home

हम इसे कैसे बेहतर बना सकते हैं?

close
chevron
इस आर्टिकल में गलत जानकारी दी हुई है.
chevron

हमें बताएं, क्या गलती थी.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
इस आर्टिकल में जरूरी जानकारी नहीं है.
chevron

हमें बताएं, क्या उपलब्ध नहीं है.

wanring-icon
ध्यान रखें कि यदि ये आपके लिए असुविधाजनक है, तो आपको ये जानकारी देने की जरूरत नहीं। माय ओपिनियन पर क्लिक करें और वेबसाइट पर पढ़ना जारी रखें।
chevron
हम्म्म... मेरा एक सवाल है
chevron

हम निजी हेल्थ सलाह, निदान और इलाज नहीं दे सकते, पर हम आपकी सलाह जरूर जानना चाहेंगे। कृपया बॉक्स में लिखें।

wanring-icon
यदि आप कोई मेडिकल एमरजेंसी से जूझ रहे हैं, तो तुरंत लोकल एमरजेंसी सर्विस को कॉल करें या पास के एमरजेंसी रूम और केयर सेंटर जाएं।

लिंक कॉपी करें

मन को शांत करने के उपाय : ध्यान या जाप से दूर करें तनाव

मन को शांत करने के उपाय : ध्यान या जाप से दूर करें तनाव

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में हर किसी के लिए मन को शांत करने के उपाय जरूर जानने चाहिए। बिजी शेड्यूल के चलते हर किसी के आप अपने लिए समय निकाल पाना बहुत मुश्किल हो गया है। जब मन में हमेशा ये दुविधा रहती है कि क्या करें या क्या न करें, मन शांत नहीं रह पाता है। मन अशांत रहने के कारण हम कई बार बड़े फैसले नहीं ले पाते हैं और छोटी-छोटी बातों में गलतियां करते हैं। इन्हीं गलतियों से बचने और मन को शांत करने में मन को शांत करने के उपाय काफी लाभकारी हो सकते हैं। इसके लिए आपको सिर्फ अपने दिन भर का सिर्फ 15 से 30 मिनट का समय निकालने की जरूरत होती है।

मन को शांत करने के उपाय कैसे हैं लाभकारी?

शालिनी (बदला हुआ नाम) काफी समय से अपनी जिंदगी में अस्थिरता महसूस कर रही थीं। मन अप्रसन्न था और अच्छी जॉब में भी खतरा मंडरा रहा था। शालिनी रात में सो नहीं पा रही थीं और किसी काम को करने में मन भी नहीं लग रहा था। स्ट्रेस और डिप्रेशन का लेवल भी बढ़ता जा रहा था। सिरदर्द, चेस्ट पेन और पेट में खराबी की समस्या शुरू हो गई। शालिनी ने डॉक्टर को दिखाया। जहां पर उनके डॉक्टर ने उन्हें मन को शांत करने के उपाय के बारे में बताया और उन्होनें स्ट्रेस मैनेजमेंट थेरिपी और योगा सेशन लेने की सलाह दी। कुछ ही समय बाद 20 मिनट का समय देकर शालिनी ने करीब 3 हफ्तों तक ब्रीथिंग टेक्निक और जप (chanting) की सहायता से अपनी समस्या का समाधान किया।

मन को शांत करने के उपाय क्यों बन गए हैं जरूरी?

हावी होता तनाव

आज के समय में तनाव होना एक आम बात बन गई है। यदि तनाव थोड़ा है तो उसे मैनेज किया जा सकता है, लेकिन जब तनाव अपने चरम पर होता है, तो शारीरिक समस्याओं के साथ-साथ मानसिक समस्याओं का भी सामना करना पड़ सकता है। इन समस्याओं को अपने ऊपर हावी होने देने से पहले ही हमें मन को शांत करने के उपाय अपनाकर इसका निदान कर लेना चाहिए। लंबे समय तक तनाव होने के कारण अनिद्रा, थकान, ध्यान की कमी, स्मृति हानि, शरीर में गंभीर दर्द, ज्यादा भोजन करना आदि जैसे समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

यह भी पढ़ेंः डिप्रेशन ही नहीं ये भी बन सकते हैं आत्महत्या के कारण, ऐसे बचाएं किसी को आत्महत्या करने से

क्या होता है ध्यान या जाप (Chanting) करना?

