शायद आपने बडि सिस्टम के बारे मे सुना होगा। इसका मतलब है कि हैवी वेट उठाते समय आपके साथ एक बडि यानी जिम में आपकी मदद के लिए कोई होना चाहिए। इसका काम होता है कि वेट लिफ्टिंग में आपकी मदद करें ताकि आपको किसी तरह की चोट न लगें, साथ ही आपको वेट उठाने का सही तरीका भी बताता है, इसलिए बिना किसी की मदद के हैवी वेट न उठाएं। जिम में क्या न करें तो आप समझ गए होंगे कि अकेले हैवी वेट नहीं उठाना चाहिए।

और पढ़ेंः फिटनेस के लिए कुछ इस तरह करें घर पर व्यायाम

खाली पेट हैवी एक्सरसाइज करना

जिम में क्या न करें इस लिस्ट में शामिल है खाली पेट हैवी वर्कआउट नहीं करना चाहिए। यदि आप जिम में बिना कुछ खाए घंटों पसीना बहाते हैं तो इससे ब्लॉटिंग, मितली, गैस और डायरिया की समस्या हो सकती है। क्योंकि वर्कआउट के लिए बॉडी को एनर्जी चाहिए। इसलिए हेल्दी चीजें खाकर ही जिम जाएं, लेकिन हां कुछ खाने के बाद उसे पचने का भी समय दें, तुरंत वर्कआउट शुरू न कर दें। हां, यदि आप सुबह-सुबह जिम जाते हैं तो बिना ब्रेकफास्ट के जा सकते हैं और मीडियम इंटेंसिटी कार्डियो एक्सरसाइज कर सकते हैं।

जिम की मशीनों पर पसीना लगा छोड़ना

जिम में आप बहुत मेहनत कर रहे हैं यह तो अच्छी बात है, लेकिन हर मशीन पर आपका पसीना लगा होने से दूसरों को परेशानी हो सकती है, इसलिए जिम एटिकेट कहता है कि आप अपने साथ एक तौलिया या पेपर टॉवेल ले जाएं और इस्तेमाल के बाद मशीन को पोंछ दें। जिम में क्या न करें में इस बात को भी ध्यान रखना चाहिए।

और पढ़ें: घर पर ही शानदार बाइसेप्स और ट्राइसेप्स कैसे बनाएं?

सिर्फ कार्डियो करना

कुछ लोग डेली जिम जाते हैं और कार्डियो मशीन पर एक्सरसाइज करके लौट आते हैं। जिम में क्या न करें, तो इस बात का ध्यान रखें कि जिम में कार्डियो एक्सरसाइज करने न जाएं। इससे ज्यादा फायदा नहीं होने वाला। इसलिए हर दिन अलग-अलग तरह की मशीनों पर वर्कआउट करें और ध्यान रहे कि फोकस सिर्फ टमी फैट कम करना ही नहीं, बल्कि पूरी बॉडी को फिट बनाना है इसलिए हर दिन अलग-अलग उपकरणों का इस्तेमाल करें। रोजाना एक जैसी एक्सरसाइज करने की बजाय हर दिन अलग-अलग वर्कआउट रूटीन फॉलो करने पर ज्यादा फायदा होता।

सही आउटफिट व फुटवेयर न पहनना

प्रायः लोग जूतों पर ध्यान नहीं देते हैं तो अगर आप जिम में क्या न करें जानना चाहते हैं तो बता दें कि गलत जूते का चयन न करें। जिम जाने के लिए आपके पास प्रॉपर आउटफिट और जूते होना जरूरी है। यह आपकी सुरक्षा के लिए भी जरूरी है, क्योंकि यह आपको गिरने और चोट लगने से बचा सकते हैं। यदि आपके जूते कंफर्टेबल और सही नहीं होंगे तो ट्रेडमिल पर ज्यादा देर दौड़ने से पैरों में दर्द भी हो सकता है।

और पढ़ें: महिलाएं वर्कआउट रूटीन में जरूर शामिल करें ये 5 बेस्ट अपर बॉडी एक्सरसाइज

गलत तरीके से एक्सरसाइज करना

यदि आपको किसी एक्सरसाइज को करने का सही तरीका पता नहीं है तो बेहतर होगा उसे न करें, क्योंकि गलत तरीके से किया गया वर्कआउट फायदा पहुंचाने की बजाय नुकसानदायक होता है। इसलिए ट्रेनर की मदद लेकर ही इसे करें।

