backup og meta

फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स : इतने हैं कि गिनते-गिनते थक जाएंगे आप!

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड डॉ. प्रणाली पाटील · फार्मेसी · Hello Swasthya


Toshini Rathod द्वारा लिखित · अपडेटेड 11/05/2021

फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स : इतने हैं कि गिनते-गिनते थक जाएंगे आप!

परिवार, किसी भी व्यक्ति के लिए उसकी खुद की दुनिया होती है। परिवार के बगैर कोई भी इस बड़ी सी दुनिया में चैन के दो पल नहीं पा सकता, ऐसे में परिवार का महत्त्व हमें जरूर समझना चाहिए। चाहे वो संयुक्त परिवार हो या शहरी जीवन की माइक्रो फॅमिली, हम सभी के लिए परिवार एक बड़ी जरूरत है। आज ही मॉर्डन लाइफस्टाइल (Modern Lifestyle) और लगातार बीजी लाइफ के चलते हम अपने परिवार के समय बिताना भूलते जा रहे हैं, जो अंत में हमारे लिए ही परेशानी का सबब बनता जा रहा है। हम अपने जीवन में मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ रहें और हमारी सायकोलॉजिकल हेल्थ बेहतर बनी रहे, इसलिए आज विश्व परिवार दिवस के मौके हम आपको बताने जा रहे हैं फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स (Family Health Benefits)।  ये फायदे एक नहीं, दो नहीं, बल्कि कई हैं, जो आपको परिवार की एहमियत समझा देंगे। आइये जानते हैं फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स आपके, हमारे, सबके लिए क्यों जरूरी है! 

और पढ़ें: संयुक्त परिवार (Joint Family) में रहने के फायदे, जो रखते हैं हमारी मेंटल हेल्थ का ध्यान

मेंटल हेल्थ बेहतर बनाएं (Improve mental health)

अपने परिवार के साथ समय बिताना खासतौर पर फेस टू फेस कम्युनिकेशन (Face to face communication), व्यक्ति को डिप्रेशन, एंग्जायटी और अन्य मानसिक समस्याओं से छुटकारा दिला सकता है। अपने परिवार जनों के साथ आमने सामने रहकर समय बिताने से परिवार जनों के बीच स्ट्रॉन्ग इमोश्नल बॉन्ड बनता है, जो आपको लाइफ चैलेंजेस फेस करने में मदद करता है। फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स (Family Health Benefits) की बात करें, तो मेन्टल हेल्थ की बेहतरी सबसे पहले आती है।

बच्चों की एकेडमिक ग्रोथ के लिए बेहद जरूरी (Academic growth of children)

कहा जाता है कि जो बच्चे घर पर अपने माता-पिता के साथ ज्यादा समय बिताते हैं, वे स्कूल में बेहतर परफॉर्म कर पाते हैं। बच्चे माता पिता से कम्युनिकेशन स्किल (Communication skills) सीखते हैं, जो आगे चलकर उनकी पढ़ाई में मदद करती है। बच्चे अपने विकास से जुड़ी जरूरी बातें सिर्फ अपने माता-पिता से ही सीखते हैं, इसलिए परिवारजनों के साथ समय बिताना, बच्चों की पढ़ाई में एक बेहतर आयाम साबित हो सकता है।

ना हो बिहेवियरल प्रॉब्लम का रिस्क (Less Risk of behavior problem)

फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स (Family Health Benefits) के अनुसार जो बच्चे अपने परिवार जनों के साथ समय बिताते हैं, उनमें बिहेवियरल इश्यूज कम देखे गए हैं। हिंसा और दुर्व्यवहार जैसी समस्याएं इन बच्चों से दूर रहती है। जब वे अपने परिवारजनों से सकारात्मक अटेंशन प्राप्त करते हैं, तो इस हेल्दी पैटर्न को वे पूरे जीवन भर जारी रखना चाहते हैं। साथ ही उनके इमोशंस को चैनेलाइज (Channelize emotions) करने का यह एक बेहतरीन तरीका माना जाता है। यदि बच्चा आपके पास अपनी तकलीफ है लेकर आ रहा है और आपकी सलाह को ध्यान से सुन रहा है, इसका मतलब है कि परिवार के साथ उसका एक स्ट्रांग बॉन्ड है।

और पढ़ें: जानिए जॉइंट फैमिली के फायदे, संयुक्त परिवार में ऐसे करें एडजस्ट

सेल्फ कॉन्फिडेंस में इजाफा (Increase self confidence)

फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स (Family Health Benefits)

आज के जमाने में सेल्फ कॉन्फिडेंस कितना जरूरी है, यह हर कोई समझता है। लेकिन आपको यह जानकर हैरानी होगी कि फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स (Family Health Benefits) में अपने फैमिली मेंबर्स के साथ समय बिताने से आपका सेल्फ कॉन्फिडेंस कई गुना बढ़ सकता है। हम अपने माता पिता और परिवार जनों से ही सेल्फ एस्टीम बढ़ाने के गुर सीख सकते हैं, जिसमें खास तौर पर प्रॉब्लम सॉल्विंग नेचर (Problem Solving Nature) और कम्युनिकेशन खास माना जाता है। हमारे माता पिता हमारे लिए एक मॉडल की तरह होते हैं, जो हमें दूसरों को नीचा दिखाए बगैर खुद की रिस्पेक्ट करना सिखाते हैं। ऐसे में परिवार से सकारात्मक मान्यताओं को सीखना और हमारे अच्छे काम के लिए परिवार जनों से एप्रिसिएशन मिलना, हमारे सेल्फ कॉन्फिडेंस के लिए बेहतर माना जाता है। 