ध्यान या जप को विश्व भर में अपनाया जा रहा है। ये तनाव से निपटने का कारगर तरीका है। जप या ध्यान का मतलब सिर्फ मंत्रों का उच्चारण करना नहीं होता है। यदि आप तनाव से छुटकारा पाना चाहते हैं तो ध्यान जरूर करें । तनाव को अपने ऊपर हावी न होने दें। एक नियम बना लें और उस नियम का पालन करें। अगर आपके पास ज्यादा समय नहीं है तो कुछ ही समय में ध्यान करें और इसे रेगुलर करें। मन में आए नकारात्मक विचार को भी ध्यान या जप की सहायता से दूर किया जा सकता है। जप करने के दौरान एकांत स्थांन चुनें। सांसों को कुछ समय के अंतराल में अंदर करें फिर बाहर छोड़े।

प्राचीन भारत की देन

मन को शांत करने के उपाय में ध्यान या जाप करने का तरीका प्राचीन भारत की देन मानी जाती है। भारतीय ग्रंथों और बेद-पुराणों में ध्यान और जाप के सहारे न सिर्फ अशांत मन को शांत किया जाता था, बल्कि इसे उच्च विद्या पाने का सबसे अच्छा स्त्रोत भी माना जाता था। ऋषि-मुनि ध्यान औप जाप के सहारे कई क्रूर राजाओं को उदार बनाते थे। जिनका एक उदाहरण खुद भगवान गौतम बुध्द को माना जाता है। जिन्होंने मन की शांति पाने के लिए अपने परिवार का भी मोह त्याग दिया था।

यह भी पढ़ेंः एडीएचडी का प्राकृतिक इलाज: इस तरह पेरेंट्स दूर कर सकते हैं बच्चों की यह बीमारी

ऐसे करें ध्यान

मन को शांत करने के उपाय करने के लिए आप निम्न बातों का ध्यान रख सकते हैं, जिनमें शामिल हैंः

  • जाप या ध्यान किसी पार्क, ध्यान केंद्र, मंदिर या अपने घर पर भी किया जा सकता है।
  • जाप या जप करने के लिए कम से कम 15 से 30 मिनट की आवश्यकता हो सकती है।
  • जाप का सही तरीका है कि आप अपनी रीढ़ की हड्डी के साथ पद्मासन मुद्रा में बैठें। इस दौरान शरीर को बिल्कुल सीधा रखें और दिमाग को स्थिर करने का प्रयास करें।
  • अब सिर को सामने की तरफ सीधा करें और आंखें बंद करें।
  • ध्यान रखें कि आप जिस भी कमरे या स्थान में ध्यान लगाने का प्रयास कर रहे हैं, वो एकदम शांत होना चाहिए। अगर आस-पास शोर-शराबे का माहौल होगा, तो आपको ध्यान लगाने में परेशानी हो सकती है। साथ ही, आपको इस दौरान अपने आस-पास की सभी नकारात्मक वस्तुओं और मन के विचारों को भी दूर करना होगा।
  • जाप करते समय आपको कुछ शब्दों या मंत्रों को मन में या धीरे-धीरे स्वर में बोलना होता है। जिससे आपका मन धीरे-धीरे शांत होने लगता है।
  • मंत्रों के अलावा आप सिर्फ “ओम” शब्द का भी जाप कर सकते हैं जो सार्वभौमिक एकता के साथ जुड़ा हुआ है और वर्षों से विभिन्न अध्ययनों में एक प्रभावी मंत्र बताया गया है।

विकल्प के तौर पर आप कोई भी मंत्र भी चुन सकते हैं। अपनी समस्याओं के हिसाब से भी मंत्र का चुनाव किया जा सकता है। यहां मन को शांत करने के उपाय के लिए कुछ मंत्र दिए गए हैं, जिन्हें भी आप जाप करते करते समय जप कर सकते हैंः

मन को शांत करने के उपाय वाले मंत्र

यः स्मरेत् पुण्डरीकाक्षं स बाह्माभ्यन्तरः शुचिः।

यह भी पढ़ेंः ओसीडी एंग्जायटी डिसऑर्डर के कारण क्या हैं?

powered by Typeform

कब करें जाप (Chanting)

ऐसा माना जाता है कि सुबह उठ कर जाप करना सही रहता है, लेकिन कई बार समय न मिलने पर जाप को शाम के समय भी किया जा सकता है। तनाव को जीवन से छूमंतर करने के लिए जप के लिए जरूर समय निकालें। बिना किसी डॉक्टर के ये कई बीमारियां (बीपी की समस्या, तनाव आदि) को जड़ से खत्म कर देता है।

एक्सपर्ट एडवाइज

हैलो स्वास्थ्य से ‘योग प्रयास ‘ की योगा एक्सपर्ट शुचि बंसल कहती हैं कि ध्यान करने से नकारात्मक विचार दूर होते हैं। जप आपके मन और दिमाग में आ रहे बुरे भावों को रिफ्लेक्ट कर देता है। बिजी लाइफ में थोड़ा सा समय निकाल कर सभी को ध्यान करना चाहिए। इसके फायदें आप कुछ ही समय बाद महसूस करेंगे। तानव की समस्या बढ़ने पर दवा लेने की सलाह दी जा सकती है।