मशीन पर बहुत निर्भर रहना

मशीन पर वर्कआउट करना ठीक है, लेकिन सिर्फ इसी पर फोकस न करें, क्योंकि सिर्फ मशीन पर एक्सरसाइज करने से आपकी कोर मसल्स और स्टैबिलाजर मसल्स ज्यादा सक्रिय नहीं होती है। इसलिए बिना मशीनों के भी वर्कआउट करें, इससे आपको ज्यादा स्ट्रेंन्थ मिलेगी और ज्यादा कैलोरी बर्न होगी।

स्ट्रेचिंग न करना

वर्कआउट के बाद जब आपके मसल्स वॉर्म होते हैं तो स्ट्रेच करना बहुत जरूरी होता है। यह मोशन की रेंज, मोबिलिटी और बॉडी को रिकवर करने में मदद करता है। यह वर्कआउट के शुरू में किए जाने वाले वार्मअप से अलग है। एक्सरसाइज के बाद कम से कम 30 सेकंड तक स्ट्रेचिंग करना जरूरी है

हाइड्रेशन का ख्याल न रखना

किसी भी तरह के वर्कआउट से पहले और वर्कआउट के दौरान भी बॉडी को हाइड्रेट रखना जरूरी है। शरीर को सही तरीके से काम करने के लिए पानी की आवश्यकता होती है इसलिए वर्कआउट से पहले पानी, जूस आदि जरूर पिएं। जिम में क्या न करें की लिस्ट में शामिल है ड्रिंकिंग वॉटर ले जाना न भूलें।

वर्कआउट के बाद सही डायट न लेना

हैवी एक्सरसाइज के बाद आपकी मसल्स की एनर्जी कम हो जाती है, इसका मतलब है कि एनर्जी के लिए आपका शरीर अपने ही टिशू को तोड़ना शुरू कर देता है। ऐसे में मसल्स कमजोर पड़ जाएगी, इस स्थिति से बचने के लिए आपको कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन से भरपूर डायट लेनी चाहिए। प्रोटीन सप्लीमेंट्स भी ले सकते हैं, लेकिन उसमें शक्कर की मात्रा कम होनी चाहिए। जिम में क्या न करें यह समझने के साथ ही बैलेंस डायट लेना भी बेहद जरूरी है।

तो यह हैं वे गलतियां जो आपको जिम में नहीं करनी चाहिए। इसे फॉलो कर आप फिटनेस के साथ-साथ हाइजीन का भी ख्याल रख पाएंगे।

और पढ़ें- इस बॉल से करें एक्सरसाइज, मोटापा होगा कम और बाजु भी आएंगे शेप में

अगर आप जिम में क्या न करें से जुड़े किसी तरह के कोई सवाल का जवाब जानना चाहते हैं तो विशेषज्ञों से समझना बेहतर होगा।

हैलो हेल्थ ग्रुप किसी भी तरह की मेडिकल एडवाइस, इलाज और जांच की सलाह नहीं देता है।

health-tool-icon

बीएमआई कैलक्युलेटर

अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) की जांच करने के लिए इस कैलक्युलेटर का उपयोग करें और पता करें कि क्या आपका वजन हेल्दी है। आप इस उपकरण का उपयोग अपने बच्चे के बीएमआई की जांच के लिए भी कर सकते हैं।

पुरुष

महिला

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

How to avoid overheating during exercise/https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000865.htm/Accessed on 13/05/2020

How to avoid exercise injuries/https://medlineplus.gov/ency/patientinstructions/000859.htm/Accessed on 13/05/2020

Safety Tips for Exercising Outdoors for Older Adults/https://www.nia.nih.gov/health/safety-tips-exercising-outdoors-older-adults/Accessed on 13/05/2020

5 Factors That Help People Stick to a New Exercise Habit/https://health.gov/news-archive/blog-bayw/2018/01/5-factors-help-people-stick-new-exercise-habit/index.html/Accessed on 13/05/2020

10 tips to exercise safely/https://www.betterhealth.vic.gov.au/health/ten-tips/10-tips-to-exercise-safely/Accessed on 13/05/2020

लेखक की तस्वीर badge
Kanchan Singh द्वारा लिखित आखिरी अपडेट 22/05/2020 को
डॉ. हेमाक्षी जत्तानी के द्वारा मेडिकली रिव्यूड
x