मुश्किलों का समाधान आसानी से (Effective conflict resolution)

परिवार में रहना एक अच्छा और सुखदायी अनुभव हो सकता है, लेकिन साथ ही साथ ये मुश्किल भरा भी होता है। जब आप एक साथ परिवार में रहते हैं तो कई समस्याएं भी उत्पन्न होती है, ऐसे में साथ मिलकर ऐसी समस्याओं का समाधान ढूंढना यह हमें परिवार ही सिखा सकता है। यह हमें पारस्परिक बातचीत के साथ-साथ चर्चा (Discussion), बहस (Debate) और अन्य तरीकों से समस्याओं का समाधान करना भी सिखाता है।

और पढ़ें: बच्चों का पढ़ाई में मन न लगना और उनकी मेंटल हेल्थ में है कनेक्शन

स्ट्रेस करे कम (Reduces stress)

फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स (Family Health Benefits) के अनुसार जो अपने परिवारजनों के साथ एक हेल्दी रिलेशनशिप मेंटेन करते हैं, उनके पास हेल्दी कोपिंग मेकैनिज्म (Healthy coping mechanism) होता है, जो हमें स्ट्रेस से बाहर निकालने में मदद करता है। स्ट्रेस के दौरान अपने परिवारजनों के साथ बिताया हुआ समय हमें नकारात्मकता से दूर ले जाता है और हमें अपनी समस्याओं के बारे में बातचीत कर इसका एक बेहतर समाधान ढूंढने में मदद करता है। ऐसे में स्ट्रेस के लिए कोई जगह नहीं बचती। 

अनुकूलता को बढ़ावा देता है (Adaptability and resilience)

जीवन में आने वाले परिवर्तनों और चुनौतियों का सामना करने की ताकत हमें परिवार जनों से ही मिलती है। यह जानते हुए कि परिवार के सदस्य आपके साथ हैं और वे आपकी देखभाल करते हैं, ऐसे में आप जीवन का अर्थ ढूंढ सकते हैं और आगे बढ़ने के लिए प्रेरित होते हैं। ऐसी स्थिति में परिवार जनों का साथ आपको जीवन में होने वाले बदलावों के प्रति अनुकूल होने में मदद करता है। फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स (Family Health Benefits) में ये बेनिफिट आपको भविष्य के लिए तैयार करता है। 

और पढ़ें: परिवार का साथ नाश्ता करना बच्चों के लिए क्याें है जरूरी?

शारीरिक स्वास्थ्य बनाता है बेहतर (Enhances physical health)

फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स (Family Health Benefits)

जैसा कि आप सभी जानते हैं परिवार जनों के साथ बिताया हुआ समय हमेशा आप को सुकून देकर जाता है, इसी तरह यह फिजिकल हेल्थ में भी सकारात्मक बदलाव लेकर आता है। उदाहरण के तौर पर जब आप घर पर बना खाना खाते हैं और घरवालों के साथ बागवानी, स्पोर्ट्स, हाइ, गेम, एक्सरसाइज और स्वस्थ आदतों को अपनाते हैं, तो ये आपकी फिजिकल हेल्थ को बेहतर बनता है। फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स में आपके ह्रदय, मस्तिष्क, मोरल हेल्थ (Moral Health),  इम्यूनिटी में सुधार होता है और यह स्वस्थ जीवन शैली बनाए रखने में आपकी मदद कर सकता है।  

ये भी है एक बड़ा फायदा (Lengthens life expectancy)

आपने अब तक फॅमिली के हेल्थ बेनिफिट्स (Family Health Benefits) को जाना, लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि आपकी उम्र का आपके परिवार से सीधा ताल्लुक है? परिवार जनों की मदद से आप लंबा जीवन जी सकते हैं। यह बिल्कुल सच है, रिश्तों में सकारात्मकता आपके जीवन काल को 50% तक बढ़ा सकती है। हमने अब तक जिन सकारात्मक बदलाव के बारे में बात की है, उन सबको साथ मिलाकर यदि देखें, तो शारीरिक और मानसिक रूप से परिवार जनों का स्वास्थ आपके लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। ऐसे में लंबे, स्वस्थ, खुशहाल जीवन जीने के लिए परिवार जनों का होना बेहद जरूरी है। 

और पढ़ें: बच्चों के विकास के लिए परिवार और कम्युनिटी क्यों है जरूरी?

इस विश्व परिवार दिवस पर आप भी अपनी और अपने परिवारजनों की बेहतरी के लिए ज्यादा से ज्यादा एक-दूसरे के साथ समय बिताएं। जिससे खुशियों को आपके परिवार का रास्ता मिले! 

डिस्क्लेमर

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

के द्वारा मेडिकली रिव्यूड

डॉ. प्रणाली पाटील

फार्मेसी · Hello Swasthya


Toshini Rathod द्वारा लिखित · अपडेटेड 11/05/2021

advertisement iconadvertisement

Was this article helpful?

advertisement iconadvertisement
advertisement iconadvertisement