और पढ़ें: मेंहदी और मानसिक स्वास्थ्य का है सीधा संबंध, जानें इस पर एक्सपर्ट की राय

मंत्र जाप करने के फायदे

ऐसा माना जाता है कि मंत्र जाप करने से आपको कई शारीरिक और मानसिक फायदे प्राप्त होते हैं। इनकी मदद से आप संपूर्ण स्वास्थ्य की तरफ बढ़ सकते हैं। ऐसे कई शोध हैं, जिनमें पाया गया है कि मंत्र जाप करने पर लोग कम बीमार पड़ते हैं और जैसे ही वो लोग जाप करना छोड़ देते हैं, तो उन्हें बीमारियां फिर घेरने लगती हैं। आइए, मंत्र जाप करने के सभी फायदों के बारे में जानते हैं।

  • जाप करने से आपका इम्यून सिस्टम मजबूत होता है, जिसके कारण आपके शरीर की संक्रमण से लड़ने की क्षमता बढ़ जाती है। आप वायरल या बैक्टीरियल संक्रमण से बच जाते हैं।
  • इसके अलावा, इससे हमारे शरीर में ऊर्जा का प्रवाह होता है। जिससे आप एक्टिव रहते हैं और थकान, अनिद्रा जैसी समस्याएं आपको परेशान नहीं करती।
  • जाप करने से आपके दिमाग में एंडोर्फिन जैसे कुछ अच्छे कैमिकल्स का स्राव होता है। इससे आपका व्यवहार और मूड खुशनुमा बनता है और आप नकारात्मकता से काफी दूर रह पाते हैं।
  • जाप करने से जो शरीर में वाइब्रेशन होती है, वह आपके दिल और हृदय गति को स्वस्थ रखने में भी मदद करती हैं। वाइब्रेशन दिल की धमनियों पर पड़ रहे तनाव को हल्का करने का कार्य करती है।
  • मंत्रों का जाप करने से आपकी ध्यान लगाने की क्षमता भी बढ़ जाती है। इसलिए मेडिटेशन करते हुए मंत्रों का जाप करना काफी फायदेमंद होता है।
  • जाप करने से आपका ब्लड प्रेशर संतुलित होता है।
  • इससे आपके मानसिक तनाव में भी कमी आती है और आप मानसिक शांति प्रदान करते हैं।
  • जाप करने से दिमाग में आ रहे गलत व फालतू विचारों से आजादी मिलती है। दरअसल, तनाव या डर हमारे नेगेटिव थॉट्स की देन होती है। यह तब ज्यादा होता है, जब हमारा दिमाग अशांत रहता है। इसलिए अगर आपको किसी भी प्रकार का डर लगता है, तो जाप करने से उसपर भी काबू पाया जा सकता है।

मंत्रों का जाप करना या ध्यान लगाना एक संपूर्ण प्रक्रिया है। जिसके लिए आपको उचित मार्गदर्शन की जरूरत होती है। अगर आप इस प्रक्रिया से सभी फायदे प्राप्त करना चाहते हैं, तो किसी प्रोफेशनल एक्सपर्ट की सलाह लें और उससे इसकी बारीकियों के बारे में समझें। ध्यान लगाने में आपकी सांसों की गति और तरीका काफी महत्वपूर्ण होता है और आप इसे योगासनों की मदद से एक अलग लेवल पर ले जा सकते हैं। इसलिए, एक्सपर्ट की सलाह लेना काफी फायदेमंद होगा।

हैलो स्वास्थ्य किसी भी तरह की कोई भी मेडिकल सलाह नहीं दे रहा है। अगर मन को शांत करने के उपाय या इससे जुड़ा आपका कोई सवाल है, तो अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं।

हैलो हेल्थ ग्रुप हेल्थ सलाह, निदान और इलाज इत्यादि सेवाएं नहीं देता।

सूत्र

Meditation: Process and effects – https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4895748/

Your Peaceful Place – https://blog.mass.gov/publichealth/mental-wellness/your-peaceful-place/

Meditation: A simple, fast way to reduce stress – https://www.mayoclinic.org/tests-procedures/meditation/in-depth/meditation/art-20045858

Neurohemodynamic correlates of ‘OM’ chanting: A pilot functional magnetic resonance imaging study – https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3099099/

EFFECT OF MANTRAS ON HUMAN BEINGS AND PLANTS – https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC3336746/

लेखक की तस्वीर
Dr. Pranali Patil के द्वारा मेडिकल समीक्षा
Bhawana Awasthi द्वारा लिखित
अपडेटेड 17/05/2020
x